Tuesday, 29 November 2016

कविता. १०८१. बारीश को बूँदों के साथ।

                                       बारीश को बूँदों के साथ।
बारीश को बूँदों के साथ हर बार समझना होता है हर बूँद से निकलकर किरण से सतरंगी रंगों को समझ लेना होता है जो बूँदों को समझ लेता है वही जीवन को कई किस्सों मे हर बार समझकर आगे बढता रहता है।
बारीश को बूँदों के साथ हर एहसास मे परख लेना होता है हर बूँद के अंदर जीवन का एहसास अलगसा बनता है जो जीवन को बूँदों के साथ समझ लेना हर बार अहम तरह का लगता है क्योंकि बूँदों से ही जीवन बहता रहता है।
बारीश को बूँदों के साथ हर बार समझना होता है हर किरण को बूँदों से निकलकर कई रंगों मे बिखरना होता है हर बार बूँदों के अंदर किरणों के एहसासों को कई तरह के चमक के साथ समझ लेना जरुरी रहता है।
बारीश को बूँदों के साथ हर मौके पर कई रंगों मे परख लेना जरुरी होता है हर बूँद को कितने एहसासों के संग जीवन मे परख लेना जरुरी होता है बारीश के बूँदों मे कई रंगों को परख लेना जीवन मे हर बार अहम रहता है।
बारीश को बूँदों के साथ कई किसम कि ठंडक के संग जीवन को समझ लेना जरुरी होता है जो जीवन मे बारीश के बूँदों मे कई रंगों कि उम्मीदे देकर चलती है जो बूँदों को समझ ले वह सोच सतरंगी बनकर निखरती है उसका एहसास अलगसा रहता है।
बारीश को बूँदों के साथ कई किस्सों मे जीवन को समझ लेने कि जरुरत होती है हर किरण जब पानी कि बूँदों मे से गुजरती है वह जीवन को कई रंगों मे आगे लेकर चलती है पानी के बूँदों मे कई रंगों को समझना जरुरी रहता है।
बारीश को बूँदों के साथ कई किनारों को समझ लेने कि जरुरत होती है हर धारा को समझकर किरणों को परख लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है हर बूँद के अंदर किरणों कि रोशनी हर पल मे दुनिया को कई एहसास देकर रहता है।
बारीश को बूँदों के साथ कई रंगों को परख लेने कि जरुरत हर रंग के साथ होती है क्योंकि हर बूँद मे जीवन कि एक रोशनी छुपी रहती है जो बूँदों के साथ आगे बढती जाती है जो हर बूँद को जीवन कि धारा मे समझता रहता है।
बारीश को बूँदों के साथ कई दिशाओं मे आगे लेकर चलती है जीवन मे बूँदों कि पहचान परख लेने कि जरुरत होती है क्योंकि बूँदों को रोशनी कि कई कहानियाँ मिलती रहती है बूँदों को परखकर समझना जरुरी रहता है।
बारीश को बूँदों के साथ हर धारा को परखकर आगे लेकर जाना जरुरी होता है हर बूँद के साथ जीवन कि कहानी हर बार जिन्दा रहती है जो बूँदों के अंदर कई रंगों कि दिशाए हर बार जिन्दा रहती है जिन्हे समझ लेना जरुरी रहता है।

कविता. १०८०. हर हवा के अंदर।

                                               हर हवा के अंदर।
हर हवा के अंदर अलग किसम कि चाहत जिन्दा रहती है क्योंकि हवाओं को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर बार अलग तरह का एहसास देकर चलती जाती है क्योंकि हवाओं को जीवन को परखकर आगे लेकर जाने कि जरुरत ज्यादा होती है।
हर हवा के अंदर अलग तरह के एहसास को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन मे हवाओं को परख लेने कि जरुरत हर मौके पर आगे लेकर चलती है क्योंकि हवाओं को समझकर जीवन कि धारा को समझ लेने कि जरुरत ज्यादा होती है।
हर हवा के अंदर अलग तरह कि उम्मीदे जिन्दा रहती है जब हमे उन्हे समझ लेने कि ताकद जीवन को अलग मौकों पर अक्सर रहती है जो जीवन को आगे लेकर जाती है जो जीवन मे हवाओं कि सौगाद हर पल मे उम्मीदे देकर जाती है जिनकी जरुरत ज्यादा होती है।
हर हवा के अंदर अलग तरह कि कहानी हर पल मे अलग तरह का एहसास देकर आगे बढती जाती जो हवाओं को कई किसम के एहसास देकर चलती है क्योंकि हवाओं को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर पल के अंदर ज्यादा होती है।
हर हवा के अंदर अलग तरह कि रोशनी जीवन को कई एहसासों मे रहती है जो हवा के किसी एहसास कि खासियत हर बार आगे बढती है क्योंकि हवाओं मे ही कुछ अलग तरह कि मासूमियत हर बार जीवन मे जरुरी सबसे ज्यादा होती है।
हर हवा के अंदर अलग तरह कि पहचान जीवन कि धारा को बदलाव देकर चलती है क्योंकि हवाए जीवन के किस्से हर बार बदलकर जाती है जो जीवन को हवाओं से आगे लेकर जाती है जो जीवन को अलग मोड मे समझ लेने कि जरुरत ज्यादा होती है।
हर हवा के अंदर एक अलग उजाले कि जरुरत जीवन को हर बार रहती है जो जीवन मे हवाओं से ही तो अक्सर साँसे देकर जाती है जो जीवन मे हवाओं कि सौगाद देकर आगे चलती है उन हवाओं को समझ लेने कि जरुरत ज्यादा होती है।
हर हवा के अंदर एक अलग मौकों कि तलाश हर बार रहती है जो जीवन मे हवाओं मे कई तरह कि दुआए छुपी होती है जिनमे जीवन कि कहानियाँ हर बार आगे लेकर जाती है जो जीवन को नई दुआ देकर आगे जाती है जिसकी जरुरत ज्यादा होती है।
हर हवा के अंदर कई किनारों कि प्यास रहती है पर उसी पल लहरों कि धून भी उनमे समा जाती है जो जीवन मे कई साँसों के एहसास देकर आगे चलती जाती है जो जीवन मे कई तरह के एहसास देकर आगे चलती जाती है जिनकी जरुरत ज्यादा होती है।
हर हवा के अंदर कई सपनों कि ख्वाईश छुपी रहती है जो जीवन को कई तरह के उजाले देकर जाती है जो हवाओं को कई तरह के मतलब देकर जाती है क्योंकि हवाओं को समझ लेने कि जरुरत नही होती है हवाए हमे समझ जाये इसकी जरुरत ज्यादा होती है।

कविता. १०७९. राहों को समझकर।

                                            राहों को समझकर।
राहों को समझकर जीवन कि कहानी कई किस्सों मे आगे लेकर जाती है हर साँस कि खुशबू कुछ अलग कहानी जब बताती है जाने क्यूँ तब उस साँस को कई बार लेने कि ताकद दुनिया को कई किस्सों मे बनाती है।
राहों को समझकर जीवन कि दिशाए कई किसम के एहसासों को परखकर दुनिया हर बार आगे चलती है जो राहों को कई किनारों कि कहानियाँ सुनाती रहती है जो राहों मे हर पल हर लम्हे को कुछ अलग बनाती है।
राहों को समझकर जीवन कि धारा कई एहसासों से जुडती है जो जीवन को अलग तरह कि उम्मीदे कुछ इस तरह से देकर चलती है कि हर उम्मीद मे हर मौके पर जीवन कि राहे हर लम्हे को दुनिया कि अलग सौगाद बनाती है।
राहों को समझकर जीवन कि दिशाए हर मौके पर एहसास अलगसा देकर चलती है हर राह को अगर हम परख लेते है जो वह राह भी एक पल मे बदलती रहती है जो जीवन को कुछ अलग उम्मीदों से बनाती है।
राहों को समझकर जीवन कि कहानी को कई किरदारों को हर एक नये रंगों मे ढालकर चलती है जैसे हर सुबह कि लाली आसमान मे बिखरकर जीवन मे सुंदरता भरती है जीवन कि हर उम्मीद को रोशनी से बनाती है।
राहों को समझकर जीवन कि कहानी को कई किस्सों कि खुशबू लेकर चलती है जो जीवन को सच्ची सोच देकर जाये उस हर एक पल मे इंद्रधनुष्य कि सात दिशाए चुपके छुपकर मिलती है जो जीवन मे राहों को अलग बनाती है।
राहों को समझकर जीवन कि धारा को परख लेने कि जरुरत जीवन मे हर मौके पर रहती है जो राहों को कदमों कि समझ देकर जाये वह एहसास कि दुनिया हर बार कोई ना कोई कहानी को हर लम्हे मे कुछ बनाती है।
राहों को समझकर जीवन के हर किस्से मे जीवन को परख लेने कि जरुरत रहती है जो जीवन को कई राहों मे अलग तरह के एहसास देकर अलग विश्वास के साथ कुछ अलग किनारे लेकर चलती है जहाँ लहरे उम्मीदे बनाती है।
राहों को समझकर जीवन मे कई किस्सों को उजाले कि पहचान मिल जाती है जो राहों को कई कदमों मे समझ लेने कि अहमियत हर बार होती है क्योंकि राहों को अलग तरह कि जरुरत जो होती है वही हमारी जिन्दगी अक्सर बनाती है।
राहों को समझकर जीवन कि किस्मत अक्सर जिन्दा रहती है क्योंकि राहों से ही तो दुनिया सतरंगी एहसास देकर जाती है जो जीवन को कई तरह के खयालों कि खुशबू अक्सर देकर आगे बढती है क्योंकि राहे ही जीवन कि किस्मत बनाती है।

कविता. १०७८. हर आहट मे कुछ अलग।

                                                 हर आहट मे कुछ अलग।
हर आहट मे कुछ अलग तरह कि सोच हर पल जिन्दा है किसी आहट को समझकर ही तो दुनिया कि आवाज हर एहसास मे आगे बढती है क्योंकि हर एक आहट जीवन को कुछ अलग सौगाद देकर हर पल आगे जाती है।
हर आहट मे कुछ अलग पहचान होती है जो जीवन को कई तरह आहट मे ताकद देकर रहती है हर पल आहट ही तो दुनिया को कई तरह कि उम्मीदे देती है हर आहट को समझकर जीवन को अलग दायरे से उम्मीदे आगे ले जाती है।
हर आहट मे कुछ अलग तरह कि दिशाए हमे आगे लेकर चलती है क्योंकि आहट ही तो जीवन को अलग एहसास देकर चलती है क्योंकि आहट ही तो जीवन को अलग तरह कि रोशनी देकर हर बार आगे जाती है।
हर आहट मे कुछ अलग तरह कि जरुरत जीवन को कई किसम कि दिशाए जो जीवन को हर बार एहसास देकर चलती है जो जीवन मे आहट दे जाये वह सोच अलगसी रहती है जो जीवन मे आगे लेकर अक्सर जाती है।
हर आहट मे कुछ अलग तरह से ईश्वर कि पहचान छुपी रहती है जो जीवन को हर आवाज मे समझ देकर जाये वह दुनिया को समझ अलग किसम कि देकर चलती है जो जीवन को कई तरह कि उम्मीदे अक्सर मिलती जाती है।
हर आहट मे कुछ अलग आवाज को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है जो जीवन मे हर एक मौके पर अलग तरह के एहसास को समझकर हर पल आगे जाती है।
हर आहट मे कुछ अलग तरह कि उम्मीदे जीवन को अलग तरह का विश्वास देकर चलती है जो जीवन को कई किसम कि आहटे देकर हर बार आगे बढती है जो कोने कि आवाज को समझकर दुनिया मे नई दिशाए देकर आगे जाती है।
हर आहट मे कुछ अलग पल मे जीवन को पहचान लेने कि समझ रहती है जो जीवन को हर कोने मे आहट कुछ अलग तरह कि देकर चलती है जो जीवन कि हर आहट मे दुनिया को अलग समझ देकर हर बार आगे जाती है।
हर आहट मे कुछ अलग तरह कि समझ हर बार मिलती रहती है जो जीवन को कई एहसासों मे आगे लेकर चलती है जो जीवन मे हर एक आवाज के संग साँसे देकर रहती है जो जीवन कि हर आवाज को अलग एहसास देकर आगे जाती है।
हर आहट मे कुछ अलग तरह के एहसास को समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है जो जीवन मे कई तरह कि आवाजे देकर जाती है जो जीवन को हर लम्हे मे कुछ अलग बात समझाकर अक्सर जीवन मे आगे जाती है।

Monday, 28 November 2016

कविता. १०७७. माटी के किनारे को।

                                            माटी के किनारे को।
माटी के किनारे को समझकर पैरों के एहसास को परख लेने कि जरुरत होती है जो माटी को छूँ लेने पर पैरो मे ठंडक देती है जो माटी के एहसासों को कई किस्सों मे समझ लेती है जो जीवन को ठंडक दे वह माटी शीतलता कि मूरत लगती है।
माटी के किनारे को समझकर जीवन कि कहानी बदलाव देकर चलती है जो जीवन मे माटी को कई एहसासों मे बदलाव देकर चलती है माटी मे अलग तरह कि ठंडक हर बार रहती है जो जीवन को कई एहसासों मे आगे लेकर चलने लगती है।
माटी के किनारे को परखकर आगे चलते जाने कि हर मोड पर जरुरत रहती है जो ठंडक के एहसासों को अलग दिशाओं मे देकर चलती है जो जीवन को कई किस्सों मे कुछ अलग तरह का एहसास देकर आगे बढने लगती है।
माटी के किनारे को समझ लेने के लिए उसकी ठंडक को महसूस करने कि जरुरत जीवन को हर मौके पर रहती है जो माटी के ठंडक मे दुनिया को अलग तरह कि समझ देकर जुदासा एहसास देकर आगे चलते जाने मे लगती है।
माटी के किनारे को परखकर दुनिया हर बार आगे बढती है जो जीवन मे किनारों को ठंडक के सहारे पहचान देकर आगे बढती है जो जीवन मे माटी कि दुनिया को कई तरह खुशियाँ देकर जाती है जो जीवन मे उम्मीदे देनेवाली सोच मे लगती है।
माटी के किनारे को समझकर ही तो जीवन कि हर परख जिन्दा रहती है जो जीवन मे माटी के कई एहसासों को उम्मीदे देकर हर बार आगे चलती है क्योंकि माटी कि ठंडक ही तो माटी को अलग मतलब देकर आगे चलती है क्योंकि वह जीवन कि उम्मीद लगती है।
माटी के किनारे को कई तरह कि ठंडक जीवन को कई किसम कि ताकद जिन्दा रहती है जो जीवन को अलग तरह कि पहचान हर बार होती है जो जीवन को माटी कि शीतलता से अलग तरह का विश्वास देकर चलती है जो जीवन को अलग उजाला लगती है।
माटी के किनारे को छूँ लेते है तभी तो जमीन कि ठंडक जीवन को कई किसम की राहे दिखाती है अलग तरह कि ठंडक जमीन जीवन को कई तरह के इशारे देकर आगे बढती है जो जीवन को अलग पहचान देकर हर बार अलग दिशाए लगती है।
माटी के किनारे को बचपन मे समझ लेने कि ताकद देती है क्योंकि माटी को छूँ लेते है बचपन मे माटी को कई तरह के एहसास देकर आगे चलते है जो जीवन को कई तरह कि उम्मीदे देकर रहती है जो जीवन कि रोशनी लगती है।
माटी के किनारे को ठंडे एहसासों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जीवन मे पानी को समझ लेने कि जरुरत हर बार माटी मे रहती है जो जीवन को कई उम्मीदे देकर हर बार आगे बढती है जो हर बार एक नई सुबहसी लगती है।

कविता. १०७६. तराने को समझकर।

                                            तराने को समझकर।
तराने को समझकर जीवन कि धारा को कई किस्सों मे परख लेना होता है जीवन को एक तराने के सहारे आगे लेकर जाने कि जरुरत हर बार रहती है जो हर तराने को कई किस्सों मे कहती है जो तराने को ताकद देती है।
तराने को समझकर जीवन कि दिशाए हर बार बदलती है जो हर संगीत मे अलग तरह कि उम्मीदे जिन्दा रखती है जो जीवन को कई तराने देकर जाती है क्योंकि तराने मे ही जीवन कि कई आवाजे अक्सर छुपी रहती है जो उम्मीदे देती है।
तराने को समझकर जीवन कि उम्मीदे जिन्दा हर बार हो जाती है जिन्हे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर कोने मे रहती है जो जीवन मे तराने को एक अलगसी आवाज देकर आगे जाती है क्योंकि तराने मे उम्मीदे ही साँसे देती है।
तराने को समझकर जीवन कि पुकार कई किसम के अंदाज देकर जाती है क्योंकि तराने मे ही तो जीवन कि हर सोच जीवन को खुशियाँ दे जाती है हर पल तराने को परख लेने कि जरुरत जीवन मे कई किसम की सोच साँसे देती है।
तराने को समझकर जीवन कि धारा को अलग तरह कि समझ देकर आगे जाती है क्योंकि तराने को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर धारा मे अक्सर होती है जो जीवन को कई तरह के किस्से देकर आगे लेकर जाती है जो जीवन को उम्मीदे देती है।
तराने को समझकर जीवन कि कहानी को परखकर आगे चलती है जो तराने को कई तरह कि उम्मीदे देकर हर किस्से मे आगे बढती है जो जीवन को कई तरह कि कहानी हर पल मे देकर हर बार आगे बढती जाती है वह सोच को साँसे देती है।
तराने को समझकर जीवन कि धारा कई लम्हों को अलग किसम कि प्यास देकर हर बार आगे बढती जाती है जो जीवन को अलग एहसास के साथ आगे बढती है जो जीवन को कई किनारों पर साँसों को नया उजाला देती है।
तराने को समझकर जीवन को कई गीतों को समझकर दुनिया को परख लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है जो जीवन को कई तरह कि राहे देकर हर बार जीवन को कई किस्सों मे अलग तरह कि परख हर बार देती है।
तराने को समझकर जीवन को कई किस्सों को समझकर जीवन कि धारा को समझ लेने कि जरुरत जीवन को कई तराने को समझ देकर आगे चलती है जो तराने को कई किसम कि समझ हर बार उम्मीदे देती है।
तराने को समझकर जीवन कि धारा उन्हे कई किस्सों मे अलग तरह कि समझ देकर चलती है जो दुनिया को किसी अलग धून के साथ आगे ले जाती है जो जीवन को कई संगीत के अंदर के साथ आगे चलती है जो जीवन को अलग समझ देती है।

Sunday, 27 November 2016

कविता. १०७५. किसी पल मे जीवन को।

                                             किसी पल मे जीवन को।
किसी पल मे जीवन को जीना आसान बडा लगता है क्योंकि हर मौके पर जीवन मे पल कई किस्सों कि दुआए देकर जाता है जीवन को पल मे जो एहसास मिलता है जो जीवन को कई तरह कि समझ देकर आगे बढता है।
किसी पल मे जीवन को कई किनारों से गुजर जाना होता है जो हर बार जीवन को कई तरह के मतलब देकर जाता है हर पल जीवन को कुछ अलग धारा देकर हर बार आगे बढता जाता है जो जीवन को कई किस्सों कि ताकद देकर आगे बढता है।
किसी पल मे जीवन को कई किनारों कि समझ होती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे जाने कि जरुरत हर बार देकर रहती है जो पल के अंदर दुनिया को कई तरह के एहसास देकर हर एक तोहफे के साथ आगे बढता है।
किसी पल मे जीवन को कई किनारों के सहारे समझ लेना होता है जो जीवन को किनारों से परख ले वही जीवन को कई तरह कि उम्मीदे देकर हर पल मे कुछ अलग एहसास देकर जाता है उसके संग जीवन आगे बढता है।
किसी पल मे जीवन को कई तरह कि सोच ताकद देकर आगे जाती है वह सोच जीवन को मतलब देकर जीवन कि ताकद बनकर आगे दिशाए देकर जाता है वह हर बार जीवन मे कई किस्सों को समझकर आगे बढता है।
किसी पल मे जीवन को कई खयालों से आगे जाने कि जरुरत हर बार होती है जो जीवन मे कई पलों के साथ दुनिया को कुछ इस तरह बदलती है कि हर पल मे दुनिया हर बार जिन्दा नजर आती है उसके सहारे ही इन्सान समझकर आगे बढता है।
किसी पल मे जीवन को अलग एहसास को परख देकर दुनिया आगे चलती है क्योंकि पलों को ही तो जीवन मे आगे जाने कि जरुरत रहती है जो जीवन को अलग किनारों मे अलग किसम कि उम्मीदे देकर समझकर आगे बढता है।
किसी पल मे जीवन को अलग तरह कि जरुरत हर मौके पर जस्बात देकर हर पल मे कोई अलग कहानी देकर आगे जाती है जो हर एक पल मे कई किसम कि उम्मीदे देकर आगे चलती रहती है जो जीवन को समझकर आगे बढता है।
किसी पल मे जीवन को अलग किनारों से समझ लेने कि जरुरत जीवन को अलग तरह कि उम्मीदे देकर जाती है क्योंकि पलों के अंदर ही तो दुनिया कि हकिकत हर बार जिन्दा रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे समझकर आगे बढता है।
किसी पल मे जीवन को अलग दिशाओं को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत दुनिया को आगे बढती जाती है क्योंकि पलों को पहचान लेने कि जरुरत जीवन को हर एक मौके पर विश्वास देकर आगे जाती है जिसे समझकर आगे बढता है।

कविता. १०७४. हर मौके पर।

                                                   हर मौके पर।
हर मौके पर कई कहानियाँ जीवन के किरदारों को समझ लेने कि बाते अक्सर कहती है वह जीवन को किरदारों के संग आगे लेकर जाती है वह किरदारों को कई किस्सों मे जिन्दा करती रहती है जो किरदारों कि हकिकत को अलग समझाती जाती है।
हर मौके पर जब कोई बात लिखी जाती है वह जीवन मे बार बार मतलब दे जाती है जीवन मे मौकों को समझकर जाने कि जरुरत हर बार नजर आती है क्योंकि मौकों मे ही तो दुनिया आगे बढती जाती है दुनिया हर बार अलग समझ दे जाती है।
हर मौके पर जब अलग अलग राहे दिख जाती है तब अलग तरह के मौकों मे ताकद मिलती रहती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर बार जीवन को कई रंगों कि आवाज देकर जीवन को कई तरह के एहसास हर बार अलग सोच के संग समझ दे जाती है।
हर मौके पर जब अलग तरह कि दिशाए मिलती रहती है जो मौकों मे कई किसम के एहसासों कि जरुरत दिखाकर जाती है जो जीवन मे हर एक मौके को अलग तरह का मतलब देकर चलती रहती है जो जीवन को मौकों मे समझ दे जाती है।
हर मौके पर कई किसम कि कहानियाँ जिन्दा हो जाती है जो मौकों मे कदमों को समझ देकर आगे बढती रहती है जो जीवन को मौकों मे हर मोड पर बार बार जीना चाहती है जो जीवन को कई तरह कि उम्मीदे देकर जाती है जीवन मे समझ देकर जाती है।
हर मौके पर कई राहों कि जो उम्मीदे दिखती है मन कि चाहत उन उम्मीदों को पाने के लिए उन मौकों को जी लेना चाहती है जिन्हे समझ लेने कि जरुरत जीवन को कई धाराओं के साथ अक्सर नजर आ जाती है जीवन मे कई किनारों को समझ देकर जाती है।
हर मौके पर कई किसम के सोच को परख लेने कि जरुरत जीवन को अक्सर नजर आती है जो जीवन को कई मौकों मे आगे लेकर जाये वह सोच जीवन को हर मौके मे कई तरह के मतलब दे कर आगे बढती है जो जीवन को अलग तरह का एहसास समज दे कर जाती है।
हर मौके पर कई दिशाए जिन्दा हो जाती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे बढना हर बार सिखाती है हर मौके को जीवन कि कहानी अलग तरह के मौके देकर जाती है पर कुछ मौकों मे दुनिया अलग एहसासों के साथ अलग तरह कि समझ देकर जाती है।
हर मौके पर कई दिशाए आगे लेकर चलती है वह सोच कि दुनिया कई किनारों मे कई तरह के एहसास हर बार दे जाती है क्योंकि हर मौके को कई कदमों कि तलाश अक्सर रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे परख अलग तरह कि ताकद समझ देकर जाती है।
हर मौके पर कई किस्सों मे जीवन को कई किनारों से परख लेने कि जरुरत हर राह पर नजर आती है जो जीवन मे हर मौके को कई कहानियाँ देकर आगे बढती है क्योंकि मौकों को हर बार समझकर आगे जाने कि जरुरत जीवन को हर मौके कि किंमत करने कि समझ देकर जाती है।

Saturday, 26 November 2016

कविता. १०७३. हर परछाई के अंदर।

                                             हर परछाई के अंदर।
हर परछाई के अंदर का एहसास जुदासा होता है जो जीवन को मतलब दे वह यकिन अलगसा होता है जो जीवन मे परछाई को आगे लेकर चलता है वह हर परछाई के संग समझ लेने कि उम्मीदे हर बार देकर आगे चलती है।
हर परछाई के अंदर का रंग कुछ अलगसा होता है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर जाता है क्योंकि परछाई के अंदर ही जीवन का एहसास कई तरह का विश्वास मिलता है जो परछाई को समझकर ही जीवन कि कहानी आगे चलती है।
हर परछाई के अंदर का रंग कई तरह के मकसद देकर चलता है हर परछाई के संग कहानी बनती रहती है जो जीवन को कई तरह के मकसद देकर बढती है क्योंकि परछाई मे ही अक्सर कहानी कई एहसासों मे आगे चलती है।
हर परछाई के अंदर कुछ अलग कहानी रहती है जो परछाई को कई तरह के आकार देकर चलती है जो जीवन को कई किस्सों मे कुछ अलग मतलब देकर जाती है हर परछाई का रंग वही होता है पर फिर भी परछाई उसी तरह से आगे चलती है।
हर परछाई के अंदर कुछ किस्सों को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे रहती है हर मौके मे परछाई अलग तरह का विश्वास जीवन को हर बार देकर जाती है परछाई अक्सर आकार मे बदलाव देकर चलती है क्योंकि परछाई कई मतलब देकर आगे चलती है।
हर परछाई के अंदर कुछ अलग तरह कि कहानी जिन्दा रहती है जो परछाई के रुप और रंगों मे हर पल बदलाव देकर रहती है परछाई को कई किस्सों मे समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर बार अलग आकार के अंदर दिखती है जो आगे चलती है।
हर परछाई के अंदर कुछ लम्हों को परख लेने कि ताकद दुनिया को हर बार अलग तरह कि दुआए देकर जाती है क्योंकि परछाई को परख लेने कि अहमियत जीवन मे हर लम्हे के अंदर हर बार होती है जो जीवन को उम्मीदे देकर आगे चलती है।
हर परछाई के अंदर कुछ अलग कहानी होती है जो जीवन मे परछाई को एहसास अलगसा देकर चलती है क्योंकि परछाई को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन को समझ देकर आगे जाती है वह परछाई देकर आगे चलती है।
हर परछाई के अंदर कई किस्सों को समझ देकर आगे बढती है जो जीवन मे परछाई को समझ अलगसी देकर जाती है जो जीवन मे परछाई के अंदर परख कई आकारों के साथ आगे बढती है क्योंकि परछाई ही तो जीवन कि कहानी को उम्मीदे देकर आगे चलती है।
हर परछाई के अंदर कई किनारों से ही जीवन कि दिशाए मिलती है जो परछाई को कई किसम कि ताकद देकर चलती है क्योंकि परछाई मे दुनिया कि कुछ अलग तरह कि समझ रहती है जो परछाई को मकसद देकर आगे चलती है।

कविता. १०७२. हर पल को समझ लेने।

                                           हर पल को समझ लेने।
हर पल को समझ लेने कि ताकद जीवन मे अक्सर हर बार रहती है क्योंकि हर पल को समझकर उसके अंदर कई किसम कि कहानियाँ जीवन को कई तरह के एहसास देकर जाती है जो जीवन को अलग किसम का विश्वास देकर चलती है।
हर पल को समझ लेने कि ताकद मन को नही होती है क्योंकि पलों मे कुछ अलग तरह कि दुनिया हर बार जिन्दा रहती है जो पलों को अलग समझ देकर आगे चलती है क्योंकि पल मे ही तो दुनिया को परख लेने कि ताकद रहती है जो आगे चलती है।
हर पल को समझ लेने कि ताकद ही तो जीवन मे कई रंगों कि कहानी देकर आगे जाती है पर कई बार किसी एहसास को हर पल मे समझ लेने कि जरुरत हर कहानी को हर बार रहती है जो जीवन मे पलों को मतलब और अलग मकसद देकर चलती है।
हर पल को समझ लेने कि ताकद जीवन मे आसान नही होती है क्योंकि बदलते जाना ही तो हर पल कि फिदरत होती है जो जीवन को कई किसम कि जिन्दगी हर बार दे जाती है क्योंकि पलों को समझकर ही तो दुनिया हर बार उम्मीदे देकर चलती है।
हर पल को समझ लेने कि ताकद जीवन को कई रंगों को समझ लेने से जरुरी होती है क्योंकि पलों मे ही हमारी दुनिया अक्सर बंद हो जाती है वह हर पल मे ही जीवन कि दुआ परखकर आगे बढती है क्योंकि पलों को समझ लेने कि चाहत आगे उम्मीदे देकर चलती है।                                                                                                  हर पल को समझ लेने कि ताकद जीवन को कई किस्सों को समझ लेने कि ताकद हर मौके पर हर बार आगे बढती जाती है क्योंकि पलों के अंदर ही तो जीवन कि कहानी हर मौके पर दुनिया को अलग एहसास दिखाती रहती है जो हमे आगे लेकर चलती है।
हर पल को समझ लेने कि ताकद जीवन को अलग ताकद देने कि समझ बस उम्मीदों से मिलती है जो हमे हर बार आगे लेकर जाती है क्योंकि हर पल मे ही तो दुनिया कि हकिकत हर बार छुपी रहती है जो जीवन को आगे लेकर चलती है।
हर पल को समझ लेने कि अहमियत हर बार जीवन मे नही मेहसूस हो पाती है क्योंकि पलों मे ही जीवन के कदमों को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर बार होती है जो जीवन को कई तरह कि पहचान देकर आगे लेकर चलती है।
हर पल को समझ लेने कि ताकद जीवन मे अक्सर होती है क्योंकि पलों मे ही तो दुनिया कि हकिकत को कई धाराओं मे पहचान लेने कि समझ जीवन को हर बार होती है जो पल मे ही जीवन कि हकिकत है पर उन्हे बिना समझे ही जीवन कि कहानी चलती है।
हर पल को समझ लेने कि जरुरत जीवन के अंदर अलग अंदाज मे होती है जो जीवन को कई मौकों पर आगे लाती है वह हर पल के साथ आगे बढती है क्योंकि पलों मे ही तो जीवन कि कहानी हर बार जिन्दा है जो जीवन को साँसे देकर आगे लेकर चलती है।

Friday, 25 November 2016

कविता. १०७१. बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है।

                                           बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है क्योंकि बहारे अक्सर जीवन को अलग तरह का मतलब देकर जाती है जो बात बहारों के अंदर समझ आती है वह बहारों को कई अंदाज देकर हर बार दुनिया आगे बढती जाती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है क्योंकि बहारे तो अपने अंदाज मे आती है वह जीवन कि कहानी को कई किस्सों का मतलब देकर जाती है बहारे हमारे मर्जी से आती जाती नही वह अपने ही अंदाज से आगे बढती जाती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है क्योंकि बहारे तो दुनिया को अलग तरह कि पुकार देकर आगे चलती है क्योंकि बहारों के अंदाज को परख लेने कि जरुरत जीवन मे हर बार होती है पर फिर बहार कुछ इस अंदाज मे आती है कि दुनिया आगे बढती जाती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है क्योंकि बहारों को कई किस्सों मे परख लेने कि जरुरत जीवन को हर बार होती है पर बहारे उन किस्सों कि समझ हर बार नही देती है वह जीवन को कई अंदाज देकर आगे बढती जाती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है पर जीवन कि खुबसूरती उनका एहसास लेकर आगे चलती है बहारों को अपने अंदाज मे चलते जाने कि जरुरत हर बार होती है जो बहारों को कई कदमों का एहसास देकर आगे बढती जाती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है वह अपनी अदा के साथ दुनिया को कई तरह के एहसास देकर आगे जाती है वह बहारों को अलग किसम का मतलब देकर आगे चलती जाती है जो बहारों को अलग मतलब देकर आगे बढती जाती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है वह अपने सोच से ही दुनिया का मतलब बदलकर आगे चलती है बहारों को समज लेने कि जरुरत जीवन को हर मौके पर रहती है जो जीवन को अलग समझ देकर आगे बढती जाती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है वह अपने मन को अलग तरह कि ताकद देकर आगे चलती जाती है जो जीवन को कई किसम कि सोच देकर चलती जाती है क्योंकि बहारों को अपनी एक अलग समझ है जो आगे बढती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है वह जीवन मे कई किसम कि ताकद हर बार देकर आगे चलती है क्योंकि बहारों मे ही जीवन को परख लेने कि जरुरत जीवन मे कई किसम के रंगों कि ताकद देकर आगे बढती है।
बहारों को ढूँढने कि जरुरत नही होती है वह अपने जीवन को कई अंदाजों मे आगे लेकर जाती है क्योंकि बहारों को कई किस्सों को बनाने कि आदत होती है जो जीवन को कई तरह कि खुशियाँ देकर आगे बढती है।

कविता. १०७०. बारीश के एहसासों को।

                                                            बारीश के एहसासों को।
बारीश के एहसासों को समझकर मन मे कई बार छुपाने कि आदत हो जाती है क्योंकि उनसे ही दुनिया हर बार कई तरह के मतलब देकर आगे बढती जाती है जो बारीश के बूँदों को मतलब कई किसम के देकर आगे बढती है।
बारीश के एहसासों को समझकर जीवन मे कई किसम की दिशाए मिलती रहती है क्योंकि बूँदों से जीवन कि कहानी हर बार कई तरह के मकसद देकर जाती है जो जीवन मे कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है जो जीवन मे एहसासों के संग आगे बढती है।
बारीश के एहसासों को समझकर दुनिया कई तरह के विश्वास देकर जाती है जो जीवन को मकसद दे जाये वह सोच जीवन कि धारा को बदलाव देकर आगे चलती है जो जीवन मे बारीश के मौसम संग बदलाव दे कर आगे बढती है।
बारीश के एहसासों को समझकर हवाओं कि कहानी जीवन को अलग किसम का विश्वास देकर जाती है जो बारीश को ठंडक देना जीवन कि जरुरत रहती है जो जीवन मे बारीश के एहसासों के संग अलग तरह के विश्वास देकर आगे बढती है।
बारीश के एहसासों को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर बार जीवन मे होती है जो जीवन मे हर एक मौके को हर एक पल मे समझ लेने कि जरुरत दुनिया को अक्सर रहती है जो जीवन को हर बार उम्मीदे देकर आगे बढती है।
बारीश के एहसासों को समझकर दुनिया कई रंगों मे आगे जाती है जो जीवन को कदमों मे हर दम एक उजाला देकर जाती है जो जीवन मे बारीश के एहसासों को परख लेने कि जरुरत देकर कुदरत को सुंदरता देकर आगे बढती है।
बारीश के एहसासों को समझकर बूँदों कि ताकद परख लेने कि जरुरत हर एक मोड पर रहती है जो जीवन मे कई किसम के रंगों को पहचान लेने कि जरुरत जीवन कि धारा को अलग एहसास देकर ठंडक देकर आगे बढती है।
बारीश के एहसासों को समझकर कुदरत के बदलाव को परख लेने कि जरुरत जीवन को हर मौके पर रहती है जो जीवन मे बूँदों कि अहमियत को अलग किसम कि समझ देकर चलती है जो कुदरत को उम्मीदे देकर आगे बढती है।
बारीश के एहसासों को समझकर जमीन को एक अलग तरह ही ठंडक मिलती है जो जीवन को बारीश के एहसासों मे अलग तरह कि ताकद देकर जाती है जो बारीश के अंदर कई कुदरत के करीश्मों को समझकर आगे जाने कि उम्मीदे देकर आगे बढती है।
बारीश के एहसासों को समझकर दुनिया मे अलग तरह कि ठंडक मिलती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है जो जमीन को एक अलग दुनिया बनाती है उसे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे रहती है जो कदमों को ताकद देकर आगे बढती है।

Thursday, 24 November 2016

कविता. १०६९. फूलों कि खुबसूरती जीवन को।

                                                  फूलों कि खुबसूरती जीवन को।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग किसम का एहसास देकर जाती है जो फूलों कि कोमलता जीवन को अलग विश्वास देकर चलती है जो फूलों मे अलग तरह कि खुशबू देकर जाती है वह बगिचे को अक्सर खास बनाती है।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग तरह के मतलब देकर जाती है वह फूलों को कुछ खास बनाकर चलती है कि हम कितना भी चाहे पर उन फूलों से नजर कहाँ हिलती है हर फूल के कुदरत कि कुछ अलग ताकद होती है जो उसे खास बनाती है।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग एहसास देकर आगे चलती है वह जीवन को अलग तरह कि राहे अक्सर आगे चलती है जो जीवन मे फूलों को कई रंगों मे कोमलता का एहसास देकर चलती है जो मासूमियत को खास बनाती है।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग किसम कि दिशाए देकर चलती है क्योंकि फूलों से ही तो नजर कुछ इस तरह जुड जाती है जो जीवन को कई तरह के एहसास देकर आगे बढती जाती है जो जीवन को कुछ खास बनाती है।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग तरह का मतलब देकर जाती है जो जीवन मे कई किसम रोशनी की देकर जाती है जो फूलों को कई तरह का मतलब देकर जाती है क्योंकि फूलों के अलग रंगों से ही बगिचे को कुदरत कुछ खास बनाती है।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग एहसास देकर दुनिया को कुछ अलग तरह से दिखाती है क्योंकि फूलों मे ही कोमलता का एहसास जो होता है वह मन को अलग तरह कि उम्मीदे देकर जाता है जो जीवन को कुछ खास बनाता है।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग सोच देकर जाती है जो जीवन मे अक्सर खास तरह का एहसास देकर जाती है जो फूलों कि खासियत हर बार दिखाती है जो जीवन को अलग तरह का मतलब देकर जाती है जो जीवन को खास बनाती है।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग रंगों मे कई तरह के एहसास देकर जाती है हर रंग मे अक्सर कुछ खास बात रहती है जो जीवन को अलग तरह के रंगों का एहसास देकर जाती है क्योंकि फूलों से ही तो जिन्दगी कुछ खास बनाती है।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग तरह का एहसास देकर जाता है क्योंकि फूलों कि पहचान उनके सुंदरता मे हर बार होती है जो जीवन को कई किसम के मतलब देकर चलती है पर हर मकसद के साथ उम्मीदे कुछ खास बनाती है।
फूलों कि खुबसूरती जीवन को अलग किसम कि सोच देकर आगे जाती है क्योंकि फूलों कि कहानी कई बार हमे बताती है कि हर पल कि ताकद जीवन को कई किस्से देकर हर बार आगे बढती है क्योंकि फूलों कि मौजूदगी जीवन को कुछ खास बनाती है।

कविता. १०६८. हर पल मे कुछ।

                                            हर पल मे कुछ।
हर पल मे कुछ राहों का तो एहसास होता है जो पल के कई किस्सों कि समझ देकर हर बार चलता है जो पलों को कई तरह का एहसास देकर आगे चलता है क्योंकि पल मे ही कोई अलग जादू हर बार जिन्दा रहती है।
हर पल मे कुछ लम्हों को नई रोशनी और नई रफ्तार मिल जाती है जो पल को नई दुनिया देकर जाती है जो पलों कि कहानी हर बार अलग तरह कि बनाती है जो जीवन को अलग जादू और अलग जस्बात देकर रहती है।
हर पल मे कुछ किस्सों कि कहानी जिन्दा रहती है जो पल मे कुछ अलग ताकद देकर जाती है जो जीवन का एहसास बदलकर रख देती है जो जीवन का विश्वास बदल देती है जो जीवन को अलग एहसास देकर रहती है।
हर पल मे कुछ बाते अलग तरह कि जरुरत हर बार देकर जाती है जो पलों मे जीवन कि ताकद को बदलकर आगे बढती जाती है जो जीवन मे हर पल मे कुछ अलग एहसास देकर आगे बढती जाती है जिसमे अलग ताकद देकर रहती है।
हर पल मे कुछ लम्हों मे अलग दिशाए मिलती है जो जीवन मे पलों को अलग किस्सों मे तोलती जाती है क्योंकि पलों के अंदर ही तो जीवन कि कहानी हर बार जिन्दा रहती है जो जीवन को कई तरह के जस्बात देकर रहती है।
हर पल मे कुछ अलग तरह कि कश्ती हर मौके पर पानी पर हिलती है जैसे पानी मे तूफानों कि ताकद दिखती है उसी तरह हर पल मे जीवन को कोई अलग किनारा देकर आगे बढता है जो जीवन मे हर पल को एक मौका देकर रहता है।
हर पल मे कुछ अलग किस्सों कि समझ हमे आगे लेकर चलती है जो जीवन मे कई पलों कि ताकद हर पल को देकर जाती है क्योंकि हर पल मे जीवन कि कहानी हर बार जिन्दा रहती है जो जीवन मे आगे राह पर उम्मीदे देकर रहती है।
हर पल मे कुछ किस्सों कि जिन्दगी हर बार जिन्दा रहती है जो जीवन को कई किनारों से लेकर दिलचस्प बनाकर आगे जाती है जो हर पल मे कई लम्हों कि कहानी को आसानी से हर बार बयान करती हुई आगे बढती जाती है जो जीवन को ताकद देकर रहती है।
हर पल मे कुछ लम्हों कि कहानी जिन्दा रहती है जो जीवन मे पलों को कई तरह के मतलब देकर आगे बढती है क्योंकि पलों के अंदर ही तो अपने जीवन कि कहानी कई तरह कि सोच देकर आगे चलती है क्योंकि पलों मे ही मौकों कि कहानी जिन्दा रहती है।
हर पल मे कुछ अलग एहसास जिन्दा रहते है जो जीवन को कई तरह के इशारों मे बदलाव का मकसद देकर चलते है जो जीवन को कई पलों मे समझ लेती है वह कहानी हर बार हमे कई जस्बात हर मौके पर हर मोड पर देकर रहती है।

Wednesday, 23 November 2016

कविता. १०६७. कुछ लोगों से अलग।

                                            कुछ लोगों से अलग।
कुछ लोगों से अलग रहकर राह बदलकर जाना ही अच्छा होता है कुछ लोगों के एहसासों को समझकर जीवन कि धारा को परख लेना जरुरी लगता है क्योंकि लोगों को जीवन मे कई किस्सों मे समझ लेना जरुरी लगता है।
कुछ लोगों से अलग एहसास को परखकर समझ लेना जरुरी रहता है क्योंकि जीवन मे धारा को समझकर जीवन कि कई कहानियों को किरदारों से समझ लेना जीवन मे जरुरी रहता है जो जीवन को अलग एहसास मे खुशियों कि उम्मीदों से भरा लगता है।
कुछ लोगों से अलग तरह कि उम्मीदे देकर आगे लेकर चलता है क्योंकि जीवन मे कई किस्सों को समझकर जीवन कि राहों को अलग पहचान देकर जाता है कई किस्सों मे विश्वास देकर आगे जाने लगता है।
कुछ लोगों से अलग किसम का एहसास जिन्दा रहता है  जो जीवन कि धारा को बदलाव देकर चलता है जो जीवन को अलग किसम के मकसद देकर चलता है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे ले जाने कि उम्मीदे दे जाने मे लगता है।
कुछ लोगों से अलग किनारा करते जाना ही सही रहता है जो जीवन को कई तरह के किस्सों मे जिन्दा रखता है जो कदमों के अंदर कई किस्सों को मतलब देकर आगे बढता है जो जीवन मे कुछ लम्हों को मकसद देकर आगे चलते जाने मे लगता है।
कुछ लोगों से अलग किसम कि समझ पाने मे एहसास अलगसा मिलता है पर कुछ लोगों कि समझ से दूर रहना ही जीवन मे सही रहता है जो लोगों कि सोच को बदलाव कई तरह के देकर हर बार आगे जाने मे लगता है।
कुछ लोगों से अलग किसम का एहसास जीवन को कई तरह के जस्बात देकर जाता  है क्योंकि जीवन मे कई एहसासों को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत हर बार रहती है पर कुछ एहसासों से दूर रहना ही अच्छा लगता है।
कुछ लोगों से अलग किनारा कर लेना ही तो जीवन को अलग मतलब देकर जाता है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर बढता है क्योंकि जीवन को कई किनारों मे समझ लेने कि जरुरत जिनमे गलत इशारों का रहना लगता है।
कुछ लोगों से अलग तरह कि उम्मीदे हर पल रहती है जो जीवन मे लहरों को अलग मतलब देकर चलती है क्योंकि लोगों को उसमे अलग इशारा रहता है जो जीवन को अलग किनारा देकर जाता है जिसमे एहसास जुदासा लगता है।
कुछ लोगों से अलग तरह कि सोच देकर जीवन कि धारा हर बार चलती है क्योंकि जीवन मे अलग तरह का इशारा जब उन लोगों से मिलता है उस इशारे मे जीवन को सही बदलाव हर बार दिखता है जो जीवन को अलग तरह के एहसास दिखाकर जीवन का इशारा अलग लगता है।

कविता. १०६६. कई सवालों के अंदर।

                                              कई सवालों के अंदर।
कई सवालों के अंदर जवाबों कि तलाश हर पल को अक्सर होती है जो जीवन मे हम समझ लेते है वह जवाब अक्सर जिन्दगी को अलग किसम के एहसास दिया करते है क्योंकि जवाब मे ही जीवन के एहसास जिन्दा रहते है।
कई सवालों के अंदर जीवन को जवाब अक्सर साफ लब्जों मे लिखे रहते है जिन्हे समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत जीवन को हर बार होती है जो जीवन मे कई किस्सों को समज कर आगे जाने कि जरुरत हर बार होती है जो आगे लेकर चलती है हम जिन्दा रहते है।
कई सवालों के अंदर कई कहानियाँ छुपी रहती है जो जीवन को हर बार आगे लेकर चलती है क्योंकि जीवन मे सवालों को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत हर बार होती है जिसके सहारे हम जीवन को अलग तरह से समझकर हम जिन्दा रहते है।
कई सवालों के अंदर कई किनारों को समझ लेने कि जरुरत जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है क्योंकि हर कदम पर जीवन को अलग एहसास पर परख लेने कि जरुरत हर बार जीवन को अलग किसम कि शुरुआत देकर हम जिन्दा रहते है।
कई सवालों के अंदर कई खयालों कि तलाश रहती है जो जीवन मे सवालों कि पहचान हर बार बदलकर आगे जाती है क्योंकि सवालों को समझ लेने कि कहानी जीवन मे हर बार रहती है क्योंकि कदमों से ही तो हम जिन्दा रहते है।
कई सवालों के अंदर कई किनारों कि प्यास अक्सर जिन्दा रहती है क्योंकि सवालों को परखकर ही तो जिन्दगी हर बार अलग पहचान देती है क्योंकि सवालों मे ही तो हमारी साँसे अक्सर रहती है जो उम्मीदों के हम जिन्दा रहते है।
कई सवालों के अंदर कई दिशाओं मे ही तो जीवन कि हर साँस होती है जो जीवन को अलग तरह कि ताकद देकर जाती है जो जीवन को जरुरत हर पल देकर जाती है क्योंकि जीवन मे कदमों को परखकर ही दुनिया मे हम जिन्दा रहते है।
कई सवालों के अंदर कई जवाब समझ लेने कि जरुरत अक्सर जीवन मे रहती है जिसे समझ लेने कि चाहत हम हर बार रखते है क्योंकि सवालों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर अलग एहसास देकर उन खुशियों मे हम जिन्दा रहते है।
कई सवालों के अंदर दिशाओं को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत जीवन को हर मौके पर हर पल के अंदर जिन्दा हर बार रहती है क्योंकि सवालों को समझकर ही तो हर मौके मे हम अक्सर दुनिया को समझ लेते है खुशियों मे ही हम जिन्दा रहते है।
कई सवालों के अंदर जीवन कि धारा हर बार बदलकर चलती है क्योंकि सवालों को परखकर ही तो दुनिया कई किस्सों मे आगे बढती है क्योंकि सवालों को समझ लेने कि जरुरत हर एक कदम पर रहती है जो जवाब देती है उनमे हम जिन्दा रहते है।

Tuesday, 22 November 2016

कविता. १०६५. कुछ बाते कुदरत कि।

                                                  कुछ बाते कुदरत कि।
कुछ बाते कुदरत कि हर बार अलग तरह कि होती है जो जीवन को कुदरत के हिसाब से बदलाव देकर चलती है जो कुदरत को कई बदलावों के साथ कई तरह कि कहानियाँ जिन्दा रहती है जो कुदरत को कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है।
कुछ बाते कुदरत कि हर चीज को अलग एहसास मे कहती है जो हमे जीवन मे कई तरह कि समझ देकर चलती है जो कुदरत को कई किस्सों मे आगे लेकर जाये वह धारा कुदरत कि कहानियों को कई तरह के राहों से लेकर चलती है।
कुछ बाते कुदरत कि हर मौके मे बदलाव देकर आगे बढती है क्योंकि कुदरत कि धाराओं को समझ लेने कि जरुरत हर मोड पर रहती है कुदरत ही तो कई अंदाज मे आगे लेकर बढती जाती है क्योंकि जीवन कि धारा आगे चलती है।
कुछ बाते कुदरत कि हर बात अलग एहसास देकर आगे बढती जाती है क्योंकि कुदरत के हर कदम पर दुनिया कि कोई अलग आवाज मिलती है जो जीवन को कई किस्सों मे समझकर आगे बढती है जो जीवन मे उम्मीदे देकर चलती है।
कुछ बाते कुदरत कि हर मौके पर अलग पलों कि जरुरत जीवन को अलग तरह कि समझ देकर आगे बढती जाती है क्योंकि कुदरत मे कई किसम कि कहानियाँ हर मौके पर जिन्दा हर बार रहती है वह आगे लेकर चलती है।
कुछ बाते कुदरत कि हर मोड पर जीवन कि कहानी को कई किस्सों का मतलब देकर जाती है क्योंकि कुदरत कि कहानी कई कदमों के साथ आगे जाती है कुदरत ही तो जीवन कि हर पल एक जरुरत रहती है जो आगे लेकर चलती है।
कुछ बाते कुदरत कि हर किस्से कि कहानी बदलकर आगे बढती जाती है अक्सर जीवन मे कुदरत को पहचान लेने कि जरुरत जीवन को रहती है क्योंकि कुदरत ही तो अक्सर जीवन को अलग तरह का असर हर बार देकर चलती है।
कुछ बाते कुदरत कि हर सोच को अलग एहसास देकर जाती है कुदरत कि हर धारा हर कदम पर अलग मतलब देकर आगे बढती है क्योंकि कुदरत के एहसासों मे ही तो दुनिया अक्सर हर बार आगे लेकर चलती है।
कुछ बाते कुदरत कि हर पल को अलग तरह कि उम्मीदे देकर जाती है वह बताती है हार के अंदर ही जीत कि सौगाद रहती है जो हर बार कुदरत को कई तरह का मतलब देकर हर बार हर कदम पर आगे लेकर चलती है।
कुछ बाते कुदरत कि हर बात को बदलाव देकर जाती है जो जीवन को कई किसम के किस्सों के एहसास देकर जाती है क्योंकि जीवन मे कई किस्सों मे ही तो जीवन कि कहानी अक्सर अलग किस्सा समझकर आगे लेकर चलती है।

कविता. १०६४. हर राह पर जीवन कि सौगाद।

                                              हर राह पर जीवन कि सौगाद।
हर राह पर जीवन कि सौगाद को समझ लेने कि जरुरत हर सपने मे होती है क्योंकि सपनों से ही तो जीवन कि राहे अक्सर बनती है क्योंकि सपनों मे राहों को समझ लेना जरुरी हर बार रहता है जो सपनों मे ही कई राहों को परख लेना जरुरी होता है।
हर राह पर जीवन कि सौगाद को कई रंगों मे पहचान लेना जरुरी होता है क्योंकि राहों को समझकर जीवन कि कहानियाँ हर बार हमे कई मौकों का एहसास देकर हमारी दुनिया बदलकर हर बार आगे बढती जाती है वह हर बार जरुरी होता है।
हर राह पर जीवन कि सौगाद को समझकर जीवन मे कई किस्सों का अंदाज बनता है क्योंकि राहों पर जीवन समझ लेना ही तो जीवन कि सच्ची प्यास हर बार रहती है जो जीवन को अलग तरह कि राहों को समझ ले उस धारा को समझ लेना जरुरी होता है।
हर राह पर जीवन कि सौगाद कुछ नयी उम्मीदे देकर जाती है क्योंकि राहों मे ही अलग तरह का एहसास और मकसद जीवन मे जिन्दा रहता है जिसे परख लेना हर बार अहम और उम्मीदों से भरा होता है क्योंकि जीवन को परख लेना जरुरी होता है।
हर राह पर जीवन कि सौगाद कई किस्सों मे जिन्दा हो जाती है जो राहों को हर कदम पर हरीयाली कि उम्मीद हर बार देती है जो जीवन को अलग रंगों मे आगे लेकर चलती है क्योंकि राहों से ही जीवन कि कहानी बनती है राह पर चलना जरुरी होता है।
हर राह पर जीवन कि सौगाद कई तरह के किनारों मे दुनिया को समझकर आगे जाती है जिसे परखकर दुनिया का किस्सा हर मौके पर अलग सोच देकर जाता है वह जीवन कि आस बनकर आगे बढता है जिसे समझ लेना जरुरी होता है।
हर राह पर जीवन कि सौगाद कुछ अलग लम्हों कि उम्मीदे देकर आगे बढती है क्योंकि राहों को कदमों से समझ लेना ही अहम होता है अक्सर हर राह को हर पल परख लेना जीवन कि अहम धारा होता है जो जीवन मे जरुरी होता है।
हर राह पर जीवन कि सौगाद कुछ अलग किसम कि परख देकर आगे चलता है जो जीवन मे कई किस्सों को समझ लेना अक्सर अहम समझ लेता है क्योंकि राहों पर जीवन को परख लेना अक्सर जाने और अनजाने मे हो जाता है उसे अपनाना जरुरी होता है।
हर राह पर जीवन कि सौगाद कुछ लम्हों कि सौगाद जिन्दा रहती है जो जीवन मे राहों कि ताकद हर बार आगे लेकर चलती है क्योंकि राहों मे ही तो जीवन कि कहानी हर बार जिन्दा रहती है क्योंकि कहानियों कि सौगाद समझ लेना हर राह पर जरुरी होता है।
हर राह पर जीवन कि सौगाद कुछ बातों को समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि राहों को परखकर दुनिया आगे चलती है हर राह को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन मे राहों को समझ लेना जीवन मे अक्सर जरुरी होता है।

Monday, 21 November 2016

कविता. १०६३. हर हवा का एहसास।

                                         हर हवा का एहसास।
हर हवा का एहसास जीवन को जुदासा बनाकर जाता है जीवन कि हर धारा को बदलाव कि आँधी से उलझकर सही राह को परखना होता है क्योंकि बदलाव अक्सर जीवन कि बहारों कि दिशाए बदलकर हर मौके पर चलता है।
हर हवा का एहसास जीवन को कई किस्सों मे अलग तरह कि पहचान देकर जाता है वह एहसास हवाओं मे हर बार होता है क्योंकि हवाओं मे अलगसी पुकार जिन्दा रहती है जो जीवन मे हवाओं को समझकर दुनिया का रास्त्ता चलती है।
हर हवा का एहसास जीवन को कई तरह के नये मौके देकर जाता है क्योंकि हवाओं मे ही जीवन का अलग एहसास जिन्दा रहता है जो हवाओं को अलग एहसास देकर जाता है जिस एहसास को समझकर ही जीवन कि कहानी आगे चलती है।
हर हवा का एहसास जीवन को कई किनारों को परखकर आगे जाना होता है क्योंकि हर हवा का एहसास जीवन को बदलाव देकर आगे हर बार जाता है अक्सर हवाओं मे कई एहसासों कि पहचान हर पल मे छुपी रहती है जिसे आगे लेकर जीवन चलता है।
हर हवा का एहसास जीवन कि सोच को अलग खयाल देकर जाता है हवा को पहचान लेना ही जीवन कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि हवाओं मे कई कदमों का एहसास छुपा रहता है जो जीवन को कई तरह के मकसद और मतलब देकर चलता है।
हर हवा का एहसास जीवन कि बाते अलग समझ देकर बताता रहता है क्योंकि हवाओं मे ही जीवन के कई किसम के एहसास छुपे रहते है जो जीवन को कई तरह के खयाल और मतलब देकर रहते है क्योंकि जीवन मे हवाओं का किस्सा ही रफ्तार देकर चलता है।
हर हवा का एहसास जीवन कि कहानी को बदलता हुआ हर मौके पर आगे बढता जाता है क्योंकि हवाओं मे ही जीवन का मकसद छुपा रहता है जो जीवन को हवाओं कि दिशाओं को अलग तरह के मतलब और मकसद देकर चलता है।
हर हवा का एहसास जीवन कि धारा मे कई किस्सों कि कोशिश देकर चलता है क्योंकि जीवन मे कई किसम का एहसास छुपा हर बार रहता है जो जीवन को कई दिशाओं कि पुकार मे हर बार अलग मतलब हर बार छुपा रहता है जो आगे लेकर चलता है।
हर हवा का एहसास अलगसा विश्वास देकर जाता है जो जीवन को कई किनारों से आगे बढता चला जाता है क्योंकि हवाओं मे चीजों को परख लेना हर मौके पर अहम हर बार रहता है जो जीवन को कई किस्सों का एहसास देकर चलता है।
हर हवा का एहसास कई तरह के किस्सों के सहारे आगे लेकर चलता है क्योंकि जीवन को समझ लेना हर बार जरुरी रहता है क्योंकि हवाओं को समझ लेना जीवन कि अहम बात होती है जिसे समझ लेने पर ही तो जीवन आगे चलता है।

कविता. १०६२. हर लहर कि बूँदों मे।

                                          हर लहर कि बूँदों मे।
हर लहर कि बूँदों मे एक एहसास छुपासा रहता है जो विश्वास हमारे मन को एक जुदासी देता है जो पहचान अलगसी रखता है लहरों के साथ जीवन कि धारा को हर बूँद के साथ मकसद देकर चलता है जो आगे बढता है।
हर लहर कि बूँदों मे एक मौके मे जीवन कि धारा बदलती जाती है जो लहरों को समझ दे जाये वह किनारा देने कि चाहत हर लहरों मे होती है जो जीवन को मकसद देकर आगे चलती है जो जीवन को मतलब देकर आगे बढता है।
हर लहर कि बूँदों मे एक किनारे कि जरुरत रहती है जो लहरों से कहती है कि जीवन को परख लेने कि हर बूँद को जरुरत रहती है जो जीवन मे लहरों को अलग एहसास देकर आगे चलती है जिसमे रोशनी का विश्वास बढता है।
हर लहर कि बूँदों मे एक प्यास जुदासी होती है जो जीवन कि हर उम्मीद को कई किस्सों मे कहती रहती है जो जीवन मे लहरों को बूँदों कि प्यास देकर चलती है जो जीवन को अलग किनारों से ही अागे लेकर बढता है।
हर लहर कि बूँदों मे एक मौका अलगसा मिलता है क्योंकि लहरों कि आवाज को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है लहरों को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत जीवन को हर एक पल मे होती है जो बूँदों से मिलता है वह जीवन मे आगे बढता है।
हर लहर कि बूँदों मे समझ अलगसी होती है जो नदीयाँ को कई तरह के मतलब देकर चलती है जो लहरों को बदलते जानेसे हर बार जीवन कि दिशाओं को बदलते जाता है क्योंकि जीवन को लहरों को बदलने कि जरुरत रहती है जो जीवन उस किनारे तक जाते हुए आगे बढता है।
हर लहर कि बूँदों मे जीवन कि कहानी बनती है जब जीवन कि कहानी को समझ अलग तरह कि रहती है जो बूँदों को समझ देती है वह किनारों को ताकद देकर चलती है वह उस किनारे को छूँ लेती है जो जीवन को आगे बढाता है।
हर लहर कि बूँदों मे जीवन कि धारा चलती है वह हमे समझ देकर हर बार उम्मीदों कि दुआए देकर चलती है वह बूँदों कि कहानी कहती हुई दुनिया मे आगे निकलती है वह जीवन मे किनारों से ही अक्सर आगे बढती है।
हर लहर कि बूँदों मे जीवन कि कहानियाँ किस्सों मे बदलती है जो लहरों को ताकद देकर जाये वह दिशाए जीवन को मकसद देकर आगे चलती है क्योंकि बूँदों को समझकर आगे बढने कि ताकद तो मन मे रहती है उस उम्मीद से ही किस्मत का किनारा आगे बढता है।
हर लहर कि बूँदों मे जीवन कि परख रहती है जो साँसों को उम्मीदे देकर चलती है क्योंकि जीवन मे अक्सर बूँदों के सहारे दुनिया आगे चलती है जीवन कि धारा अक्सर खुशियाँ देकर चलती है जिसे लेकर बूँदों का कारवा ही अक्सर आगे बढता है।

Sunday, 20 November 2016

कविता. १०६१. हर किरण एक रोशनी।

                                           हर किरण एक रोशनी।
हर किरण रोशनी को नया एहसास  दे जाती है वह जीवन को जस्बातों से लढना अक्सर सिखाती है हर किरण को जब हम परख ले तभी दुनिया नयी रोशनी कि पुकार हर बार देकर जाती है वह एहसास नया दिखलाती है।
हर किरण एक रोशनी कि दुनिया अलग उजाला लेकर आती है वह अक्सर दुनिया मे बदलाव कई किसम के ले आती है हर किरण दुनिया को मकसद देकर चलती जाती है जो जीवन मे कई तरह कि उम्मीदे दिखलाती है।
हर किरण एक रोशनी कि लकिर देकर चलती है जो जीवन को उजाले को अलग तरह कि समझ देकर चलती जाती है क्योंकि किरणों को परखकर ही तो दुनिया एहसास नयासा देकर जाती है वह नयी दिशाए दिखलाती है।
हर किरण एक रोशनी कि अलग सौगाद देकर जाती है जो जीवन को उजाला देकर जाये वह एहसास दुनिया अक्सर रोशनी की साथ देकर जाती है जो जीवन को मतलब देकर जाये वह रोशनी कि किरण मेहनत से कियी कोशिश ही दिखलाती है।
हर किरण एक रोशनी कि शुरुआत देकर जाती है जो जीवन को आशाए दे वह किरण उम्मीदों से आ जाती है क्योंकि किरणों से ही जीवन मे कदमों कि ताकद आती है जो जीवन को मकसद दे वह रोशनी उम्मीदे ही दिखलाती है।
हर किरण एक रोशनी कि कहानी हर बार अलग एहसास देकर जाती है जो किरणों मे समझ दे जाये वह धारा जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर जाती है क्योंकि जीवन को कदमों को परखकर आगे बढती हुई अक्सर दिखलाती है।
हर किरण एक रोशनी कि राह समझाती है वह किरणों को किस्सों मे समझ अलग किसम कि देकर जाती है वह किरणों के अंदर कहानियाँ अलग तरह कि देकर चलती जाती है क्योंकि किरणों मे मकसद कि दिशाए दिखलाती है।
हर किरण एक रोशनी कि कहानी और दिशाए हर मौके पर जीवन कि रफ्तार नयी दिखाती है जो किरणों को परख लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है क्योंकि किरणों को समझ लेने कि अहमियत देकर जाती है वह किरणों को समझकर दुनिया कई रंगों मे असर दिखलाती है।
हर किरण एक मौके पर जीवन कि कहानी हर बार एहसास देकर चलती जाती है क्योंकि किरणों को कई तरह के एहसासों कि शुरुआत मिल जाती है क्योंकि किरणों कि रोशनी हर तरह के असर करती जाती है क्योंकि वही तो जीवन मे उजाला दिखलाती है।
हर किरण एक एहसास पर जीवन को बदलाव देकर जाती है क्योंकि किरणों के अंदर ही तो हमारी दुनिया जिन्दा रहती है जो जीवन को किरणों कि अलग सुबह देकर जाती है क्योंकि किरणों मे ही जीवन कि खुशियाँ हमे उम्मीदे दिखलाती है।

कविता. १०६०. किसी ना किसी।

                                                   किसी ना किसी।
हर बार जीवन किसी ना किसी बात को अक्सर तरसता है हर बार जीवन का एहसास बदलाव देकर चलता है हर पल को कई किस्सों मे समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर बार होती है जो जीवन को कई बार एहसासों कि कहानी बदलती हुई दिखती है।
हर बार जीवन किसी ना किसी तलाश को मतलब देकर चलता है हर बार जीवन अपनी कहानियों का मतलब बदलकर चलता है जीवन को हर मौके पर जीवन कि कहानी को एहसासों मे समझ लेने कि जरुरत हर मोड पर होती है जो उम्मीदों मे दिखती है।
हर बार जीवन किसी ना किसी किनारे कि तलाश मे निकलता है उस तलाश का एहसास कुछ अलग ही बात देता है क्योंकि किनारों को परख लेने कि चाहत मन को हर बार एक अलग एहसास देकर आगे बढती है क्योंकि वह चाहत जीवन को उजाला दिखाती है।
हर बार जीवन को किसी ना किसी खूशी कि उम्मीद रहती है जो जीवन को अलग तरह कि दिशाए हर बार एहसासों को अलग तरह का विश्वास देकर चलती है क्योंकि जीवन कि कहानी कई कहानियों के साथ आगे बढती है जो जीवन मे विश्वास दिखाती है।
हर बार जीवन किसी ना किसी सोच को सपनों कि दुआए देकर चलती है क्योंकि जीवन को उम्मीदों कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन मे खुशियों का एहसास हर बार देकर जाती है क्योंकि जीवन मे किसी सोच कि ताकद नया किनारा दिखाती है।
हर बार जीवन किसी ना किसी मकसद कि उम्मीद करता है जो जीवन को कई बार कदमों कि कहानी देकर जाती है जो जीवन कि मैफील कुछ खास बनाकर चलती है क्योंकि जीवन को किसी कदमों पर की आहट हमे आगे चलते जाने कि दिशाए दिखाती है।
हर बार जीवन किसी ना किसी तलाश मे पुकार बनकर चलता है क्योंकि हर पल तलाश को समझकर ही तो उम्मीदों कि दिशाए मिलती है जिनमे जीवन कि कहानियाँ समझ लेने कि जरुरत हर पल होती है जो जीवन मे उजालों कि दिशाए अक्सर दिखाती है।
हर बार जीवन किसी ना किसी किनारे पर दुनिया को समझ लेने कि जरुरत हर कहानी मे हर मौके पर रहती है क्योंकि जीवन को अलग किसम का एहसास और मकसद देकर आगे बढती है जो जीवन को अलग तरह का एहसास देकर नया सपना दिखाती है।
हर बार जीवन किसी ना किसी सपने को पकड लेने कि आदत तो अक्सर होती है जो जीवन मे हर बार कुछ अलग तरह का असर करती हुई जाती है जो जीवन को सपनों कि रागिनी देकर आगे जाती है जो जीवन को कई तरह के रंग अक्सर दिखाती है।
हर बार जीवन किसी ना किसी धारा का मतलब बदलता है क्योंकि जीवन को कई तरह कि दिशाए देकर जानेवाली राहे अक्सर मिलती है जीवन कि धारा कई रंगों को समझ देकर हर बार आगे बढती है जो दुनिया को समझकर उम्मीदों कि पुँजी अक्सर दिखाती है।

Saturday, 19 November 2016

कविता. १०५९. बहारों को समझकर।

                                        बहारों को समझकर।
बहारों को समझकर जीवन को कई किस्सों मे जीने कि जरुरत होती है क्योंकि बहारों कि कहानी जीवन को कई रंगों कि समझ देती है हर बहार मुस्कान के साथ चीजों को बाँटते जाने कि आदत भी अक्सर जीवन मे देकर चलती है।
बहारों को समझकर जीवन को कई एहसासों मे किनारों से समझ लेने कि जरुरत हर बार रहती है जो जीवन मे बहारों को अलग तरह कि समझ देकर चलती है जो बहारों मे दुनिया को अलगसी सुबह देकर हर बार आगे चलती है।
बहारों को समझकर जीवन को कई किनारों से आगे लेकर बढती रहती है क्योंकि बहारों को समझकर कदमों कि आहट हर बार दुनिया को कई रंगों मे आगे लेकर चलती है वह दुनिया को कई किस्सों मे बदलाव देकर चलती है।
बहारों को समझकर जीवन को अलग तरह कि समझ देकर आगे बढती है जो जीवन को कई किस्सों मे मतलब देकर जाती है जो जीवन को अलग किसम कि सोच देकर आगे बढती जाती है जो हर पल आगे लेकर चलती है।
बहारों को समझकर जीवन को कई किस्सों मे परख लेने कि जरुरत होती है जो जीवन को कई हिस्सों मे आगे लेकर बढती है जो जीवन कि धारा को अलग तरह कि समझ देकर जाती है वह बहारों कि कहानी को बदलाव देकर चलती है।
बहारों को समझकर जीवन कि धारा कई किस्सों मे अलग परख देकर जाती है वह दुनिया को कई किनारों कि समझ देकर जाती है वह बहारों को समझ देकर जाती है वह जीवन कि कहानी हर बार बहारों मे उम्मीदे देकर चलती है।
बहारों को समझकर जीवन का हर किस्सा एहसास बदलकर जाता है वह बहारों के संग हर बार साँसों का मतलब बदलकर जाता है बहारों को समझकर बदलाव देकर दुनिया आगे बढती जाती है जो जीवन को मतलब देकर चलती है।
बहारों को समझकर जीवन को कई किस्सों मे परख लेने कि जरुरत हर बार होती है जो जीवन कि धारा को कई किस्सों मे परखकर आगे बढती है जो बहारों मे कई किसम कि कहानियाँ चुपके से जीवन मे कहती हुई आगे लेकर चलती है।
बहारों को समझकर जीवन को कई कदमों मे समझ लेने कि जरुरत होती है क्योंकि बहारों मे ही तो दुनिया कि धारा कई एहसासों के संग आगे लेकर जाती है जो जीवन मे कई राहों को बहारों मे चलने कि समझ देकर चलती है।
बहारों को समझकर जीवन को अलग एहसास दे जाती है क्योंकि बहारों मे कई किसम कि सोच जीवन मे आगे बढती है जो जीवन मे बहारों को समझ देकर चलती है वह एहसास कि धारा जीवन को अलग समझ देकर चलती है।

कविता. १०५८. हर साँस एक अलग।

                                                    हर साँस एक अलग।
हर साँस एक अलग एहसास देकर जाती है जब उसे समझ लेने कि आदत जीवन मे आ जाती है क्योंकि साँसों से ही तो दुनिया आगे बढती जाती है जो साँसों से ही किस्मत बदलती है यह बात समझाकर जाती है।
हर साँस एक अलग समझ देकर जाती है जब साँसों से जीवन कि कहानी कई रंगों मे निखरकर आगे बढती जाती है क्योंकि साँसों से ही तो जीवन को किसी अलग मतलब कि कहानी बनती हुई हर बार आगे बढती जाती है।
हर साँस एक अलग समझ को परखकर आगे बढती रहती है क्योंकि साँसों मे ही तो हमारी दुनिया अक्सर जिन्दा रहती है जो साँसों को समझ देकर आगे चलती है क्योंकि साँसों मे ही तो जीवन के लम्हों कि सौगाद जिन्दा होती जाती है।
हर साँस एक अलग पुकार देकर चलती रहती है क्योंकि साँसों मे अहमियत समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि साँसों मे ही तो जीवन कि कहानी चुपके से लिखी हुई अक्सर जीवन मे रह जाती है।
हर साँस एक मौके मे हरीयाली कि उम्मीद देकर जाती है क्योंकि बिना साँसों के जीवन को परख लेने कि जरुरत जीवन को कई रंगों का किस्सा देकर रहती है हर साँस मे जीवन को समझकर आगे जाने कि जरुरत जीवन मे अक्सर जिन्दा रह जाती है।
हर साँस एक मौके मे अलग एहसास देकर चलती है क्योंकि हर साँसों मे जीवन कि सौगाद होती है जो जीवन को साँसों कि उम्मीद देकर आगे चलती है जो साँसों से ही कदमों कि कहानी अक्सर सुनाती रहती है क्योंकि साँसों मे ही रह जाती है।
हर साँस एक आहट देकर आगे बढती है क्योंकि साँसे ही तो जीवन कि आवाज सुनाती रहती है क्योंकि साँसे ही तो जीवन का सच्चा हिस्सा बनकर आगे चलती रहती है क्योंकि साँसों को परख जीवन कि धारा हर बार आगे बढती जाती है।
हर साँस एक अलग वादा देकर जाती है क्योंकि साँसों मे ही जीवन कि पुकार हर बार होती है जो जीवन मे साँसों को अलग पहचान हर पल मिलती रहती है क्योंकि साँसों को समझकर जिन्दा रहने कि जरुरत जीवन मे अक्सर रह जाती है।
हर साँस एक अलग पुकार रखती रहती है जो जीवन को मकसद देकर चलती है वह पुकार उम्मीदे देकर जीवन कि हर मौके पर उजाला देकर हर बार चलती रहती है क्योंकि साँसों कि कहानी मन मे कई एहसास देकर आगे चलती रह जाती है।
हर साँस एक अलग समझ देकर जीवन को आगे लेकर जाती है क्योंकि साँसों मे ही जीवन की कहानियाँ जिन्दा होती है अक्सर साँसे जीवन को अलग एहसास कि दुआए देकर आगे बढती है क्योंकि साँसों से ही तो दुनिया आगे चलती रह जाती है।

Friday, 18 November 2016

कविता. १०५७. हर कोशिश मे जीवन कि आवाज।

                                           हर कोशिश मे जीवन कि आवाज।
हर कोशिश मे जीवन कि आवाज अलगसी रहती है क्योंकि जीवन कि कहानी कई तरह के अंदाज मे आगे बढती रहती है जो कोशिश को मकसद दे वह आवाज अलगसी रहती है उसे समझ लेने कि चाहत जीवन मे हर पल रहती है।
हर कोशिश मे जीवन कि धारा हर बार बदलाव देकर आगे चलती है जो जीवन को कई किसम की धाराए हर बार अलग उजाले देकर चलती है जो कोशिश को परख लेने कि अहमियत हर बार जीवन को साँसे देकर रहती है।
हर कोशिश मे जीवन कि कहानी बदलती जाती है अगर कोशिश सही हो तो वह जीवन को मुस्कान देकर चलती जाती है क्योंकि कोशिश ही तो जीवन को अलग तरह कि ताकद देकर आगे बढती जाती है वह जीवन को मतलब देकर रहती है।
हर कोशिश मे जीवन कि पुकार अलगसी होती है जो जीवन मे हर कोशिश को मतलब अलग तरह का देकर जाती है हर कोशिश को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे एहसास अलगसा दिखाती है वह कोशिश ही तो जीवन को सही राह देकर रहती है।
हर कोशिश मे जीवन कि आदत कुछ अलग ही होती है जो लम्हों को हर कदमों को अलग पहचान देकर चलती है जो कोशिश का मतलब बदलकर उसमे मकसद देकर जाती है जो जीवन मे कोशिश कि कहानी को बदलाव देकर रहती है।
हर कोशिश मे जीवन कि सोच कुछ अलग मतलब देकर जाती है वह हर तरह के अंदाज को बदलाव के संग परखकर आगे बढती जाती है जो कोशिश को साथ दे जाये वह सोच हर बार अलग तरह कि दुआए देकर रहती है।
हर कोशिश मे जीवन कि जरुरत दुनिया मे बदलाव दिखाती जाती है क्योंकि कोशिश ही तो दुनिया को हर मौके पर बदलाव देकर आगे आती है क्योंकि कोशिश ही तो दुनिया कि सच्ची ताकद बनकर आगे बढने कि उम्मीदे देकर रहती है।
हर कोशिश मे जीवन कि किरणों को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर मौके पर होती है क्योंकि कोशिश ही तो कुदरत को कई कदमों के संग आगे लेकर जाती है जो जीवन कि कहानी लिखती है वह कोशिश हर बार उम्मीदे देकर रहती है।
हर कोशिश मे जीवन कि धारा हर बार अलग मतलब देकर आगे चलती है जो जीवन मे कोशिश को समझकर देखते जाने कि जरुरत होती है जीवन को हर बार कोशिश ही तो सच्चा आईना दिखाती है जिसमे जीवन कि धारा अलग तरह कि सोच देकर रहती है।
हर कोशिश मे जीवन कि धारा समझकर आगे बढने कि उम्मीदे होती है क्योंकि कोशिश ही तो कदमों को मतलब देकर हर बार चलती है कोशिश ही तो जीवन कि अलग तरह कि आवाज होती है जो जीवन को दिशाए देकर रहती है।

कविता. १०५६. हर राहों पर।

                                              हर राहों पर।
हर राहों पर रुह को कोई अलग सुगूनसा मिलता है हर राह मे जीवन कि कहानी कई किस्सों मे आगे चलती जाती है क्योंकि राहों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है जो जीवन मे कहानी को कदमों का एहसास देकर चलती है।
हर राहों पर जीवन कि कहानी हर किरदार पर जीवन के अंदर अलग एहसास देकर चलती है जो जीवन मे राहों को कई किसम कि सोच धारा को समझ देकर चलती है जो जीवन को कई किसम के एहसासों को समझकर आगे चलती है।
हर राहों पर कई किस्सों मे कहानियों को अलग किसम की समझ देकर चलती है जो जीवन को कई एहसास देकर जाये वह खुशियाँ देकर आगे बढती जाती है हर राह पर अलग तरह कि समझ मिलती है जो उम्मीदों के साथ आगे चलती है।
हर राहों पर कई किस्सों मे रोशनी मिलती जाती है जो जीवन मे राहों को अलग तरह कि समझ देकर चलती जाती है क्योंकि राहों को समझकर दुनिया को कई किस्सों मे आगे बढती जाती है जो आगे जीवन मे उम्मीदे देकर चलती है।
हर राहों पर परखकर जीवन कि कहानी कई किरदारों के साथ अलग किसम कि पहचान देकर जाती है क्योंकि राहों मे अक्सर दुनिया को कई किस्सों मे पहचान लेने कि जरुरत दुनिया को दिखती है जो अलग मतलब देकर चलती है।
हर राहों पर कई कहानियाँ जिन्दा रहती है पर किस कहानी को हम चुनते है तभी तो दुनिया कई एहसासों को मतलब देकर जाती है जो राहों को कई कहानियों मे परख ले वह सोच जरुरी रहती है जो हर बार जीवन मे आगे लेकर चलती है।
हर राहों पर कई किसम के मतलब देकर जानेवाली राहे रहती है जो जीवन को समझकर कई किसम कि रोशनी मिलती जाती है जो राहों को कई किसम कि कहानी हर पल मे कुछ अलग तरह से उम्मीदे देकर अक्सर चलती है।
हर राहों पर कई किस्सों मे आगे बढते जाने कि जरुरत होती है क्योंकि राहों मे अक्सर दुनिया कई किसम कि सोच अलगसी ताकद देकर हर मौके पर आगे बढती है जो जीवन मे उजालों को राहों पर आगे लेकर चलती है।
हर राहों पर कई किसम की सोच देकर आगे बढती जाती है जो राहों को अलग किसम कि सोच हमेशा जीवन को ताकद देकर आगे जाती है जो राहों को कई किसम के मतलब देकर जीवन कि कहानी हर बार आगे चलती है।
हर राहों पर कई कहानियों को किरदारों मे समझ लेने कि जरुरत पडती है जो जीवन मे सोच को कई तरह के मतलब देकर जाती है क्योंकि राहों को कई किसम कि दिशाए नजर आती है जो जीवन पर असर करती हुई आगे चलती है।

Thursday, 17 November 2016

कविता. १०५५. हर बूँद कि आवाज।

                                           हर बूँद कि आवाज।
हर बूँद को बारीश कि आवाज अलग एहसास देकर जाती है जो आवाज को अलग समझ देकर जाये वह सोच अलगसी रहती है जो बूँदों कि आवाज को एहसास कई किसम के देकर चलती जाती है वह एहसास देकर जाती है।
हर बूँद को समझकर आवाज कई एहसास देकर चलती है जब बूँदों को आवाज के एहसास देकर जीवन को कई किसम सोच जीवन मे कई तरह के एहसास देकर आगे बढती हुई हर बार आवाज को अलग एहसास देकर जाती है।
हर बूँद को समझकर जीवन कि कहानी हर पल हर आहट मे मन को ठंडक देकर जाती है क्योंकि बूँदों को आवाज मे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे कई किसम के रंग जीवन को कई एहसास देकर आगे बढती हुई हर बार जाती है।
हर बूँद को समझकर उसकी आवाज को परखकर दुनिया को समझ लेने कि जरुरत हर पल मे अक्सर नजर आती है जो बूँदों को आवाज कि परख देकर जीवन मे कई रंगों मे आगे चलते हुए हर बार आगे बढती हुई जाती है।
हर बूँद को समझकर उसके एहसास को परख लेने कि जरुरत जीवन को अलग किसम कि समझ देकर जाती है जीवन मे पानी कि बूँदों को परखकर आगे चलती रहती है जो पानी मे आवाज का एहसास देकर आगे जाती है।
हर बूँद को समझकर उनकी आवाज को अलग किसम की समझ देकर हर मोड पर आगे बढती रहती है जो बूँदों को अलग तरह कि समझ देकर जाती है क्योंकि बूँदों कि आवाज को समझकर जीवन कि धारा परख लेने कि जरुरत आ जाती है।
हर बूँद को समझकर उनकी आवाज को अलग किसम कि आहट हर पल मिलती रहती है जो जीवन मे बूँदों कि आवाज मे समझ देकर आगे बढती जाती है जो बूँदों को ताकद हर पल मे देकर आगे बढती चली जाती है।
हर बूँद को समझकर उसकी परख समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है जो बूँदों के आवाज को एहसासों के साथ समझ लेने कि जरुरत हर पल बताती है क्योंकि जीवन मे आवाज से ही तो दुनिया एहसास दे चलती जाती है।
हर बूँद को समझकर आवाज के अंदर परख लेने कि एहसासों मे जरुरत रहती है जो जीवन मे बूँदों को समझकर वह आवाज मन को खुशियाँ देकर आगे बढती जाती है क्योंकि आवाज मे ही तो दुनिया कि कहानी चलती जाती है।
हर बूँद को समझकर आवाज के अंदर एहसास कि एक कहानी बनती है जीवन मे कई किसम के किनारों को अलग तरह के अंदाज देकर चलती है क्योंकि आवाज के सहारे ही तो जीवन कि कहानी हर बार बूँदों के कई एहसास देकर आगे जाती है।

कविता. १०५४. आसमान मे सितारों को।

                                          आसमान मे सितारों को।
आसमान मे सितारों को समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि सितारों के सहारे आसमान के हर कोने मे रोशनी बिखरती जाती है जो आसमान को कुछ खास बनाकर अक्सर रखती जाती है।
आसमान मे सितारों को देखकर रोशनी हर बार दुनिया को चमक देकर चलती जाती है जो सितारों को समझकर कई तरह कि खुबसूरत एहसासों को सुंदरता कि कहानी देकर आगे बढती हुई चली जाती है।
आसमान मे सितारों को समझ लेने कि जरुरत हर बार बादलों के साथ रहती है जो आसमान मे अलग रोशनी देकर चलती है क्योंकि सितारों को परखकर ही तो आगे चलते जाने कि जरुरत दुनिया मे आसमान को हर बार हो जाती है।
आसमान मे सितारों को परखकर कई रंगों को समझकर आगे जाने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि आसमान मे बादलों को पहचान लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है क्योंकि बादलों मे कई रंगों को पहचान दियी जाती है।
आसमान मे सितारों को समझकर दुनिया किसी अलग रंग कि सौगाद देकर आगे बढती जाती है क्योंकि आसमान मे बादलों को पहचान लेने कि जरुरत जीवन मे हर बार होती है जो जीवन मे बादलों को आगे लेकर जाती है।
आसमान मे सितारों को समझकर जीवन मे रोशनी देकर हर पल आगे बढती रहती है जो दुनिया मे कई किसम के एहसास देकर चलती रहती है क्योंकि आसमान मे रोशनी कि अलग समझ अक्सर जीवन मे सौगाद देकर जाती है।
आसमान मे सितारों को अलग तरह के एहसास मे समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि जीवन मे आसमान कि रोशनी कई किसम के एहसास देकर आगे चलती है आसमान मे सितारों को समझ लेने कि जरुरत हर बार हो जाती है।
आसमान मे सितारों को समझ लेने कि अहमियत हर एहसास मे हर पल होती है जो जीवन मे कई तरह कि रंगों के एहसास देकर चलती रहती है क्योंकि आसमान को परख लेने कि जरुरत हर रोशनी देकर आगे हर कदम मे आगे देकर जाती है।
आसमान मे सितारों को चमकते हुई कहानी सुनाने कि आदत अक्सर जीवन मे होती है क्योंकि सितारों को समझ लेने कि चमक हर पल दुनिया मे होती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर अलग तरह कि समझ के साथ नजर आ जाती है।
आसमान मे सितारों को चमकते रहने कि जरुरत दुनिया मे हर पल होती है जो जीवन को रोशनी कि नई मिसाल हर बार देकर चलती रहती है क्योंकि आसमान मे सितारों को परखकर आगे लेकर जाने कि जरुरत हर बार जीवन को हो जाती है।
आसमान मे सितारों को बादलों मे रोशनी फैलाने कि आदत हर बार होती है क्योंकि सितारों मे ही तो रोशनी कि कहानी हर बार छुपी रहती है जो जीवन मे सितारों कि चमक हर बार देकर चलती है क्योंकि सितारों कि चमक ही आसमान को बहोत खास बनाकर जाती है।

Wednesday, 16 November 2016

कविता. १०५३. हर कदम मे हर मौके पर।

                                             हर कदम मे हर मौके पर।
हर कदम मे हर मौके पर सुबह कोई अलग एहसास लेकर आती है जो जीवन मे कदमों को विश्वास नया देकर जाती है जो कदमों को मतलब कई किसम के देकर आगे बढती जाती है जो हर कदम मे अलग आवाज देकर जाती है।
हर कदम मे हर पल मे जीवन कि दास्तान मिलती जाती है जो जीवन मे दास्तान कि कहानी हमे हर पल बताकर चलती रहती है जो जीवन मे दास्तान कई मौकों पर देकर जाती है मजा तो उन कदमों मे आता है जिनमे दास्तान आगे बढती जाती है।
हर कदम मे हर कहानी को अलग रोशनी नजर आती है जो जीवन को अलग तरह कि समझ दे जाये वह दुनिया मे कई किनारों को समझकर आगे लेकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों को कदमों कि समझ देकर जाती है।
हर कदम मे हर कहानी को अलग एहसास से समझ लेने कि जरुरत होती है जो जीवन को कई अंदाज मे आगे लेकर चलती है जो कदमों को कई किनारों के संग एहसासों के सहारे परख लेती है वह दुनिया मे हर पल खुशियाँ देकर जाती है।
हर कदम मे हर पल को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत होती है क्योंकि कदमों को परख लेने कि जरुरत दुनिया मे हर पल के साथ होती है जो कदमों को परखकर आगे लेकर चलती है जो कदमों के सहारे आगे जाती है।
हर कदम मे हर मौके को समझकर दुनिया तो आगे बढती जाती है जो आहट कदमों मे हो वह सुनने कि जरुरत जीवन को हर मौके पर नजर आती है जो जीवन मे असर करती रहती है जो कदमों को ताकद देकर जाती है।
हर कदम मे हर पल को मतलब कहानी देकर चलती रहती है जो कदमों को समझकर दुनिया कई किस्सों मे समझ देकर आगे बढती रहती है हर कदम मे जीवन को अलग एहसास कि जरुरत हर पल नजर आ जाती है।
हर कदम मे हर पल को परखकर दुनिया कई किस्सों मे आगे लेकर चलती रहती है जो कदमों को आहट दे जाये वह कहानी हर पल मतलब के साथ नजर आती है क्योंकि जीवन मे कदमों कि आहट हर बार आगे लेकर जाती है।
हर कदम मे हर मौके पर जीवन कि कहानियाँ हर मौके पर अलग किसम के मकसद देकर आगे बढती रहती है कदमों कि आवाज को परख लेने कि जरुरत जीवन को कई तरह के एहसास देकर हर मौके पर आगे बढती जाती है।
हर कदम मे हर दिशा पर जीवन कि आवाज अलग तरह कि रोशनी लेकर आती है जो जीवन को समझ ले वह सोच जीवन को कोई अलग दिशा देकर रहती है वह जीवन मे अलग एहसास देकर आगे बढती जाती है।

कविता. १०५२. हर कदम पर जीवन को।

                                          हर कदम पर जीवन को।
हर कदम पर जीवन को परख लेना जरुरी नजर आता है पर कदमों कि हर आहट को समझ लेना अहम बात नजर आता है जो कदमों को समझ अलग तरह कि देकर चलता है जो जीवन मे दिशाए देकर जाता है।
हर कदम पर जीवन को समझ लेना अहम बात बन जाता है जो जीवन कि धारा को अलग तरह का मकसद देकर चलता जाता है क्योंकि कदमों को परख लेना जीवन मे अलग किसम कि रोशनी देकर जाता है।
हर कदम पर जीवन को समझ लेना ही तो जीवन कि धारा को मकसद अलग देकर चलता हुआ जाता है जो कदमों कि आहट को दिशाए कुछ अलग तरह कि देकर आगे बढता रहता है जो जीवन को कदमों कि ताकद देकर जाता है।
हर कदम पर जीवन को अलग तरह का एहसास हर पल मिलता रहता है जो कदमों के अंदर कई तरह कि उम्मीदे देकर आगे बढता रहता है जो जीवन मे कदमों को कई दिशाए दे कर हर बार नये किसम कि उम्मीद दे कर जाता है।
हर कदम पर जीवन को अलग किसम कि ताकद दे कर आगे बढता है जो जीवन मे अक्सर किनारों को समज अलग तरह कि दे कर चलता है जो कदमों को अलग तरह कि उम्मीदे देकर आगे बढता है जिसमे जीवन रोशनी ढूँढता हुआ उम्मीदे देकर जाता है।
हर कदम पर जीवन को अलग किनारों मे समझकर आगे चलते जाना होता है जो कदमों को ताकद देकर जाये वह किनारा हर बार जरुरी लगता है जो जीवन को उम्मीदे देकर आगे बढता रहता है जो जीवन को आगे लेकर जाता है।
हर कदम पर जीवन को कुछ तो कहना होता है हर कदम को परख लेना ही तो जीवन कि धारा को कई किसम का एहसास अक्सर मिलते जाते है क्योंकि हर कदम मे कई किसम के एहसासों को परखकर आगे लेकर जाता है।
हर कदम पर जीवन को कई किस्सों को परख लेना जीवन कि अहम धारा को जिन्दा करता हुआ आगे बढता रहता है क्योंकि कदमों के लिए जीवन हर मौके पर अलग एहसास देकर हर बार चलता है जो जीवन को आगे लेकर जाता है।
हर कदम पर जीवन को कई किनारों मे समझ लेने कि सोच हर बार कहानी को कुछ अलग तरह का मतलब देकर चलती जाती है जो कदमों को अलग मकसद देकर आगे चलता जाये वह कदम हर बार जीवन को अहम राह कि ओर लेकर जाता है।
हर कदम पर जीवन को कई किस्सों मे दुनिया के साथ समझ लेना होता है क्योंकि कदमों को ही तो जीवन का एक जुदा एहसास मिल जाता है जिसमे जीवन को हर बार परखकर आगे बढना आता है जीवन हर कदम मे आगे लेकर जाता है।
हर कदम पर जीवन को कई किनारों मे समझ लेना ही तो जीवन को अलग एहसास देकर चलता है क्योंकि कदमों मे ही तो दुनिया को रोशनी का अलग विश्वास देकर चलता है क्योंकि कदमों को परख लेना जीवन मे आगे लेकर जाता है।

Tuesday, 15 November 2016

कविता. १०५१. हर किस्से के अंदर कोई।

                                             हर किस्से के अंदर कोई।
हर किस्से के अंदर कोई लम्हा नया जिन्दा हो जाता है जो किस्सों को अलग किसम का मतलब देकर हर मौकों मे कई एहसास देकर आगे बढता हुआ जाता है जो जीवन मे किस्सों को कई किनारों से आगे लेकर चलता है।
हर किस्से के अंदर कोई एहसास अलगसी साँसे देकर जाता है जो किस्सों को हर पल से जोडे वह एहसास जीवन का विश्वास बदलकर आगे बढता जाता है वह किस्सों को मतलब देकर कई किनारों मे आगे लेकर बढता चलता है।
हर किस्से के अंदर कोई समझ अलगसी होती है जिसमे जीवन मे विश्वास कुछ अलग देकर चलता है जिसे परखकर जीवन का किस्सा हर बार दिशाए कुछ अलगसी देकर जाता है वह लम्हों को हर बार समझकर आगे चलता है।
हर किस्से के अंदर कोई सोच जीवन को कई दिशाए देकर जाती है वह किस्सा जो जीवन को मकसद देकर जाता है उस किस्से का एहसास जीवन को अलग तरह का मतलब तो जीवन को कई तरह कि उम्मीदे देकर आगे चलता है।
हर किस्से के अंदर कोई एहसास देकर आगे बढता जाता है जो किस्सों को कई किसम के मतलब देकर जाता है वह किस्सों को रोशनी कि आवाज अलगसी देकर जाता है वह हर किस्से को जुदासा देकर हर बार चलता है।
हर किस्से के अंदर कोई सोच को अलग तरह कि दिशाए देकर बढता जाता है जो जीवन मे कई कदमों मे परख कर जीवन मे कई एहसासों को अलग किसम कि समझ देकर आगे बढता जाता है क्योंकि किस्सा जीवन को मतलब देकर चलता है।
हर किस्से के अंदर कोई लम्हा जीवन को अलग समझ देकर बढता जाता है जो किस्सों को मतलब देकर हर मौके पर आगे बढता जाता है क्योंकि किस्सा ही जीवन को अलग किसम कि समझ देकर आगे बढता हुआ हर बार चलता है।
हर किस्से के अंदर कोई कहानी का हिस्सा छुपा रहता है जो जीवन मे किस्सों को कई तरह के मकसद देकर आगे बढता जाता है जो किस्सों को साँसे देकर हर पल चलता है किस्सों को समझ लेना हर बार हमे आगे लेकर चलता है।
हर किस्से के अंदर कोई मकसद देकर दुनिया को समझ लेना हर बार अलग तरह का नजर आता है क्योंकि किस्सा जीवन का हिस्सा बनकर हर मोड पर समझ देकर आगे बढता हुआ जाता है जो जीवन को कोई किस्सा देकर चलता है।
हर किस्से के अंदर कोई अलग समझ देकर आगे चलते जाना जरुरी होता है जो किस्सों को मतलब देकर आगे बढता जाता है जो किस्सों मे अलग तरह के मतलब देकर चलता जाता है जो जीवन को कोई मकसद देकर चलता है।

कविता. १०५०. हर बार रोशनी कि शुरुआत।

                                                 हर बार रोशनी कि शुरुआत।
हर बार रोशनी कि शुरुआत एक अलग एहसास से होती है जो रोशनी देकर जाती है वह बात भी जीवन मे अहम तरह कि लगती है जो जीवन मे हर एक मौके पर रोशनी कि अलग शुरुआत देकर जीवन को आगे लेकर बढती है।
हर बार रोशनी कि शुरुआत एक अलग सोच से होती है जो जीवन को हर एक दिशा मे जीवन कि नई रफ्तार मिलती है जो किसी कोने से रोशनी कि शुरुआत देकर हर बार आगे चलती है जो जीवन मे रोशनी कि शुरुआत देकर बढती है।
हर बार रोशनी कि शुरुआत एक अलग पुकार देकर आगे चलती जाती है क्योंकि रोशनी ही तो जीवन कि रफ्तार बनकर आगे चलती जाती है क्योंकि रोशनी सिर्फ खास किनारों से ही हर बार आगे चलती है जीवन कि गाडी आगे बढती है।
हर बार रोशनी कि शुरुआत एक अलग एहसास को समझ देकर अलग जस्बात के साथ आगे बढते जाने कि पुकार बनकर आगे चलती है क्योंकि रोशनी कि शुरुआत हर पल एक कोने से ही धीमे से आगे लेकर चलती है जीवन मे खुशियों के संग आगे बढती है।
हर बार रोशनी कि शुरुआत जीवन को अलग तरह के एहसास मे परखकर आगे चलती रहती है क्योंकि जीवन मे रोशनी कि शुरुआत हर कोने के साथ अंदर कई बार जिन्दा रहती है जो जीवन मे किसी कोने से रोशनी देकर आगे बढती है।
हर बार रोशनी कि शुरुआत अलग तरह के सोच मे होती रहती है क्योंकि रोशनी को परख लेने कि जरुरत हर कोने मे रहती है जो जीवन को अलग मतलब देकर चलती है क्योंकि रोशनी ही तो जीवन को अलग तरह कि दिशाए देकर आगे बढती है।
हर बार रोशनी कि शुरुआत अलग तरह कि समझ देकर होती है जो जीवन मे हमे अक्सर आगे लेकर चलती जाती है जो जीवन को अलग तरह कि ताकद और रफ्तार हर बार देकर जाती है जो जीवन को कई रंगों मे परखकर आगे बढती है।
हर बार रोशनी कि शुरुआत किसी अलग तरह के कोने से होती है जिसमे जीवन कि प्यास हर बार होती है क्योंकि जीवन मे अक्सर रोशनी कि अलग शुरुआत हर एक एहसास को समझकर आती है जो जीवन को अलग तरह कि रोशनी से आगे बढती है।
हर बार रोशनी कि शुरुआत किसी अलग तरह के किनारों से आगे लेकर चलती जाती है क्योंकि रोशनी किसी अलग एहसास कि एक तलाश होती है जो जीवन को कई किनारों से आगे लेकर चलती जाती है क्योंकि वह एहसास को समझकर आगे बढती है।
हर बार रोशनी कि शुरुआत किसी अलग तरह कि साँसे देकर चलती हुई हर बार जाती है जो जीवन मे कई तरह के एहसास देकर चलती जाती है क्योंकि जीवन मे रोशनी तो हर कोने मे लेकर आगे चलती जाती है क्योंकि रोशनी कोनों से निकलकर आगे बढती है।

Monday, 14 November 2016

कविता. १०४९. हर मौके पर जीवन को।

                                                हर मौके पर जीवन को।
हर मौके पर जीवन को एहसास अलगसा मिलता है जो जीवन को अलग तरह कि सोच देकर आगे बढता है जो जीवन को मौकों मे एहसास अलगसा देकर चलता है जो जीवन को बातों को समझ देकर आगे बढता है।
हर मौके पर जीवन को समझ का एहसास अलगसा मिलता है जो जीवन मे कई कहानियों के संग अलग किसम कि समझ देकर आगे बढता है जो जीवन को परखकर आगे बढता चलता है जो जीवन को मौके देकर बढता है।
हर मौके पर जीवन को समझ कि बाते अलगसी रहती है जो मौकों को अलग किसम कि समझ देकर हर पल समझकर परख लेने कि जरुरत हर बार होती है जो जीवन मे मौकों को अलग तरह का एहसास देकर आगे बढता है।
हर मौके पर जीवन को बढते देखने कि हमे इतनी आदत रहती है कि हर मौके को समझ लेना अलग किसम का एहसास जीवन को अलग विश्वास देकर चलता है जो हर मौके मे जीवन को आगे लेकर जाता है जो आगे बढता है।
हर मौके पर जीवन को बढते जाना पर कभी कभी जीवन को भी कुछ मुश्किल लगता है जीवन को हर एक मौका अलग तरह का एहसास देकर जीवन मे दुवाए देकर हर पल आगे चलता है जो जीवन मे हर एक मौके पर आगे बढता है।
हर मौके पर जीवन को बढते जाना जरुरी रहता है जो मौकों को समझ लेना जरुरी रहता है जो जीवन मे मौकों के साथ अक्सर दुनिया को परखता रहता है जो जीवन मे हर लम्हे पर आगे बढता हुआ जाता है क्योंकि जीवन अक्सर आगे बढता है।
हर मौके पर जीवन को बढते जाना जरुरी रहता है जो मौकों को समझकर कई किसम का एहसास अलगसी सोच देकर चलता है जो जीवन को आगे लेकर चलता है क्योंकि मौकों को समझ लेने जीवन मे हर बार जरुरी रहता है जो आगे बढता है।
हर मौके पर जीवन को परखकर कई किसम के एहसासों को परखकर आगे चलता है जो मौकों को अलग तरह कि समझ देकर चलता है क्योंकि मौकों को परखकर कई किस्सों मे परखकर आगे बढती है क्योंकि जीवन को ही तो समझकर आगे बढता है।
हर मौके पर जीवन को परखकर आगे बढना जरुरी लगता है जो जीवन मे मौकों पर समझकर आगे जाने कि जरुरत हर एक मोड पर रहती है जो जीवन मे कई मौकों पर एहसास देकर आगे चलती है क्योंकि जीवन तो अलग किनारों को पार कर के ही आगे बढता है।
हर मौके पर जीवन को परखकर आगे बढता है तो कभी पिछे भी हटता है जीवन को दोनों मौकों पर समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर पल होती है जो जीवन मे कई तरह के मौके देकर जाती है मौकों के सहारे ही तो जीवन अक्सर आगे बढता है।

कविता. १०४८. नदीयाँ के एहसासों को।

                                             नदीयाँ के एहसासों को।
नदीयाँ के एहसासों को परख अलगसी होती है जो नदीयाँ को परख अलग तरह कि होती है जो नदीयाँ को बदलाव दे वह चीज अलग ही होती है पर उनकी चमक कुछ अलग ही होती है जो जीवन बदलाव देकर जाती है।
नदीयाँ के एहसासों को परख अलगसी होती है जो नदीयाँ को बहने के किनारे अलग तरह के दिखाती है जो नदीयाँ को आगे लेकर चलती जाती है जो नदीयाँ को समझ अलग तरह कि देती है जो शीतलता का एहसास जुदा देकर जाती है।
नदीयाँ के एहसासों को परख अलगसी होती है जो नदीयाँ को लहरों मे समझ लेने कि जरुरत बताती रहती है जो जीवन को बहती धारा का एहसास अलगसा देकर जाती है जो नदीयाँ के बदलाव कि बजह बनकर आगे जाने कि उम्मीदे देकर जाती है।
नदीयाँ के एहसासों को परख अलगसी दुनिया होती है जो नदीयाँ को धारा को बदलाव अलगसा देकर आगे चलती जाती है जो जीवन को अलग तरह कि रोशनी देकर चलती रहती है जो नदीयाँ कई किस्सों मे बहने कि ताकद देकर जाती है।
नदीयाँ के एहसासों को परख अलगसी कहानी जिन्दा होकर आगे बढती रहती है जो नदीयाँ को कई किनारों मे बहना सिखाती हो वह कहानी हर बार जरुरी होती है जो जीवन को कई किनारों मे अलग तरह कि उम्मीदे हर पल देकर जाती है।
नदीयाँ के एहसासों को परख अलग तरह कि कहानी हर बार जीवन को कई निशानीयाँ देकर आगे बढती है जो नदीयाँ के अंदर कि दिशाए हर पल देकर चलती है हर नदीयाँ के बहाव के साथ दुनिया को कई तरह कि समझ देकर जाती है।
नदीयाँ के एहसासों को परख अलग किसम की होती है हर मौके पर नदीयाँ कि खुबसूरती हर पल सुंदरता देकर चलती है जो नदीयाँ को कई किस्सों मे आगे लेकर बढती है जो नदीयाँ कि सुंदरता मे हर मौके पर अलग तरह कि समझ देकर जाती है।
नदीयाँ के एहसासों को परख अलग किनारा देकर जाने कि जरुरत हर मोड पर रहती है जो जीवन मे नदीयाँ कि आवाज को अलग अंदाज मे सुनाती रहती है जो नदीयाँ को कई किनारों संग एहसास अलगसा अक्सर देकर जाती है।
नदीयाँ के एहसासों को परखकर अलग कहानी मिलती है क्योंकि पत्थर के सहारे जीवन कि कहानी कई किस्सों को अलग समझ देकर चलती है क्योंकि नदीयाँ के अंदर अक्सर पत्थर कि खुबसूरती भी दिखती है वह एक अलग एहसास देकर जाती है।
नदीयाँ के एहसासों को परखकर अलग सोच को समझ लेने कि ताकद दुनिया को कई किस्सों मे जीवन कि कहानी सुनाती है जो जीवन मे नदीयाँ को सबसे खास बताती है क्योंकि नदीयाँ ही तो जीवन को अलगसा अंदाज देकर जाती है।

Sunday, 13 November 2016

कविता. १०४७. कुदरत के हर एहसास को।

                                        कुदरत के हर एहसास को।
कुदरत के हर एहसास को अलग किसम की समझ अक्सर दुनिया मे होती है जो कुदरत को परखकर जीवन कि दिशाए हर बार अलग तरह का असर देकर जाती है कुदरत को समझकर आगे जाने कि जरुरत हर मौके पर रहती है।
कुदरत के हर एहसास को अलग समझ देकर आगे बढती रहती है जो कुदरत को कई किस्सों मे अलग तरह कि समझ देकर चलती जाती है जो कुदरत के कई एहसासों को कई किस्सों मे धीमे से कहती रहती है।
कुदरत के हर एहसास को अलग समझ देकर आगे जाने कि जरुरत हर बार नजर आती है जो कुदरत को कई तरह के किनारों को समझकर आगे लेकर आती है क्योंकि कुदरत कि कहानी हर बार दुनिया कई रंगों मे कहती रहती है।
कुदरत के हर एहसास को अलग समझ देकर जीवन को परख लेने कि जरुरत अक्सर जीवन मे होती है जो कुदरत के कई किस्सों को समझकर जीवन कि कुछ अलग तरह कि दिशाए परखकर समझ लेने कि जरुरत रहती है।
कुदरत के हर एहसास को अलग तरह के खयालों को समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत होती है जो कुदरत के अंदर कई कहानियों कि चीजे हमे आगे लेकर चलती है जो जीवन को कई तरह के किस्सों मे जिन्दा रखती रहती है।
कुदरत के हर एहसास को अलग दिशाओं मे जाने कि जरुरत होती है जो जीवन मे कुदरत को कई किसम कि सोच देकर आगे बढती है जो कुदरत को कई कहानियों मे आगे लेकर चलती है जो जीवन कि कहानी को कई किस्सों मे कहती रहती है।
कुदरत के हर एहसास को अलग किनारों को परखकर जीवन कि कहानी हर रंग को परखकर आगे बढती है जो कुदरत को कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है जो कुदरत कि हर धारा को कई रंगों मे परखकर आगे बढती रहती है।
कुदरत के हर पल मे जीवन कि कहानी कई एहसासों को अलग किसम कि सोच देकर चलती है जो कुदरत को समझ देकर जाये वह कहानी जीवन को बदलाव देकर चलती है जो जीवन मे कुदरत को कई रंगों कि समझ देकर रहती है।
कुदरत के हर पल मे जीवन कि कहानी कई किस्सों मे परखकर जीवन को कई रंगों कि हकिकत जिन्दा रखती है जो कुदरत को कई कहानियों के संग आगे बढने कि उम्मीदे देकर चलती है जो कुदरत को मकसद देकर आगे बढती रहती है।
कुदरत के हर मौके मे जीवन कि कहानी कई किरदारों मे जिन्दा होती है जो कुदरत को कई किस्सों मे अलग तरह कि समझ देकर जाती है वह कुदरत को कई किनारों से परखकर आगे बढते जाने कि उम्मीदे देकर आगे बढती रहती है।

कविता. १०४६. हर बात को समझकर।

                                           हर बात को समझकर।
हर बात को समझकर आगे जाने कि जरुरत रहती है पर अक्सर जीवन को समझ लेने कि जरुरत हर बार मे होती है क्योंकि बातों को परख लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन को उम्मीदे दे वह बाते समझ लेना जीवन कि जरुरत होती है।
हर बात को समझकर दुनिया कई किस्सों मे आगे बढती है जो बाते हम समझ लेते है उन्हे समझ लेने कि जरुरत हर बात के अंदर रहती है जो बातों को परखकर कहानी को हर मौके मे अलग समझ लेने कि ताकद हर मौके पर देती है जिसे परख लेने कि जरुरत होती है।
हर बात को समझकर नई रफ्तार देकर आगे चलती है पर बातों को समझकर आगे जाने कि कहानी हर मौके पर जिन्दा रहती है क्योंकि बातों को समझ लेने कि जरुरत हर बार हर मौके पर रहती है जो जीवन को आगे लेकर जाने कि जरुरत होती है।
हर बात को समझकर आगे राहों को समझ लेने की अलग तरह कि ताकद रहती है जो बातों को कई तरह का मतलब देकर हर बार आगे बढती है क्योंकि बातों को समझ लेने कि जरुरत जीवन को कई किनारों कि कहानी देकर मिलती है जिनमे आगे बढने कि जरुरत होती है।
हर बात को समझकर आगे किनारों को परखकर आगे बढती है जो बातों को समझकर अलग तरह कि पहचान देकर हर पल आगे बढती है जो बातों को कई तरह कि समझ हर मौके पर देकर चलती है जिसे समझ लेने कि जरुरत होती है।
हर बात को समझकर आगे चलते जाने कि कहानी को आदत रहती है जो जीवन मे बातों को समझ अलग तरह कि पहचान हर बार आगे बढती है हर बातों को समझकर जीवन मे अलग तरह कि पहचान हर बार अक्सर जरुरी होती है जिसे समझ लेने कि जरुरत होती है।
हर बात को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो बातों को समझ देकर आगे चलती है जो बातों को मतलब देकर जाये वह पहचान हर बार एहसास देकर चलती है जो जीवन मे बातों को समझकर आगे चलती है उस मौके कि जरुरत होती है।
हर बात को समझकर आगे चलते जाने कि कहानी कई किस्सों मे आगे बढती है जो जीवन को कई किस्सों मे बदलाव देकर चलती है जो बातों के अंदर कि कहानी कई किस्सों मे कहती है क्योंकि उसे बातों को समझ लेने कि जरुरत होती है।
हर बात को समझकर कई कहानियाँ उस बात के अंदर अक्सर बनती रहती है जो जीवन को कई तरह के एहसास देकर जीवन मे बातों कि कहानी हर मौके पर कहती है क्योंकि जीवन मे बातों को समझकर आगे जाने कि जरुरत होती है।
हर बात को समझकर कई किस्सों को अलग तरह कि सोच के साथ कहती है उन बातों कि कहानी या कई तरह कि हकिकत के साथ जिन्दा रहती है जो जीवन मे बातों को कई किसम के मतलब देकर चलती है जीवन मे अक्सर मकसद कि जरुरत होती है।

Saturday, 12 November 2016

कविता. १०४५. हर बार बात जीवन मे।

                                                    हर बार बात जीवन मे।
हर बार बात जीवन मे बदलाव देकर जाती है जो बातों को कई तरह के एहसास देकर चलती है जो बात जीवन मे कई कहानियाँ बताती है जो जीवन को समझ अलग तरह कि देकर आगे बढती हुई चलती जाती है।
हर बार बात को कई अंदाजों मे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर मौके पर आती है जो जीवन मे बातों को समझ अलग तरह कि देकर चलती जाती है बातों को समझकर परख लेने कि सोच जीवन मे चलती जाती है।
हर बार बात को खयालों को परखकर आगे बढती जाती है जो बातों को समझकर आगे आती है वही कहानी हमे अलग किसम कि समझ देकर आगे जाती है जो जीवन को अलग तरह कि समझ देकर चलती जाती है।
हर बार बात को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत हर मौके पर अक्सर नजर आती है जो जीवन मे समझ देकर आगे बढते जाने कि जरुरत हर एक मोड पर अक्सर नजर आती है जो जीवन मे आगे लेकर चलती जाती है।
हर बार बात को समझकर चलते हुए जाने कि जरुरत जीवन को नजर आती है जो जीवन मे हर बार अलग तरह कि सुबह देकर चलती हुई जाती है जो बातों को कई किस्सों मे परखकर आगे लेकर जाने कि सोच देकर जाती है।
हर बार बात को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर मिलती रहती है जो जीवन मे अक्सर आगे बढती जाती है बातों को परखकर आगे जाने कि जरुरत जीवन को हर बार अलग मतलब देकर आगे बढती है जो बातों को मतलब देकर जाती है।
हर बार बात को समझ लेने कि अहमियत हर मौके पर होती है जो हर मौके पर बातों को अलग तरह के मतलब देकर चलती है क्योंकि मकसद को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन मे हर बार आगे उम्मीदे देकर जाती है।
हर बार बात को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे कई किसम कि दिशाए देकर आगे बढती जाती है जो बातों को समझकर आगे बढती रहती है वह सोच जीवन मे बातों को कई तरह के मतलब और मकसद अक्सर देकर जाती है।
हर बार बात को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर एक दिशा मे होती है जो जीवन मे बातों के अंदर कई तरह के मतलब देकर चलती जाती है जो बातों को समझ देकर जाये वह उम्मीदे कुछ सही बाते देकर जाती है।
हर बार बात को समझकर आगे बढते जाने कि आदत जीवन को अक्सर रहती है जो जीवन मे कई किस्सों को मतलब देकर आगे बढती जाती है जो जीवन कि कहानी को अलग किसम समझ देकर जाती है।

कविता. १०४४. हर मौके पर जीवन के अंदर।

                                             हर मौके पर जीवन के अंदर।
हर मौके पर जीवन के एहसासों को अलग तरह कि दुनिया दिखती है जो मौकों मे कई किसम के किस्सों मे अलग तरह के एहसास जीवन को उम्मीदे देकर जाते है जो मौकों मे कई किसम कि सोच को मतलब देकर आगे चलते है।
हर मौके पर जीवन के अंदर कई कहानियाँ जिन्दा हो जाती है जो हर मौके मे जीवन कि हरीयाली कि उम्मीद जिन्दा रखती है क्योंकि मौकों मे ही तो जीवन कि हर सौगाद हर बार अहम लगती है जिसे समझकर हम राहों मे चलते है।
हर मौके पर जीवन के कई किस्सों कि अलग कहानी बनती है जो जीवन को हर मौके मे समझ अलग तरह कि देकर आगे चलती जाती है क्योंकि मौकों मे ही जीवन कि ताकद जिन्दा रहती है क्योंकि जिन्दगी को हम आगे लेकर चलते है।
हर मौके पर जीवन के कई कहानियों मे आगे बढती है क्योंकि हर मौके मे कहानी कि सोच जीवन को अलग तरह कि रोशनी देकर आगे बढती है जो जीवन मे मौकों को कई किसम कि खुशियाँ हर बार देकर जाती है जिन्हे समझकर हम आगे चलते है।
हर मौके पर जीवन के कई हिस्सों मे अलग तरह के एहसास कि सोच जीवन मे जिन्दा रहती है जो मौकों को अलग तरह कि ताकद देकर आगे बढती है जिन्हे समझकर दुनिया हर बार आगे बढती है जिसे समझकर हम चलते है।
हर मौके पर जीवन के कई किनारों से आगे बढते जाने कि आदत हर बार रहती है क्योंकि जीवन कि कश्ती हर मौके पर कोई अलग प्यास देकर जाती है जो पहचान देकर हर बार आगे बढती जाती है क्योंकि उम्मीदों से ही हम आगे चलते है।
हर मौके पर जीवन के कई एहसासों को परखकर जीने कि आदत दुनिया मे रहती है जो जीवन को कई मौकों मे अलग तलाश देकर चलती है हर मौके पर आगे बढती जाती है क्योंकि मौकों मे ही तो एहसास आगे लेकर चलते है।
हर मौके पर जीवन के कई हिस्सों को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे कई बार रहती है जो जीवन को अलग मतलब देकर हर बार आगे बढती जाती है जिसमे हम जीवन कि खुशियों को ढूँढने कि कोशिश हर बार हम करते चलते है।
हर मौके पर जीवन के कई किस्सों को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर बार होती है जो जीवन मे हर मौके पर कोई अलग तलाश देकर हर बार जाती है क्योंकि मौकों को समझ लेने कि जरुरत हर बार जीवन को देकर हम चलते है।
हर मौके पर जीवन मे कई किसम कि कोशिश करते रहने कि तलाश रहती है जो जीवन मे कई किनारों को समझ अलग तरह कि देकर जाती है जिसे जीवन कि हर मौके पर जिन्दा रहने कि उम्मीद रहती है जिसे समझकर हम चलते है।

Friday, 11 November 2016

कविता. १०४३. हर राह पर जीवन कि कहानी।

                                                 हर राह पर जीवन कि कहानी।
हर राह पर जीवन कि कहानी बदलती है जो राहों मे अलग तरह सोच हर पल मे दिखती है जो जीवन मे अक्सर राहों को रोशनी देकर चलती है जो रोशनी को अलग तरह कि समझ देकर चलती है जो राहों मे उम्मीदे देकर चलती है।
हर राह पर जीवन कि दिशाए बदलती है जो राहों को मतलब देकर जाये वह उम्मीदे सोच को उजाले देकर आगे बढती है हर राह मे जीवन कि कहानी बदलाव देकर हर मौके पर अक्सर आगे बढती है वह आगे चलती है।
हर राह पर जीवन कि धारा दिशाए बदलती है जो राहों को मतलब देकर जीवन कि धारा अक्सर आगे बढती जाती है जो राहों को अलग समझ देकर अक्सर आगे जाती रहती है क्योंकि राहों मे जीवन कि धारा आगे चलती है।
हर राह पर जीवन कि कहानी अलग एहसास के साथ आगे बढती है जो जीवन मे कई तरह के किनारों को अलग रोशनी देकर जाती है क्योंकि राहों मे कदमों को समझ कुछ अलग तरह कि होती है जो आगे लेकर चलती है।
हर राह पर जीवन कि कहानी मे कई तरह कि किनारों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन मे आगे बढती है जो राहों मे मिलती है वह किस्सों को समझ लेने कि ताकद हर मौके पर अलग एहसास देकर चलती है।
हर राह पर जीवन कि कहानी कई तरह कि दिशाए देकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों को अक्सर मकसद देकर आगे बढती है जो राहों को कदमों मे समझ अलग तरह कि दिशाए कि दिशाए लेकर आगे चलती है।
हर राह पर जीवन कि कहानी कई किनारों पर मकसद देकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों कि शुरुआत होती है जो जीवन को अलग तरह कि उम्मीदे आगे देकर आगे बढती है जो राहों मे अलग तरह के मतलब देकर चलती है।
हर राह पर जीवन कि कहानी कई किस्सों को समझ अलग तरह कि देकर बढती है जो जीवन मे कई किनारों से मतलब देकर आगे बढती है जो जीवन को कई किसम के एहसास मन के अंदर आगे बढती हुई चलती है।
हर राह पर जीवन कि धारा कई तरह के एहसासों को अलग तरह कि समझ देकर जाती है जो जीवन मे राहों को अलग तरह कि समझ देकर आगे बढती है जो जीवन मे राहों मे कई किसम को परखकर जीवन मे आगे लेकर चलती है।
हर राह पर जीवन कि कहानी कई किस्सों मे आगे बढती है जो जीवन मे राहों को परखकर आगे बढती है वह राहों को सोच अलगसी देकर जाती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे बढते हुए जाने कि सोच अक्सर देकर चलती है।

कविता. १०४२. हमे कहानियों कि ताकद।

                                             हमे कहानियों कि ताकद।
हमे कहानियों कि ताकद अक्सर परख लेनी होती है जो कहानियों को कई किसम के मतलब देकर चलती है क्योंकि कहानियाँ ही तो जीवन को अलग एहसास देकर जाती है जो जीवन कि ताकद है वह कहानियों मे मिलती है।
हमे कहानियों कि परख हर पल मे होती है जो जीवन को कई किस्सों मे अलग तरह के एहसास देकर हर बार अलग विश्वास के साथ चलती है जो जीवन को कई किरदारों के साथ आगे लेकर अक्सर आगे बढती हुई जीवन मे मिलती है।
हमे कहानियों कि समझ हर मौके पर रहती है जो जीवन मे कहानी को एक अलग मकसद देकर चलती है क्योंकि कहानियों को परख लेने कि जरुरत जीवन मे हमेशा हमारे दिल को रहती है जो जीवन को समझ लेने मे मिलती है।
हमे कहानियों कि ताकद हर पल हर मौके मे नजर आती है जो हमे जीवन कि कई खुशियाँ किस्सों के साथ देकर जाती है जो कहानियों मे कई किसम के एहसास देकर हर बार आगे बढती जाती है जिनमे कहानियाँ हर बार मिलती है।
हमे कहानियों कि ताकद हर पल कोई अलग एहसास देकर जाती है जो जीवन मे कहानियों के किरदार बनाकर आगे बढती जाती है जो जीवन मे कहानियों के एहसासों को अलग किसम का विश्वास हर बार देकर जीवन मे खुशियों के संग मिलती है।
हमे कहानियों कि जरुरत हर मौके पर जीवन मे रहती है जो कहानियों को कुदरत के रंगों से भर देती है जो कहानियाँ बताती है जो जीवन मे किरणों को मतलब देकर चलती है जो कहानियों के अंदर कई किनारों कि पहचान हर बार मिलती है।
हमे कहानियों कि समझ हर मौके पर उन्हे समझ लेने से ही आती है जो हर पल हमे कुछ अलग तरह के एहसास देकर आगे बढती जाती है जो हर कदम पर रोशनी दे जाये वह कहानी हर बार हमे उम्मीदे देकर आगे चलती हुई मिलती है।
हमे कहानियों कि जरुरत हर मोड पर कई किसम के रंगों कि रोशनी देकर चलती जाती है जो जीवन मे कई कहानियाँ देकर जाये वह सोच जीवन को कई तरह कि दिशाए हर पल देकर चलती जाती है जो जीवन मे अक्सर मिलती है।
हमे कहानियों कि जरुरत हर मौके पर कई किस्सों मे आगे लेकर चलती जाती है जो जीवन कि कहानियों मे अपने एहसासों को समझकर आगे बढती जाती है क्योंकि कहानियों को समझ देकर आगे जाती है जिसमे खुशियाँ मिलती है।
हमे कहानियों कि ताकद हर बार समझ लेनी होती है क्योंकि वह जीवन को कई हिस्सों मे बनाती है वह जीवन मे एहसास देकर मौके पर आगे चलती जाती है क्योंकि कहानियों कि जरुरत जीवन को हर मोड पर होती है जो रोशनी देकर आगे बढते कदमों को मिलती है।

Thursday, 10 November 2016

कविता. १०४१. हर बात जीवन मे।

                                                हर बात जीवन मे।
हर बात जीवन मे आसान नही होती है क्योंकि जीवन मे कई किस्सों को समझ लेने कि जरुरत हर बार रहती है जो बातों को कई तरह के मतलब देकर चलती है क्योंकि बातों मे ही तो जिन्दगी कि ताकद छुपी है।
हर बात जीवन मे कुछ अलग असर देकर जाती है क्योंकि बातों को समझकर ही तो दुनिया हर मौके पर आगे बढती है बातों को समझ लेने कि जरुरत दुनिया को हर बार होती है जो जीवन मे बातों को मतलब देकर छुपी है।
हर बात जीवन मे कुछ मौकों कि शुरुआत जीवन को अलग समझ देकर आगे चलती जाती है जो जीवन को मतलब की बाते देकर हर बार आगे चलती जाती है जो बात के अंदर कि ताकद हर मोड पर दे जाती है जो जीवन मे छुपी है।
हर बात जीवन मे कुछ अलग तरह का एहसास देकर जाती है क्योंकि जीवन कि हर कहानी कई मकसदों के साथ हर बार जिन्दा हो जाती है क्योंकि बातों मे ही तो कदमों कि दिशाए दिखती रहती है जिनमे जीने कि बजह छुपी है।
हर बात जीवन मे कुछ अलग कहानी को अंजाम देकर जाती है क्योंकि बातों को परखकर आगे चलते जाने कि जरुरत जीवन मे हर कहानी मे हर मौके पर रहती है जो जीवन को अलग एहसास देकर आगे तो जाती है जिसमे अलग बात छुपी है।
हर बात जीवन मे कुछ अलग किस्सों कि सौगाद बनकर आगे बढती जाती है जो जीवन को कई कहानियों मे आगे लेकर हर बार चलती है क्योंकि बातों मे ही तो जीवन कि सौगाद जिन्दा रहती है जो जीवन मे छुपी है।
हर बात जीवन मे कुछ लम्हों कि बात बनकर उसी पल मे रुक जाती है क्योंकि बातों कि कहानियाँ कुछ अलग तरह से नजर आती है जो बातों को मतलब देकर चलती हुई जाती है जो हर बात मे कहानी कि जरुरत बताती है जो छुपी है।
हर बात जीवन मे कुछ अलग अंदाज देकर आगे चलती जाती है जो बातों को कई तरह के मतलब देकर आगे चलती है क्योंकि बातों मे ही तो दुनिया जिन्दा होकर आगे बढती जाती है जिसमे हमारी कहानी कि हकिकत छुपी है।
हर बात जीवन मे कुछ अलग एहसास देकर जाती है जो बातों को समझ दे वह कहानी जीवन कि हकिकत को बदलाव देकर जाती है क्योंकि बातों के अंदर ही तो जीवन कि हकिकत हर बार किसी एहसास मे छुपी है।
हर बात जीवन मे कुछ अलग तरह कि दिशाए देकर चलती जाती है क्योंकि बातों को कई तरह के मतलब देकर आगे बढते जाने कि जरुरत होती है जो बातों के अंदर ही कई किस्सों मे अलग अलग तरह कि हकिकत देती है जो अक्सर छुपी है।

कविता. १०४०. हर कदम पर एक।

                                                               हर कदम पर एक।
हर कदम पर एक मतलब छुपा होता है जो कदमों मे एक अलगसी ताकद देकर जाता है जिसे समझ लेने जरुरत हर पल रहती है क्योंकि कदमों मे ही तो जीवन कि साँसे अक्सर आगे लेकर चलती हुई साँसे मिलती है।
हर कदम पर एक आवाज छुपी होती है जो जीवन को नई लब्जों कि मंजिल देकर आगे बढती जाती है जो कदमों को एहसास देकर चलती है वह कदमों कि सौगाद देकर दुनिया को अलग तरह कि जिन्दगी हर बार मिलती है।
हर कदम पर एक सोच अक्सर जिन्दा रहती है क्योंकि कदमों मे अलगसी ताकद तो होती है पर वह दुनिया को कई रंगों मे बदलाव देकर जाती है क्योंकि कदमों मे ही तो जीवन कि ताकद हर सोच कि ताकद मे ही मिलती है।
हर कदम पर एक पहेली को समझकर दुनिया आगे बढती जाती है क्योंकि कदमों मे ही तो दुनिया कि कहानियाँ अलग तरह के एहसास के साथ आगे बढती हुई हर पल चलती जाती है जो जीवन को साँसों कि ताकद मे ही तो मिलती है।
हर कदम पर एक पल को समझकर आगे चलती है क्योंकि कदमों मे ही तो जीवन कि ताकद जिन्दा रहती है जो जीवन मे कदमों को अलग एहसास देकर बढता जाता है जो जीवन को अलग तरह कि किरण देकर चलती है जो जीवन कि उम्मीदों से मिलती है।
हर कदम पर एक नई रफ्तार समझकर दुनिया कई किसम के एहसास देकर आगे बढती जाती है क्योंकि कदमों को अलग तरह कि दिशाए हर बार जीवन कि धारा देकर आगे चलती जाती है क्योंकि कदमों से ही तो नई दिशाए मिलती है।
हर कदम पर एक नई पुकार जीवन को कुछ अलग तरह कि समझ देकर जाती है जो कदमों को कई अलग अंदाज मे दुनिया का एहसास दिखाकर जाती है जो जीवन को राहों मे अंदाज अलग दे जाती है कदमों मे ही एहसासों कि आदत मिलती है।
हर कदम पर एक मौके कि पुकार सुनाई पडती है जो कदमों के सहारे जीवन कि कश्ती को अलग किनारे से लेकर चलती है जो कदमों को मतलब देकर जाये वह कहानी अलग एहसास देकर चलती है जिसकी ताकद अक्सर कदमों को मिलती है।
हर कदम पर एक राह अलग तरह कि होती है जो कदमों को कई तरह कि सोच देकर चलती है वही दिशाए कदमों मे एहसासों को परख लेती है जो कदमों को समझ अलगसी रहती है जो कदमों को अलग आहट देकर हर बार सही तरह के मोड पर मिलती है।
हर कदम पर एक उम्मीद दे जाने कि जरुरत जीवन को रहती है क्योंकि कदमों के अंदर कि कहानी जीवन को अलग एहसास देकर चलती है जो कदमों को ताकद देकर चलती है वह सोच कदमों के अंदर ही कहानी समझाती है उस कहानी के अंदर खुशियाँ मिलती है।

Wednesday, 9 November 2016

कविता. १०३९. नजरों के एहसासों को।

                                            नजरों के एहसासों को।
नजरों के एहसासों को अक्सर लोग अनदेखा करते है जब कि नजरे हाल दिलों के कई बार बताकर जाती है नजरे हमारी दुनिया को एहसास अलगसा दे आगे बढती हुई जाती है जो जीवन को कई रंगों मे खुशियाँ देकर जाती है।
नजरों के एहसासों को परखकर जीवन कि धारा को बदलाव अलगसा मिल जाता है जो नजर के अंदर कई किनारों को समझ अलगसी सुबह देकर आगे बढती है जो जीवन मे कई किसम के एहसासों को नजरों से परखकर आगे जाती है।
नजरों के एहसासों को अंदर से पहचान लेने कि जरुरत जीवन को कई तरह के मतलब देकर बढती है नजरों के अंदर कई तरह कि एहसास देकर चलती है जो नजरों मे ही अपनी दुनिया जिन्दा रखती हुई आगे बढती जाती है।
नजरों के एहसासों को अलग मकसद देकर दुनिया को कई किसम कि समझ मिलती रहती है जो नजरों के राज बताकर दुनिया को आगे लेकर चलती है जो नजरों कि ताकद को पहचान अलगसी देकर आगे बढती जाती है।
नजरों के एहसासों को समझकर दुनिया कई तरह कि दिशाए देकर आगे चलती है जो जीवन को नजरों कि ताकद हर बार अलग दिशा देकर चलती है जो नजरों को कई किसम कि दिशाए देकर आगे चलती हुई अक्सर बढती जाती है।
नजरों के एहसासों को परखकर उन्हे समझ लेने कि जरुरत दुनिया मे अक्सर नजर आती है जो नजरों को परख लेती है वह दिशाए मुश्किल से नजर आती है वह नजरों के अंदर ताकद अक्सर दिखाकर हर पल मे आगे बढती जाती है।
नजरों के एहसासों को पढने कि आदत दुनिया मे अक्सर नही होती है दुनिया तो बस लम्हों को समझ लेने कि कोशिश करती है जो गलत बातों को भी जीवन मे सही कहती हुई आगे अक्सर बढती हुई हमे नजर आ जाती है।
नजरों के एहसासों को समझकर सिर्फ कुछ कहानियाँ ही चलती है जो अक्सर जीवन मे एहसासों को बदलाव देकर आगे चलती है जो नजरों को समझ ले उसकी जिन्दगी ही तो मतलब देकर आगे बढती हुई चलती जाती है।
नजरों के एहसासों को परखकर जीवन को समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि नजरों मे ही तो जीवन कि कहानी हर बार अलग सुबह के साथ आगे बढती है क्योंकि नजरों मे ही तो जीवन को अलग एहसास देने की ताकद अक्सर आ जाती है।
नजरों के एहसासों को समझकर आगे बढती जाने कि ताकद देकर चलती है वह कहानी जीवन को अलग तरह का मकसद देकर आगे चलती जाती है क्योंकि नजरों मे ही तो कदमों को आगे लेकर जाने कि समझ आ जाती है।

कविता. १०३८. जमीन के कोने को भीगाना।

                                        जमीन के कोने को भीगाना।
बारीश के बूँदों से हर बार सिखते जाने कि जरुरत हर पल होती है जो जीवन को अलग किस्सों मे समजाती रहती है क्योंकि बूँदों को हर कोने पर गिरना आता है हर कोने मे बूँदों को छा जाना हर बार जीवन कि जरुरत को सिखाता है।
बारीश के बूँदों से ही हर कहानी को जिन्दा होना होता है जिसमे जीवन को कई किस्सों मे समझ लेना होता है क्योंकि बूँदों को हर किनारे को छूँना हर पल जरुरी होता है क्योंकि उनमे ही जीवन हर बार छुपा होता है जो जीवन को अलग बात सिखाता है।
बारीश के बूँदों से ही हर हरीयाली को परख लेना होता है क्योंकि बारीश कि बूँदों को हर एक जमीन के हिस्से को छूँ कर जाना है क्योंकि बारीश का हिस्सा हर बार जमीन को कई कोनों से समझ लेता है जो जीवन कि हर एक मौके कि कदर करना सिखाता है।
बारीश के बूँदों से ही जमीन के हर एक कोने को छूँ लेना हर बार जरुरी होता है जो बारीश कि बूँदों को परख ले वह सोच का किनारा हर बार अलग तरह का होता है जो जीवन को कई तरह के मतलब देकर आगे चलना सिखाता है।
बारीश के बूँदों से ही हर कोने को छूँ लेना जरुरी होता है जो बूँदों को एक अलग ही ताकद देकर आगे जाता है बूँदों को समझ लेना हर पल अहम होता है जमीन के हर कोने पर बारीश का असर हर पल हर मौके पर अलग मतलब सिखाता है।
बारीश के बूँदों से ही तो जीवन को कई कोनों मे जमीन को छूँ लेना होता है क्योंकि जमीन का हर हिस्सा उन बूँदों का किस्सा हर बार कहता रहता है हमे बूँदों के सहारे ही जीवन को समझ लेना हर बार जरुरी होता है जो जीवन को अलग समझ सिखाता है।
बारीश के बूँदों से ही तो जमीन मे जीवन जिन्दा रहता है जो हर मौके पर जमीन मे कई कहानियाँ जिन्दा कर के आगे लेकर चलता है जो जमीन मे जीवन को जिन्दा रखता है उस पानी को जमीन के अंदर से समझ देकर आगे बढना सिखाता है।
बारीश के बूँदों से ही तो जमीन को परख लेने कि जरुरत होती है क्योंकि पानी के सहारे जमीन मे जीवन को हर बार तलाश लेती है क्योंकि पानी के बूँदों मे ही ताकद देकर चलती है जो हर बार बूँदों को जमीन के हर कोने मे भीगाना सिखाता है।
बारीश के बूँदों से ही तो पानी दिखाता है हर कोने मे जमीन के पानी का पहुँचना जरुरी होता है क्योंकि पानी को जमीन के हर हिस्से पर समझ लेना जरुरी होता है पानी को समझकर जमीन के हर कोने को समझ लेने कि जरुरत सिखाता है।
बारीश के बूँदों से ही तो हर कोना भीगा देती है जो पानी को हर कोने पर अलग मतलब देकर आगे बढती जाती है क्योंकि बूँदों को कई किस्सों मे समझ लेने कि जरुरत होती है क्योंकि पानी कि बूँदों को हर कोने मे जमीन को समझ लेने कि जरुरत होती है जो जीवन को नई रोशनी का मतलब सिखाती है।