Tuesday, 31 January 2017

कविता. १२०५. हर बार किनारे पर राह।

                               हर बार किनारे पर राह।
हर बार किनारे पर राह बदलाव देती जाती है हर लम्हा वह जीवन को साँसों के एहसास अलग दे जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि पहचान दिखाती है हर खुशबू के साथ जीवन को बदलकर दुनिया मे बदलाव देकर जाती है।
हर बार किनारे पर राह कोई मकसद देकर चलती है हर किस्से मे जीवन अपनी बात बताता जाता है हर किनारे पर दुनिया कोई अलग बदलाव देती रहती है जो जीवन आसानी से कई कहानियों को मकसद नया देकर जाती है।
हर बार किनारे पर राह कोई पहचान देती जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि पुकार दे जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि राहे अक्सर बताकर दुनिया को मकसद अलग दिखाती है जिसकी पहचान अलग वजह देकर जाती है।
हर बार किनारे पर राह कोई पुकार जीवन मे रखती जाती है जो जीवन मे कई एहसासों को किस्से की पुकार देकर अलग दिखाती है जो जीवन मे कई रंगों को एहसास कुछ ऐसा देती है उसकी पुकार जीवन मे राह अलग देकर जाती है।
हर बार किनारे पर राह कोई मकसद जीवन मे देकर चलती जाती है जो जीवन मे कई लहरों मे पहचान अलगसी देती जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि पहचान किसी किस्से के संग दिया करती है जो जीवन मे अलग पुकार देकर जाती है।
हर बार किनारे पर राह कोई एहसास जीवन मे कई रंगों कि दुनिया देती है जो जीवन मे कोई पुकार देकर हर कदम के साथ अलग मकसद देती है जो जीवन मे कई किनारों को अलग उजाला देती है जो जीवन मे अलग किनारा देकर जाती है।
हर बार किनारे पर राह कोई पहचान अलगसी देती है जिसकी हर मौके पर अलग जरुरत देकर जाती है जो जीवन मे कुछ उम्मीद को परख अलग देती जाती है जो जीवन मे कई एहसासों को समझ के अलग किनारे देकर जाती है।
हर बार किनारे पर जिन्दगी कुछ अलग दिशाओं कि परख और प्यास देकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों को साँसों मे एहसास देकर चलती है जो जीवन मे कई किनारों को अलग किसम कि पुकार हर पल देकर जाती है।
हर बार किनारे पर दुनिया कोई अलग कहानी बताती है जो जीवन मे कुछ उम्मीद कि अलग प्यास देती है जो जीवन मे कई किनारों से आगे निकलकर जाती है जो जीवन मे किनारों से ही तो जीवन कि दुआए देकर जाती है।
हर बार किनारे पर दुनिया कोई अलग कहानी बताती है जो जीवन मे कई एहसासों कि परख देकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों से ही हर किनारे कि प्यास देती है जो जीवन मे हर किनारे से ही हर पुकार देकर जाती है। 

कविता. १२०४. हर हवा के साथ।

                                  हर हवा के साथ।
हर हवा के साथ जीवन मे साँसे अलग तरह कि पुकार दे जाती है जो जीवन मे सच्ची समझ देकर चलती है जो जीवन मे हवाओं के अंदाज अलग देकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों मे मेहनत हर बार अलग तरह कि देती है।
हर हवा के साथ किरणों के संग अलग किनारा देकर चलती है हर हवा के बदलाव के संग पहचान अलगसी देकर जाती है जो जीवन को कुछ अलग किसम कि निशानी देती जाती है जो हर लम्हा साँसों कि धडकन को पुकार अलग तरह कि देती है।
हर हवा के साथ जीवन मे कुछ अलग उम्मीदे कई तरह के मकसद देकर जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर पल दिखाती है जो जीवन मे कई रंगों को अलग तरह कि दुआएं देकर चलती है जो जीवन मे हर सपनों मे उम्मीदे अलग तरह कि देती है।
हर हवा के साथ जीवन मे कई रंगों कि पहचान हर बार रहती है जो जीवन मे आगे लेकर चलती है वह एहसास को अलग किनारों से आगे लेकर चलती रहती है हर बार हवाओं कि पुकार जीवन मे हर कदम पर कुछ अलग किनारे पर समझ अलग तरह कि देती है।
हर हवा के साथ जीवन मे कई एहसासों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर एहसास जुदा देती है जो जीवन मे कई रंगों को पुकार अलगसी देती है जो जीवन मे कई एहसासों कि दिशाए हर पल के साथ जिन्दा करती है जो मतलब अलग तरह कि देती है।
हर हवा के साथ जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर मौके पर एहसास को परखकर दुनिया कोई अलग आवाज देकर जाती है हर बार उस आवाज को पहचान लेने कि जरुरत जीवन को हर किस्से मे हर बार होती है जो मुस्कान को सुबह अलग तरह कि देती है।
हर हवा के साथ जीवन मे कई इशारों से परख अलगसी देकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों को एहसास अलगसा देकर चलती है क्योंकि हवाए हर बार अलग दिशाओं से सूरज का उजाला हर किस्से के साथ देती है जो जीवन मे पुकार अलग तरह कि देती है।
हर हवा के साथ जीवन मे कई किनारों से चलकर दुनिया को बदल जाती है जो हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत हर पल के साथ हर मौके से देकर जाती है जो जीवन मे हवाओं कि पुकार अलग किनारे से कोई जस्बातों कि सौगाद अलग तरह कि देती है।
हर हवा के साथ जीवन मे कई रंगों से अलग पुकार देकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों मे एहसास अलगसा देकर जाती है जो जीवन मे हवाओं का बदलाव दे जाती है जिनकी पहचान जीवन मे अल्फाज को कई दिशाओं मे किनारे अलग तरह कि देती है।
हर हवा के साथ जीवन मे कई रंगों का आसमान बनता है जिसे हर कोने से पहचानकर जीने कि हर बजह बदलकर जाती है जिसे हवाओं मे समझ लेने कि जरुरत जीवन कि हर कहानी को अक्सर रहती है जो जीवन मे कई मोड पर रोशनी अलग तरह कि देती है। 

Monday, 30 January 2017

कविता. १२०३. जगह जगह पर जीवन कि।

                                     जगह जगह पर जीवन कि।
जगह जगह पर जीवन कि पुकार हर एहसास को समझकर अलग तरह सोच देकर जाती है जो जीवन मे कई रंगों को एहसास अलगसा देकर जाती है जो जीवन मे कई एहसासों कि दिशाए हर पल के साथ जिन्दा करती है।
जगह जगह पर जीवन कि सौगाद हर दिशाओं मे समझकर अलग एहसास देकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों को जिन्दगी हर बार कोई बात सिखाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर मौके पर एहसास अलग जिन्दा करती है।
जगह जगह पर जीवन कि पुकार हर उजाला देती रहती है जो जीवन को कुछ अलग परख दे वह पहचान जीवन मे हर बार आगे चलती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया को हर मौके पर एहसास  जुदा देती है जो नये समझ को जिन्दा करती है।
जगह जगह पर जीवन कि नजर हर समझ को दिशा अलग देकर जाती है जो जीवन को कुछ अलग किसम कि सुबह कि पुकार हर साँस मे देकर जाती है जो जीवन मे कई नजरों कि ताकत बनकर हर बार मुस्कान को जिन्दा करती है।
जगह जगह पर जीवन कि सौगाद हर दिशाओं मे समझ अलग दिखाती है जो जीवन मे हर साँस को कोई अलग सुबह देती है जो हर किस्से के साथ जहान मे खुशियाँ कई दे जाती है हर किनारे को नये उजाले के साथ अक्सर जिन्दा करती है।
जगह जगह पर जीवन कि दिशाए कोई नया संगीत सुनाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत और आस अलग तरह कि रहती है जो जीवन मे कई तरह कि उमंग हर बार किनारे को परखकर अलग आस देकर जाती है जो जीवन मे उम्मीदे जिन्दा करती है।
जगह जगह पर जीवन कि पुकार हर एहसास को अलग दिशा देती रहती है जो जीवन कई किनारों को खुबसूरती अलग देती जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर मौके पर कुछ एहसास अलगसा देकर चलती है जो जीवन को जिन्दा करती है।
जगह जगह पर जीवन कि पुकार हर एहसास को अलग दिशा दे जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर किस्से मे पहचान अलग किनारे से देकर चलती है जो जीवन मे कई सपनों कि पहचान अलग दिखाती है जो जीवन को जिन्दा करती है।
जगह जगह पर जीवन कि पुकार हर सौगाद का उजाला जीवन मे कई रंगों का उजाला हर मौके पर देकर चलती है जो जीवन मे कई एहसासों को परखकर दुनिया हर मौके पर नया उजाला देती जाती है जो जीवन मे अलग रोशनी को जिन्दा करती है।
जगह जगह पर जीवन कि पुकार हर परख पर उम्मीद अलग देकर चलती है जो जीवन मे हर कोने मे एहसास अलगसा देती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया को हर लम्हा अलगसा देकर जाती है जो जीवन मे हर किस्से के साथ हर पल को जिन्दा करती है। 

कविता. १२०२. किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ।

                              किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी भिगाकर जाती है बिना देखे भी एहसास अलगसा दे जाती है जो हर बूँद के साथ हर सुबह कि पुकार देती है जो जीवन मे कई किस्सों को रोशनी हर बार देती जाती है।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी मन को दूर से भी छूँ जाती है पास कि आवाज कुछ दूर नजर आती है जो दूर से जीवन के कई किस्सों को सच बनाकर चलती है जिनसे एक अलग उम्मीद मन को रोशनी देती जाती है।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी मन को अलग इशारा दिखाती रहती है जो जीवन मे कई रंगों कि दिशाओं पर लेकर चलती है जो जीवन मे कई उम्मीदे देकर जाती है जिन्हे समझ लेने कि समझ मुस्कान देती जाती है।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी दूर कि दुनिया को भी पास लेकर चलती है जो जीवन मे कई दिशाओं को अलग एहसास देती हर बार उम्मीदों के पास ले जाती है पर किस्से के साथ परखकर हर पल उम्मीद देती जाती है।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी नया एहसास जगाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया को अलग पुकार देती है क्योंकि हर बूँद पर कहानी अलग एहसास लाती है दूर होकर भी बूँदे पास आकर एक एहसास देती जाती है।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी जीवन कि हर बात बताकर जाती है जो जीवन मे कई दिशाओं से अलग एहसास देकर चलती है हर बूँद के अंदर अलग पुकार हर बार जिन्दा होती है जो जीवन मे दूर रहकर भी खुशियों के एहसास देती जाती है।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी जीवन मे कई रंगों को बिखेरती जाती है हर मौके को बदलकर जीवन मे कुछ किनारों कि उम्मीदों कि पहचान देकर चलती है जिसे परख लेने कि जरुरत जीवन को अलग किस्से कि रोशनी हर बार देती जाती है।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी जीवन मे कुछ अलग मकसद देकर चलती है क्योंकि दूर के बूँद मे भी जीवन कि आस नजर आती है जिसकी अहमियत जीवन मे कई तरह कि दिशाए देकर हर मौके पर कोई असर हर बार देती जाती है।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी नयी दिशा दिखाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया को हर लम्हा कोई दास्तान दिखाती है जो जीवन मे बूँदों को नया सबेरा देकर चलती है जिसे दूर होते हुए भी पहचान लेने कि जरुरत उजाला हर बार देती जाती है।
किसी किनारे पर गिरती बूँद जाने क्यूँ कभी कभी नयी उम्मीद देती जाती है जो दूर होकर भी नया उजाला देकर रहती है जो जीवन मे कई रंगों कि पहचान अलग पुकार देकर चलती है दूर कि बूँदे भी अक्सर नयी पहचान देकर चलती है जो जीवन मे उम्मीदे देती जाती है। 

Sunday, 29 January 2017

कविता. १२०१. हर कहानी के अंदर कोई।

                                 हर कहानी के अंदर कोई।
हर कहानी के अंदर कोई अलग पुकार देती जाती है हर दिशाओं के साथ जीवन मे किरणों से कुछ अलग एहसास को परखकर दुनिया हर मौके पर कोई असर देकर जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि भाषाएं दिखाती जाती है।
हर कहानी के अंदर कोई अलग किनारों से जज्बात दे जाती है वह सोच के सहारे अलग पहचान हर मौके पर एहसास अलगसा देकर चलती है जो जीवन मे कहानी को कोई अलग निशानी देकर अलग दुनिया दिखाती जाती है।
हर कहानी के अंदर कोई अलग रंगों कि पुकार देती जाती है जो जीवन मे कई रूपों से एहसास नये दे जाती है जो जस्बात के सहारे आगे बढती जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि समझ को पहचान अलग दिखाती जाती है।
हर कहानी के अंदर कोई अलग किनारे से जाकर पुकार अलग लाती है जो हर पल लम्हे के अंदर जस्बात कि धारा हर पल बताकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों कि कहानी पुकार दे जाती है जो जीवन मे रोशनी अलग दिखाती जाती है।
हर कहानी के अंदर कोई अलग किसम कि समझ हर मौके पर देकर चलती है जो जीवन मे जस्बातों को पुकार अलग सुनाती है जो जीवन मे कई किस्सों के मकसद देकर चलते जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि पुकार दिखाती जाती है।
हर कहानी के अंदर कोई अलग दिशा जिन्दा रहती है जो जीवन मे कई किस्सों मे अलग उम्मीदे देकर चलती है जो जीवन मे कहानी को ताकत अलग देती रहती है जो जीवन मे कई किनारों से एक दिशा अक्सर दिखाती जाती है।
हर कहानी के अंदर कोई अलग दिशाओं से पुकार अलग दिशा दिखाकर चलती है हर बार कहानी कई तरह के एहसास को जिन्दा करती है जो जीवन मे अलग तरह कि साँसे हर बार लाती है जो जीवन मे नया एहसास दिखाती जाती है।
हर कहानी के अंदर जीवन मे कोई अलग एहसास देकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों को अलग पुकार देती जाती है हर बार जीवन मे कई रंगों कि दिशाए पुकार अलग बताकर हर बार चलती है जो जीवन मे कई एहसासों से रोशनी दिखाती जाती है।
हर कहानी के अंदर बदलाव कि एक पुकार होती है जो जीवन को चुनौती देकर हर पल आगे बढती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर मौके पर देकर हर बार चलती है जो जीवन मे कई दिशाओं के अंदर अलग किनारों से उजाला दिखाती जाती है।
हर कहानी के अंदर कई किस्सों को रंग कई तरह के देकर चलती है जो जीवन मे कई दिशाओं मे अलग किनारे पर उजाला देकर जाती है हर कहानी को समझ देकर एक अलग प्यास मिलती है जो जीवन मे सच्चा उजाला दिखाती जाती है। 

कविता. १२००. चुपके से।

                                             चुपके से।
चुपके से चंदा के साथ एक बचपन कि याद आती है जो जीवन मे अलग पहचान देकर जाती है क्योंकि वह हमे अक्सर बताती है चंदा पर जाने कि चाहत हर बार होती है जो पत्थर का होकर भी बडा प्यारा होता है।
चुपके से माटी के साथ एक बचपन कि याद आती है जो जीवन मे प्यारी मुस्कान लाती है वह माटी के परबत को भी महल बताती है जो जीवन मे कई रंगों को सिर्फ मन से लाती है जिसमे हर मौका बडा प्यारा होता है।
चुपके से आसमान के साथ एक बादलों कि याद आती है जो जीवन मे सबसे प्यारी सुबह लाती है जिन्हे गिनते ही लबों पर मुस्कान आती है हर किस्से का एहसास जीवन को कई किनारों कि यादे देता है वह हर मोड पर प्यारा होता है।
चुपके से हवाओं के साथ एक पहचान कि याद आती है जो जीवन मे सबसे अच्छी उम्मीद लाती है हर बार हवाओं के संग एहसास अलगसा आता है जो जीवन मे कुछ लम्हों के साथ एक अलग किनारा देता है जो हर जीवन मे प्यारा होता है।
चुपके से कहानियों के साथ एक अलग पुकार याद आती है जो जीवन मे सबसे अलग किनारे पर कोई पहचान अलग देकर चलती है जो कहती है कि हारी बाजी से ही तो कहानी बन पाती है जो कई जीत से ना सिखा वह हार का किस्सा प्यारा होता है।
चुपके से सच्चे एहसास के साथ अलग समझ याद आती है जो जीवन मे सबसे अलग पुकार देकर आगे बढती है क्योंकि हर कहानी कि पुकार अलग होती है जो जीवन मे कई रंगों से एहसास को समझ लेने कि जरुरत देती है वह एहसास प्यारा होता है।
चुपके से जहान कि खुशियाँ छोटीसी बातों मे याद आती है जो जीवन मे कई रंगों कि पहचान देकर जाती है हर बार हर उजाले से अलग पहचान हर बार जिन्दा होती है जो जीवन मे कई छोटी बातों को अहम बताती है जिनमे एहसास प्यारा होता है।
चुपके से ख्वाब कि शुरुआत याद आती है ख्वाब जीते या हारे हर बार वह जीवन को बनाती है वह हर बार कहानियों के रंग कई तरह कि दिशाए देकर जाती है जो ख्वाब मे कोई अलग हकीकत हर बार बताती है पर फिर भी ख्वाब को सच समझने का एहसास प्यारा होता है।
चुपके से कोई खुशबू अक्सर याद आती है जिसकी आदत भी खुशियाँ देकर जाती है क्योंकि कोई खुशबू जीवन को कुछ अलग एहसास देकर जाती है हर खुशबू ही आदत हर बार जीवन मे कई किस्सों कि खुशबू जिन्दा करती है वह किस्सा प्यारा होता है।
चुपके से कदम अक्सर कुछ बताकर हँसी दे जाते है हर बार जीवन मे वह कोई राह बताते है जिनसे हम आगे बढते जाना समझ लेते है हर बार उन कदमों के संग एहसास को समझ लेने कि जरुरत हम हर पल रखते है वह हर लम्हा हमारे मन के लिए प्यारा होता है। 

Saturday, 28 January 2017

कविता. ११९९. हर मुस्कान के साथ जिन्दगी हर बार।

                                     हर मुस्कान के साथ जिन्दगी हर बार।
हर मुस्कान के साथ जिन्दगी हर बार कोई पुकार देती जाती है जो जीवन मे मुस्कान कि अलग पहचान देकर जाती है जो जीवन मे कई रंगों के साथ देकर चलती है जो हर बार हर पल के साथ आगे लेकर चलती है।
हर मुस्कान के साथ जिन्दगी हर बार कोई अलग पुकार देती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर बार देकर चलती है जो जीवन मे कई एहसासों से मुस्कान कि कहानी हर पल के साथ देकर हर बार आगे लेकर चलती है।
हर मुस्कान के साथ जिन्दगी हर बार कोई अलग किनारा देकर जाती है क्योंकि मुस्कान ही तो जीवन कि पहचान बदलती जाती है हर बार मुस्कान से ही जीवन कि हर बात बनती है जो जीवन मे कई किनारों मे आगे लेकर चलती है।
हर मुस्कान के साथ जिन्दगी हर बार कोई अलग एहसास देती है जो जीवन मे कोई अलग पुकार देती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर बार जीवन मे अलग किसम कि पहचान देकर जाती है हर मुस्कान मन कि रोशनी आगे लेकर चलती है।
हर मुस्कान के साथ जिन्दगी हर बार कोई अलग पुकार देती है जो जीवन मे कुछ अलग उम्मीदे देकर जाती है जो जीवन मे सच्ची सुबह देकर हर बार आगे बढता जाता है जो जीवन मे कुछ अलग पुकार के लिए उजाले को आगे लेकर चलती है।
हर मुस्कान के साथ ही तो जीवन कि सुबह आती है जो जीवन मे कुछ अलग तरह कि पुकार को जिन्दा करती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर अलगसा एतबार जिन्दा हो जाता है जो जीवन मे कई रंगों को आगे लेकर चलती है।
हर मुस्कान के साथ ही तो हर राह को कई मकसद देकर आगे बढती है जो जीवन के कई हिस्सों से खुशियों कि बौछार देकर जाती है जो जीवन मे कुछ ऐसी खुशियाँ देकर जाती है जिन्हे समझ लेने कि जरुरत जीवन को आगे लेकर चलती है।
हर मुस्कान के साथ ही तो हर सोच हर लम्हा कोई पुकार हर बार मिलती है जो खुशियाँ हर बार देकर जाती है जिनमे खुशियों कि आवाज हर बार रहती है जो जीवन मे कई एहसासों कि रोशनी हर बार रहती है जो दुनिया को आगे लेकर चलती है़।
हर मुस्कान के साथ ही तो हर कहानी कि शुरुआत होती है जो जीवन मे कई रंगों  मे किस्सों को जिन्दगी के नये रंगों का उपहार हर बार देती है जो जीवन मे मुस्कान कि सच्ची पहचान हर किस्से के साथ देती है जो जीवन को आगे लेकर चलती है।
हर मुस्कान के साथ ही तो हर रोशनी जीवन मे आती है जो जीवन मे कई किनारों से आगे लेकर बढती है जो जीवन के हर पल कि ताकत रहती है जो जीवन मे कई एहसासों के साथ उम्मीदे देती है जो जीवन मे खुशियों को आगे लेकर चलती है। 

कविता. ११९८. हर रोशनी हर बार किनारे पर।

                               हर रोशनी हर बार किनारे पर।
हर रोशनी हर बार किनारे पर उजाला दे जाती है जो जीवन मे रोशनी कि अलग कहानी देकर जाती है क्योंकि हर किनारे पर अलग किरणों से सूरज कि रोशनी हर बार चमक दे जाती है जो हर किनारे पर उजाला देकर चलती है।
हर रोशनी हर बार किनारे पर अलग किरणों कि पहचान देकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर मौके पर देती है जो जीवन मे आसमान मे अलग उजाला दे जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि पहचान देकर चलती है।
हर रोशनी हर बार किनारे पर अलग रंगों कि पहचान देकर चलती है जो जीवन मे उजाले कि नयी सुबह उजागर करती है जो जीवन मे कई रंगों से आसमान को भर देती है जो आसमान के कई रंगों को अलग पहचान देकर चलती है।
हर रोशनी हर बार किनारे पर हर खुबसूरत एहसास को परखकर चलती है जो जीवन मे आसमान से कई रंगों को बदलती है हर बार जीवन मे कई रंगों की खुबसूरती कई एहसासों से आगे बढती है जो जीवन को खुबसूरती देकर चलती है।
हर रोशनी हर बार किनारे पर हर किसम के रंगों को मकसद देकर जाती है जो आसमान मे कई तरह के खुबसूरत एहसास देती रहती है जो आसमान मे कई रंगों कि कहानियाँ कहती रहती है जो जीवन मे अलग कुदरत देकर चलती है।
हर रोशनी हर बार किनारे पर हर कहानी को मतलब देकर चलती है वह कुछ कहती है मगर मन को उम्मीद कई रंगों मे देकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया को हर मौके पर अलगसा खुबसूरत एहसास देकर चलती है।
हर रोशनी हर बार किनारे पर हर मौके पर जीवन को मतलब कि दास्तान हर पल के संग रहती है जो आसमान से उम्मीदे तोडकर लाये वह सोच मायने रखती है जो जीवन मे कई रंगों से आसमान को अलग दुनिया देकर चलती है।
हर रोशनी हर बार किनारे पर हर अलग समझ देकर चलती है जो जीवन मे आसमान को कई रंग दिखाती है जो आसमान से कई दिशाओं मे फैलती जाती है हर आसमान के अंदर कई खुबसूरत दिशाए देकर चलती है।
हर रोशनी हर बार किनारे पर हर अलग उजाला देती है जो आसमान से कई रंगों को परख लेने कि ताकत हर किस्से मे जीवन को अपनी बात अलग तरह से समझाकर आगे जाती है जो जीवन मे कई रंगों से अलग परख देकर चलती है।
हर रोशनी हर बार किनारे पर हर अलग रंगों को कुछ अलग एहसास देती है जो आसमान से कई रंगों कि दिशाए देकर चलती है वह हर पल जीवन को अलग तरह कि खुबसूरती देती रहती है जो जीवन मे कई उम्मीदे भी सुबह देकर चलती है। 

Friday, 27 January 2017

कविता. ११९७. मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी।

                                मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी।
मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी खुशियाँ आती है हर लम्हा जीवन कि कश्ती को एक सच्ची कोशिश पार लगाती है जो जीवन मे सन्नाटे से उपर लेकर जाती है हर मौके पर कोई अलग असर का एहसास देकर जाती है।
मासूम के एहसास से सन्नाटे के खालीपन मे भी नयी खुशियाँ आती है जो जीवन मे कई धागों कि माला पिरोकर अलग एहसास के साथ जाती है हर बार मासूमियत कई किस्सों के संग उम्मीदों कि कश्ती देकर जाती है।
मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी दुनिया बन जाती है हर मासूम कहानी अलग एहसास कि पुकार मे सतरंगी दुनिया देती जाती है जो जीवन मे मासूमियत को कई किस्सों मे अलग समझ दिखाती है वह रोशनी देकर जाती है।
मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी अलग रोशनी आती है हर मासूम सोच के संग वह उजाला देती रहती है वह हर लम्हा जीवन मे मासूम सोच कि पुकार हर बार देती जाती है जो जीवन मे अलग तरह का उजाला देकर जाती है।
मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी अलग पुकार आती है हर किस्से को कई तरह कि दिशाए दिखाकर दुनिया कई रंगों कि दुनिया हर मौके पर देती रहती है जो जीवन के हर कोने मे कोई अलग कहानी दिखाकर अलग मतलब देकर जाती है।
मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी अलग उमंग आती है हर किस्से का एहसास समझकर दुनिया हर मौके पर अलग ताकत देती जाती है वह ताकत जो जीवन मे कई रंगों के लिए मेहनत करने कि उम्मीदे हर लम्हा देकर जाती है।
मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी अलग किनारे कि उम्मीदे आती है क्योंकि मासूम के एहसास से ही तो जीवन कि दास्तान लिखी जाती है जो हर एक चोट से उठकर आगे बढना सिखाती है जो हर राह पर नयी सुबह देकर जाती है।
मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी अलग रोशनी दिख जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि नयी राह बताती है क्योंकि मासूमियत ही तो अक्सर सच्ची राह बताती है हर चोट के ऊपर अलग तरह के मलहम का एहसास देकर जाती है।
मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी अलग उजाले कि ताकत मिल पाती है हर बार हर राह के संग कई किनारों कि खुबसूरती नजर आती है जो जीवन मे कई एहसासों के मकसद देकर चलती है जो जीवन मे अंधियारे से उजाला देकर जाती है।
मासूम के एहसास से सन्नाटे से भी अलग पुकार रोशनी दिखाकर जाती है जो जीवन मे नया किनारा देकर चलती है हर किनारे को परख लेने कि जरुरत हर पल जीवन को कई रंगों मे आगे लेकर जाती है  मासूमियत ही जीवन मे सच्ची ताकत देकर जाती है। 

कविता. ११९६. हर हँसी मे।

                                              हर हँसी मे।
हर हँसी मे जीवन कि उम्मीद अलगसी दिखती है हर बार हँसी कुछ कहती है तब लब पर उम्मीदों कि कहानी दिखती है जो हर साँस के संग कोई अलग निशानी देती है हर मौके पर जीवन कि आजाद कहानी को जिन्दा करती है।
हर हँसी मे दुनिया कि अलग निशानी बनती है जो हमे हँसी देकर हर दिशाओं मे जो निशानी हर पल कोई कहानी बताती है जो जीवन मे अलग निशानी देकर हर लम्हा आगे चलती है जब जीवन मे हँसी आती है तो खुशियों को जिन्दा करती है।
हर हँसी मे दुनिया कि कोई बात अलग समझकर उस से टकराने कि ताकत रहती है जो जीवन मे हर लम्हे को उम्मीदों के इशारे देकर हर चोट से उभरकर आगे चलती है जीवन मे हर पल मे खुशियों कि सौगाद को जिन्दा करती है।
हर हँसी मे दुनिया कि खुशियाँ छुपी रहती है खिले फूलों से मुरझाये फूलों तक हर चीज मे हँसी एक अलग दुनिया भरती है जीवन को नये उजाले संग हर हिस्से मे जिन्दा करती है हँसी ही वह चीज है जो जीवन मे हर लम्हे को जिन्दा करती है।
हर हँसी मे दुनिया कि अलग कहानी बनती रहती है हर मौके पर हर साँस मे जीवन के हर रंग के संग हँसी ही तो कई लम्हों मे हर पल रहती है जो जीवन मे कई किनारों के संग अलग दिशाओं मे आगे चलती है वह हर उम्मीद भरी सोच को जिन्दा करती है।
हर हँसी मे दुनिया कि अलग निशानी रहती है हर दिशा मे अलग किसम कि समझ हर लम्हा खुशियों के उजाले देकर चलती है जो हर पल जीवन मे कोई अलग कहानी कहती है जो हर मौके मे कई दिशाओं के संग अलग उम्मीद को जिन्दा करती है।
हर हँसी मे दुनिया कि अलग दिशा छुपी रहती है जो जीवन के कई किस्सों मे अलग पुकार और पहचान देकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों कि उम्मीदे दुनिया को हर पल के साथ देकर चलती है जो हर किनारे मे सतरंगी इशारों मे दुनिया को जिन्दा करती है।
हर हँसी मे दुनिया कि अलग पुकार होती है खुशियों के जाने कितने झरोकों से वह चुपके से निकलती है तो कभी कभी आसानी से आजादी से बारीश जैसे बरसती है पर हर हाल में उसके एहसासों से दुनिया सतरंगी बनती है नयी खुशियों को जिन्दा करती है।
हर हँसी मे दुनिया कि अलग कहानी होती है वह चाहे कुछ भी हो पर उसमे खुशियों कि निशानी दिखती है क्योंकि हर हँसी जीवन का वह चाँद और सूरज होती है जिसे हम थाम तो ना पाते है पर उसकी क्या जरूरत होती है जब वह धरती पर जन्नत जिन्दा करती है।
हर हँसी मे दुनिया कि अलग दिशाए होती है जो सूरज के संग हर सुबह पर खेलती है और श्याम चंदा संग रहती है हँसी तो हर कोने मे पल पल रहना चाहती है जो जीवन मे कई रंगों के अंदर हर दास्तान बनाती रहती है वह जीवन के हर रंगों को हर पल जिन्दा करती है। 

कविता. ११९५. हर मौसम जब बदले।

                                   हर मौसम जब बदले।
हर मौसम जब बदले जीवन कि आवाज अलग हो जाती है हर किस्से मे जीवन अपनी बात अलग पहचान देकर जाता है वह हवा मे अलग एहसास देकर हर मौके पर बढती जाती है जो जीवन मे मौसम को मतलब देती रहती है।
हर मौसम जब बदले जीवन कि सौगाद को कई किनारों मे बदलकर जाती है वह हर मौसम को समझ लेते ही हर पल को कोई बदलाव देकर हर मौके पर जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया बदलाव देकर अक्सर देती रहती है।
हर मौसम जब बदले जीवन कि प्यास को कई किनारों से बढते जाने कि जरुरत हर साँस के संग नजर आती है हर हवा के झोंके मे जीवन को परख लेने कि जरुरत हर पल दिख जाती है जो जीवन मे कई रंगों से दुनिया को उजाला देती रहती है।
हर मौसम जब बदले जीवन कि आवाज को कई कहानियों मे आगे चलकर जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया को मौसम के संग बदलाव देती हुई नजर आती है जो जीवन मे कुछ अलग बदलाव दे वह दुनिया को अलग रंग देती रहती है।
हर मौसम जब बदले जीवन कि प्यास को दुनिया अलग पुकार देती है हर मौसम के साथ हर मौके पर कोई अलग समझ को परखकर दुनिया हर किनारे पर जीवन कि कश्ती हर पल अलग समझ कि ताकद अक्सर देती रहती है।
हर मौसम जब बदले जीवन कि पुकार हर मौके पर अलगसा एतबार देती रहती है जो जीवन मे कई रंगों कि पुकार हर किनारे पर बदलाव कि पहचान अलग रंगों कि समझ मे अलग पुकार देकर जाती है जो जीवन मे कुछ अलग दुनिया देती रहती है।
हर मौसम जब बदले जीवन कि प्यास हर किस्से को समझकर आगे चलती है जो जीवन मे बदलाव दे वह समझ अलग तरह कि पुकार देकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों के मौसम को हर पल के साथ अक्सर बदलाव देती रहती है।
हर मौसम जब बदले जीवन कि दास्तान बदलती है हर किस्से मे कुछ कहने कि जरुरत जीवन को हर पुकार के साथ अलग दुनिया देकर चलती है जो हर लम्हा जीवन को समझ ले वह प्यास मन को नया विश्वास देती रहती है।
हर मौसम जब बदले जीवन कि कहानी अलग पुकार देकर चलती है जो जीवन मे कुछ अलग मकसद हर बार अलग एहसास दे जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर मौके पर बदलती है जो जीवन मे मकसद देती रहती है।
हर मौसम जब बदले जीवन कि आवाज कुछ अलग होती है मौसम के संग पंछी चहकते है जो जीवन मे कई रंगों कि पहचान देकर रहती है जो मौसम के संग बदलाव कि पुकार देकर जाती है जो जीवन मे हर मौसम को खुशियाँ देती रहती है। 

कविता. ११९४. जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है।

                                   जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ समझने से आगे जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि बहार देकर जाती है जो जीवन मे कई तरह कि दिशाए देकर आगे जाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर किस्से के साथ आती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ अलग दिशाओं से वह हर बार चलती है उस आवाज कि अलग जरुरत होती है जो जीवन मे हर किस्से का एहसास अलगसा होता है जो जीवन मे हर मौके के साथ आती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ अलग तरह कि पुकार हर पल मे कोई अलग एहसास दे जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया बनाती है जो जीवन मे कई एहसासों को समझकर अक्सर साथ आती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ अलग तरह कि दिशाए वह हर साँस के संग देती जाती है जो जीवन मे कई रंगों के अंदर एक नया जहान बनाती है जो जीवन मे कई रंगों के लिए हर बार पुकार के साथ आती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ अलग तरह कि पुकार हर बार अलग आवाज सुनाकर चलती है जो जीवन मे हर किस्से कि पुकार अलग एहसास के साथ किरणों के संग रोशनी हर पल के साथ आती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ अलग तरह कि वह दास्तान हर विश्वास के संग हर कदम मे जिन्दा हर लम्हे मे रहती है जो जीवन मे कई रंगों कि पहचान हर मौके पर देकर जाती है जो जीवन मे कई रंगों के पहचान के साथ आती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ अलग तरह कि पुकार हर कहानी के साथ आगे बढती रहती है जो जीवन मे कई एहसासों को समझकर अलग विश्वास देकर हर बार आगे चलती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया के साथ आती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ अलग तरह कि उम्मीदे देकर जाती है जिन्हे समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर बात मे अलग यकीन देती जाती है जो जीवन मे कई एहसासों को अलग तरह कि उम्मीदे उजाले के साथ आती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ अलग किनारों से वह हर लम्हा बदलाव देता रहता है जो जीवन को समझ ले वह कोशिश दुनिया मे अलग रोशनी हर पल के उम्मीदों के संग होती है जो जीवन मे नयी पुकार के साथ आती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज होती है कुछ अलग पहचान बनाने कि उमंग हर किस्से को आगे जाने कि परख हर मौके मे देकर रहती है जो जीवन मे कई एहसासों कि पुकार हर प्यास के संग हर बार देती है जो जीवन मे उम्मीदों के साथ आती है। 

Wednesday, 25 January 2017

कविता. ११९३. नदीयाँ हर बार अलग।

                                        नदीयाँ हर बार अलग।
नदीयाँ हर बार अलग किनारे से टकराकर आगे जाती है जो जीवन मे पत्थर से टकराकर हर मौके पर आगे बढती रहती है जो आसानी से दुनिया को पत्थर मे कहानी बताकर जाती है जो जीवन मे कई रंगों को एहसास अलगसा देकर जाती है।
नदीयाँ हर बार अलग पहचान से आगे बढती जाती है जो जीवन मे ठंडक दे वह एहसास हर सुबह देकर जाती है हर पत्थर पर टकराने से दुनिया अलग सुबह दिखाती है जो जीवन मे कई रंगों को परख अलग तरह कि देकर जाती है।
नदीयाँ हर बार अलग टकराव देती जाती है जो पत्थर को समझकर आगे बढती रहती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर बार मिलती है तो जीवन मे कई पत्थरों के साथ अलग एहसास कि पुकार हर बार देकर जाती है।
नदीयाँ हर बार अलग किनारों से अलग रंग देकर हर मौके पर आगे चलकर जाती है जो जीवन मे कई तरह कि पुकार देती है जो जीवन मे नदीयाँ को नयी पत्थरों कि दुनिया को छूँ कर आगे चलकर उम्मीदे देकर जाती है।
नदीयाँ हर बार अलग किनारे से अलग एहसास दे जाती है क्योंकि कई किनारों पर पानी कि आवाज अलग रहती है जो जीवन मे कई एहसासों को समझ होती है जो पत्थर मे अलग समझ दिखाकर उम्मीद देकर जाती है।
नदीयाँ हर बार अलग किनारे से पत्थर कि अलग पहचान देकर जाती है क्योंकि नदीयाँ मे ही हर पत्थर कि पहचान छुपी रहती है जो नदीयाँ को अलग तरह कि पुकार देती जाती है जो जीवन मे किनारों को अलग पुकार देकर जाती है।
नदीयाँ हर बार अलग पत्थर से टकराकर आगे जाती है हर पल मे कोई पुकार जीवन मे जिन्दा रहती है जो नदीयाँ के लहरों के संग बदलाव दिखाती है जो जीवन मे कई तरह के किनारों के मकसद समझ देकर जाती है।
नदीयाँ हर बार अलग किनारे पर कोई अलग असर देती है हर लहर जब किनारे पर टकराकर जाती है जो जीवन मे हर किनारे पर पत्थरों कि कहानी सुनाकर जाती है जो जीवन मे कई तरह के पत्थर दिखाकर अलग दुनिया देकर जाती है।
नदीयाँ हर बार अलग किनारे पर अलग इशारा दिखाती जाती है हर किनारे पर पत्थर से जीवन कि शुरुआत देती है जो पानी के आवाज को अलग दुनिया हर मौके पर देकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों के साथ रोशनी देकर जाती है।
नदीयाँ हर बार अलग किनारे पर जाकर अलग कहानी सुनाती है किनारों कि अलग पहचान देकर जाता है नदीयाँ मे कई पत्थरों कि कहानी छुपी रहती है जो जीवन मे नदियों कि ताकत दिखाती है जो मन को अलग उम्मीदे देकर जाती है। 

कविता. ११९२. हर रात के अंधेरे मे।

                                           हर रात के अंधेरे मे।
हर रात के अंधेरे मे भी मन के काम कि उम्मीदे छुपी रहती है क्योंकि रात का एहसास भी जीवन को अलग पुकार देकर जाता है हर रात के अंदर कई किसम के बदलाव हर बार छुपे रहते है हर बार उन्हे परख लेने कि जरुरत हर मौके मे रहती है।
हर रात के अंधेरे मे भी मन के हर आंगन मे कोई अलग तलाश रहती है जो जीवन मे कई किस्सों को अलग पुकार देकर चलती है जो जीवन को अंधियारे मे अलग किसम कि रोशनी हर मौके पर अलग किसम का एहसास देती है जो हर पल जीवन कि उम्मीद रहती है।
हर रात के अंधेरे मे भी मन के हर एहसास कि रोशनी अक्सर जलती है जो जीवन को कई दिशाओं से पुकार हर मौके पर देकर चलती है जो जीवन मे अंधेरे मे भी दुनिया का एहसास और अलग विश्वास देकर चलती है जो हर किस्से मे रहती है।
हर रात के अंधेरे मे भी हर मौके कि आस जिन्दा रहती है जो जीवन मे अलग तरह कि पुकार हर किनारे पर अक्सर आगे चलती है जो जीवन मे कुछ अलग किनारा देकर जाती है जो जीवन मे हर रात को जो नयी पुकार मे उम्मीदे रहती है।
हर रात के अंधेरे मे भी हर लम्हा प्यास देकर जाता है जो जीवन मे अलग दिशाओं से परख देकर पहचान को अलग विश्वास देकर चलता है जो रात को समझकर कई बार दिशाओं मे कई तरह मतलब देता है जो जीवन मे आशाए देता रहता है।
हर रात के अंधेरे मे भी हर मौके पर जीवन को कई निशानीयाँ मिलती है जो जीवन मे हर मौके पर कोई अलग पुकार देकर जाती है जो जीवन मे रातों के साथ कई किनारों पर दुनिया मे कुछ अलग सुबह देकर चलती जाती है जो जीवन मे आशाए देती रहती है।
हर रात के अंधेरे मे भी हर लम्हा कोई ना कोई उम्मीद लेकर आता है कुछ ऐसा मौसम बन जाता है कि दुनिया मे अलग किनारा देकर चलती है वह बात जो अंधियारे मे रोशनी का एहसास देकर जाती है जो जीवन मे उजाला देती रहती है।
हर रात के अंधेरे मे भी हर मौके पर अलग पहचान दिखती है जो जीवन मे कई दास्ताने देकर चलती जाती है जो जीवन को रातों में अलग सुबह देकर चलती है हर बार जीवन मे हर उम्मीद कोई अलग पुकार हर बार मौके देती रहती है।
हर रात के अंधेरे मे भी हर लम्हा कोई तो जिन्दगी अलग असर दे जाता है हर अंधेरे मे कोई नयी दिशाए मिलती है जो जीवन मे हर लम्हे मे अलग पहचान देकर जाती है जो जीवन मे नयी रोशनी हर बार उम्मीद हर पल देती रहती है।
हर रात के अंधेरे मे भी हर मौके पर कोई निशानी मिलती है जो जीवन मे राह को अलग पुकार देकर जाती है जो हर रात के अंदर कोई एहसास देकर जाती है जो जीवन मे हर पल कोई नयी निशानी मिलती है जो मन को उम्मीद देती रहती है।

Tuesday, 24 January 2017

कविता. ११९१. हर हवा कि आहट मे।

                                     हर हवा कि आहट मे।
हर हवा कि आहट मे सच्चाई अलग तरह कि रहती है जो जीवन मे कई किनारो पर अलग समझ देती जाती है हर हवाओं को बदलाव देकर चलती जाती है हर लम्हे मे हवाओं मे पहचान अलग तरह कि रहती है।
हर हवा कि आहट मे परख अलग तरह कि दिशा रहती है जो जीवन मे कई दास्तानों पर एहसास जुदा रहते है जो हवाओं मे कई किनारों पर आवाज देकर जाती है अलग सुबह कि तलाश अलग तरह कि रहती है।
हर हवा कि आहट मे समझ अलग तरह कि जिन्दा रहती है जो जीवन मे कई किनारों को परख लेने कि आदत हर बार मन मे कुछ कहती है हर हवा कि कहानी मे हर बार जीवन कि आस अलग तरह कि रहती है।
हर हवा कि आहट मे एहसास मे अलग तरह कि पुकार रहती है जो जीवन मे कई एहसास के साथ आगे चलती है जो हवाओं मे एहसास कि उम्मीद अलग देती जाती है जीवन मे हवाओं मे अक्सर परख अलग तरह रहती है।
हर हवा कि आहट मे एहसास अलग तरह कि दुनिया देती रहती है जो जीवन मे कई किनारों को उम्मीद देती रहती है हवाओं को पहचान हर मौके पर परख अलग तरह कि होती है जिनमे दुनिया समझ ले वह पुकार अलग तरह रहती है।
हर हवा कि आहट मे एहसास अलग तरह कि पुकार देती रहती है जो जीवन मे कई किनारों को अलग पुकार देकर जाती है जो जीवन मे हवाओं का अलग किनारा देती जाती है हर हवाओं को समझ लेने कि ख्वाईश अलग तरह रहती है।
हर हवा कि आहट मे एहसास मे अलग तरह कि उम्मीदे छुपी रहती है जो जीवन मे कई राहों पर अलग उजाला देकर जाती है जो जीवन मे हवा अलग पुकार देती है जो जीवन मे कई किनारों पर अलग नजारा देकर चलती है जिसमे दुनिया अलग तरह रहती है।
हर हवा कि आहट मे समझ अलग तरह कि होती है जो जीवन मे मौसम को बदलाव देकर चलती है क्योंकि हवाए अंदाज अलग देकर जाती है जो हवाओं को कई दिशाओं मे अलग तरह कि पुकार देती है जो जीवन मे हवाओं की दिशाए अलग तरह रहती है।
हर हवा कि आहट मे समझ अलग किनारा देकर जाती है जो जीवन मे अलग तरह कि पुकार देकर जाती है जो जीवन मे हवाओं को अलग प्यास देती जाती है जो जीवन मे हवाओं को हर बार जिन्दा करती है जीवन कि सोच अलग तरह रहती है।
हर हवा कि आहट मे समझ अलग प्यास देकर जाती है जो जीवन मे कई राहों पर अलग नजारा देकर जाती है हर बार हवाओं मे अलग किसम का तरीका जिन्दा रहता है जिसे समझकर आगे बढते जाने कि आस दुनिया मे अलग तरह रहती है।

कविता. ११९०. हर दास्तान कि एक कहानी बनती है।

                                   हर दास्तान कि एक कहानी बनती है।
हर दास्तान कि एक कहानी बनती है क्योंकि जीवन को कई दिशाओं से आगे जाने कि आदत हर पल कि प्यास बनती है जो दास्तान कि रोशनी हर मौके पर देकर जाती है जो जीवन को अलग पुकार दास्तान देकर जाती है।
हर दास्तान कि एक पुकार बनती है क्योंकि जीवन को समझ लेने कि आदत हर ख्वाईश के साथ होती है जो जीवन मे दास्तान को अलग पहचान देकर चलती है जो जीवन मे रोशनी देकर चलती है जिसमे उम्मीद दुनिया को कदमों कि आहट देकर जाती है।
हर दास्तान कि एक कहानी बनती है क्योंकि जीवन को कई दिशाओं मे परख लेने कि जरुरत रहती है जो जीवन मे कई किनारों से उजाला देकर चलती है जो जीवन मे कई किसम का एहसास समझाकर अलग सुबह देकर जाती है।
हर दास्तान कि एक कहानी बनती है क्योंकि जीवन को कई दिशाओं मे परख लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन मे दास्तान को अलग परख लेना हि अपने कहानी को अलग समझ लेने कि जरुरत हर मौके को मकसद देकर जाती है।
हर दास्तान कि एक कहानी बनती है क्योंकि जीवन को कई किनारों से अलग पुकार रहती है जो जीवन मे कुछ अलग सुबह कि तलाश देकर चलती है जो जीवन को किस्सों मे समझ देकर चलती है जो कहानी मे किरदारों पर समझ देकर जाती है।
हर दास्तान कि एक कहानी बनती है क्योंकि जीवन को कई अंदाज दे जाती है जो जीवन कि रोशनी को बदलाव देती जाती है हर लम्हा जीवन को अलग किनारों से चलने कि जरुरत हर मौके पर होती है जो जीवन मे अलग सोच देकर जाती है।
हर दास्तान कि एक कहानी बनती है क्योंकि जीवन को कई दिशाओं मे आगे बढते जाने कि जरुरत हर लम्हा होती है जो जीवन मे कई दास्ताने देकर चलती है हर बार नयी दिशाए अलग तरह कि उमंग कई दिशाएं और उम्मीदे देकर जाती है।
हर दास्तान कि एक कहानी बनती है क्योंकि जीवन को कई अंदाज मे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे आदत हर मौके पर देकर बढती है जो जीवन मे हर लम्हे कोई अलग कहानी कि तलाश देकर जाती है जिसकी पुकार देकर जाती है।
हर दास्तान कि एक कहानी बनती है क्योंकि जीवन मे हर पल मे कोई पहचान छुपी रहती है जो जीवन मे कई किस्सों को समझ और परख हर बार अलगसी देती है जो जीवन के हर किस्से को मौका अलग देती है सुबह को उजाला अलग देकर जाती है।
हर दास्तान कि एक कहानी बनती है क्योंकि जीवन मे अलग तरह कि पुकार हर राह पर जस्बातों को एहसास अलगसा देती है जो जीवन मे कई किनारों से आगे लेकर हर बार कोई अलग तलाश रहती है जो जीवन मे कई दास्ताने देकर जाती है।

Monday, 23 January 2017

कविता. ११८९. हर सुबह कि रोशनी।

                                  हर सुबह कि रोशनी।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई किनारों पर उजाला देती जाती है जो जीवन मे कुछ मौकों पर परख देती जाती है रोशनी को कई दिशाओं मे अलग पुकार मिलती है जो रोशनी को कई अंदाज देकर नया उजाला देती है।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई किरणों कि उम्मीदे देकर जाती है जो जीवन मे अलग उजाला हर किनारे पर देती रहती है सुबह कि तलाश अलग पहचान देकर चलती है जो हर उजाले को अलग समझ देती है।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई दास्तानों कि ताकत देकर चलती है जो जीवन मे उम्मीदों का उजाला हर लम्हे के साथ दिखाती रहती है हर रोशनी को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर बार अलग आदत देती है।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई किरणों से सुबह को रोशन करती है जो जीवन मे कई किस्सों को परख लेने कि जरुरत जीवन को नयी दिशाए दिखाती है जो जीवन को एहसास अलगसा अक्सर हर दम देती है।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई राहों पर अलग उमंग देकर चलती है जो जीवन मे कई किनारों से रोशनी को एहसास कि समझ देकर हर मौके पर अलग नजारा देकर चलती है जो जीवन मे अलग उजाला देती है।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई दास्ताने देकर चलती है जो जीवन मे कई राहों पर पुकार अलग देकर चलती है जो जीवन मे सुबह को उजाला देकर चलती है जो जीवन मे हर सुबह को अलग पुकार देती है।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई किनारों पर उजाला देकर चलती है जो जीवन मे कुछ कह जाती है वह दास्तान को परखकर आगे चलती है रोशनी को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे कई एहसासों कि पुकार देती है।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई राहों पर उजाला देकर जाती है जो जीवन मे रोशनी का नया उजाला देकर आगे बढती जाती है जो रोशनी जीवन मे कुछ अलग किनारा देती आगे बढती जाती है जो जीवन कि आदत बदल देती है।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई किनारों पर अलग एहसास कि पहचान देकर जाती है जो जीवन मे कई किसम की पुकार देती है जो जीवन मे अलग तरह कि रोशनी हर बार देती है जो जीवन मे कुछ अलग किनारा देती है।
हर सुबह कि रोशनी जीवन मे कई दास्ताने देकर जाती है जिन्हे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे कहानियों को अलग पुकार देती है जो जीवन मे कुछ अलग सुबह देकर जाती है जिसकी रोशनी कि चाहत हर बार रहती है जो जीवन मे नयी किरण देती है।

कविता. ११८८. हर खयाल को समझ लेने कि।

                                    हर खयाल को समझ लेने कि।
हर खयाल को समझ लेने कि आदत हर प्यास मे होती है जो जीवन मे हर सोच को उम्मीद कि रोशनी हर मौके पर देती रहती है जो जीवन मे अलग किसम कि आवाज हर मौके के साथ देती है जो अलग खयाल देती जाती है।
हर खयाल को समझ लेने कि पुकार हर मोड पर होती है जिसे समझकर दुनिया को परख लेने कि ख्वाईश हर बार रहती है जो जीवन मे कई खयालों कि उम्मीदे हर बार देती है जो जीवन मे नयी दिशाए और उनकी पुकार देती जाती है।
हर खयाल को समझ लेने कि आदत हर मौके पर होती है जो जीवन को कई अंदाज मे दुनिया दिखाती है जो जीवन मे कई दास्ताने देकर जाती है जो जीवन मे हर लम्हे कोई अलग तलाश हर सांस और एहसास के साथ देती जाती है।
हर खयाल को समझ लेने कि ख्वाईश हर मौके पर होती है जो जीवन को कई दिशाओं के सहारे नये रोशनी देता रहता है जो जीवन मे हर खयाल को कई अंदाज दे जाती है जो जीवन मे कई दास्ताने देकर जाती है जो जीवन मे कुछ अलग कहानी देती जाती है।
हर खयाल को समझ लेने कि आदत जीवन को कुछ अलग सुबह देकर चलती है जो जीवन मे कोई अलग तलाश देकर चलती है जो जीवन मे कई दास्ताने देकर चलती है उस खयाल को परख लेने कि जरुरत जीवन को बदलाव देती जाती है।
हर खयाल को समझ लेने कि आदत जीवन मे कुछ अलग उम्मीद दिखाती है वह सोच ही हर मौसम को परखकर अलग तरह कि पुकार हर मोड पर होती है जो हर बार खयालों कि उम्मीदे देकर बढ़ती है जो जीवन मे पहचान देती जाती है।
हर खयाल को समझ लेने कि उम्मीदे देकर जाती है हर मौके मे एहसास कि सुबह हर मौके पर उजाला देती है जो जीवन मे खयालों को कई तरह के बदलाव देकर चलती है हर लम्हा जीवन मे कोई अलग तरह कि सोच उम्मीदे देती जाती है।
हर खयाल को समझ लेने कि आदत नयी दिशाए हर लम्हा देकर चलती है जो जीवन मे खयाल कि सोच कई दिशाए देकर चलती है हर सोच को हर समय परखकर अलग विश्वास देती जाती है जो जीवन मे रोशनी देती जाती है।
हर खयाल को समझ लेने कि आदत नयी पुकार देती जाती है जो हर खयाल को कई लब्जों मे नयी रोशनी देती रहती है जो खयाल को सही दिशा देकर जाती है उस खयाल को नयी पहचान हर बार जीवन को मकसद देती जाती है।
हर खयाल को समझ लेने कि जरुरत जीवन को नया मकसद और उम्मीद देकर जाती है जो जीवन मे किसी एहसास कि पुकार देकर जाती है जो जीवन मे कई राहों कि आदत बदलकर आगे बढती है जो जीवन मे उजाला देती जाती है।

Sunday, 22 January 2017

कविता. ११८७. हर पल को तसल्ली होती है।

                               हर पल को तसल्ली होती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो हवा मे कई एहसास मे एक डर कि पहचान हर बार छुपी रहती है जो हवा के अंदर कई किसम कि पहचान को उम्मीदों के साथ दिखाती है जो जीवन मे कई एहसास मे उम्मीदों कि पहचान देकर जाती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो हवा मे कई रंगों कि कहानी बताती है हर मौके मे जीवन कि दिशाए हर किस्से को कई किसम कि सोच दे जाती है वह मन को अलग अलग दिशा से उम्मीदों कि कहानी सुनाती है वह जीवन मे तलाश देकर जाती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो हवा मे कई अंदाज दिखाकर चलती है जो जीवन मे मन को अलग तरह कि उम्मीदे देकर जाती है मन को हर किस्से मे अलग पहचान देकर चलती है जो जीवन मे कई इशारों के साथ पहचान अलग देकर जाती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो हवा मे कई किनारों से आगे लेकर चलती है वह मन मे कई किनारों से उम्मीदे देकर जाती है वह मन को हर बार अलग तरह कि कहानी सुनाती है हर किस्से के साथ वह जीवन मे अलग किनारा देकर जाती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो हवा मे कई रंगों कि पहचान दिखाकर चलती है जो जीवन मे कई रंग दे जाये वह उम्मीद हर पल के किस्से मे जिन्दा रहती है वह रोशनी कि पुकार अलग देती है जो जीवन मे हर पल को अलग इशारा देकर जाती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो जीवन मे कई इशारों को बदलाव देती है जो जीवन मे हर मौके के संग सोच कि पुकार हर लम्हा बदलकर जाती है वह हर पल को अलग किनारा दिखाती रहती है क्योंकि मन कि तसल्ली किनारों से ही उजाले देकर जाती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो जीवन मे कई खयालों को अलग परख देती जाती है जो हर पल मे मन को खुशियाँ दे वह कहानी हर बार कई किस्सों मे आगे बढती है जो जीवन मे कई किरणों को अलग उजाले देती रहती है जो तसल्ली कि नई आशाए देकर जाती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो जीवन मे कई किनारों से पुकार अलग देकर जाती है जो जीवन मे हर मोड पर कोई अलग कहानी बताकर जाती है जो जीवन मे कई दास्ताने अलग रंगों कि सुबह देकर चलती है क्योंकि मन कि तसल्ली जीवन मे किनारे देकर जाती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो जीवन मे कई दास्तानों से अलग सुबह देकर चलती है जो जीवन मे कई राहों पर रोशनी कि पहचान अलग दिखाती है जो जीवन मे पल को तसल्ली देती है जो जीवन मे कई उम्मीदे देकर आगे बढती है जो पल को किरण देकर जाती है।
हर पल को तसल्ली होती है जो जीवन मे कई किनारों से आगे लेकर जाती है हर लम्हा मन मे अलग दास्तान जिन्दा रहती है जो जीवन मे पल को अलग पुकार रहती है पर हर पल हर लम्हा जीवन मे अलग पुकार जगती रहती है जो जीवन मे कई राहों को अलग पलों कि ताकत देती है जो जीवन मे मन को ठंडक देकर जाती है।

कविता. ११८६. सच बात जो मन के अंदर आती है।

                                           हर बात जो मन के अंदर आती है।
हर बात जो मन के अंदर आती है उसे समझ लेने कि उम्मीद हर बार रोशनी दे जाती है जो जीवन मे हर सोच को अलग किसम कि उम्मीदे हर पल के साथ आगे लेकर जाती है जिन्हे समझ लेने कि पुकार जो जीवन मे कई रंग देकर चलती जाती है जीवन का उजाला बदल जाती है।
हर बात जो मन के अंदर आती है उसे पहचान लेने कि परख हर मौके पर चलती जाती है जो जीवन मे कई किनारे पर अलग किस्सा दे जाती है जो जीवन के अंदर अलग रोशनी हर मौके पर देकर रहती है जो मन कि कहानी को हर दिशा मे आगे लेकर चलती जाती है जीवन का एहसास बदल जाती है।
हर बात जो मन के अंदर आती है उसे तूफानों से समझकर हर किनारे पर पहचान हर और से नजर आती है जो जीवन मे कई किस्सों को एहसास अलग देकर चलती है हर पल के अंदर नई सुबह हर मौके पर एक अलग एहसास देकर बढती रहती है जीवन का मतलब बदल जाती है।
हर बात जो मन के अंदर आती है उसे एहसासों कि रोशनी देकर सुबह हर मौके पर अलग कहानी दे जाती है हर पल जीवन मे कोई अलग कहानी लिखी जाती है जिसे समझ लेने पर जीवन को पुकार कि अलग मुस्कान देकर चलती है जो जीवन का मकसद बदल जाती है।
हर बात जो मन के अंदर आती है उसे परख लेने पर ही दुनिया कि कहानी कई किस्सों मे जिन्दा रहती है जो जीवन मे कई किनारों पर अलग तरह का बदलाव देकर जाती है जो हर कहानी को समझ दे जाये वह सोच हर पल अलग निशानी देकर जीवन को बदल जाती है।
हर बात जो मन के अंदर आती है उसे समझ लेने पर जीवन की समझ कुछ अलग मतलब को कई अंदाज मे देकर चलती रहती है जो जीवन मे कई एहसासों कि दिशाए बदलकर आगे चलती जाती है जो जीवन को कई राहों पे अलग रोशनी देकर चलती जाती है जो जीवन को बदल जाती है।
हर बात जो मन के अंदर आती  है उसे समझ लेने पर भी दुनिया कि सोच अलग इशारे पर नया उजाला दे जाती है जो जीवन मे कई दिशाओं से उजाला दे जाती है जो जीवन मे कई किनारों पर अलग किसम कि पुकार दे जाती है जो जीवन मे आगे चलती जाती है जो जीवन को परखकर बदल जाती है।
हर बात जो मन के अंदर आती है उसे समझ लेने पर भी दुनिया कि परख अलग एहसास दे जाती है जो जीवन को समझकर अलग पुकार हर मौके पर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे पहचान देती जाती है जो जीवन मे कई एहसासों को अलग तरह कि पुकार देकर बदल जाती है।
हर बात जो मन के अंदर आती है उसे समझ लेने पर भी दुनिया कि तलाश अलग किनारों पर ले जाती है जिसे समझ लेने पर ही तो दुनिया अलग सुबह देकर चलती है जिसे समझ लेने से ही दुनिया मे अलग पहचान आती है जो जीवन को अलग राहों पर भी सही सॉंस मिले ऐसे बदल जाती है।
हर बात जो मन के अंदर आती है उसे समझ लेने पर भी दुनिया कि दिशाए कई किनारों पर अलग पहचान दे जाती है जो जीवन मे अलग पुकार को अलग समझ देती है क्योंकि जो जीवन मे अलग सोच को अलग किसम को एहसास दे जाती है जो जीवन को हर पल बदल जाती है।

Saturday, 21 January 2017

कविता. ११८५. हर किस्से मे जीवन कि।

                                                   हर किस्से मे जीवन कि।        
हर किस्से मे जीवन कि आस अलग दिखती है जो जीवन मे किस्सों को बदलाव तो देकर चलते है हर किस्से के अंदर पुकार किसी अलग तरह कि रहती है जो दिशा बदलती रहती है जो जीवन को जिन्दा हर बार अलग पुकार देकर चलती रहती है।
हर किस्से मे जीवन कि तलाश अलग दिखती है जो जीवन मे कहानियों से आगे बढती है हर बार हर पल मे कोई अलग समझ हर मौके मे रहती है जो जीवन मे कई किनारों से अलग अलग कहानी हर बार जीवन मे उजाला देकर चलती रहती है।
हर किस्से मे जीवन कि पुकार अलग दिखती है जो जीवन मे कई राहों पर किनारे कई रंगों के देकर आगे चलती है वह मोड पर दुनिया के कई रंगों मे बात बदलती जाती है जो हर पल को अलग दिशाओं से आगे लेकर जाती है जो जीवन की आशाओं मे चलती रहती है।
हर किस्से मे जीवन कि रोशनी अलग दिखती है जो जीवन मे कोई परख या एहसास अलग तरह का दे जाती है जो जीवन मे कई किनारों से अलग सोच कि ताकत हर इशारे के साथ आगे बढती है जो जीवन मे कई एहसासों को समझ देकर चलती रहती है।
हर किस्से मे जीवन कि परख हर बार अलग कदमों से आगे लेकर अलग सुबह होती है जो जीवन मे कई उम्मीदे देकर जाती है हर किस्से मे जीवन कि अलग रोशनी हर पल जिन्दा होती है हर कहानी अलग एहसास के साथ चलती रहती है।
हर किस्से मे जीवन कि पुकार हर बार अलग सुबह से रंगों कि पहचान दिखाती है जो जीवन मे अलग किनारे कि उम्मीद हर बार देती है हर कदम मे अलग रोशनी को समझ हर मौके के साथ होती है जो हर किस्से मे रोशनी के साथ चलती रहती है।
हर किस्से मे जीवन कि पहचान अलग सुबह का एहसास देती है जो जीवन मे कई राहों से अलग दास्तान देकर जाती है क्योंकि हर चाल को समझ लेना हर लम्हे मे जरुरी रहता है जो किस्सों मे अलग किसम का एहसास देकर चलती रहती है।
हर किस्से मे जीवन कि रोशनी देकर चलती रहती है जो हर किस्से को अलग पुकार  देकर रोशनी को समझ देकर चलती रहती है क्योंकि जीवन मे कई दिशाओं मे अलग एहसास देती है जो जीवन को हर पल मे विश्वास देती है वह हर किस्से मे अलग पुकार हर मौके पर आगे लेकर चलती रहती है।
हर किस्से मे जीवन कि रोशनी अलग एहसास देकर जाती है जो जीवन मे कोई अलग पहचान हर पल मे देती रहती है जो किस्सों मे रोशनी कि अलग समझ देकर जाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रोशनी को जीवन मे आगे बढती हुई चलती रहती है।
हर किस्से मे जीवन कि रोशनी अलग तरह कि समझ लेने कि जरुरत हर पल के अंदर हर मौके पर हर पल के साथ जीवन मे कई तरह के रंग दे जाती है जो जीवन मे कई कहानियाँ हर पल आगे बढती जाती है जो जीवन मे हर किनारे पर उजाला देकर हर मौके पर चलती रहती है।

कविता. ११८४. हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है।

                               हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कुछ अलग पुकार और उम्मीद देता जाता है जो जीवन मे हर पल को कई दिशाओं मे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर दिशा के साथ होती है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कुछ अलग रोशनी हर पुकार के साथ रहती है जो जीवन मे पत्थरसी मजबूती देकर जाती है उसे मन कि सच्चाई हर बार कहते है जिसे साथ ही दुनिया जिन्दा होती है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कई रंगों को ताकद देता रहता है जिसे समझकर आगे जाना जीवन मे अलग दिशाओं मे कोई एहसास देता है क्योंकि सच ही तो जीवन कि असली राह होती है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कई दास्ताने देता है जो जीवन मे अलग किसम कि पुकार देती है जो सच के सहारे ही तो जीवन को अलग पुकार को मकसद देकर हर आवाज के साथ आगे चलती है तो जीवन कि उम्मीद होती है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कई दिशाओं से आगे लेकर जाती है हर पल वह राह पर नया अंदाज देकर जाती है जो जीवन मे अलग सोच देकर जाती है पर सच्चाई हर कदम पर आगे लेकर जाती है जो जीवन का उजाला होती है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कई किस्सों कि तलाश बनता है हर सच मे अलग तरह कि उम्मीद जिन्दा होती है जो जीवन मे कई इशारों से सही किनारा देती है जिसे समझ लेने कि कहानी हर बार नयी दिशा मे किनारा ढूँढने मे होती है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कई किनारों से उम्मीदों भरे इशारे देकर चलती है जो जीवन मे कई किनारों मे बदलाव देकर आगे बढती है हर सच्चाई कि अलग तलाश होती है जो जीवन मे कई उम्मीदों कि पुकार होती है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कई किस्सों को मतलब देकर हर बार जाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर साँस के अंदर हर बार छुपी रहती है जो जीवन मे कई इरादों को समझ हर बार मिलती है जो जीवन कि तसबीर होती है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कई किनारों से अलग रोशनी देकर जाती है क्योंकि हर सच कि एक अलग पुकार दिखती है जो जीवन मे कई किनारों को अलग तरह के मतलब देकर आगे बढती है जिसकी जरुरत होती है।
हर सच एक पत्थर कि लकिर होता है जो जीवन मे कई किस्सों को पुकार हर एहसास के साथ हर बार देता है क्योंकि सच ही तो जीवन कि नयी पुकार रहती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर पल मे अक्सर जिन्दा हर बार होती है।

Friday, 20 January 2017

कविता. ११८३. हर चाल को समझ लेते है।

                                    हर चाल को समझ लेते है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन मे कई दिशाओं के अंदर एहसास अलग दे जाती है जो जीवन मे नये किनारों पर दिशाए कई दे जाती है जो जीवन मे चाल अलगसी देकर आगे बढती जाती है जो जीवन मे एहसास के अंदर बदलाव दे जाती है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन मे कई दास्ताने जिन्दा हो जाती है हर चाल को अगर समझ लेते है तो जीवन मे कई चालों कि दिशाए मकसद देती रहती है जो जीवन मे हर एक चाल को अलग तरह का बदलाव दे जाती है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन मे कई किनारों कि कहानी जिन्दा हो जाती है हर कदम पर जीवन मे नयी दिशाए मिलती है जो जीवन मे कई किस्सों मे जीवन को समझ लेने कि आदत हर मौके पर अक्सर दे जाती है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन कि सौगाद किसी अलग अंदाज मे दुनिया दिखाती है जो जीवन मे कई किस्सों को परख अलग तरह कि देती है क्योंकि चाल मे ही नयी दिशाए ही हर लम्हा मिलती है जो उम्मीद दे जाती है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन कि अलग सौगाद मिलती है जो कई किनारों से रोशनी देकर चलती है जो जीवन मे कई राहों से दास्तान देकर आगे बढती जाती है जो जीवन मे हर पल अलग सौगाद दे जाती है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन कि अलग सुबह को कई दिशाओं मे आगे बढते जाते है हर कदम में अलग आवाज कि पुकार उम्मीद देती है जिसे हर मौके पर अलग उम्मीदों कि पुकार मिलती है जिसे समझकर हमे उम्मीद देती जाती है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन कि अलग रोशनी को अलग समझ देती है क्योंकि हर चाल को कई किस्सों मे समझ लेना ही हर बार जरुरी होता है क्योंकि चाल मे जीवन कि कोई अलग तलाश हर बार देती जाती है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन कि अलग पहचान हर लम्हा कोई अलग परख हर बार देती है क्योंकि चाल ही तो कदमों का चलना रुकना हर बार तय करती जाती है क्योंकि हर शुरुआत हर पल को किरण कि रोशनी देती जाती है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन कि दास्तान हर मौके पर बदलाव देकर चलती है हर लम्हे मे जीवन मे कुछ अलग चाल जिन्दा रहती है जो जीवन मे कुछ अलग किनारा देकर आगे बढते जाते है जिनके एहसास कि सुबह उजाला देती जाती है।
हर चाल को समझ लेते है तो जीवन कि पुकार हर मौके पर अलग पहचान दे जाती है जिसे समझकर चलने कि जरुरत हर मौके पर होती है जो जीवन मे हर पुकार को अलग सुबह कि कहानी बताते है चाल ही तो जीवन को रोशनी देती जाती है।

कविता. ११८२. हर मौसम को परख लेना।

                                      हर मौसम को परख लेना।
हर मौसम को परख लेना जीवन कि जरुरत हर बार होती है जो मौसम को कई दिशाओं मे अलग तरह कि उम्मीद देकर आगे बढती है जो जीवन मे मौसम को हर बार बदलाव देकर जाती है जो मौसम को बदलाव देती है।
हर मौसम को परख लेना जीवन कि पुकार को उम्मीद देकर आगे जाती है जो जीवन को समझ देती है कि हर मौसम के साथ बदलते जाने कि जरुरत हर मौके पर अलग किसम का एहसास हर पल मे अक्सर देती है।
हर मौसम को परख लेना जीवन कि बात को नया एहसास देती रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे अलग दिशाओं मे एहसास कि ताकत हर मौके पर आगे बढती है जो जीवन मे मौसम को असर अक्सर देती है।
हर मौसम को परख लेना जीवन कि आदत हर मौके पर रहती है जो हवाओं मे कुछ अलग किनारा देती रहती है वह मौसम के साथ बदलाव कि पुकार दिया करती है जो जीवन मे नजारों को मतलब अक्सर देती है।
हर मौसम को परख लेना जीवन कि सौगाद रहती है जो उम्मीदों को कई किनारों मे आगे लेकर जाती है जो मौसम को कई दिशाओं मे अलग तरह कि पुकार देकर चलती है जो मौसम को मकसद अक्सर देती है।
हर मौसम को परख लेना जीवन कि बात को कई कहानियों मे जिन्दा रखने कि जरुरत रहती है हर लम्हा जीवन को समझने कि जरुरत हर मौके पर होती है हर कदम मे मौसम के साथ अपनी खुशियों कि उम्मीद नही बदलती है वह उम्मीदे अक्सर देती है।
हर मौसम को परख लेने से जीवन को नया बदलाव मिलता है हर बार मौसम को समझकर दुनिया हर बार नही मिलती है मौसम को समझ लेना तो जीवन को राह नयी शुरुआत अक्सर देती है।
हर मौसम को परख लेना जीवन को अलग मकसद हर पल को नया किनारा हर बार अलग इशारा उम्मीदे दे जाता है जो मौसम को परख लेना रोशनी हर बार देता है जो उजाले किरण अक्सर देती है।
हर मौसम को परख लेना जीवन को अलग उजाला देता है जो जीवन मे अलग अलग तरह के एहसास देकर जाता है जो मौसम को अलग किसम की रोशनी मिलती है जो समझ अक्सर देती है।
हर मौसम को परख लेना जीवन को अलग किनारा हर पल के साथ मिलता है जो जीवन मे दुनिया को अलग तरह का असर हर बार मिलता है पर सही राह ही तो जीवन को अलग उम्मीद अक्सर देती है।

Thursday, 19 January 2017

कविता. ११८१. हर लम्हा जीवन कि बात।

                                    हर लम्हा जीवन कि बात।
हर लम्हा जीवन कि बात वही नही करता है कुछ सीधी तो कुछ अनजानी राहों पर वह हर लम्हा चलता है हर किस्से मे जीवन अपनी बदलकर चलता है अल्फाजों के किस्सों का एहसास बदलकर ही लम्हे संग आगे चलता है।
हर लम्हा जीवन कि बात कई हिस्सों मे कहता है हर लम्हा एक अलग हिस्से कि पुकार देकर हर मौके पर अलग रोशनी देकर आगे बढता है वह अपनी कहानी मौके पर नयी सोच देकर जाता है वह रोशनी देकर आगे चलता है।
हर लम्हा जीवन कि बात कहानी अलग देती रहती है जो जीवन मे हर लम्हे कि दिशाए देकर हर बार चलती है जिसे समझकर आगे चलते है हर लम्हा जीवन मे पहचान का किस्सा जीवन को अलग उम्मीद देकर आगे चलता है।
हर लम्हा जीवन कि बात कई किस्सो मे राहों कि पुकार हर बार जिन्दा रहता है जो जीवन मे कई बातों कि समझ ही मौके पर अलग पहचान हर पल मे देती है जो जीवन मे हर लम्हा नयी रोशनी को समझकर आगे चलता है।
हर लम्हा जीवन कि बात कुछ अलग किनारा देकर जाती है क्योंकि लम्हों से ही जिन्दगी हर बार रोशन होती है हर पल मे ही हर मौके मे दुनिया कई रंगों का एहसास हर आवाज को दे जाती है जो पहचान के साथ आगे चलता है।
हर लम्हा जीवन कि बात कुछ अलग आवाज देकर जाती है जिसे समझकर आगे लेकर जाने कि जरुरत हर एहसास को हर बार रहती है जिसे हर लम्हा जीवन मे जीने कि जरुरत हर साज मे रहती है जो जीवन मे हर पल आगे चलता है।
हर लम्हा जीवन कि बात कुछ अलग सोच देकर जाती है जिसमें जीवन कि पुकार अलग दिशाओं मे लेकर जाती है हर कदम पर अलग आवाज का अंदाज छुपा रहता है जो जीवन मे कुछ अलग सुबह देकर आगे चलता है।
हर लम्हा जीवन कि बात कुछ अलग किनारों कि आस देकर आगे बढती है जो जीवन मे कई खयालों कि ताकत देती है हर मौके मे ही प्यास अलग कदमों कि आहट हर बार देती है जिसकी पुकार का एहसास अलग दिशा देकर आगे चलता है।
हर लम्हा जीवन कि बात कुछ अलग दिशा को उम्मीद कि प्यास देती है जो जीवन मे कई राहों को अलग सुबह ही हर बार देती है जो जीवन मे कई एहसास को समझकर ही दुनिया कई रंगों कि जरुरत हर पल मे देती है जो उम्मीद देकर आगे चलता है।
हर लम्हा जीवन कि बात कुछ अलग किनारा देती है कई नजारों को अलग सुबह कि तलाश हर पल मे चाहती है जो हर पल को कई किस्सों मे बनाता है हर लम्हा कोई प्यास देकर आगे बढता है क्योंकि हर मोड पर दुनिया का हर किस्सा आगे चलता है।

कविता. ११८०. मन को अलग।

                                        मन को अलग।
मन को अलग दिशाए हर बार बहलाती है कुछ मन को तसल्ली देती है तो कुछ उसे छिन के ले जाती है जो जीवन मे कई कहानियों कि पुकार हर पल मे देकर आगे बढती जाती है।
मन को अलग किनारों कि आदत बहलाती है कुछ मन को अलग खयालों कि तलाश देकर आगे बढती जाती है हर बार मन को अलग सुबह देकर आगे बढती जाती है।
मन को अलग इशारों से हर पल बहलाती है कुछ मन को अलग दास्तान देती है हर मौके पर अलग साँस देकर चलती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर बार बढती जाती है।
मन को अलग दिशाए हर पल बहलाती है कुछ दिशाओं की पहचान जीवन को अलग पुकार दे जाती है हर मौके पर वह जीवन मे कई किस्सों मे पुकार देकर बढती जाती है।
मन को अलग परख हर बार बहलाती है कुछ परख को समझ लेने कि चाहत हर पल जीवन मे कई इशारों से समझ देकर हर मौके पर आगे चलती है जो जीवन मे रोशनी देकर बढती जाती है।
मन को अलग समझ हर कदम मे बहलाती है कुछ अलग परख जीवन मे कई तरह के किनारे देकर हर पल जीवन को अलग पुकार देकर चलती है जो जीवन मे हर कदम को मकसद देकर बढती जाती है।
मन को अलग एहसास हर मौके मे बहलाती है कुछ अलग रोशनी देकर जीवन मे आगे लेकर चलती है क्योंकि मन मे हर राह पर अलग दिशा कि पुकार होती है जो खुशियाँ देकर बढती जाती है।
मन को अलग तलाश हर किनारे पर बहलाती है कुछ अलग तरह कि उम्मीद देकर आगे जाती है जो जीवन मे आगे चलती जाती है जो मन को कई तरह कि तलाश देकर बढती जाती है।
मन को अलग खयाल कि आस पर बहलाती है कुछ अलग तरह कि कोशिश मन मे हर बार रहती है जो मन को कई लब्जों के सहारे जीवन मे रोशनी देकर बढती जाती है।
मन को अलग किनारे कि पुकार हर बार जिन्दा रहती है जो जीवन मे कई इशारों से आगे चलती है जो जीवन मे हर पल को समझ लेने कि जरुरत हर बार देती है जो जीवन को उम्मीदे देकर बढती जाती है।

Wednesday, 18 January 2017

कविता. ११७९. हर पल मे कोई शुरुआत जरुरी होती है।

                          हर पल मे कोई शुरुआत जरुरी होती है।
हर पल मे कोई शुरुआत जरुरी होती है जो जीवन मे पलों को अंदर पहचान अलग देकर जाती है हर पल से ही तो दुनिया हर बार जिन्दा होती है जो जीवन को नया किनारा देती है।
हर पल मे कोई शुरुआत जरुरी होती है जो जीवन मे हर मौके को पुकार अलगसी देती है जो जीवन मे हर पल को एहसास जुदा देती है जिन्हे समझ लेने पर दुनिया अलग किनारा देती है।
हर पल मे कोई कहानी जरुरी होती है क्योंकि हर किस्से को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे प्यास अलगसी देकर आगे बढती है जो जीवन मे हर कहानी को अलग किनारा देती है।
हर पल मे कोई निशानी जरुरी होती है जो जीवन मे हर हिस्से को परखकर आगे चलते जाने कि जरुरत होती है जो जीवन मे हर कदम पर दिशाए अलग दिखाती है जो हर बार अलग किनारा देती है।
हर पल मे कोई एहसास कि तलाश जरुरी होती है जो जीवन मे हर मोड पर कुछ अलग सौगाद का विश्वास देकर चलती है हर बार कहानी हर इशारे मे अलग किनारा देती है।
हर पल मे कोई पुकार हर बार जरुरी होती है जो जीवन मे कोई अलग समझ अगर पल देकर जाये तो वह बात जरुरी रहती है जो जीवन मे कई एहसासों का अलग किनारा देती है।
हर पल मे कोई सपना बनाने कि सोच जरुरी होती है जो जीवन मे कोई रोशनी देकर चलती है जो जीवन मे हर पल के अंदर अपने ताकद कि पुकार बनती है जो जीवन को अलग किनारा देती है।
हर पल मे कोई इशारा समझ लेने कि चाहत जरुरी होती है जो जीवन मे कई दिशाओं मे एहसास अलगसे देकर आगे बढती है क्योंकि हर पल के अंदर ताकद अलग किनारा देती है।
हर पल मे कोई सुबह का इशारा समझ लेने कि समझ जरुरी होती है जो जीवन मे आती है पर रात के अंधियारे से नफरत जरुरी नही होती है क्योंकि उसकी कहानी अलग किनारा देती है।
हर पल मे कोई एहसास कि तलाश जरुरी होती है जो जीवन मे हर मौके पर जीवन मे अलग इशारा देता है हर बार जीवन मे अलग इशारों को जीवन कि कहानी अलग किनारा देती है।

कविता. ११७८. कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का।

                                 कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का उजाला दिखाता है हर किनारों को नावों का खुबसूरत एहसास हर मौके पर कुछ खास लगता है पानी के लहरों का आभास अलग होता है।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का किनारा दिखाता है मौजों का टकराना विश्वास अलग देता है जो जीवन मे कई हिस्सों को बताने का इशारा देता है उनका विश्वास अलग होता है।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का इशारा दिखाता है हर रंग को परख लेते है तो जीवन का एहसास समझ अलग तरह कि देकर चलता है जिसका किनारा अलग होता है।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का इशारा पहचान को दिखाता है हर मौके पर कई मतलब देकर आगे बढने का एहसास जुदा होता है जिस से जीवन मे साँसों का एहसास अलग होता है।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का किनारा दिखाता है हर लहर के साथ जीवन मे पानी पर नावों का हिलना पहचान को बदलकर जाता है कश्ती का इरादा उस बार मन के लिए अलग होता है।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का एहसास देता हुआ हर पल आगे जाता है जीवन मे किस्सों मे छुपे कहानियों का एहसास जुदा होता है जो जीवन कि राहों को समझकर उजाला देता है वह अलग होता है।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का इशारा लेकर आगे जाता है लहरों कि कहानियों मे कश्ती का किस्सा चुपके से मिल जाता है जो जीवन मे कहानियों के रंगों का मतलब मिलता है उनका एहसास अलग होता है।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का एहसास देता है क्योंकि हर नजारे को समझ लेना जीवन को कई तरह के इशारे दे जाता है उस खयाल को परख लेना जो जीवन देता है वह अलग होता है।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का एहसास दे जाता है वह जीवन मे हर पल भरोसा अलग देता है वह जीवन को सोच कि पुकार अलग देता है जो जीवन मे हम समझ ले वह एहसास अलग होता है।
कई किस्सों मे जीवन अलग तरह का इशारा दे जाता है जिसे कई रंगों कि सौगाद के संग समझ लेना जीवन मे अहम नजर आता है क्योंकि जीवन हर एहसास को जो किनारा देता है वह अलग होता है।

Tuesday, 17 January 2017

कविता. ११७७. दुनिया का हर हिस्सा कुछ।

                                   दुनिया का हर हिस्सा कुछ।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ एहसास अलगसा देता है वह हर बार हर मौके पर सोच का किनारा बदलता रहता है वह जीवन मे हर हिस्से को एहसास जुदासा देकर चलता है।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ अलग कहानी के जस्बात बताकर चलता है वह हर साँस मे जीवन कि आवाज बदल देता है दुनिया का हर हिस्सा किसी नये किस्से कि शुरुआत देकर चलता है।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ अलग तरह कि तलाश देता रहता है जो जीवन मे कई रंगों के अंदर पुकार अलग देता हुआ हर बार आगे चलता है वह जीवन को उम्मीदे देकर चलता है।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ अलग किनारों से कहानी को समझ अलग देकर चलता है जो दुनिया को कई एहसासों से समझ देकर जाता है हर मौके पर जीवन समझ अलग देकर चलता है।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ अलग दिशाए देता रहता है जो जीवन मे कई लब्जों को पुकार अलग देता रहता है दुनिया को कई दिशाओं मे समझ लेना अलग इशारा देकर चलता है।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ अलग रोशनी देकर चलता जाता है जिसे समझ लेना जीवन मे नये एहसासों कि परख हर मौके पर देता है जिसे समझ लेना नयी दिशाए देकर चलता है।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ अलग किनारे कि ताकद देकर आगे चलता है जिसे समझ लेना हर मौके कि जरुरत होता है जो जीवन मे कई एहसासों को अलग समझ देकर चलता है।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ अलग समझ मे दुनिया को परखकर आगे बढता है हर मौके मे जीवन के कई रंगों मे उजाले मे समझ लेना हर बार अहम नजर आता है वह जीवन मे परख देकर चलता है।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ अलग परख को समझ लेने का मौका हर बार देता है जीवन के हर एहसास का अंदाज जीवन मे अलग साँसों कि पहचान देता है साँसों को उम्मीद कि परख देकर चलता है।
दुनिया का हर हिस्सा कुछ अलग इशारों के साथ नये तरह कि समझ देकर जाता है हर लम्हा जीवन मे हर एहसास के अंदर अलग विश्वास हर मौके पर जिन्दा रहता है जो उम्मीदों के उजाले देकर चलता है।

कविता. ११७६. हर लब्ज के अंदर जीवन कि।

                                 हर लब्ज के अंदर जीवन कि।
हर लब्ज के अंदर जीवन कि कोई सोच चुपके से जिन्दा रहती है जिसे समझ लेने पर ही तो दुनिया कई किनारों के एहसास अलगसा देकर जाती है जिसमे लब्जों को समझ लेने से पहले ही दुनिया कि सोच जिन्दा रहती है।
हर लब्ज के अंदर जीवन कि प्यास रहती है जो जीवन को कई रंगों का एहसास हर बार देती है हर लब्ज मे अलग खयाल कि दिशाए हर बार जिन्दा रहती है जो जीवन मे कई इशारों को समझकर आगे चलती है जो जीवन मे कुछ अलग दिशा जिन्दा रहती है।
हर लब्ज के अंदर जीवन कि आस जिन्दा होती है जो जीवन को कुछ अलग समझ तो देती है हर इशारे को परखकर ही तो दुनिया हर पल जिन्दा रहती है जिसे समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर बार अलग समझ देकर जिन्दा रहती है।
हर लब्ज के अंदर जीवन को अलग एहसास दे जाती है जो जीवन मे हर इशारे को अलग किनारे कि जरुरत हर बार होती है जो मौकों को अलग पहचान बनाती है हर लब्ज के साथ दुनिया को समझ  लेने कि आदत होती है जिनमे दुनिया जिन्दा रहती है।
हर लब्ज के अंदर जीवन कि परख कुछ अलग होती है जो मन के अंदर कुछ अलग तरह की प्यास जिन्दा करती जाती है जिसे हर पल मे समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत जीवन को कुछ अलग सौगाद देती है जिस से खुशियाँ जिन्दा रहती है।
हर लब्ज के अंदर जीवन कि परख हर बार दुनिया को जीवन कि आवाज हर मौके पर कुछ अलग तरह कि आस देती है जो जीवन मे कई रंगों को रंगोली हर पल मे दिखाती है जो जीवन मे कई एहसासों मे चुपके से जिन्दा रहती है।
हर लब्ज के अंदर जीवन के कई किनारों से आगे जाती है क्योंकि लब्जों को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर किस्से मे होती है जो जीवन मे कई किस्सों से आगे लेकर चलती है क्योंकि जीवन मे नयी परख देकर जिन्दा रहती है।
हर लब्ज के अंदर जीवन के हर किस्से कि समझ दुनिया को एक ताकद हर बार देती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर बार सजाती है हर लब्ज को परख लेने कि जरुरत जीवन को हर बार कई किस्सों मे परख अक्सर जिन्दा रहती है।
हर लब्ज के अंदर जीवन के हर रोशनी कि दिशा बदलती है जो जीवन मे कई रंगों कि ताकद दुनिया को अलग पुकार हर पल देकर जाती है जिसे लब्ज के सहारे समझ लेने कि जरुरत मोड पर होती है क्योंकि दुनिया सोच मे जिन्दा रहती है।
हर लब्ज के अंदर जीवन के हर किनारे कि ताकद होती है जिसे समझ लेने पर ही दुनिया मे खुशियाँ कई रंगों कि सौगाद बनकर जिन्दा रहती है जिसे जीवन मे समझकर परख लेने कि जरुरत जीवन के हर किस्से मे अक्सर जिन्दा रहती है।

Monday, 16 January 2017

कविता. ११७५. किसी कहानी कि तलाश

                                    किसी कहानी कि तलाश
किसी कहानी कि तलाश कितने मोड दिखाती है सही और गलत दोनों किनारों कि सोच उस रोशनी कि एक किरण मे नजर आती है वह हर मोड को कई रंगों कि खुबी देकर जाती है
किसी कहानी कि तलाश कितने मोड दिखाती है जो हम अक्सर समझ ना पाये वह एहसास दे जाती है जो जीवन मे कोई कहानी अलग किसम के उजाले दे जाती है जो जीवन मे नयी आवाज देकर जाती है
किसी कहानी कि तलाश हमे कुछ अलग उम्मीदे जाती है जो जीवन मे कई इशारों के साथ अलग पुकार देती जाती है वह हर कहानी को नयी पुकार देकर जीवन मे अक्सर मुस्कान का एहसास देकर जाती है
किसी कहानी कि तलाश हमे कुछ अलग पुकार दे जाती है जो जीवन मे कई कहानियों के साथ कई दिशा दिखाती है हर किरदार को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हमे आगे बढने कि उम्मीदे देकर जाती है
किसी कहानी कि तलाश हमे कुछ अलग किनारों से आगे ले जाती है वह हर कहानी कि हर सोच को अलग समझ देकर आगे बढती हुई हर पल हर मौके मे नजर आती है वह उजाला देकर जाती है
किसी कहानी कि तलाश हमे कुछ अलग परख देती रहती है वह हर लम्हे से जीवन मे एक अलग दिशा देकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों कि मुस्कान को कई तितलीयों कि सुंदरता देकर जाती है
किसी कहानी कि तलाश हमे कुछ अलग नजारा दिखाती है जो जीवन को हर दिशा के संग कई एहसास दिखाती है वह जीवन मे छुपी कई साँसों कि ताकद को सबको दिखाती है उम्मीदे देकर जाती है
किसी कहानी कि तलाश हमे कुछ अलग किनारा दिखाती है जो जीवन मे अनजाने नजारों संग अलग किसम के एहसास दे जाती है वह जीवन मे अलग किनारा दे जाती है जो उजाले देकर जाती है
किसी कहानी कि तलाश हमे कुछ अलग किनारा दिखाती है जो जीवन मे कई रंगों के अंदर अलग पुकार दे जाती है जो जीवन मे कहानी को समझ देती है जो जीवन मे अलग तरह कि पुकार देकर जाती है
किसी कहानी कि तलाश हमे कुछ अलग राह को परख लेते है तो जीवन मे दिशाए कई तरह कि देती रहती है जो जीवन मे कोई अलग किसम कि ताकद हर मोड पर अक्सर देकर जाती है

कविता. ११७४. हर बार जो कुछ कह देते है

                                  हर बार जो कुछ कह देते है
हर बार जो कुछ कह देते है बात बदलसी जाती है सीधी राह पे जीवन कि दिशाए समझ अलग बताती है पर अक्सर हर इन्सान कि समझ एकसी नही होती है वह हर किस्से बदलाव अलग देती है
हर बार जो कुछ कह देते है बात तो सच ही होती है फिर भी जब लोग इशारे करते है जीवन के हालात को कह कर बात खत्म नही होती है जो जीवन मे अलग पुकार कि शुरुआत अक्सर देती है
हर बार जो कुछ कह देते है बात सिर्फ सवाल नही होती है हर बार उस मे जवाब के तलाश कि पुकार हर किस्से को मतलब दे जाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे उजाले अक्सर देते है
हर बार जो कुछ कह देते है बात उस खयाल मे कहाँ रुक पाती है वह हर मौके पर जीवन को अलग किस्सों से आगे लेकर चलने कि चाहत हर साँस मे हर कदम को हर मौके मे अक्सर देती है
हर बार जो कुछ कह देते है बात उस सवाल से बढकर जवाब कि तलाश दुनिया को रोशनी देकर रहती है जो हर लम्हे को नई पुकार दे वह बात जीवन मे कई इरादों के साथ समझ अक्सर देती है
हर बार जो कुछ कह देते है बात उस किस्से से शुरु होती रहती है हर बार जीवन मे कहानियाँ समझ लेने कि जरुरत रहती है जो जीवन मे हर लम्हे के साथ नया उजाला देकर उम्मीदे अक्सर देती है
हर बार जो कुछ कह देते है बात एहसास अलग देती है जो हर किनारे को कई एहसासों मे समझ अलगसी देकर चलती है जो हर मौके के अंदर जस्बात कि अलग परख देकर उजाला अक्सर देती है
हर बार जो कुछ कह देते है बात उस किनारे को अलग समझ देती है हर मौके पर जीवन को कई एहसासों कि धारा देकर चलती रहती है जो हर बार अलग इशारे से दुनिया को जवाब अक्सर देती है
हर बार जो कुछ कह देते है बात उस कहानी से जस्बात अलगसा दे जाती है जो जीवन मे सवालों के जवाब अलग दे जाती है जो जीवन मे हर मौके पर एहसास कुछ अलग तरह का अक्सर देती है
हर बार जो कुछ कह देते है बात उस समय पर रुक नही पाती है जो जीवन को कई रंग दे जाये वह सोच जीवन मे कई किसम कि दिशाए हर मौके पर देकर जाती है वह नयी दिशा अक्सर देती है

Sunday, 15 January 2017

कविता. ११७३ . हर मौके पर जीवन मे।

                                    हर मौके पर जीवन मे।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा जिन्दा हो जाता है पहली राह को बदलाव देकर आगे चलकर जाता है वह हर मौके पर दुनिया को आस अलगसी देकर चलता है जो जीवन मे कई किस्सों मे समझ अलग दे जाता है।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा होता है जो जीवन मे कई रंगों कि आवाज को पहचान अलग तरह कि देता है हर मौके समझ देता है हर मौके मे कई किस्सों मे जीवन को अलग तरह कि उम्मीदे दे जाता है।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा हर पल जिन्दा रहता है जो जीवन मे कई किनारों से आगे बढता जाता है वह हर मौके पर जीवन को कुछ अलग कहानियों के किस्से समझता जाता है जो जीवन मे आशाए दे जाता है।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा किनारा जिन्दा करते हुए आगे बढता है हर लम्हा जीवन मे हर किस्सा कुछ अलग समझ देकर चलता है हर मौके पर जीवन मे हर अलग उम्मीदे देकर आगे बढता जाता है।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा होता है जिसे समझ लेना हर किस्से मे कई तरह कि पुकार हर पल को देकर जाता है क्योंकि हर मौके से ही दुनिया को परख लेना हर बार बदलाव दिखता है जो हर लम्हे मे जीवन मे कोई किस्सा बढता जाता है।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा महसूस होता है जिसे समझ लेने पर ही जीवन को कई इशारों मे मतलब मिलता रहता है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया को हर मौके पर उम्मीदों कि परख देकर हर बार आगे बढता जाता है।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा हासिल होता है जिसे समझ लेने कि जरुरत को इन्सान अलग तरह कि पुकार देता जाता है हर मौके को समझ लेना जरुरी होता है जो जीवन मे हर किस्से के संग पहचान अलग देकर बढता जाता है।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा जिन्दा होता है जो जीवन मे कई रंगों का इशारा हर किस्से मे जुदासा रहता है जो मौके के सहारे हर बार आगे लेकर जाता है हर किस्से को कई रंगों से समझ लेना ही उम्मीदों के सहारे दिशाओं से बढता जाता है।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा किनारा हर पल होता है जो जीवन मे कई एहसासों को परखकर दुनिया को रंग कई देकर चलता है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया दे वह मौका हर किस्से के साथ नयी रोशनी देकर बढता जाता है।
हर मौके पर जीवन मे एहसास अलगसा दिखता है जो जीवन मे कई राहों को हर पल कुछ अलग एहसास देकर जाती है जो हर मौके को अलग पहचान देकर जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया देकर चलती है जिसे परखकर जीवन बढता जाता है।

कविता. ११७२. जीवन मे हर कदम पर कोई।

                                                      जीवन मे हर कदम पर कोई।
जीवन मे हर कदम पर कोई तो एहसास कि पुकार जिन्दा रहती है जो कदमों को अलग तरह कि दिशाओं कि पुकार दे जाती है हर कदम को अलग तरह के एहसासों कि पुकार हर लम्हा रोशनी देकर चलता है जो कदमो को अलग तरह कि ताकद देती है।
जीवन मे हर कदम पर कोई तो समझ हर पल रहती है जो जीवन मे कई राहों को कई तरह कि पुकार हर मौके पर अक्सर रोशनी देकर चलती है हर कदम के साथ जीवन मे अलग तरह कि सोच जीवन मे कोई अलग पुकार जीवन मे कोई एहसास देती है।
जीवन मे हर कदम पर कोई तो समझ हर इशारे मे विश्वास देती है जो जीवन मे कई कदमों के साथ अलग तरह का एहसास देकर जाती है जीवन मे कोई राह देकर आगे जाती है हर कदम के साथ दुनिया मे हर पल एक अलगसी दिशा हर बार खुलती है जो रोशनी देती है।
जीवन मे हर कदम पर कोई तो एहसास हर मौके पर जिन्दा रहता है जो जीवन मे कई किस्सों मे परख लेने कि आवाज जीवन को रोशन हर पल के संग करती है हर बार उस आवाज से जीवन मे अलग पहचान मिलती है हर कदम के संग अलग रोशनी जीवन को नया किनारा देती है।
जीवन मे हर कदम पर कोई तो समझ जीवन मे अलग रोशनी हर लम्हे के साथ बनती है जो जीवन मे अलग हालात को हर पुकार को अलग समझ देकर चलती है जो जीवन मे हर लम्हे को अलग तरह कि पुकार हर सोच मे जीवन को अलग किसम कि सोच देती है।
जीवन मे हर कदम पर कोई तो समझ परख लेने कि चाहत जीवन मे हर बार रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे कई किसम के एहसास हर मौके पर रहती है जो जीवन मे कदमों को अलग तरह कि पुकार जीवन को हर किस्से के साथ आगे लेकर चलती है जीवन मे उजाले देती है।
जीवन मे हर कदम पर कोई एहसास के अंदर विश्वास हर लम्हा रहती है जो जीवन को हर पल जिन्दा रखती है जो जीवन मे हर दिशा मे समझ अलग किसम कि देती है हर कदम को अलग पुकार जीवन मे नई रोशनी देकर जाती है पर हर लम्हा सही सोच ही तो जीवन मे उजाला देती है।
जीवन मे हर कदम पर कोई एहसास के अंदर जीवन को कई खयाल देकर जाती हुई साँसे हर लम्हा जीवन की पुकार होती है जो कदमों को अलग तरह कि रोशनी दे जाती है जो जीवन मे अरमानों को अलग दिशाए दिखाती रहती है जो जीवन मे अलग पुकार देती है।
जीवन मे हर कदम पर कोई रंग कि रोशनी जीवन को अलग एहसास दे जाती है जो जीवन मे आगे ले जाती है हर किनारे के अंदर जीवन मे उजाले को अलग तरह कि रोशनी हर मौके पर हर बार रहती है जो जीवन मे कई कहानियों को अलग तरह के एहसास देती है।
जीवन मे हर कदम पर कोई एहसास कि पुकार रहती है जो जीवन मे कई किनारों को अलग दिशाए हर पल मे देकर जाती है हर राह पर जीवन को अलग पुकार मिलती है जो जीवन को कई एहसासों से समझ लेने कि जरुरत हर बार जीवन मे उजाले कि पुकार हर बार देती है। 

Saturday, 14 January 2017

कविता. ११७१. हर लम्हा जीवन मे।

                                                  हर लम्हा जीवन मे।    
हर लम्हा जीवन मे कई रंगों कि पहचान हर बार होती है जो मन मे कोई अलगसी सुबह देती है जो हर लम्हा खुशियाँ देकर आगे बढता है जो जीवन मे कई एहसासों को समझ अलग देता रहता है हर लम्हे की सोच अलग होती है जो जीवन मे कई एहसास देती है।
हर लम्हा जीवन मे कई एहसासों कि पहचान हर बार देता है जो मन मे कोई पुकार देकर जाती है जो हर लम्हे मे  दुनिया को कोई अलग एहसास के संग आगे लेकर जाने कि जरूरत हर बार होती है जो जीवन मे हर लम्हे मे खुशियाँ मिलती है जो जीवन मे रोशनी देती है।
हर लम्हे से जीवन मे कई दिशाओं से एहसास कि धारा कई किस्सों मे आगे बढती है जो जीवन मे कई किसम के एहसास जीवन मे कई तरह कि पुकार देती जाती है जो हर पल के अंदर एहसास अलग देकर जाती है जो जीवन के कई किसम के एहसास देती है।
हर लम्हे से जीवन मे कई किनारों से दुनिया हर मौके पे अलग पुकार देकर जाती है जो जीवन मे हर किनारे मे अलग पुकार हर पल मे दिखती है जो जीवन मे कई कहानियाँ जिन्दा होती है जो जीवन मे हर सोच के संग कई एहसासों कि धारा देती है।
हर लम्हे से जीवन मे कई इशारों के संग दुनिया को कई खुशियाँ हर पल मिलती है जो जीवन मे हर बार एहसासों कि अलग कहानी कह देती है हर पल जीवन मे कोई अलग कहानी जिन्दा रहती है जो जीवन को कई एहसासों मे दुनिया अलग दिशा से दिखाती रहती है जो उम्मीदे देती है।
हर लम्हा जीवन मे कई लहरों से आगे चलती है जो जीवन मे कोई अलग लब्ज हर बार देकर समझाती है जो जीवन मे कुछ अलग एहसास को परख लेती है जो हर लम्हा जीवन मे अलग एहसासों कि शुरुआत देकर चलता है जो जीवन मे अलग तरह का उजाला देता है।
हर लम्हे से जीवन मे कई इशारों मे दुनिया आगे चलती है जो जीवन मे कई किनारों पर लहरों कि अलग सौगाद देकर जाती है जो जीवन के हर किनारे मे अलग एहसास देकर आगे चलती है जिसे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे अलग तरह कि पुकार देती है।
हर लम्हा जीवन मे कई एहसासों को समझ लेने कि जरुरत हर पल रहती है जो जीवन मे कई किस्सों को अलग अलग एहसास से आगे लेकर जाती है जो जीवन मे कोई अलग किसम कि पहचान हर पल रहती है जो जीवन मे कोई अलग पुकार देती है।
हर लम्हा जीवन मे कई अलग किनारों से आगे बढता है जिन्हे हर बार जीवन मे समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है जो जीवन मे कोई अलग किसम कि कहानी जीवन मे देकर आगे बढती है जिसे समझ लेने कि जरूरत जीवन को अलग विश्वास कि पुकार देती है।
हर लम्हा जीवन मे कई अलग राहों पर कोई अलग एहसास देकर जाता है जो जीवन मे आगे चलता है जो जीवन मे कई किसम कि पुकार हर पल जिन्दा रखता है जो जीवन मे अलग समझ देकर चलता है जो जीवन मे कई किनारों को अलग पुकार देता है। 

कविता. ११७०. हर बार सूरज जब उगता है।

                                     हर बार सूरज जब उगता है।
हर बार सूरज जब उगता है तब सुबह का अंदाज अलगसा देता है जो जीवन मे हर सुबह को अलग उजाला दे जाती है जो सूरज के रंगों को हर बार बदलाव दे जाती है जो जीवन मे अंदर कई किस्सों को रंग कई तरह के दे जाती है।
हर बार सूरज जब उगता है तब सुबह का अंदाज अलगसा देता है जो जीवन मे कई रंगों को समझ लेने कि परख कुछ अलगसी होती है जो जीवन मे हर बार सूरज को कई रंगों मे समझकर उजाला दिखाकर खुशियाँ दे जाती है।
हर बार सूरज जब उगता है तब नया उजाला मिलता है जो जीवन मे हर सुबह को अलग किनारा देकर आगे बढता है उस किनारे को अलग सुबह के संग समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर लम्हा रहती है जो उम्मीद दे जाती है।
हर बार सूरज जब उगता है तब नये दिन को समझ लेने कि जरुरत जीवन को उस उगते सूरज के साथ हर लम्हे मे होती है जो सूरज को कई रंग दे वह रोशनी उजाले के संग हर लम्हा जिन्दा होती है जो जीवन मे दिशाए दे जाती है।
हर बार सूरज जब उगता है तब हर सूरज कि रोशनी अलग नजर आती है जो जीवन मे हर सुबह का सूरज नया बताती है जो सूरज को कई रंगों मे दिखाए वह सुबह कुछ अलग रंगों के एहसास को कुछ अलग पहचान दे जाती है।
हर बार सूरज जब उगता है तब सुबह का एहसास अलगसा दिखता है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर मौके पर देकर रहता है हर बार जीवन मे हर सुबह कि दिशाए अलग दिखाती है जो सूरज को कुछ अलग तरह कि पुकार दे जाती है।
हर बार सूरज जब उगता है तब सुबह का अंदाज अलगसा दिखता है जो जीवन मे हर रंग के संग पुकार अलगसी देता है हर सूरज के संग खयाल अलगसा आता है हर मौके पर दुनिया का मकसद जुदासा होता है जो जीवन मे अलग शुरुआत दे जाता है।
हर बार सूरज जब उगता है तब सुबह का अंदाज अलगसा होता है जो जीवन मे हर दिन के संग अलग रंगों मे आसमान को सुंदरता देता है हर मौके संग आसमान मे सूरज रंग कई दे जाता है जिनके अंदर सूरज कि किरणे रोशनी दे जाती है।
हर बार सूरज जब उगता है तब सुबह का अंदाज कोई पुकार जीवन मे देकर आगे चलता है जो जीवन मे सूरज के किरणों से कुछ अलग एहसास तो मिलता रहता है जो हर सुबह के साथ जीवन मे शुरुआत अलगसी देता है हर किरण अलग उजाला दे जाती है।
हर बार सूरज जब उगता है तब सुबह का अंदाज अलगसा एहसास होता है जो जीवन मे कई रंगों से शुरुआत अलगसी मिलती है जिसमे रोशनी का एहसास अलगसा रहता है जो जीवन मे हर किस्से को नया एहसास देता है जिसमे सुबह अलग किरण दे जाती है। 

Friday, 13 January 2017

कविता. ११६९. किसी मासूम खयाल को समझ लेना।

                                  किसी मासूम खयाल को समझ लेना।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने पर दुनिया सोच बदलती है जो जीवन मे ना कह सके हो वह बात मुँह से निकल जाती है जो जीवन मे कई मासूम खयालों कि दुनिया बदलती जाती है जो जीवन मे मासूम एहसास देकर जाती है।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने पर दुनिया की रंगों के एहसास दिखाती है जो जीवन मे खयालों को ताकद दे जाये वह सोच हर पल जिन्दा रहती है जो मासूमियत से आगे बढती है जो जीवन मे मासूम खयालों को रोशनी देकर जाती है।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने पर दुनिया मे कई कहानियाँ जिन्दा रहती है जो जीवन मे कई किस्सों को अलग रोशनी देकर हर पल के साथ आगे चलती जाती है हर पल के अंदर जीवन कि सौगाद मासूम सोच कि रोशनी देकर जाती है।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने पर दुनिया मे कई किसम कि दिशाए मिलती है जो जीवन मे कई एहसासों को मासूमियत से समझ लेती है जो जीवन मे कई किस्सों कि मासूमियत परखकर आगे चलती है जो उजाला देकर जाती है।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने पर दुनिया मे कई किनारों को परख लेने कि जरुरत रहती है जो जीवन मे मासूम एहसासों से परख देकर आगे बढती है हर मासूम इशारे से जीवन मे कई एहसासों को अलग इशारा देकर जाती है।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने पर दुनिया मे कई कहानियों कि समझ जरुरी रहती है जो जीवन मे मासूम इरादों से आगे निकल जाती है जो जीवन मे मासूम एहसास को कई किनारों मे आगे लेकर चलती है जो जीवन मे उम्मीदे देकर जाती है।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने कि जरुरत दुनिया को अलग एहसास देती जाती है जो जीवन मे हर मौके से परख अलग देकर बढती है उस मासूमियत से ही दुनिया हर बार बदलती रहती है जो जीवन मे मासूम एहसास देकर जाती है।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने कि जरुरत दुनिया को अलग पहचान हर बार किनारे को एहसास कुछ अलगसा देकर चलती है जो जीवन मे खयालों को अलग किनारा दे जाती है जो मासूम एहसास को समझकर परख देकर जाती है।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने कि जरुरत दुनिया को कई किनारों से आगे लेकर चलती जाती है हर बार मासूमियत जीवन का एहसास बदलाव देकर चलती है जो जीवन मे कुछ अलग समझ हर मौके पर अक्सर देकर जाती है।
किसी मासूम खयाल को समझ लेने कि जरुरत दुनिया को कई किनारों मे अलग परख देती है हर खयाल मे मासूमियत हर पल छुपी रहती है जो जीवन मे कई राहों पर जीवन को अलग एहसास के अंदर उम्मीद देकर जाती है। 

कविता. ११६८. दिशा के अंदर जीवन कि प्यास।

                                 दिशा के अंदर जीवन कि प्यास।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग एहसास के साथ किरणों को रोशनी दे जाती है जो जीवन मे अलग प्यास देती है जो जीवन मे दिशाओं को अलग उम्मीदे देकर चलती है जो जीवन मे कई किनारों को उजाला देती है।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग किरणों को अलग किनारे कि प्यास हर मौके पर अक्सर रहती है हर बार हर दिशा मे जीवन कि तलाश हर रोशनी के अंदर जिन्दा रहती है जो जीवन मे कई किनारों को एहसास देती है।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग उम्मीदों को अलग पुकार देती है जो जीवन मे हर राह को अलग किसम का एहसास जीवन के ताकद के अंदर हर पल देकर जाती है जिसमे जीवन के इशारों को जिन्दगी एहसास देती है।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग किनारों को आवाज देती है जो जीवन मे हर एहसास को दिशाओं कि पुकार हर बार देती है जो दिशाओं के साथ आगे चलती रहती है जिसे समझ लेने कि जरुरत जरुरत जीवन को अलग एहसास देती है।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग उजाले कि पुकार देकर आगे जाती है हर दिशा जीवन मे अलग तरह का एतबार हर लम्हा देकर रहती है दिशाओं में ही दुनिया जिन्दा हर बार होती है जो जीवन को कई किनारों का एहसास देती है।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग किरणों कि ताकद को समझकर हर पल मे देकर जाती है जो दिशाओं मे हर मौके पर अलगसा एहसास देती है जो जीवन मे दिशाओं के साथ अलग तरह का एतबार अौर अलग एहसास देती है।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग पुकार को परखकर दुनिया मे उम्मीदों के उजाले देती है जो जीवन मे कई किनारों पर अलग अलग तरह के एहसास दिखाती है जो जीवन मे दिशाओं को समझकर कुछ अलग एहसास देती है।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग किरणों के सहारे आगे बढती है हर बार जीवन मे कई एहसासों को समझ देकर नयी शुरुआत देती है जो जीवन मे हर दिशा के अंदर अलग कहानी को जिन्दा करती है कुछ अलग एहसास देती है।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग किनारे को कुछ अलग किसम कि रोशनी और उसकी पुकार देती है जो जीवन मे दिशाओं को अलग कोनों मे समझकर आगे लेकर जाती है जो जीवन मे कई किनारों पर अलग एहसास देती है।
हर दिशा के अंदर जीवन कि प्यास अलग किरणों के उजाले देकर रहती है जो जीवन मे कई एहसासों को परख लेने कि जरुरत हर मौके पर देती है जो जीवन मे दिशाओं के अंदर कई किनारों मे कई रंगों कि दुनिया हर पल अलग एहसास देती है। 

Thursday, 12 January 2017

कविता. ११६७. जीवन मे हर किस्से कि आवाज।

                                     जीवन मे हर किस्से कि आवाज।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज अलगसी होती है जो जीवन मे कई एहसासों को कुछ अनजानीसी बात होती है हर किनारे पर जीवन मे अलग पुकार जिन्दा रहती है जो जीवन को कई कहानियों मे आगे लेकर चलती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज कई कहानियाँ सुनाती रहती है जो हर किस्से को साँसे दे वह दुआ कुछ अलगसी रहती है जो जीवन मे कई किस्सों से अलग उजालों कि सुबह देती रहती है वह जीवन मे कई कहानियाँ बताती है जो आगे लेकर चलती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज कुछ अलग अंदाज कि कहानी बताती है जो जीवन मे कई किस्सों को पुकार अलग दे जाती है वह जीवन को कई एहसासों के कोनों कि पुकार अलग बनाती है जो जीवन मे कई किस्सों को आगे लेकर चलती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज कोई अलग एहसास दिखाती रहती है हर किस्से को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर बार पता होती है जो किस्सों के एहसासों को एक अलग सोच देकर अलग पहचान के साथ उम्मीदों से आगे लेकर चलती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज जीवन मे कई एहसासों को दिखाती है हर किस्से को जीवन के हर पल कि कहानी दिखती है जो हर बार जीवन मे कोई अलग निशानी रहती है जो जीवन मे कई किनारों को हर दम आगे लेकर चलती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज जीवन मे कई कहानियों कि पहचान हर मौके पर रहती है जो जीवन को कुछ अलग कहानी हर साँस के साथ देती रहती है वह हर लम्हा कुछ अलग एहसासों के संग कदमों को आगे लेकर चलती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज जीवन मे कई एहसासों की पुकार अलगसी रहती है जो जीवन को कई कहानियों के संग उजाले का एहसास दे जाता है हर किस्से का एहसास जीवन को कोई अलग पहचान देकर आगे लेकर चलती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज जीवन मे कई एहसासों को परखकर दुनिया के हर कदम आगे लेकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों मे उम्मीदे देकर आगे बढती रहती है जो जीवन मे कई उम्मीदे समझकर आगे लेकर चलती है।
जीवन मे हर किस्से कि आवाज जीवन मे कई किसम कि रोशनी का एहसास देती है जो जीवन मे कई किस्सों को अलग तरह कि पुकार जीवन मे हर बार देकर रहती है जीवन मे किस्सों कि पुकार हर बार आगे लेकर चलती है।
जीवन मे कई किस्से कि आवाज जीवन मे कई एहसासों को जिन्दा करती जाती है हमे हर पल हर किस्से मे जीवन कि तलाश रहती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया को हर बार मौका देकर जाती है जीवन मे खुशियाँ हर बार आगे लेकर चलती है। 

कविता. ११६६. हर सोच को बार बार।

                              हर सोच को बार बार।
जीवन मे हर सोच को बार बार परख लेने कि जरुरत जीवन को अलग बात बताती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर सोच के भीतर रहती है जो हर बार सोच को ही अहम बताती है हर मौके पर सोच से ही दुनिया बनती है।
जीवन मे हर सोच को बार बार समझ लेने कि जरुरत जीवन को कई हालात देकर जाती है हर सोच को समझ लेना ही तो जीवन का एहसास होता है जो जीवन मे कई इशारों से आगे लेकर चलती है उस सोच से ही दुनिया बनती है।
जीवन मे हर सोच को बार बार महसूस करने से जरुरत जीवन को कई तरह कि उम्मीदे देकर जाती है जो जीवन मे कई तरह कि सोच को बदलाव देती है सोच को समझकर जीवन को बदलने कि जरुरत से ही उस सोच से ही दुनिया बनती है।
जीवन मे हर सोच को बार बार पहचान लेने कि जरुरत जीवन को कई किस्सों से कहानी देती है जो जीवन मे कई इशारों से दुनिया को हर बार आगे लेकर चलती है जो जीवन मे कई किनारों से अलग सुबह देकर चलती है उस सोच से ही दुनिया बनती है।
जीवन मे हर सोच को बार बार समझ लेने कि जरुरत जीवन को कई एहसासों कि परख देती रहती है जो जीवन मे कई कहानियों कि पुकार देकर जाती है जो जीवन मे कई तरह के एहसास को नयी शुरुआत देकर हर मौके पर दुनिया बनती है।
जीवन मे हर सोच को बार बार समझ लेने कि उम्मीदे जीवन को होती है जो जीवन मे कई दिशाओं कि परख लेने कि जरुरत जीवन को कई किसम के रंगों मे एहसास देकर जाती है हर बार जीवन मे हर सोच के साथ हर पल दुनिया बनती है।
जीवन मे हर सोच को बार बार समझ लेने कि उम्मीदे जीवन को होती है जो जीवन मे कई एहसासों को नयी सुबह के साथ एहसास अलगसा देकर आगे चलती है जो सोच को समझकर जीवन को नया एहसास देकर चलती है हर एहसास कि दुनिया बनती है।
जीवन मे हर सोच को बार बार समझ लेने कि दिशाए दुनिया कई किस्सों मे देती है जो जीवन मे कई तरह कि सोच देकर आगे जाती है जो हर सोच के साथ जीवन को नये उजाले देकर चलती है जो जीवन मे हर दिशा पर हर पल मे दुनिया बनती है।
जीवन मे हर सोच को बार बार समझ लेने कि अहमियत दिशाओं मे होती है जो जीवन को कई कहानियों मे अलग समझ देकर आगे चलती है जो जीवन मे कई एहसासों को अलग तरह के रंग देती है जिनके सहारे से ही हर मौके मे दुनिया बनती है।
जीवन मे हर सोच को बार बार समझ लेने कि जरुरत हर किस्से मे रहती है जो जीवन को कुछ अलग किनारों से मकसद देती है जिसे जीने कि जरुरत दुनिया मे हर पल अक्सर होती है जो जीवन मे कई रंगों के सहारे देती है उनसे ही हर मोड पर दुनिया बनती है। 

Wednesday, 11 January 2017

कविता. ११६५. हर हवा के झोंके मे।

                                  हर हवा के झोंके मे।                        
हर हवा के झोंके मे जीवन को परख लेना जरुरी होता है जो जीवन मे कई कहानियों के किस्सों को मकसद देकर जाता है वह हवाओं मे मकसद देकर आगे बढता जाता है हर मौके मे जीवन का एहसास दिशाए बदलता जाता है।
हर हवा के झोंके मे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है क्योंकि हवा का झोंका हर मौके को मकसद देकर हर बार चलता है हर बार हवा का झोंका एहसासों को जिन्दा करता है जो जीवन मे अलग समझ देकर बदलता जाता है।
हर हवा के झोंके मे जीवन को परख लेना जरुरी होता है जो जीवन मे हर पल को कोई एहसास देकर आगे बढती है जो हवाओं के अंदर कई तरह के एहसास को समझकर आगे बढती है उस एहसास को दिशाए देकर जीवन बदलता जाता है।
हर हवा के झोंके मे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है जो जीवन मे हर पल को कोई एहसास देकर आगे बढते जाने कि उम्मीदे जीवन मे अलग एहसास को पहचान देकर चलती है जिन्हे जीवन अलग समझ देकर बदलता जाता है।
हर हवा के झोंके मे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है जो जीवन मे हर मौके को कोई कहानी अलग एहसास मे आगे जाती है हर मौके मे जीवन कि दुनिया हर बार जीवन को दास्तान दिखाती है जिसे अलग समझ देकर बदलता जाता है।
हर हवा के झोंके मे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है जो जीवन मे हर दास्तान कि कोई अलग कहानी बताता है जो जीवन मे हवा के हर एहसास मे मौका देती नजर आती है हर हवा मे कई एहसासों को अलग समझ देकर बदलता जाता है।
हर हवा के झोंके मे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है जो जीवन मे कई मौकों पर कोई एहसास देकर जाती है क्योंकि झोकों के अंदर अलग पुकार देती है जो जीवन मे कई रंगों के एहसास को अलग समझ देकर बदलता जाता है।
हर हवा के झोंके मे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है जो जीवन मे कई किनारों मे अलग दिशाए देता रहता है जो जीवन मे हवाओं के कई मतलब दिखाता चला जाता है जो जीवन मे कई किस्सों मे आगे लेकर जाता है जो जीवन मे समझ देकर बदलता जाता है।
हर हवा के झोंके मे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है जो जीवन मे कई एहसासों को हर मौके पर अलगसी समझ या परख देकर चलता है हर झोंके को समझ लेने कि जरुरत हर पल होती है जो जीवन मे कई एहसासों को समझ देकर बदलता जाता है।
हर हवा के झोंके मे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है जो जीवन मे कई किस्सों मे अलग उम्मीदे देकर आगे जाती है हर हवा के साथ एक साँस अक्सर आती है जिसे पहचान लेने कि जरुरत होती है जो जीवन को हर बार अलग पहचान समझ देकर बदलता जाता है। 

कविता. ११६४. बात को कई किनारों मे।

                                 बात को कई किनारों मे।
बात को कई किनारों मे समझकर जीवन मे आगे जाने कि जरुरत होती है हर किनारे पर जीवन मे अलग समझ रहती है हर किनारे पर दुनिया कोई अलग कहानी कहती है जो जीवन मे कुछ उम्मीद को परख लेने कि जरुरत होती है।
बात को कई किनारों मे समझकर जीवन मे आगे जाने कि जरुरत जीवन मे रहती है हर बार जीवन मे कई दिशाओं के साथ पहचान देकर चलती है जो जीवन मे कई बातों को एहसास देती है जिन्हे समझ लेने कि जरुरत होती है।
बात को कई किनारों मे समझकर जीवन मे आगे जाने कि राहे अक्सर मिलती है जो जीवन मे हर मौके पर एहसास अलगसा देती है जो जीवन मे बात को कई किस्सों मे समझ देती है वह बात तो जीवन मे आगे लेने कि जरुरत होती है।
बात को कई किनारों मे समझकर जीवन मे आगे जाने कि उम्मीदे अक्सर हमे आगे लेकर चलती है हर बात को कई अंदाजों मे आगे बढती है जो जीवन मे बात को अलग समझ देती है जो जीवन मे आगे चलकर जाना ही आगे लेने कि जरुरत होती है।
बात को कई किनारों मे समझकर जीवन मे आगे जाने कि ताकद उजाले पर असर करती है जो बात को कई किस्सों मे कुछ अलग मकसद देकर चलती है जो बातों को अलग अंदाज देकर चलती जाती है जिसको जीवन मे आगे लेने कि जरुरत होती है।
बात को कई किनारों मे समझकर जीवन मे आगे लेकर कि जाती है हर बात को परखकर दुनिया हर मौके पर जीवन मे कई किनारों को आगे लेकर चलती है हर बात को कोई इशारों से परखकर नयी उम्मीदे देती है सही खयालों को जीवन मे आगे लेने कि जरुरत होती है।
बात को कई दिशाओं से समझ लेने कि जरुरत हर खयाल को अक्सर रहती है जो जीवन मे बातों के कई मकसद देती है जो हर बात के साथ अक्सर आगे लेकर जाती है जो जीवन मे कई हिस्सों मे अलग तरह कि पुकार होती है वह जीवन मे आगे लेने कि जरुरत होती है।
बात को कई इशारों से आगे लेकर जाती है वह बात अक्सर कई कहानियों के संग एहसास अलगसा देकर जाती है क्योंकि बातों को कई किस्सों मे पहचान लेने कि जरुरत होती है जो जीवन को हर लम्हा अलग एहसास देती है जिसे जीवन मे आगे लेने कि जरुरत होती है।
बात को कई दिशाओं से आगे लेकर चलती रहती है जो बातों कि कहानी हर मौके पर बताकर जाती है जो हर बात को अलग किसम कि दिशाए बताती है जो जीवन मे कई बातों को अलग दिशाए मिलती जाती है जिन्हे जीवन मे आगे लेने कि जरुरत होती है।
बात को कई दिशाओं से आगे लेकर चलने की जरुरत होती है वह बात कई किनारों मे समझकर जीवन मे उजाले देती है हर बार हर बात को समझने कि जरुरत कई दिशाओं मे होती है जो जीवन मे कई एहसासों को अलग समझ देती है जिसे आगे लेने कि जरुरत होती है। 

Tuesday, 10 January 2017

कविता. ११६३. हर कदम पर जीवन।

                                      हर कदम पर जीवन।
हर कदम पर जीवन के एहसासों को समझ देकर आगे चलकर जाना जरुरी रहता है हर कदम मे जीवन कि कहानी अलग विश्वास के सहारे आगे बढती जाती है जो कदमों को अलग बहाने देकर आगे बढती रहती है।
हर कदम पर जीवन के अंदाज को परखकर दुनिया हर मौके पर एहसास हर राह मे देकर जाती है जो कदमों के अंदर सौगाद कि पहचान हर मौके पर देकर चलती है जो किनारे मे किनारों कि पहचान देकर आगे बढती रहती है।
हर कदम पर जीवन के अंदाज को परखकर दुनिया हर मौके पर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को उजाला अलग तरह का देती है जो कदमों को पहचान अलग किसम कि देती है जो जीवन मे उम्मीदे देकर बढती रहती है।
हर कदम पर जीवन के अंदाज को परखकर दुनिया हर मौके पर सोच अलग तरह कि देकर आगे चलती है जो कदमों को पहचान अलग तरह कि होती है जो दुनिया मे कदमों को दिशाए अलगसी दिखती है जो उम्मीदे देकर बढती रहती है।
हर कदम पर जीवन के एहसासों को परखकर दुनिया की हर कोने मे सोच जुदासी होती है जो जीवन मे कई रंगों को रोशनी देकर चलती है हर बार हर कदम मे दुनिया कोई अलग उम्मीद देती जाती है जो दिशाओं को उम्मीदे देकर बढती रहती है।
हर कदम पर जीवन के अंदाज को परखकर दुनिया हर मौके मे कोई समझ लेने कि पहचान हर मौके पर अलगसी रोशनी देती है जो दुनिया को कई किस्सों मे पहचान को अलग मौका देती है जिसे समझ लेने से ही दिशाए उम्मीदे देकर बढती रहती है।
हर कदम पर जीवन के एहसासों को परखकर दुनिया हर मौके से साँसों कि उम्मीदे लेती है जो जीवन मे कई किनारों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर देती है जो जीवन मे कई किस्सों मे कुदरत को अलग एहसास देकर बढती रहती है।
हर कदम पर जीवन के अंदाज को परखकर दुनिया हर किनारों कि पहचान जीवन मे विश्वास अलगसा देती है जो जीवन मे कई एहसासों को समझ देकर आगे चलती है जो जीवन मे कई कदमों को पहचान देकर बढती रहती है।
हर कदम पर जीवन के एहसासों कि कहानी विश्वास हर राह पर देती है जो जीवन मे कदमों के साथ जीवन मे कई किरणों कि उम्मीदे देती है उन कदमों कि पुकार हर मौके के अंदर जिन्दा होती है जो जीवन मे दिशाए देकर बढती रहती है।
हर कदम पर जीवन के अंदाज कि कहानी हर मौके मे दिखती है हर कदम को समझ लेने कि जरुरत जीवन को कई किस्सों मे आगे चलती है जो कदमों के सहारे जीवन को अलग एहसास देती रहती है जो जीवन मे कई किस्सों को उम्मीद देकर बढती रहती है। 

कविता. ११६२. हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत।

                                 हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत।
हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर मौके पर अलगसा एतबार देती है जो जीवन मे कई किस्सों से ही दुनिया अलग आवाज को पहचान देकर दुनिया को हर लम्हा परख लेती है आगे बढती जाती है।
हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर रोशनी कि अलग पुकार देती है जो जीवन मे कई किस्सों से आगे लेकर चलती है जो हर किनारे पर जीवन मे कुछ अलग बातों की समझ आगे बढती जाती है।
हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर पल रहती है जो जीवन मे साँसों को कई तरह के एहसास जीवन को कई किस्सों मे समझकर उम्मीदे देकर आगे चलती है जीवन मे कई किस्सों से वह अलग दिशा आगे बढती जाती है।
हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर मौके पर अलग सौगाद देकर जाती है जो जीवन मे कई एहसासों को परखकर दुनिया अक्सर आगे चलती जाती है क्योंकि एहसासों से ही तो दुनिया हर पल आगे बढती जाती है।
हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर कदम पर अलग पुकार देकर आगे बढती जाती है जो जीवन मे एहसास को कई किस्सों कि समझ हर मौके पर कोई अलग विश्वास देकर जाती है दुनिया हर मौके पर उम्मीदे देकर आगे बढती जाती है।
हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर शुरुआत देकर चलती है जो जीवन मे कई किसम के एहसास देकर चलती है वह जीवन को कई किस्सों कि आवाज देकर जाती है जीवन मे एहसास को परख लेने कि जरुरत आगे बढती जाती है।
हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर इशारे मे अलग पहचान दिखती है हर एहसास के अंदर कई किनारों से आगे बढते जाने कि जरुरत हर साँस के अंदर नयी सोच दिलाती है जो जीवन मे रोशनी देकर आगे बढती जाती है।
हर एहसास को समझ लेने कि अहमियत जीवन मे कई किस्सों को रोशनी कि पहचान देती है जिसे परखकर दुनिया को हर मौके पर समझ लेने कि जरुरत जीवन मे कई एहसासों को अलग किसम कि उम्मीदे देकर आगे बढती जाती है।
हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर मौके पर नजर आती है जो जीवन मे कई तरह की साँसे देकर जाती है जो जीवन मे कई रंगों कि दुनिया हर मौके से आगे लेकर चलती है जिसे हर मौके पर समझ लेने कि जरुरत उम्मीद देकर आगे बढती जाती है।
हर एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे कई किनारों पर कई तरह के दिशाए देकर आगे चलती है हर मौके मे एहसास को समझ लेने कि अहमियत जीवन के अंदर नयी रोशनी देना चाहती है हर बार जीवन को कोई अलग दिशा देकर आगे बढती जाती है। 

Monday, 9 January 2017

कविता. ११६१. हर लहर को समझकर।

                         हर लहर को समझकर।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है जो पानी कि बूँदों मे रंग आसमानी भरती है लहर चलती है ना रुकती है वह जीवन रंग अनजाने भरती है वह आसमान में कोई अलग कहानी बनती है जो आवाज को अलग कहानी रहती है।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है जो पानी के एहसास को अंदाज सुहानी दिखते है जो जीवन मे लहरों को अलग निशानी रहती है हर लहर के साथ जीवन कि कहानी बहोत सुहानी लगती है जो पानी मे अलग निशानी देकर रहती है।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है क्योंकि पानी से ही तो हर पल यह साँसे जिन्दा रहती है जो जीवन मे पानी के संग साँसों कि ताकद बनती है जो पानी के अंदर कि साँसे जीवन मे कई एहसासों कि शुरुआत देकर रहती है।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है क्योंकि पानी के अंदर अलग ठंडक कि कहानी जिन्दा होती है जो जीवन मे कई एहसासों के अंदर जीवन मे अलग तरह कि लहर जिन्दा होती है जो जीवन को साँसे देकर रहती है।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है क्योंकि पानी के अंदर अलग पुकार जिन्दा हो जाती है जो लहरों को कई तरह के मकसद दे जाती है जो जीवन मे पानी कि लहरों का एहसास अलगसा होता है जो जीवन को साँसे देकर रहती है।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है क्योंकि पानी के अंदर अलग सूरज के किरणों से कुछ अलग कहानी सुनाई पडती है जो लहरों के अंदर जीवन कि कहानियों को कई एहसासों कि सोच हर पल मिलती है जो जीवन को साँसे देकर रहती है।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है क्योंकि पानी के अंदर साँसे जिन्दा रहती है जो जीवन को कई तरह के एहसास देकर चलती है जो जीवन मे कई रंगों को एहसास कि पहचान देकर आगे बढती है जो जीवन को साँसे देकर रहती है।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है क्योंकि पानी के अंदर कई तरह के पत्थर दिखाती है जो जीवन मे पानी के अंदर कि दुनिया को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर मौके पर आगे लेकर चलती है जो जीवन को साँसे देकर रहती है।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है क्योंकि पानी के अंदर कई तरह के एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर बार होती है जो लहरों को परखकर दुनिया को हर मौके से एहसास को लेकर जो जीवन को साँसे देकर रहती है।
हर लहर को समझकर जीवन कि कहानी बनती है क्योंकि पानी के अंदर जीवन कि साँसे हर बार अल्फाज को मतलब दे जाती है जो जीवन मे कई लहरों के सहारे एहसास अलगसा देकर जाती है जिसमे दुनिया अलग विश्वास देती है जो जीवन को साँसे देकर रहती है।