Thursday, 3 August 2017

कविता. 1574 लहरों को किनारे के पत्थरों से।

                                                 लहरों को किनारे के पत्थरों से।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह पल कुदरत कि कुछ खास रहमत होती है जो जीवन मे कुदरत कि दास्तान हर पल के साथ देती है जो जीवन मे हर नजारे को अलग एहसास देती है जो जीवन मे कई किनारों को अलग उजाला कि आशाएँ देती है जो जीवन मे हर मौके को अलग आवाजों को एहसास देती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया अलग नजारे देती है।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह कोशिश एहसासों कि दिशाएँ होती है जो जीवन मे कुदरत कि कहानी को हर सोच के साथ देती है जो जीवन मे हर मौके को अलग पुकार देती है जो जीवन मे कई आशाओं को अलग परख कि दास्तान देती है जो जीवन मे हर मोड को अलग सोच को उम्मीद देती है जो जीवन मे कई एहसासों कि समझ अलग आशा देती है।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह उम्मीद कुदरत कि धाराओं को सुंदरता होती है जो जीवन मे हर एहसास कई नजारों को हर साँस के साथ देती है जो जीवन मे कई किनारों को अलग उजाले कि तलाश देती है जो जीवन मे हर मौके को अलग आशाओं कि रोशनी देती है जो पानी के हर बूँद मे अलग एहसास देती है जो जीवन मे हर मोड को अलग दास्तान देती है।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह आशाओं कि नयी धारा को शुरुआत देती है वह हर मौके को बदलाव देती है वह हर किस्से को अलग किनारों कि आस देती है जो जीवन मे कई कुदरत के करिश्मों को अलग अंदाजों के साथ नयी पुकार देती है जो जीवन मे कई नजारों से कई रंगों कि दुनिया को नजारे देती है जो जीवन मे हर मौके को अलग तलाश देती है।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह किस्से कि नयी आवाज को आशाएँ देती है वह हर इशारे को तलाश देती है वह हर मौके को अलग आशाओं कि पहचान देती है जो जीवन मे कई हवाओं के मौसम को अलग दिशाओं के साथ नयी रोशनी देती है जो जीवन मे कई किनारों से कई जज्बात कि आँधी को एहसास देती है जो जीवन मे हर लहर को अलग पुकार देती है।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह एहसासों कि नयी कहानी को दिशाएँ देती है वह हर इरादे को उम्मीद देती है वह हर मोड को अलग किनारों कि आस देती है जो जीवन मे कई एहसासों के समझ को अलग मौसम देती है जो जीवन मे कई रंगों से आगे चलकर जाने कि आशाएँ उम्मीद को किनारे देती है जो जीवन मे हर किस्से को अलग रोशनी कि पहचान देती है।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह इशारों कि जरुरत को अहमियत देती है जो जीवन मे कई दिशाओं को अलग आस आवाज के साथ हर पल के साथ अक्सर देती है जो जीवन मे हर नजारे को अलग हवाओं कि खुशबू देती है जो जीवन मे हर नजारे को अलग एहसास कि पूँजी देती है जो जीवन मे हर मौके को अलग खुबसूरत एहसास कि धारा देती है।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह इरादों कि तलाश को एहसास देती है जो जीवन मे कई रंगों को अलग आवाज कि उम्मीद उजाले के साथ हर मौके के साथ देती है जो जीवन मे हर कुदरत के करिश्मों को कई अंदाजों के साथ उम्मीद देती है जो जीवन मे हर मौके को अलग एहसास देती है जो जीवन मे हर पल को अलग तलाश कि सोच देती है।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह नयी कहानी कि दास्तान देती है जो जीवन मे कई किस्सों को अलग रोशनी देती है जो जीवन मे हर एहसासों को अंदाज अलगसे देती है जो जीवन मे हर कहानी को अलग बूँद के साथ अलग आस देती है जो जीवन मे हर रोशनी को कहानियों कि पुकार देती है जो जीवन मे कई किस्सों को अलग उम्मीद कि ताकत देती है।
लहरों को किनारे के पत्थरों से टकराने कि आदत होती है पर मन से देखे तो वह कुदरत के करिश्मों कि पूँजी बनकर आगे जाने कि उम्मीदे देती है जो जीवन मे हर किस्से को अलग आशाओं कि शुरुआत बूँद के संग देती है जो जीवन मे हर पल को अलग राह के संग उजाले देती है हर राह को कुदरत हर पल के साथ खास बना देती है वह हर मौके को अलग एहसास कि अलग आस दास्तान कि दिशाओं मे अक्सर देती है।  

No comments:

Post a Comment