Monday, 31 October 2016

कविता. १०२१. कोई लम्हा जीवन मे।

                                            कोई लम्हा जीवन मे।
कोई लम्हा जीवन मे खुशियों कि बजह बन के आता है कोई लम्हा जीवन को एहसास अलगसा देकर आगे बढता जाता है हर लम्हे मे जीवन को पहचान लेने कि ताकद तो होती है जिसकी बजह से हर लम्हा कुछ खास बन जाता है।
कोई लम्हा जीवन मे अलग रोशनी कि पुकार देकर आगे जाता है जो जीवन को कई तरह कि पहचान देने कि सबब बनकर आगे बढता जाता रहता क्योंकि लम्हा ही तो हर पल मे जीवन को कई किस्सों मे मतलब देकर आगे जाता है।
कोई लम्हा जीवन मे अलग तरह कि रोशनी देकर हमे उम्मीदे देकर हर पल आगे बढता रहता है लम्हा ही तो जीवन को अलग पहचान देकर चलता है जो लम्हों मे मिलती है वह पुकार हर पल हर मौके पर लम्हा देकर आगे जाता है।
कोई लम्हा जीवन मे अलग तरह कि दिशाए देकर आगे बढता है उस लम्हे के अंदर ही तो दुनिया का मकसद हर बार जिन्दा रहता है जो लम्हों के अंदर हमारी छुपी ताकद का एहसास देकर आगे बढता है जो जीवन कि उम्मीद देकर जाता है।
कोई लम्हा जीवन मे अलग किरण देकर जाता है तो कोई लम्हा अँधियारे से भी दोस्ती करने कि खूबी दिखाकर खुशियाँ देकर जाता है जो लम्हा जीवन मे खुशियाँ दे वह जीवन कि दिशाए हर मौके मे बदलकर आगे बढता हुआ अक्सर अलग किनारे कि ओर जाता है।
कोई लम्हा जीवन मे आसान राह तो कोई मुश्किल दे जाता है पर हर लम्हा जीवन मे खुशियाँ तो अक्सर देकर जाता है जिन्हे समझ लेना जीवन मे अक्सर जीवन को अलग मतलब देकर आगे बढता है जो जीवन मे कई किस्सों मे रोशनी देकर जाता है।
कोई लम्हा जीवन मे अलग एहसास देकर आगे बढता है जो लम्हों मे आगे लेकर चलता है वह एहसास जीवन को अक्सर जरुरी लगता है जो जीवन को उम्मीदों कि निशानी देकर आगे बढता रहता है जो जीवन को आगे लेकर हर मौके पर जाता है।
कोई लम्हा जीवन मे अलग तरह कि पुकार दिशाओं मे देकर आगे बढता है क्योंकि लम्हों मे ही तो जीवन कि सच्ची ताकद छुपी हुई रहती है जो जीवन को अलग पुकार और मकसद देकर जाती है क्योंकि लम्हा ही तो राह देकर आगे बढता जाता है।
कोई लम्हा जीवन मे अलग पहचान देकर जाता है पर हर लम्हा कुछ ना कुछ तो अक्सर करता हुआ आगे जाता है क्योंकि लम्हा ही तो जीवन कि पहचान बदलकर जाता है हर लम्हे मे ही तो इन्सान छुपा हुआ नजर आता है जो जीवन मे बदलाव देकर जाता है।
कोई लम्हा जीवन मे समझ देकर आगे बढता है क्योंकि लम्हों मे ही जीवन कि हर दिशा कोई सौगाद देकर जाती है जिसमे जीवन का एहसास हर पल कोई अलगसी समझ देकर आगे बढता है क्योंकि लम्हा ही तो जीवन कि पहचान देकर जाता है।

कविता. १०२०. जीत तो हार का हिस्सा।

                                            जीत तो हार का हिस्सा।
जीत तो हार का हिस्सा होती है पर जाने क्यूँ दुनिया उस किस्से को समझ नही पाती है हर बार हार को जीत से दूर करती जाती है जीवन मे मुश्किल कि तरह दिखाती है पर हार अक्सर जीवन मे अहम लगती है।
जीत तो हार के साथ हर बार आती है जीत हर बार कई किस्सों मे अपनी कहानी कई बार लिखती हुई जाती है क्योंकि जीत के किसी हिस्से मे हार अक्सर जिन्दा रहती है जो देख ले तो अक्सर हार जीत कि रिश्तेदार लगती है।
जीत तो हार का हिस्सा हर मौके पर रहती है क्योंकि जीत के अंदर हार का एहसास जिन्दा हर पल रहता है जो जीवन को नई पहचान देकर जाता है क्योंकि जीत से पहले हार का एहसास जीवन मे जरुरी लगता है जिसमे जीवन कि प्यास लगती है।
जीत तो हार का अलग एहसास दे जाती है क्योंकि हार को जीत ही तो पहचान देकर जाती है जो जीवन मे हार जीत के कई हिस्सों मे आती रहती है पर वह किसी भी हिस्से मे हो आखिर मे ना हो यही आस रहती है पर उस गोल दुनिया मे आखिर तलाश बिना मतलब लगती है।
जीत तो हार का विश्वास बदलकर आगे बढती है वह आकर बताती है कि दुनिया कल कि बात तो करती है पर कल कि बात अक्सर दुनिया कि समझ से भी आगे रहती है जो जीवन को जीत और हार दोनों किस्सों मे अलग तरह के एहसास देकर उम्मीदे देने लगती है।
जीत तो हार का किस्सा अक्सर बयान करती है क्योंकि जीत के अंदर ही तो हार कि राहे रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे कुछ अलग एहसास देकर चलती है जो जीत के अंदर हार कि कहानी भी बडी दिलचस्प तरह कि लगती है।
जीत तो हार को अलग समझ देकर आगे चलती है जीवन मे जीत और हार दोनों कि कहानी अलग अलग एहसासों मे जिन्दा रहती है जो जीवन को उम्मीदों कि किरण देकर आगे बढती है जो जीवन को अलग तरह कि रोशनी देकर आगे जाने कि कहानी लगती है।
जीत तो हार को अलग एहसास के साथ आगे लेकर चलती है जो हार को बदलकर जीत बनाते वक्त कई किसम कि बाते बताती है जो जिन्हे परखकर दुनिया हर बार जीवन को एहसास अलगसा देती है उम्मीदों कि शुरुआत कि तरह लगती है।
जीत तो हार को परखकर आगे लेकर चलती है जो जीवन मे कई किस्सों को हार मे ज्यादा उम्मीदे देकर जाती है जो जीवन मे कई किस्सों मे समझ अलग तरह कि उम्मीदे देकर अक्सर आगे बढती जाती है जिस से हार भी उम्मीद कि तरह लगती है।
जीत तो हार को समझकर अलग दिशाए देकर जाती है जो उम्मीदों कि अलग सुबह को समझकर आगे बढती है क्योंकि हार ही तो जीवन मे जीत कि कहानी लिखती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है क्योंकि हार ही तो जीत का सच्चा हिस्सा लगती है।

Sunday, 30 October 2016

कविता. १०१९. बहारों मे उम्मीदे।

                                                 बहारों मे उम्मीदे।
बहारों को समझ तो हर बार लेते है पर उनकी अहमियत हर बार कहाँ जीवन मे समझ आती है अक्सर बहारों मे भी दुःख कि कोई लकिर जीवन को छूँकर जाती है जो जीवन मे बहारों मे खुशियों के एहसास दे जाये वह दिशा बदलती जाती है।
बहारों को समझ लेने से ज्यादा उनमे खुशियों को जी कर आगे जाने कि जरुरत हर बार होती है जो बहारों को कई तरह के मकसद देकर आगे चलती है जो बहारों को खुशियों कि तलाश हर मोड पर देकर हर बार आगे बढती जाती है।
बहारों को समझकर ही तो जीवन कि अलग सौगाद होती है जो जीवन को हर एक मौके मे आगे लेकर चलती है जो जीवन मे बहारों कि शुरुआत हर बार करती है जो बहारों को कई तरह के मतलब और मकसद हर एक पल मे देकर जाती है।
बहारों को समझ लेना जीवन कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो बहारों को अलग तरह कि समझ देकर चलती है जो बहारों को कई किस्सों मे आगे लेकर अक्सर बढती है जो जीवन को समझ देकर जाये वह बहार जीवन को मतलब देकर जाती है।
बहारों को समझकर परखकर ही तो दुनिया अलग एहसास देकर चलती है क्योंकि बहारों मे ही जीवन कि कश्ती कई किनारों पर बदलाव देकर चलती है जो बहारों को समझ ले वह सोच जीवन को नई उम्मीदे देकर आगे लेकर हर बार जाती है।
बहारों को समझ लेना ही तो जीवन कि तलाश रहती है जो जीवन मे बहारों को अलग किसम कि समझ देकर बढती जाती है बहारों मे ही तो जीवन कि तलाश रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे कई तरह कि उम्मीदे देकर आगे जाती है।
बहारों को समझ हर कोने मे कई मौकों मे हर बार जीवन कि दुआए मिलती रहती है जो जीवन को अलग किसम कि समझ देकर हर मौके पर खुशियाँ देकर हर पल आगे बढती रहती है क्योंकि बहारों मे ही दुनिया कि उम्मीदे छुपसी जाती है।
बहारों को समझकर हर कोने मे जीवन कि तलाश जरुरी होती है क्योंकि बहारों को ही तो समझ कि ताकद हर बार मिलती है जो जीवन मे बहारों को अलग एहसास देकर आगे बढती है क्योंकि बहारों मे ही तो जीवन कि कहानी जिन्दा हो जाती है।
बहारों को समझकर जीवन को आगे बढते जाने कि आदत होती है पर उस बहार कि खुशियाँ बाँधकर रखने कि जरुरत जीवन मे कभी लगती है पर खुशियाँ नही सच्ची आस तो जीवन मे बस उम्मीदे याद रखने से ही जीवन मे जिन्दा हो जाती है।
बहारों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है क्योंकि बहारों मे ही तो उम्मीदों कि परछाई हर पल रहती है जो बहारों को कई किनारों से समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर बार होती है उन उम्मीदों मे जीने से ही जीवन मे बहार आ जाती है।

कविता. १०१८. हर एहसास को समझ लेना।

                                           हर एहसास को समझ लेना।
हर एहसास को समझ लेना जीवन कि जरुरत होती है जो एहसासों कि कहानी को अलग तरह के अंदाज देकर चलती है जो एहसासों को मतलब अलग किसम के देती है जो एहसासों को परखकर आगे चलती है।
हर एहसास को समझ लेना जीवन को अलग सोच दे जाता है क्योंकि एहसासों के अंदर ही तो दुनिया का विश्वास छुपा नजर आता है जो एहसासों को कई किस्सों मे कहती है वह कहानी हर मौके पर जरुरत बनकर चलती है।
हर एहसास को समझ लेना जीवन को परख दे जाता है हमे एहसासों को अक्सर परख लेने कि जरुरत हर दिशा मे रहती है जो एहसास को अलग तरह कि पुकार देकर चलती है जो जीवन मे हमे उम्मीदों कि सोच अलगसी देकर चलती है।
हर एहसास को समझ लेना जीवन को मतलब अलग देता है जो एहसास को परख ले वह मन का विश्वास होता है जो जीवन मे हर पल एक अलग तरह का एहसास देकर जाता है जो हर मौके पर जीवन को उम्मीदे देकर चलता है।
हर एहसास को समझ लेना अक्सर जीवन को अलग विश्वास देकर जाता है जो जीवन मे खुशियाँ लेकर आये वह जीवन का अलग एहसास को और समझ देकर चलता है जो जीवन मे हर एक मौके पर अलग विश्वास देकर चलता है।
हर एहसास को समझ लेना मुश्किल का एहसास होता है क्योंकि एहसास तो जीवन पर हर पल कुछ ना कुछ असर तो अक्सर करता रहता है क्योंकि एहसास ही तो जीवन को विश्वास देकर आगे बढता है जिसमे हर पल जीवन कि गाडी मोड देकर चलती है।
हर एहसास को समझ लेना मुश्किल से हमे आ पाता है पर एहसासों के साथ जीवन आगे बढता हुआ जाता है जो जीवन को आगे लेकर चलता जाता है वह जीवन कि गाडी मे अलग सुबह का एहसास देकर चलती है वह दुनिया को दुआए देकर चलती है।
हर एहसास को समझ लेना मुश्किल से जीवन को सही दिशा देकर चलता है क्योंकि जीवन ही तो हमे अलग एहसास देकर चलता है हर एहसास मे ही जीवन का विश्वास जिन्दा रहता है जिसे पकड लेने मे ही अक्सर उमर निकल जाती है जीवन कि गाडी बस आगे चलती है।
हर एहसास को समझ लेना जीवन को अलग तरह का मकसद देकर जाता है जो एहसासों को समझकर आगे बढता है उस सोच को समझ लेना नई रोशनी देकर चलता है क्योंकि एहसासों के अंदर ही तो जीवन के विश्वास कि गाडी अक्सर चलती है।
हर एहसास को समझ लेना जीवन को अलग तरह कि दिशाए देकर जाता है क्योंकि एहसासों को परखकर उनके संग आगे चलना जीवन मे जरुरी रहता है जो जीवन को हर एक मौके मे हर एक पल के अंदर जीवन मे उम्मीदों कि गाडी कि तलाश चलती है।

Saturday, 29 October 2016

कविता. १०१७. हर कहानी को हर कदम।

                                     हर कहानी को हर कदम।
हर कहानी को हर कदम मे पहचान दे जाने कि जरुरत जीवन को अलग तरह का एहसास देकर जाती है कहानी समझ मे आये या ना आये वह जीवन को समझ अलग तरह कि देकर हर मौके पर दुनिया आगे चलती जाती है।
हर कहानी को हर कदम मे सोच अलग तरह कि जरुरत देकर नजर आती है कदम मे अलग तरह का मतलब हर बार नजर आता है हर कहानी के अंदर कई किनारों को अलग समझ देकर आगे बढते जाने कि जरुरत नजर आ जाती है।
हर कहानी को हर मौके को समझ अलग तरह कि मिलती जाती है हर कहानी को कदमों कि जरुरत हर मौके पर होती है जो कदमों मे बनती है वही तो जीवन कि कहानी होती है जो कदमों को एहसास अलगसा देकर आगे जाती है।
हर कहानी को हर कदम मे अलग तरह कि समझ पाने कि जरुरत होती है जो कदमों को एहसास देकर आगे बढती रहती जाती वह कदमों को अलग किसम कि समझ जीवन मे कई बार आगे ले जाने कि ताकद देकर जाती है।
हर कहानी को हर कदम मे समझ अलग तरह कि मिलती है जो जीवन को मौका देकर जाये वह ख्वाईश दुनिया मे अलग तरह का मकसद देकर चलती है जो कदमों को मतलब देकर आगे बढती हुई हर बार आगे जाती है।
हर कहानी को हर कदम मे समझ लेने कि प्यास रहती है जो कहानी को समझकर आगे बढती रहती है जो कदमों को अलग तरह कि रोशनी देकर चलती रहती है जो कदमों को साथ दे जाये वह रोशनी हर बार जरुरत बन जाती है।
हर कहानी को हर कदम मे अपनी बात बतानी होती है जो जीवन को रोशनी दे जाये वह कहानी जीवन मे अक्सर सुनाती होती है क्योंकि कदमों के अंदर ही हर बार छुपी हुई कहानी जिन्दा रहती है जो जीवन को रोशनी देकर जाती है।
हर कहानी को हर कदम मे अपनी जीवन कि धारा समझ लेनी जरुरी होती है जो जीवन मे कई किस्सों को अलग किसम कि समझ देकर चलती है जो जीवन मे कदमों को छुपी हुई समझ देकर हर पल आगे बढती जाती है।
हर कहानी को हर कदम मे अपनी दिशा समझ लेनी जरुरी होती है जो कदमों को मतलब देकर जाये वह जीवन कि दिशाए आगे चलती रहती है क्योंकि कदमों को मौकों मे जीवन कि परख को समझ लेने कि जरुरत हर बार हो जाती है।
हर कहानी को हर कदम मे अलग तरह कि निशानी बनती रहती है जो कदमों को ताकद देकर जाये वह जीवन कि कहानी अलग तरह कि बनती है जो कदमों को समझ किसी अलग तरह कि देती है जो जीवन मे किनारों कि तलाश रोककर नई उम्मीदे देकर जाती है।

कविता. १०१६. हर राह पर जीवन को।

                                              हर राह पर जीवन को।
हर राह पर जीवन को अलग तरह कि रोशनी हर कदम पर आगे लेकर जाती है जो उजाला दे जाये वह राह ही तो जीवन को मकसद देकर आगे कि कहानी बताकर चलती जाती है जो जीवन को राहों के साथ समझ लेना सिखाती है।
हर राह पर जीवन को सोच अलगसी मिलती जाती है क्योंकि राहों मे कई किस्सों कि कहानी समझ नही आती है पर फिर भी जीवन मे खुशियाँ हर कदम पर जिन्दा रहती है क्योंकि जीवन कई किस्सों को राह मे समझ लेना सिखाती है।
हर राह पर जीवन को समझ लेना हर पल जरुरी लगता है क्योंकि राह को पहचान लेना हर वक्त अहम और जरुरी लगता है पर सबसे जरुरी तो राहों को खुशियों कि दुआए देना होता है जो जीवन मे उम्मीदे दे जाती है वह रोशनी कि परख हर बार सिखाती है।
हर राह पर जीवन को समझ लेना हर दिशा कि जरुरत होती है जो राहों को उम्मीदे देकर आगे बढती जाये वह सोच उम्मीदों कि किरण रहती है जिसे समझकर जीवन मे आगे जाना जो राह दिखाती है वही सही बाते हमे हर दम सिखाती है।
हर राह पर जीवन को परखकर दुनिया को कई दिशाए दिखाती है जो राहों को अलग समझ देकर आगे बढती जाती है जो राहों को अलग तरह कि उम्मीदे देकर जाती है जो हमे आगे लेकर जाये वह सोच अहम नजर आती है वह रोशनी को पाने कि अहमियत सिखाती है।
हर राह पर जीवन को अलग पहचान दिखती जाती है जो राहों को अलग मतलब देकर जाये वह राहे कई तरह कि उम्मीदे देकर आगे चलती है जो जीवन मे राहों को अलग रोशनी देकर जाती है वह राह जीवन को कई चीजे सिखाती है।
हर राह पर जीवन को अलग समझ देकर जाती है जो राहों को जिन्दगी मे कई किसम कि रोशनी देकर जाती है जो जीवन मे दिशाओं को एहसास अलगसा देकर चलती है जो जीवन कि कहानी को उम्मीदों से भरा मकसद सिखाती है।
हर राह पर जीवन को अलग तरह कि समझ हर पल उम्मीदे देकर जाती है जो जीवन को रोशनी देकर जाये वह दिशाए जीवन को अलग एहसास देकर जाती है जो जीवन को उम्मीदे देकर जाये वह राह अलग राह सिखाती है।
हर राह पर जीवन को अलग किनारों मे जीने कि जरुरत हर पल नजर आती है जो जीवन मे उम्मीदे देकर राहों को रोशनी देकर हर बार आगे बढती जाती है जो जीवन मे राहों को समझ लेना हर बार अहम है यह बात सिखाती है।
हर राह पर जीवन कि कहानी हर किस्से मे समझ लेना हर मौके पर जरुरी नजर आता है क्योंकि राह को ही तो मौका कई दुआए देकर जाता है राहों को परख लेना हर मोड पर अहम नजर आता है क्योंकि राहे ही रोशनी कि अहमियत सिखाती है।

Friday, 28 October 2016

कविता. १०१५. सूरज कि किरणों ने।

                                          सूरज कि किरणों ने।
सूरज कि किरणों ने जो हम से कहाँ वह जिन्दगी ने दोहराया चंदा भी वही कहता है क्योंकि जीवन कि हर कहानी मे हमे उस बात को समझाया है जिसमे जीवन को कई किस्सों मे परख लेना हमे अक्सर समझ मे आया है।
सूरज कि किरणों ने जीवन को अलग तरह के किनारों मे समझ लेना आता है जो किरणों मे उजाला दे जाये वह किनारा जीवन को अक्सर नई रोशनी का एहसास देकर आगे चलता जाता है जो किस्सों के सहारे रोशनी लेकर आया है।
सूरज कि किरणों को जीवन को अलग तरह के किनारों मे समझ लेना आता है जो कभी सुबह कि रोशनी तो कभी रात के अंधियारे मे भी उम्मीदे देकर आगे जाता है किरणों को परखकर जीवन नई उम्मीदे लेकर आगे आया है।
सूरज कि किरणों ने जीवन को कई रंगों मे नई रफ्तार के साथ जीना सिखाया है जीवन मे कुदरत के हर एहसास के संग जीवन उम्मीदे लेकर आगे आया है जीवन कि तो उम्मीदों कि शुरुआत देकर आगे चलता आया है।
सूरज कि किरणों ने जीवन को कई किस्सों मे परखकर आगे जाना हमने जरुरी पाया है कुदरत के अंदर कई किनारों को समझ लेना जीवन मे कई हिस्सों मे समझ लेना हमे कई बार उम्मीदों के सहारे अक्सर आया है।
सूरज कि किरणों ने जीवन को समझ लेना हर बार जरुरी नजर आता है क्योंकि हर सुबह मे उम्मीदों कि शुरुआत को जीवन समझ लेता है सूरज को कई किस्सों मे परख लेना हर बार अहम और जरुरी नजर आया है।
सूरज कि किरणों ने जीवन को नये रंगों मे पहचान लेना सिखाया है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर जाता है जो सूरज कि किरणों को चँदा के किरणों संग लेकर आगे जाता है जो हमारे जीवन मे रोशनी लेकर आया है।
सूरज कि किरणों ने जीवन को कई तरह कि कहानियों मे जीना हर बार सिखाया है चँदा के किरणों से भी हमने उम्मीदों कि किस्सों को दोहराना ही सीखा है तो कुदरत को हर कदम पर अलग एहसास देकर आगे जाती है जिसे हमे समझ लेना आया है।
सूरज कि किरणों ने जीवन को अलग तरह कि दिशाओं से परख लेना आता है जो कुदरत को कई एहसास दे जाये उस सोच को समझकर ही तो किरणों को कुदरत के सहारे परख लेना आता है जो कुदरत को ताकद देकर आगे लेकर आया है।
सूरज कि किरणों को जीवन कि कहानी को समझकर आगे चलना आता है कुदरत को कई हिस्सों मे समझकर आगे बढते चलना आता है जो कुदरत कि किरणों मे अलग तरह का एहसास देकर आगे बढता हुआ अक्सर जाता है उम्मीदों कि रोशनी का सबेरा आशाओं से जीवन मे आया है।

कविता. १०१४. हर किनारे पर।

                                               हर किनारे पर।
हर किनारे पर हर पल सुबह अलगसा एहसास देकर हर बार चलती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर मौके मे अक्सर होती है जो जीवन को अलग किनारों से आगे लेकर चलती है जो जीवन को अलग एहसास देकर आगे चलती है।
हर किनारे पर हर मोड कि कोई अलग कहानी होती है जो जीवन को अलग एहसास देकर आगे बढती है जो जीवन के कई किनारों को अलग सोच से भर देती है पर हम उस पल मे नही रुकते क्योंकि किनारों को अलग तरह की आस आगे लेकर चलती है।
हर किनारे पर हर मोड पर कोई अलग सोच जिन्दा रहती है जो जीवन को किसी अलग एहसास मे जिन्दा रखती हुई चलती है जो किनारों को अलग मकसद देकर हर मौके पर अलग एहसास के साथ हर बार आगे चलती है।
हर किनारे पर हर मौके पर अलग सुबह हर बार जिन्दा रहती है क्योंकि किनारों पर ही तो हमारे जीवन के एहसास जिन्दा रहते है जिनमे आगे बढने कि प्यास हर बार बदलती है पर जीवन कि कहानी हर बार उम्मीदों से देखे तो राह आसान बनकर चलती है।
हर किनारे पर हर पल आगे चलते जाने कि जरुरत जीवन मे हर बार होती है जो जीवन को अलग समझ दे जाये वह राह हर बार अहम और जरुरी नजर आती है जो जीवन का मकसद हर पल मे बदलकर आगे चलती है।
हर किनारे पर हर पल आगे लेकर चलती है जो जीवन के किनारों को मतलब देकर आगे बढती जाती है जो किनारों मे अलग तरह का मकसद जिन्दा करती जाती है किनारों के अंदर वह जीवन कि अलग ताकद देकर चलती है।
हर किनारे पर हर मोड पर जीवन कि कहानी कहती है वह सोच अक्सर जीवन मे अहम जरुरी रहती है जो किनारों मे कदमों को अलग समझ देकर रहती है जो किनारों कि हकिकत को कई तरह के किस्सों मे जिन्दा करती हुई चलती है।
हर किनारे पर हर मौके पर जीवन कि धारा को अलग समझ देकर आगे बढती है जो जीवन को अलग तरह के एहसासों कि समझ जिन्दा होती है जो किनारों को अलग तरह कि परख देकर आगे बढती है जो जीवन को उम्मीदे देकर चलती है।
हर किनारे पर हर कोने मे अलग दुनिया रहती है जो जीवन को हर मौके पर अलग किनारों मे दुनिया के अलग एहसास कि समझ देकर आगे बढती है जो जीवन को किनारों मे समझ अलगसी देकर आगे बढती रहती है जो जीवन मे उम्मीदे देकर चलती है।
हर किनारे पर हर कोने मे एक अलग समझ रहती है जो जीवन को अलग तरह के एहसासों को समझकर दुनिया अक्सर आगे लेकर समझ देकर बढती है किनारों को अलग तरह के एहसासों कि कहानी हर बार आगे बढती है जो जीवन को अलग समझ देकर चलती है।

Thursday, 27 October 2016

कविता. १०१३. कुछ कुदरत कि बाते।

                                                        कुछ कुदरत कि बाते।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को अलग असर दे जाती है जो कुदरत को कई किस्सों मे आगे लेकर बढती जाती है जो कुदरत कि कहानी को अलग समझ दे जाती है वह कुदरत के हर किस्से को अलग एहसास कि समझ देकर आगे बढती है।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को कई लम्हों मे समझ देकर आगे बढती रहती है जो कुदरत को कोई अलग एहसास या अलग मतलब देकर आगे चलती है जो कुदरत को कई किस्सों को समझकर आगे बढते जाने कि उम्मीदे देकर बढती है।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को समझ अलग दे जाती है जो कुदरत को मकसद दे पाती है वह दिशाए अलग एहसास देकर आगे चलती जाती है जो कुदरत को परख ले वह दिशाए अलग एहसास को समझ अलग देकर आगे बढती है।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को अलग तरह के पलों के साथ जोडती जाती है जीवन मे कुदरत कि धारा कुछ इस तरह कि दिशाए देकर हर मौके मे अलग तरह का असर देती हुई जाती है क्योंकि कुदरत ही तो इन्सान को लेकर आगे बढती है।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को नई सुबह बताती है जो जीवन को समझ अलगसी देकर आगे चलती जाती है जो हमे बताती है कुदरत का हिस्सा तो हर पल जीवन कि कहानी होती है जो जीवन मे कुदरत का एहसास बदलकर आगे बढती है।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को समझ देकर आगे चलती जाती है क्योंकि कुदरत मे ही तो हमारे जीवन कि कहानी हर पल जिन्दा होती हुई नजर आती है जो कुदरत को कई लब्जों मे समझ पाने कि कोशिश करती है वह कहानी भी बिना समझे ही आगे बढती है।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को अलग तरह का एहसास देकर जाती है क्योंकि कुदरत कि कहानी मे ही तो हमारे जीवन कि कहानी हर पल जिन्दा नजर आती है जो जीवन मे कुदरत को सबसे अहम बताकर फिर भी जाने क्यूँ उसे अनदेखा कर के आगे बढती है।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को कई किस्सों मे अलग अंदाज मे बताती है जो कहती है कि कुदरत कि कहानी मुश्किल है उसे समझ लेने कि ताकद हमे कहाँ आ पाती है जीवन मे कई किस्सों मे कुदरत कि कहानी बदलकर आगे बढती है।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को अलग मतलब दे जाती है क्योंकि कुदरत ही तो वह किस्सा है जिसमे हमारी जिन्दगी उलझी हुई नजर आती है जो कुदरत को कई मतलब दे जाये वह सोच दुनिया मे सबसे मुश्किल बात बनकर बढती है।
कुछ कुदरत कि बाते जीवन को कई किस्सों मे जिन्दा करती हुई आगे जाती नजर आती है पर हम समझ ले उससे पहले ही किस्मत रंगों को बदलती हुई नजर आती है क्योंकि कुदरत मे ही जीवन कि कहानी हर बार अलग तरह से जिन्दा रहती है और आगे बढती है।

कविता. १०१२. हर हरीयाली मे।

                                                   हर हरीयाली मे।
हर हरीयाली मे एक पुकार होती है जो हरीयाली को अलग आवाज देकर चलती रहती है क्योंकि हरीयाली ही तो अपनी अलग दास्तान कहती जाती है क्योंकि हरीयाली ही तो जीवन कि अलग और अहम पुकार बनकर आगे चलती है।
हर हरीयाली मे एक सोच होती है जो जीवन को अलग एहसास देकर चलती है जो हरीयाली को अलग एहसास देकर आगे चलती है वह कहानी जीवन को अलग एहसास देकर आगे जाती है क्योंकि हरीयाली ही तो जीवन कि पुकार मे आगे चलती है।
हर हरीयाली मे एक तसबीर हर पल दिखती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है जो हर मौके पर अलग तरह का एहसास देकर जाती है जो जीवन मे हरीयाली को अलग तरह कि पहचान देकर आगे बढती चलती है।
हर हरीयाली मे एक अलग एहसास कि पुकार होती है जो हरीयाली कि अलग आवाज देकर चलती है जो जीवन मे अलग आवाज देकर आगे बढती है हर मौके मे हरीयाली कि एक अलग तरह कि पुकार जीवन मे हर बार चलती है।
हर हरीयाली मे एक तरह का एहसास छुपा रहता है जो जीवन कि पुकार बनकर आगे बढती है क्योंकि हरीयाली मे ही जीवन कि एक अलग पुकार होती है हरीयाली को समझकर आगे जाने कि जरुरत जीवन को अक्सर आगे लेकर चलती है।
हर हरीयाली मे एक मौके मे जीवन को जी लेने कि उम्मीद हर बार मिलती है जो जीवन को कई किस्सों मे अलग तरह कि पहचान देकर आगे बढती है क्योंकि हरीयाली ही तो जीवन कि एक अलग सोच हर बार देकर आगे चलती है।
हर हरीयाली मे एक हकिकत हर बार होती है जो जीवन मे तूफानों से आगे लेकर जाती है क्योंकि तूफानों से उलझकर ही तो वह हकिकत जिन्दा होती है हर हरीयाली को वह अलग एहसास देकर आगे जाने कि ताकद हर बार देकर जाती है।
हर हरीयाली मे एक चाहत हर मौके मे होती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर जाती है क्योंकि हरीयाली ही तो जीवन कि अलग धारा या अलग पुकार होती है जो जीवन को हरीयाली का अलग एहसास देती है जो जीवन को मकसद देकर जाती है।
हर हरीयाली मे एक सुंदरता हर कोने मे रहती है अगर उसे समझ लेते है तो उसमे जीवन का एक अलग एहसास जिन्दा होता है जो जीवन मे हरीयाली कि एक अलगसी अजबसी प्यास देकर आगे चलता है जो जीवन मे खुशियों कि आवाज देकर जाती है।
हर हरीयाली मे एक अलग कहानी कि आस हर बार होती है जो हरीयाली कि बातों मे अलग किसम का एहसास देकर आगे बढती है क्योंकि हरीयाली ही तो जीवन कि सच्ची प्यास सच्ची आस हर बार रहती है जो जीवन को कई किनारों मे आगे लेकर जाती है।

Wednesday, 26 October 2016

कविता. १०११. हर किनारे को।

                                       हर किनारे को।
हर किनारे को सही बात कि दुआ दे तो जिन्दगी एक ऐसी आस बनती है जो जीवन मे हर पल एक अलगसी प्यास देकर चलती है जो सही सोच का एक अलग एहसास देकर जाती है जो जीवन को हर पल विश्वास देकर जाती है।
हर किनारे को सच कि दुआ दे तो जिन्दगी एक मुश्किल राह बनती है जिसकी मंजिल इतनी खास होती है कि लंबी राह भी जीवन मे आसान बन जाती है जो सच्ची सोच को कई खयालों से परखकर मुश्किल को भी आसान बनाकर आगे जाती है।
हर किनारे को उम्मीद कि दुआ दे तो जिन्दगी एक अलग सुबह देकर चलती है जिस सोच को अलग तरह से समझ ले उस सोच को अलग तरह के किनारे कि आशाए हर पल देकर रहती है जो जीवन को नई रफ्तार देकर हर बार आगे जाती है।
हर किनारे को मौके कि तरह समझ लेने कि जरुरत हर बार रहती है जो किनारों मे कदमों कि आहट का एहसास समझकर दुनिया मे आगे बढती है क्योंकि किनारों मे ही तो अक्सर जीवन कि उम्मीदे एक धारा संग हर पल आगे जाती है।
हर किनारे को परखकर जीवन कि कहानी हर पल को अलग एहसास देकर आगे चलती है जो किनारों मे समझ अलग तरह कि देकर हर एक मौके के संग जीवन कि दिशाए हर पल देकर जीवन को अलग तरह कि ताकद हर बार देकर जाती है।
हर किनारे को समझ लेने कि जरुरत हर मोड पर जीवन के अंदर अक्सर सही सोच देकर रहती है जो किनारों मे अलग किसम का एहसास देकर आगे बढती है जो जीवन को अलग तरह कि आवाज हर पल देकर आगे बढती जाती है।
हर किनारे को अलग एहसास मे परखकर आगे जाने कि आदत तो दुनिया हर सोच मे दे जाती है क्योंकि किनारों को अलग सोच कि जरुरत हर बार रहती है क्योंकि किनारों मे ही तो दुनिया कि हकिकत हर पल आगे लेकर जाती है।
हर किनारे को अलग किसम के मतलब देकर चलती है वह सोच भी हर बार जरुरी होती है जो जीवन को कई किनारों मे अलग तरह कि ताकद देकर जीवन कि आवाज बदलकर आगे चलती है जो जीवन को ताकद देकर जाती है।
हर किनारे को समझकर ही तो दुनिया हर पल अलग एहसास देकर नई किरण नई रफ्तार देकर आगे चलती है क्योंकि किनारों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर अक्सर होती है जो जीवन मे किनारों को अलग पहचान देकर जाती है।
हर किनारे को अलग तरह के एहसासों कि एक पुकार हर बार होती है क्योंकि वही पुकार हर बार अलग मतलब और एहसास देकर आगे बढती जाती है जो जीवन को अलग एहसास देकर आगे बढती है क्योंकि किनारों मे एक अलग पुकार जिन्दा हो जाती है।

कविता. १०१०. हर दिशा को समझ लेना।

                                               हर दिशा को समझ लेना।
हर दिशा को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर मौके मे होती है जो जीवन मे हरीयाली देकर आगे बढती चली जाती है क्योंकि दिशाओं से ही तो जिन्दगी कि हर हकिकत बनती है जो जीवन को जिन्दा करती हुई आगे जाती है।
हर दिशा को समझ लेने कि अहमियत हर बार होती है जो दिशाओं को कई किस्सों कि हकिकत देकर हर पल आगे चलती रहती है जो जीवन मे दिशाओं को अलग तरह कि समझ देकर जीवन मे आगे चलती जाती है।
हर दिशा को समझ लेने कि सही बजह तो जीवन को समझ लेने का एहसास होती है जो जीवन मे हमे आगे लेकर चलते जाने कि उम्मीदे और आदत देकर चलती है क्योंकि जीवन को हर कदम मे जिन्दगी समझ लेने कि आदत हो जाती है।
हर दिशा को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे आगे चलते हुए जरुरत हो या ना हो समझ लेने कि आदतसी हो जाती है क्योंकि दिशा को बिना देखे कदमों को आगे कहाँ ले पाते है और कई बार उनमे नई दिशाए खोज लियी जाती है।
हर दिशा को समझ लेने कि अहमियत हर बार होती है जो जीवन को नया उजाला देकर जाती है क्योंकि दिशाओं मे ही तो जीवन कि कहानी छुपी रहती है जीवन कि आवाज हर बार अलग तरह के एहसासों मे हर बार हो जाती है।
हर दिशा को समझ लेने कि कहानी मन कि ताकद के संग हर पल बनती है क्योंकि जीवन को कई मौकों के संग आगे बढते जाने कि जरुरत जीवन को हर बार रहती है क्योंकि जीवन कि कहानी दिशाए हर बार बदलकर आगे जाती है।
हर दिशा को समझ लेने कि ताकद मन मे हर बार होती है जो जीवन को अलग बदलाव देकर आगे चलती रहती है जो दिशाओं मे कई किसम के एहसासों कि परछाई हर बार देखती हुई आगे बढती हुई हर पल चलती जाती है।
हर दिशा को समझ लेने कि अहमियत हर साँस मे अक्सर होती है जो दिशाओं मे अलग किसम कि समझ हर मौके पर अलग तरह के एहसासों के साथ देकर आगे चलती है जो जीवन कि कहानी को बदलाव देकर जाती है।
हर दिशा को समझ लेने कि ताकद हर पल हमारे पास रहती है जो हमे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है पर हम अक्सर दिशाए भुलाकर आगे निकल जाते है हमे जीवन को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत है या नही यह बात ही सोचनी बाकी रह जाती है।
हर दिशा को समझ लेने कि जरुरत होती है या नही होती है यह बाते किस्सों मे लिखी होती है क्योंकि दिशाओं मे ही जीवन को समझ लेने कि ताकद हर मौके पर हर मोड मे छुपी रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर जाती है।

Tuesday, 25 October 2016

कविता. १००९. पानी कि कई।

                                                 पानी कि कई।
पानी कि कई धाराए हमे कई दिशाओं मे बुलाती है वह धीमे धीमे जीवन कि कहानी बदलकर रखती जाती है जो हर एक बूँद मे अलग तरह का रंग देकर जाती है जीवन कि कहानी पानी कि धारा को समझ आगे बढती जाती है।
पानी कि बूँदों को समझकर आगे बढती जाने कि जरुरत हर मोड पर अक्सर रहती है जो जीवन मे कई धाराओं मे एहसास देकर आगे बढती जाती है जो बूँदों को मकसद देकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर बार जीवन मे आगे ले जाती है।
पानी कि बूँदों को समझ देकर दुनिया आगे लेकर चलती जाती है पानी कि कहानी को कई किस्सों मे समझ लेने कि जरुरत हर बार हर मौके पर अक्सर रहती है पानी को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर मोड अलग कहानी बताकर जाती है।
पानी कि कई धाराए अपना एक अलग किस्सा सुनाकर जाती है जो पानी कि बूँदों मे रहती है वह अलग कहानी बताती है जो पानी को कई बार अलग रुप मे अलग किस्से मे समझाती है जो पानी कि धारा को अलग तरह के हिस्सों मे लेकर जाती है।
पानी कि कई दिशाए कई कोनों मे अलग समझ देकर आगे चलती है जो पानी को परख ले वह सोच अलगसी दिखती है जो पानी को रंगों मे परख ले वह दिशाए अलग तरह कि रहती है जो पानी को कई रुपों मे अक्सर दिखाकर जाती है।
पानी कि कई कहानियाँ जीवन को बदलकर आगे बढती है जो पानी को कई रंगों मे अलग तरह का असर देकर चलती है क्योंकि पानी मे ही बदलाव कि उम्मीदे अक्सर दिखती है जो जीवन मे पानी को कई रुपों मे दिखाती हुई आगे जाती है।
पानी कि बूँदों को बदलाव देकर आगे चलती जाती है पानी को कई रुपों मे मतलब देकर जाती है जो पानी के बदलाव को समझ अलग तरह कि देकर जाती है जो पानी मे एहसासों कि अलग कहानी बताकर आगे बढती जाती है।
पानी कि धाराओं को बदलाव कि जरुरत होती है जो पानी के हर किस्से संग दुनिया को अलग एहसास देकर चलती है जो पानी के बहाव के संग हर एहसास बदलकर चलती है जो पानी का एक अनजाना रुप दिखाकर आगे जाती है।
पानी कि जरुरत जीवन को कई किस्सों मे होती है जो पानी को मतलब कई हिस्सों मे देकर चलती है जो पानी कि धारा को मकसद कई देकर आगे बढती रहती है पानी के अंदर कई कहानियों कि समझ हर पल जिन्दा हो जाती है।
पानी कि बूँदों को कई तरह के मतलब देकर आगे जाने कि जरुरत रहती है जो जीवन मे पानी को कई तरह के मतलब देकर चलती है क्योंकि पानी कि कई कहानियाँ होती है जिन्हे अक्सर समझकर आगे जाने कि जरुरत हो जाती है।

कविता. १००८. बूँदों को कई एहसासों मे।

                                        बूँदों को कई एहसासों मे।
पानी कि बूँदों को कई एहसासों मे समझ लेना ही तो जीवन कि अहम बात होती है क्योंकि बूँदों को परख लेने कि जरुरत जीवन को अलग तरह के एहसास देकर चलती है जो जीवन को शीतलता कि उम्मीद देकर आगे चलती है।
पानी कि बूँदों को कई किनारों कि जरुरत होती है जो बूँदों के संग ठंडक कि ताकद हर पल देती रहती है क्योंकि बूँदों के अंदर कई तरह के एहसासों कि कहानी हर बार जीवन को कई किस्सों मे नई सौगाद देकर आगे चलती है।
पानी कि बूँदों को कई किस्सों मे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे कई एहसास देकर जाती है पानी के अंदर कई रंगों कि दुनिया कई बार छुपी मिलती है जो पानी कि धारा को संग कई एहसासों कि दुनिया बनाकर हर पल चलती है।
पानी कि बूँदों को कई किनारों मे समझ लेने कि अहमियत होती है उसके शीतलता कि कहानी हर बार अलग मकसद देकर आगे जाती है क्योंकि धारा को परखकर ही अक्सर हमारी दुनिया बनती है जिसमे खुबसूरत एहसासों कि कहानी चलती है।
पानी कि बूँदों को कई एहसासों कि परीभाषा बनती है जो जीवन को कई हिस्सों मे आगे लेकर जाती है शीतलता के एहसासों को समझकर आगे लेकर जाती है क्योंकि पानी के बूँदों को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत चलती है।
पानी कि बूँदों को कई किस्सों मे समझकर आगे जाती है क्योंकि पानी मे ही तो जिन्दगी कि खुशियाँ हर मौके पर रहती है पानी के बूँदों मे कई किसम के एहसासों को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर मौके पर अक्सर दुनिया मे आगे लेकर चलती है।
पानी कि बूँदों को कई एहसासों मे जीवन कि कहानी हर मौके पर अलग एहसास कि साँसे देकर जाती है क्योंकि पानी के बूँदों मे ही तो दुनिया कि कहानी हर पल हकिकत बनकर नजर आती है जो दुनिया मे कई किस्सों को एहसास अलगसा देकर चलती है।
पानी कि बूँदों को कई हिस्सों मे समझ लेने कि जरुरत हर एक मोड पर अक्सर होती है जो बूँदों को कई किस्सों मे आगे लेकर बढती है जो दुनिया को कई किस्सों कि जरुरत बनाकर अक्सर सामने लाती है जीवन मे बूँदों कि कहानी खुशियाँ देकर चलती है।
पानी कि बूँदों को कई किनारों मे दुनिया को समझकर आगे जाने कि जरुरत हर मौके पर होती है जो बूँदों को ताकद दे जाये वह एहसास दुनिया कि हकिकत बनते रहते है पानी के बूँदों को समझ लेने कि जरुरत हर किस्से मे रहती है जो आगे लेकर चलती है।
पानी कि बूँदों को परखकर दुनिया कई कहानियाँ लिखती है जो जीवन को अक्सर कई हिस्सों मे आगे लेकर चलती है पानी कि बूँदों को परखकर दुनिया जब कुछ कहती है उन किस्सों से दुनिया कि हकिकत कई रंगों मे निखरकर आगे निकल कर चलती है।

Monday, 24 October 2016

कविता. १००७. कदमों को समझ लेने कि कहानी।

                                         कदमों को समझ लेने कि कहानी।
कदमों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है जो जीवन मे कई दिशाए देकर आगे बढती है जिसकी ताकद मन मे रहती है जो कदमों को नई रफ्तार देकर आगे चलती है जो जीवन के कई किनारों की अलग पहचान रहती है।
कदमों को समझ लेने कि अहमियत हर पल मे अक्सर दिखती है जो जीवन मे कदमों कि सच्चाई को मतलब देकर चलती है जो कदमों को दिशाए देकर आगे जाने कि बजह अक्सर देकर आगे बढती है हर कदम मे अलग पहचान रहती है।
कदमों को समझ लेने कि कहानी जीवन को मतलब देकर चलती है जो जीवन कि धाराओं को अलग किसम का एहसास देकर आगे बढती है क्योंकि कदमों मे ही तो दुनिया कि उम्मीदे हर पल आगे लेकर चलती है जो जीवन को जिन्दगी देकर रहती है।
कदमों को समझ लेने कि कहानी जीवन के एहसासों को अलग किसम के मतलब देकर आगे बढती है जो कदमों मे ही तो दुनिया को अलग किसम कि पहचान हर मौके पर देकर चलती है जो जीवन मे कदमों को अलग तरह कि समझ देकर रहती है।
कदमों को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर एक मौके को अक्सर होती है जो कदमों के संग एहसासों को समझ अलग तरह कि देकर चलती है जो कदमों को बदलाव देकर जाती है जिसमे कदमों को अलग किसम कि समझ देकर आगे चलती रहती है।
कदमों को समझ लेने कि अहमियत हर बार जीवन मे होती है क्योंकि कदमों के अंदर कई तरह के किनारों मे दुनिया जिन्दा रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है कदमों को पहचान लेने कि जरुरत हर धारा मे आगे लेकर चलती रहती है।
कदमों को समझ लेने कि ताकद जीवन मे अक्सर होती है जो कदमों के अंदर पहचान अलगसी देकर आगे चलती है जो जीवन को कई तरह के सपनों के एहसास देकर आगे चलती है जो जीवन मे कदमों को समझ लेने कि कोशिश मन मे रहती है।
कदमों को समझ लेने कि एहसासों को परख लेने कि कोशिश होती है जो जीवन मे कदमों को हकिकत बनाकर हर बार पेश करती है हमे जीवन मे कदमों को समझ लेने कि जरुरत होती है क्योंकि जिन्दगी अक्सर कदमों से ही आगे बढती रहती है।
कदमों को समझ लेने कि जरुरत हर कहानी को होती है जो जीवन को कदमों के सहारे से ही हर पल आगे लेकर चलती है क्योंकि जीवन मे कदमों कि अहमियत हर एहसास मे होती है जो जीवन को कदम दे वह चीज हर मौके पर अहम रहती है।
कदमों को समझ लेने कि कहानी जीवन को कई मकसद देकर चलती है कदमों को परखकर ही तो दुनिया कि हकिकत बनती है क्योंकि कदमों के सहारे ही दुनिया कि कहानी हर बार नये उजाले देकर आगे बढती रहती है।

कविता. १००६. यादों को परख लेने।

                                              यादों को परख लेने।
यादों को परख लेने कि जरुरत जीवन मे होती है जो अक्सर जीवन को कई किस्सों कि रोशनी देकर चलती है जो यादों को कई तरह कि साँसे देकर जाती है वह यादों कि कहानियों को समझ अलग देकर चलती जाती है।
यादों को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर लम्हे मे नजर आती है जो यादों को नई कोशिश दे वह जिन्दगी कि समझ अक्सर अहम नजर आती है जो यादों को हर पल जीवन कि परछाई दिखाती है जो जीवन मे रोशनी कि अलग आवाज देकर जाती है।
यादों को समझ लेने कि मन के हर कोने को जरुरत नजर आती है हर बार हर लम्हा यादे परछाई बनकर जीवन को अलग रोशनी देकर आगे बढती रहती है क्योंकि यादों से ही तो दुनिया कि खुशियाँ हर बार आगे चलती जाती है।
यादों को समझ लेने कि अहमियत मन को अक्सर मेहसूस होती रहती है क्योंकि यादों को ही तो जिन्दगी कि सच्ची समझ हर बार होती है जो हमे रोशनी देकर आगे लेकर चलती रहती है जो हमे आगे लेकर हर मौके पर आगे बढती जाती है।
यादों को समझ लेने कि दिशाए जीवन को मतलब देकर आगे चलती रहती है याद ही तो जीवन को अलग तरह कि समझ होती है यादों को कई रंगों मे परख लेने से जीवन को अलग तरह का एहसास देकर आगे बढती जाती है।
यादों को समझ लेने कि कहानी जीवन कि कई दिशाए अक्सर हमे उम्मीदे देकर चलती रहती है यादों को परखकर जीवन कि कहानी बदलती जाती है जो यादों को कई तरह के मतलब देकर हमे आगे लेकर आगे चलती जाती है।
यादों को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर एक मोड पर रहती है यादों को समझ लेने कि आवाज जीवन को अलग एहसास देकर आगे चलती रहती है जो यादों को कई किस्सों कि आवाज कई किनारों पर आगे लेकर जाती है।
यादों को समझ लेने कि ताकद जीवन को कई तरह के एहसासों के अंदर जीवन को अलग तरह कि किनारों को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर मौके पर रहती है जीवन को कई तरह के मकसद देकर आगे बढती जाती है।
यादों को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे होती है कई किसम की सोच को मतलब देकर आगे चलती रहती है यादों को कई किसम के खयाल जीवन को अलग तरह का असर किया करता है जो जीवन को यादों कि अलग सौगाद देकर आगे जाती है।
यादों को समझ लेने कि कहानी बडी अहम नजर आती है जब वह हमे रोशनी देकर आगे बढती रहती है क्योंकि यादों कि शुरुआत ही तो अक्सर अलग असर कर जाती रहती है क्योंकि यादों से ही तो जीवन कि कहानी हर पल आगे जाती है।

Sunday, 23 October 2016

कविता. १००५. जीवन को सही दुआ।

                                           जीवन को सही दुआ।
हर बार हमे जीवन को सही दुआ देने कि जरुरत होती है जो जीवन को अलग तरह कि समझ देकर चलती है जो हर बार रोशनी देकर चलती है वह सोच जरुरी रहती है क्योंकि वह हमे जीवन कि अलग सौगाद देकर दुआ देकर चलती है।
हर बार हमे जीवन को सही तरह कि दिशाए देकर जाने कि आदत रहती है जो जीवन को अलग मतलब देकर आगे चलती है जो हर बार जीवन कि दिशाए बदलकर हमे आगे लेकर जाती है क्योंकि जीवन को अलग एहसास देकर चलती है।
हर बार हमे जीवन को सही तरह कि उम्मीदे देकर जाने कि जरुरत होती है जो हमे जीवन कि कई दिशाए देकर चलती है जो हर बार हमे नई उम्मीदे और नई रफ्तार देकर आगे बढती है जो जीवन मे अलग तरह के संग चलती है।
हर बार हमे जीवन को कई किस्सों मे समझ लेने कि ताकद तो हमे होती है पर दुनिया को समझकर ही तो जीवन कि धारा बनती है जो हमे हर बार कोई अलग तरह कि सम देकर आगे बढती है जो उम्मीदों के साथ चलती है।
हर बार हमे जीवन को कई किनारों से समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत अक्सर होती है जो हमे समझ लेते है जो हमारे जीवन कि कहानी को अक्सर उम्मीदों के सहारे आगे लेकर जाती है जिसमे जीवन कि खुशियाँ आगे चलती है।
हर बार हमे जीवन को कई इशारों मे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो हर पल आगे जाने कि जरुरत होती है जो जीवन को नई राहे देकर चलती है जो जीवन को कई किनारों मे आगे हर पल लेकर चलती है।
हर बार हमे जीवन कि कहानी को समझ अलग तरह के एहसासों को समझकर अलग तरह कि जरुरत हर मौके मे आगे बढती है जो हर बार जीवन को हर मौके पर अलग एहसास देकर आगे बढती हुई जाती है जो आगे लेकर चलती है।
हर बार हमे जीवन कि दुआए समझ लेनी जरुरी होती है जो जीवन मे कई किसम कि दुआए देकर आगे हर कदम पर लेकर जाती है जो जीवन को दुआ मिलती है जो जीवन को अलग तरह कि उम्मीद हर वक्त देकर आगे चलती है।
हर बार हमे जीवन कि दुआ आगे लेकर जाती है जो जीवन को कई मौकों पर अक्सर अलग तरह कि पहचान देकर राहे देकर बढती है जो जीवन को अलग तरह के एहसासों के साथ लेकर आगे बढती है जिसमे उम्मीदे अक्सर रोशनी देकर चलती है।
हर बार हमे जीवन कि अच्छाई को ढूँढने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन को हर पल अलग पहचान देकर जाती है क्योंकि जीवन के पलों को बदलाव देकर आगे जाने कि जरुरत रहती है जो जीवन को आगे लेकर चलती है।

कविता. १००४. जब कहानी कुछ।

                                            जब कहानी कुछ।
जब कहानी कुछ अलग मोड देकर जाती है दुनिया अलग तरह के एहसासों को मतलब देकर चलती जाती है क्योंकि मोड ही तो दुनिया अलग देकर जाते है क्योंकि मोड को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर पल मे हर बार रहती है।
जब कहानी कुछ अलग अंदाज मे आगे बढती है तब जीवन को अलग तरह कि कहानी मिलती है जो जीवन को हर कहानी मे रोशनी देती है जीवन कि कहानी हर पल आगे जाती रहती है जो जीवन मे कई मोड पर अलग तरह के अंदाज देकर जिन्दा रहती है।
जब कहानी कुछ अलग एहसास देकर आगे बढती है जो कहानियाँ अलग एहसास हर बार देकर आगे बढती जाती है जो कहानी जीवन को कोई अलगसी सोच देकर चलती जाती है क्योंकि कहानी का बदलाव हर मौके पर देके अक्सर रहती है।
जब कहानी कुछ अलग अंदाज मे सामने आती है तब जीवन कि दुनिया अलग धारा देकर आती है क्योंकि कहानियाँ अलग तरह के रंग देकर आगे चलती है हर कहानी को कोई ना कोई मतलब तो अक्सर मिलता है जिसे समझ लेने कि जरुरत रहती है।
जब कहानी कुछ अलग एहसास मे जिन्दा होती है तब दुनिया कि हकिकत बनती जाती है क्योंकि कहानियों मे अलग किसम कि हकिकत बनती जाती है जो जीवन को कई तरह कि धाराओं मे अलग तरह कि समझ देकर आगे बढती रहती है।
जब कहानी कुछ अलग किस्सों को समझ लेती है उसमे जीवन के एहसासों कि अलग दुनिया बनती जाती है हर कहानी को कई किस्सों मे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है क्योंकि कहानियाँ अलग तरह के किस्सों मे जिन्दा रहती है।
जब कहानी कुछ अलग अंदाज मे लब्जों कि हकिकत बयान करती है तब कहानी हर बार मतलब देकर आगे चलती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर बार मन को किसी बात को समझ लेने जरुरत हर मौके पर अक्सर होती रहती है।
जब कहानी कुछ अलग तरह का एहसास देकर चलती है तब कहानी को छुपे मतलब के साथ समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि कहानी को परख लेने कि जरुरत जीवन मे कई किनारों से होती है जो जीवन को मतलब देकर रहती है।
जब कहानी कुछ अलग एहसास देकर हमे उम्मीदे दे जाती है उसे समझ लेने कि जरुरत कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है जो कहानी किरदारों के अंदर जिन्दा होती है जो किरदारों के साथ ही तो आगे बढती रहती है।
जब कहानी कुछ अलग बाते बताती है शुरुआत मे अक्सर जीवन को मंजूर नही होती है पर आखिर मे वही कहानी सही नजर आती है क्योंकि कहानियों मे सच्चाई हर पल मे अलग एहसास देकर आगे चलती है कहानियों को परख लेना जीवन कि जरुरत रहती है।

Saturday, 22 October 2016

कविता. १००३. हर बार हम जीवन को।

                                                 हर बार हम जीवन को।
हर बार हम जीवन को समझ लेते है तो कुछ अलग बात दिखती है जो जीवन को अलग किसम के जस्बात के साथ आगे लेकर चलती है जो कई किनारों के साथ जीवन मे आगे चलती है जो जीवन को अलग समझ देकर चलती है।
हर बार हम जीवन को कई किस्सों मे समझ लेते है उन ख्वाबों मे जीवन कि कहानी समझ लेनी पडती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर हर पल बढती है जिसे परख लेने कि जरुरत जीवन को अक्सर आगे लेकर चलती है।
हर बार जीवन को कई हिस्सों मे समझकर आगे लेकर चलते रहने कि जरुरत होती है जो जीवन को कई किसम के मतलब देकर मकसद देकर आगे जाती है जो जीवन को हर पल अलग अलग तरह के एहसासों के साथ चलती है।
हर बार जीवन को कई मौकों मे हमे आगे लेकर बढती है जो जीवन को कई किनारों मे कई किसम कि कहानियाँ रहती है हर मौके मे जीवन कि कहानी अलग तरह कि सोच देकर आगे जाती है उसके सहारे ही तो जीवन कि कहानी चलती है।
हर बार जीवन को अलग तरह कि राहे मिलती जाती है राहों मे कई किस्सों कि हकिकत हर पल आगे बढती है जो जीवन मे कई किस्सों मे समझ देकर आगे जाती है जो जीवन को कई किस्सों मे अलग तरह का मकसद देकर चलती है।
हर बार जीवन को अलग तरह से परख लेने कि जरुरत दुनिया मे कई बार नजर आती है जो जीवन को कई किनारों से मतलब देकर जाती है जो कई बार जीवन कि कहानी को अलग एहसास के साथ समझ देकर हर बार आगे चलती है।
हर बार जीवन को अलग कहानियों मे समझ लेने कि ताकद हर मौके मे होती है जो हर कोने के अंदर कई किनारों कि सौगाद देकर आगे जाती है जो जीवन को अलग तरह कि कोशिश देकर जाती है लगातार जीवन को अलग तरह कि ताकद आगे लेकर चलती है।
हर बार जीवन को अलग कहानियों मे समझकर चलते जाना होता है क्योंकि जीवन हर बार हमारी दिशाए बदलकर अक्सर आगे बढता है जीवन मे हर चीज उतनी आसान नही होती है जो जीवन को उम्मीदे देकर जाये वह दिशाए हर बार आगे चलती है।
हर बार जीवन को अलग एहसास देकर दुनिया को समझ लेना ही तो अक्सर जीवन कि जरुरत होती है जो जीवन को कई हिस्सों मे सुबह कि शुरुआत देकर जाती है जो जीवन मे कई किसम कि कहानियाँ कहती हुई आगे चलती है।
हर बार जीवन को अलग राह मे कोई अलग तरह के एहसासों कि सोच बनती है जो हर मौके मे जीवन को कई किसम के एहसास देकर आगे बढती है जिसे समझ लेने कि जरुरत जीवन को अलग तरह कि सोच अक्सर देकर चलती है।

कविता. १००२. हर मौके मे जीवन को।

                                         हर मौके मे जीवन को।
हर मौके मे जीवन को अलग सोच मिलती जाती है जो जीवन के मोड पर कोई अलग किनारा भी मिलता है जो जीवन को कुछ अलग तरह कि बात सिखाता है मौकों मे ही तो अक्सर जीवन बनता है जो हमे हर बार आगे लेकर जाता है।
हर मौके मे जीवन कि धारा को बदलकर चलना हर बार जरुरी नजर आता है क्योंकि मौकों मे ही तो जीवन को समझ लेना हर बार अहम नजर आता है जो मौकों को कई किसम के मतलब और मकसद हर मौके पर देकर आगे बढता जाता है।
हर मौके मे जीवन कि जरुरत होती है क्योंकि मौकों से ही तो जिन्दगी अक्सर बनती है जो जीवन को अलग मौकों पर अलग एहसास देकर आगे बढती जाती है क्योंकि जीवन को मौकों मे समझकर जीना हर बार जरुरी हो जाता है।
हर मौके मे जीवन कि कहानी समझ लेना हर मौके पर जरुरी होती है क्योंकि कहानी ही तो अक्सर किरदार देकर हर पल जिन्दा रहती है क्योंकि हर मौके पर जीवन कि कहानी कोई अलग एहसास देकर आगे बढती है वही तो जीवन को अलग मौका मिल जाता है।
हर मौके मे जीवन कि पहचान बदलाव देकर आगे बढती है क्योंकि मौकों से ही हमारी हकिकत बनती है जो जीवन को अलग तरह का मतलब देकर जाती है जो मौकों को कोई अलगसी सोच देकर आगे बढती है उस एहसास को समझ लेना जरुरी हो जाता है।
हर मौके मे जीवन कि जरुरत हर मोड पर रहती है क्योंकि मौकों को जीवन कि दुआ हर पल जरुरी होती है जो मौकों मे जीवन को समझ ले वही तो जिन्दगी कि अलग सुबह होती है जो जीवन को हर मोड पर अलग एहसास का मौका दे जाता है।
हर मौके मे जीवन को कोई अलग किनारा मिलता है कई किस्सों मे जीवन को परखकर आगे बढते जाना जरुरी रहता है जो हर मौके मे कोई अलग कहानी देकर चलता है मौकों के अंदर ही तो जीवन का कोई अलग एहसास उम्मीदे दे जाता है।
हर मौके मे जीवन कि धारा को बदलाव देकर आगे चलता रहता है क्योंकि मौकों मे हमे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है जो मौकों को ताकद हर पल वह देकर चलता है क्योंकि मौकों को बदलाव ही तो इन्सान को बना जाता है।
हर मौके मे जीवन कि कहानी को परखकर इन्सान आगे चलता है हर मौके मे ही जीवन का मकसद दे जाती है जो मौकों मे ताकद देकर आगे चलती है क्योंकि मौकों को परखकर ही तो दुनिया को मतलब देकर बनाता जाता है।
हर मौके मे जीवन को समझ लेना जरुरी होता है क्योंकि मौकों मे ही बदलाव मिलता है क्योंकि मौकों मे ही तो दुनिया को समझकर आगे जाना पडता है हर मौके मे जीवन का एहसास जिन्दा रहता है जो अक्सर साँसे दे जाता है।

Friday, 21 October 2016

कविता. १००१. बार बार जीवन को।

                                           बार बार जीवन को।
बार बार जीवन को अलग किसम कि समझ मिलती जाती है जीवन को दोहराने कि जरुरत अक्सर होती है पर जीवन को परखकर अलग एहसास देकर आगे बढती है जो जीवन को कई बार सही सोच को दोहराने कि समझ देती है।
बार बार जीवन को अलग तरह कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन मे चीजे दोहराने कि ताकद हर पल देकर आगे बढती है जो बार बार जीवन मे अलग तरह कि समझ देकर चलती है जो जीवन को दोहराने कि अहमियत बता देती है।
बार बार जीवन को अलग तरह कि दिशाए हर पल आगे चलती है जो बार बार जीवन कि दिशाओं को मतलब अलग तरह कि साँसे देकर चलती है जो कई बार दिशाए देकर चलती है जो बार बार जीवन को कई किसम कि दिशाए देती है।
बार बार जीवन को अलग किसम कि सुबह जरुरी लगती है जो कई किनारों पर अलग एहसास देकर चलती है जो सुबह कि रोशनी बनकर जीवन मे अक्सर चमकती देती नजर आती है जो जीवन मे सुबह कि किरण हर बार देती है।
बार बार जीवन को अलग तरह कि ताकद देकर आगे चलती है वह रोशनी ही तो जीवन कि जरुरत रहती है क्योंकि लगातार जीवन मे चीजों को दोहराने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे मतलब देकर आगे चलने कि उम्मीदे देती है।
बार बार जीवन को अलग किसम कि समझ देकर आगे बढती है जो जीवन मे हमे कई किसम के किस्सों कि समझ अलग किसम के एहसासों के अंदर रहती है जो जीवन को दोहराने का एहसास देकर चलती है जो मकसद देती है।
बार बार जीवन को अलग तरह कि समझ ताकद देकर आगे बढती है जो जीवन मे कई किस्सों को मतलब देकर उम्मीदे दे जाती है जो जीवन को दोहराने कि जरुरत हर मौके पर देकर चलती है बार बार वह दुनिया को समझ देती है।
बार बार जीवन को अलग दिशा मे जाते रहने कि जरुरत रहती है जो कई बार अलग तरह कि कहानी को समझ देकर चलती है जो जीवन मे दोहराने कि जरुरत होती है वह दिशाए जीवन को अलग तरह का एहसास अक्सर देती है।
बार बार जीवन को अलग तरह के एहसास के अंदर कई किस्सों को समझ लेने कि आदत जीवन को अक्सर रहती है जो बार बार जीवन के एहसास बदलकर रखती है क्योंकि बार बार जीवन को अलग एहसास मे जीने कि जरुरत अक्सर जिन्दगी देती है।
बार बार जीवन को समझकर आगे जाने कि जरुरत हर बार रहती है क्योंकि बदलते जाना ही जीवन कि आदत होती है जो बदलाव को समझ देकर ही तो हर लम्हे पर आगे बढती जाती है क्योंकि बार बार दोहराना जीवन को उम्मीद देता है।

कविता. १०००. दूर किसी किनारे पर।

                                                      दूर किसी किनारे पर।
दूर किसी किनारे पर एक हकिकत अक्सर रहती है जो जीवन को अलग कहानी देकर आगे बढती जाती है क्योंकि दूर किसी किनारे पर ही तो जीवन कि कहानी जिन्दा रहती है दूर किनारे पर ही तो अपनी खुशियाँ बसती है।
दूर किसी किनारे पर एक आवाज को पहचान लेने कि जरुरत हर बार रहती है दूर किसी मोड पर हकिकत कि आवाज हर बार अक्सर जस्बात  देकर रहती है जो जीवन को किसी कोने मे अलग कहानी देकर जीवन मे बसती है।
दूर किसी किनारे पर होकर भी सच्चाई मे वह पुकार होती है जो जीवन को हर मोड पर अलग जस्बात देकर चलती है जो जीवन को कई किस्सों मे अलग समझ देकर आगे बढती है जो दूर किसी किनारे पर अक्सर बसती है।
दूर किसी किनारे पर जीवन कि कहानी बनती है जो जीवन को कई एहसासों को समझ अलगसी देकर चलती है जो दूर किसी किनारे पर जीवन को कई किस्सों कि समझ हर मौके पर रहती है जो जीवन को मतलब देकर आगे बसती है।
दूर किसी किनारे पर जीवन कि आवाज जब सच कि पुकार बनती है तब उसे समझ लेने से दुनिया अलग तरह का एहसास देकर चलती है जो दूर से भी जीवन कि सौगाद बदलकर जाती है जो दूर के किनारों पर अक्सर बसती है।
दूर किसी किनारे पर जीवन कि कहानी हर बार मतलब दे कर आगे बढती है जो जीवन को अलग तरह के किनारे पर एक अलग हकिकत रखती हुई जाती है जो जीवन को दूर के किनारों पर अलग हकिकत देकर दुनिया अलग ढंग से बसती है।
दूर किसी किनारे पर जीवन को अलग रोशनी मिलती है जो जीवन को कई किस्सों मे समझ अलग तरह कि देकर चलती है जो दूर किसी किनारे पर आवाज का अलग एहसास देकर चलती है जिसमे सच्चाई कि ताकद अक्सर बसती है।
दूर किसी किनारे पर जीवन को अलग हकिकत मिलती है जो जीवन को कई किस्सों मे पहचान अलगसी देकर चलती है जो दूर किसी कोने मे अक्सर रहती है उस किनारे पर जीवन कि खुशियाँ किसी कोने मे बसती है।
दूर किसी किनारे पर जीवन को अलग पहचान होती है जो जीवन को समझ देकर जाये वह अलग मुस्कान होती है जो जीवन को कई किनारों मे मतलब अलग देकर रहती है उस किनारे पर ही आवाज अलगसी हर बार बसती है।
दूर किसी किनारे पर जीवन कि सच्चाई जब होती है तब उसके अंदर अलग पुकार रहती है जो बार बार जीवन को कहती है कि सच्चाई कितनी भी दूर रहे उसकी जिन्दगी पर कोई ना कोई निशानी तो हर बार रहती है जिसकी हकिकत को समझकर दुनिया बसती है।

Thursday, 20 October 2016

कविता. ९९९. किसी किरण कि रोशनी।

                                                किसी किरण कि रोशनी।
किसी किरण कि रोशनी से राह को समझ लेने कि जरुरत होती है जो किरणों मे दुनिया को जिन्दा करती है वह चाहत बडी अलग रहती है जो किरणों को कदम देकर जब जीवन कि कहानी चलती है जो जीवन को अलग दिशाए देकर चलती है।
किसी किरण कि रोशनी को समझ आगे जाने कि जरुरत होती है जो किरणों के अंदर कई एहसासों को समझकर आगे लेकर चलती है किरणों के अंदर अलग तरह कि कोशिश अक्सर जिन्दा रहती है जो आगे लेकर चलती है।
किसी किरण कि रोशनी से जीवन मे प्यास बनती है जो जीवन मे किरणों को मतलब देकर कई तरह कि दिशाए देकर आगे बढती है जो किरणों से ही जीवन कि ताकद को पहचान देकर आगे बढती है जो जीवन को किरणों मे उम्मीदे देकर चलती है।
किसी किरण कि रोशनी से दुनिया हर पल रोशन होती है उसे समझ लेने कि जरुरत जीवन को पहचान देकर रहती है जो किरणों के सहारे आगे बढती है क्योंकि किरणों के अंदर ही तो मौकों के एहसासों कि दुनिया आगे चलती है।
किसी किरण कि कहानी जीवन को समझ लेना ही तो जीवन कि जरुरत होती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर हर पल नई उम्मीदे देकर आगे बढती है क्योंकि किरणों से ही तो दुनिया कई बार आगे बढती चलती है।
किसी किरण कि जरुरत को परखकर आगे चलते जाने कि अहमियत हर सोच मे रहती है क्योंकि किरणों से ही तो दुनिया हर बार रोशन होती रहती है जो किरणों को सही तरह से आगे बढना सिखाती रहती है किरणों से ही तो हमारी दुनिया आगे चलती है।
किसी किरण कि कहानी उसमे छुपी कहानी कहती रहती है क्योंकि किरणों को समझ लेना ही तो जीवन कि जरुरत बनती है किरणों से ही तो दुनिया कि हकिकत हर बार अलग बनती रहती है जो आगे बढते हुए चलती है।
किसी किरण कि हकिकत हर रोशनी मे रहती है जिसमे हर कदम मे रोशनी कि ताकद बनती है जो किरणों को अलग तरह कि समझ हर पल देकर आगे बढती है क्योंकि किरणों को पहचान लेना ही तो जीवन कि जरुरत बनकर आगे चलती है।
किसी किरण कि बाते समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर मौके पर अक्सर अहम होती है जो जीवन को अलग रोशनी देकर हर बार आगे लेकर जाती है किरणों को पहचान लेना ही तो जीवन कि हर मोड पर हर पल कि जरुरत बनकर चलती है।
किसी किरण कि बाते समझ देकर आगे बढती हुई जाती है जो जीवन कि कहानी को बदलाव देकर हर बार अलग किनारों से आगे जाती है क्योंकि किरणों मे ही जीवन कि ताकद हर बार अक्सर जिन्दा होकर चलती है।

कविता. ९९८. बहारों को समझकर।

                                             बहारों को समझकर।
बहारों को समझकर जीवन को एहसास अलगसा मिलता है जो बहारों को परखकर धीमे से आगे लेकर चलता है जो बहारों मे अलगसी समझ देकर आगे बढती जाती है जो बहारों को समझ देकर दुनिया आगे बढती जाती है।
बहारों को समझकर जीवन को बिना बजह उन्हे पाने के लिए परख लेने कि हमे आदतसी जब होती है तब बहारे खुशियाँ नही पर अक्सर मुश्किले लाती है बहारों कि कहानी को परख लेने से ही तो आगे चलती जाती है।
बहारों को समझकर जीवन को अलग किनारों से जाने क्यूँ जीवन कि दिशाए मिलती है जो अक्सर जीवन को कई कहानियों के साथ किस्सों मे अलग तरह कि उम्मीदे मिलती है जो जीवन को अलग किस्सों मे समझ लेने कि जरुरत जीवन को हो जाती है।
बहारों को समझकर जीवन मे आगे बढते जाने कि जरुरत हर बार होती है जो बहारों को अलग तरह कि ताकद दे जाती है पर जीवन मे सही राह पर जाने कि जरुरत हर राह  को अक्सर रहती है जो जीवन को आगे लेकर चलती जाती है।
बहारों को समझकर जीवन कि कश्ती हर बार मोड को बदलकर चलती रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे कई तरह के एहसासों को समझकर आगे लेकर चलती है जो बहारों को सही मतलब से आगे लेकर हर पल चलती जाती है।
बहारों को समझकर जीवन कि कहानी को परखकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर पल मे अक्सर होती है जो इन्सान को मन कि ताकद देकर चलती है जो बहारों को समझ ले वह राह दुनिया कि जरुरत बनकर आगे बढती जाती है।
बहारों को समझकर जीवन कि हर लम्हे मे कहानी बनती है जो हर मोड पर हर बहार के अंदर जीवन को अलग एहसास देकर चलती है वह खुशबू अक्सर मन के अंदर होती है जो बहारों को अलग किसम कि चमक देकर आगे जाती है।
बहारों को समझकर जीवन कि धारा को बदलाव कि जरुरत पडती है जो जीवन को कई किस्सों मे और कई हिस्सों मे कहती रहती है जो बहारों को अलग तरह कि समझ देकर चलती है क्योंकि बहारों मे ही तो दुनिया आगे जाती है।
बहारों को समझकर जीवन कि कहानी को अलग एहसास मे परख लेने कि जरुरत जीवन मे होती है बहारों को फूलों कि जरुरत हर पल तो जीवन मे होती है जो पत्तों को अलग किसम कि दुनिया देकर आगे चलती जाती है।
बहारों को समझकर जीवन कि कहानी को परख लेने कि अहमियत हर पल को होती है जो जीवन को साँसे दे जाये हर बार जीवन कि साँसे ताकद दुनिया को देकर चलती जाती है बहारे अगर सही तरह कि राह पर हो तो दुनिया को रोशनी मिलती जाती है।

Wednesday, 19 October 2016

कविता. ९९७. जीवन मे आगे चलते जाने कि।

                                               जीवन मे आगे चलते जाने कि।
जीवन मे आगे चलते जाने कि जरुरत हर बार रहती है जो हर मौके पर इन्सान को अलग एहसास के संग परख लेती है जो जीवन को कई हिस्सों मे समझ लेती है जिसमे जीवन को समझ लेने कि जरुरत हर बार अक्सर रहती है।
जीवन मे आगे चलते जाने कि जरुरत हर किस्से मे होती है जो जीवन कि धारा को समझ ले वह दुनिया जीवन को कई एहसासों के संग परख लेती है जो जीवन कि कहानी को हर मौके मे हर अंदाज मे अलग पहचान देकर रहती है।
जीवन मे आगे चलते जाने कि जरुरत हर मौके मे होती है जो जीवन को कई मकसद देकर हर पल जीवन कि धारा को समझ हर बार देकर चलती है जीवन को कई किस्सों मे जिन्दा होती है जो जीवन को अलग मतलब देकर जिन्दा रहती है।
जीवन मे आगे चलते जाने कि अहमियत जीवन को हर पल मे मिलती है जो जीवन को कई कोनों मे कई किस्सों मे अक्सर मतलब दे कर चलती है जो जीवन को कई हिस्सों मे आगे लेकर जाती है जिसमे जीवन कि कहानी जिन्दा रहती है।
जीवन मे आगे चलते जाने कि किरणों को जरुरत हर बार होती है जो जीवन कि धारा को कई किस्सों मे समझ देकर मकसद के साथ उम्मीदे हर बार देकर चलती है जो जीवन कि कहानी को अलग तरह कि सोच देकर जिन्दा रहती है।
जीवन मे आगे चलते जाने कि कहानी के किरदारों को समझ हर बार होती है जो जीवन को किरदारों के संग ही तो समझ लेती है जो जीवन मे किरदारों कि कहानी के सहारे ही तो जीवन को परख लेती है उसके सहारे जिन्दा रहती है।
जीवन मे आगे चलते जाने कि समझ किस्सों मे हर बार होती है जो जीवन को कई हिस्सों मे आगे लेकर चलती है जो जीवन के हर मोड पर अलग असर करती जाती है जो जीवन मे हमे कई कहानियों के संग नई सोच को ताकद देकर रहती है।
जीवन मे आगे चलते जाने कि हिस्सों मे अलग तरह कि सोच होती है जो जीवन को अलग एहसास कि कहानी हर मौके मे देकर आगे मिलती है जो जीवन को समझ देकर नये किनारे कि खुशबू हर मौके मे देकर रहती है।
जीवन मे आगे चलते जाने कि जरुरत दिशाओं मे होती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर बढती है जो जीवन को कई कहानियों के संग एहसास कि धारा मे आगे चलती है जो जीवन को कई तरह के मकसद देकर रहती है।
जीवन मे आगे चलते जाने कि जरुरत जीवन कि ताकद बनती है जो जीवन को समझ देकर चलती जाये वह जीवन कि धारा को परख अलग तरह कि होती है जो जीवन को अलग तरह के मकसद देकर चलती है जो जीवन को मतलब देकर रहती है।

कविता. ९९६. किरणों को समझकर।

                                                            किरणों को समझकर।     
किरणों को समझकर आगे बढने कि जरूरत जीवन पर अलग उम्मीदे देकर आगे जाती है किरणों के अंदर एहसासों कि एक अलग पहचान शुरु रहती है किरणों के साथ जीवन कि हर सोच को अलग असर कर जाती है जो किरणों को ताकद अलग तरह का असर हर बार रोशनी दे जाती है।
किरणों को समझकर हर दिन की रोशनी जीवन मे हर मोड पर कोई अलग किनारे कि पहचान हो जाती है किरणों को परखकर आगे बढते जाने कि जरूरत हर मौके के अंदर कोई अलग पहचान रहती है जो जीवन को मतलब कई तरह के असर देकर जीवन को आगे लेकर चलती जाती है।
किरणों को समझकर आगे चलते जाने कि अहमियत हर दिशा मे रहती है जो जीवन को हर कोई ना कोई उम्मीद तो जीवन को कई तरह की दिशाए जिन्दा हो जाती है किरणों के साथ दुनिया हर बार कोई सही असर देकर आगे चलती हुई हर बार जीवन मे अक्सर जाती है।
किरणों को समझकर कहानी को आगे चलते जाने कि जीवन को अलग विश्वास देकर चलती है पर हर बार जीवन मे सही आवाज नही मिलती है गलत तरह कि रोशनी किरणों को अलग अंदाज देकर आगे लेकर चलती है जो किरणों के अंदर अलग तरह की खुशियाँ देकर जाती है।
किरणों को समझकर दुनिया हर मौके मे अलग एहसास देकर आगे जाती है दुनिया किरणों कि बातों को कई किस्सों मे अक्सर समझ लेती है किरणों को समझकर आगे लेकर चलती हुई उम्मीदे देकर आगे जाती है जो किरणों को मकसद देकर जाने कि जरूरत जीवन मे हर मोड पर जिन्दा हो जाती है।
किरणों को समझकर आगे जाते रहने कि जरूरत दुनिया मे हर राह पर होती है जो जीवन मे रोशनी कि अलग कहानी कहती हुई हर पल मे आगे जाती है जो किरणों के अंदर कई एहसास लेकर आगे बढती है जो जीवन को किरणों के संग हर पल मे जिन्दा रखकर दुनिया को आगे ले जाती है।
किरणों को समझकर आगे बढते जाने की जरूरत होती है क्योंकि किरणे कई तरह के एहसास देकर आगे जाती है किरणों को कई कहानियों मे अक्सर समझ लेने कि जरूरत हर पल को होती है जो ताकद किरणों को मिलती है उसे समझ लेने की अहमियत हर किस्से मे मतलब देकर जाती है।
किरणों को समझकर दुनिया कई लम्हो मे खुशियाँ पा लेती है जिन्हे समझ लेने कि जरूरत हर पल को होती है तो कुछ किरणे अक्सर जीवन को जलाती है जो ताकद किरणों मे हो उसे समझ लेने कि जरूरत जीवन कि धारा को अक्सर रहती है जो जीवन को कई मोड पर आगे लेकर जाती है।
किरणों को समझकर रोशनी हर मोड पर आगे लेकर रहती है जो किरणों को मतलब के अंदर को मकसद कई बार देकर आगे जाती है किरणों को समझ देकर आगे लेकर चलती रहती है जो किरणों को समझ देकर आगे चलते जाने कि जरूरत हर मौके मे आगे लेकर जाती है।
किरणों को समझकर दुनिया कई किसम कि पहचान दुनिया को परखकर आगे बढती जाती है किरणों को परखकर ही तो दुनिया हर बार अक्सर नई पहचान देकर जाती है जो जीवन को कई तरह के विश्वास दुनिया को देकर जाती है जीवन मे हर एक किरण को समझ लेने कि जरूरत अहम नजर आ जाती है। 

Tuesday, 18 October 2016

कविता. ९९५. आसमान के सितारे।

                                        आसमान के सितारे।
आसमान के सितारों पर एक अलग रोशनी रहती है जो सितारों कि चमक को अलग अंदाज मे बयान करती रहती है जो रोशनी सितारों से मिले वह एहसासों को छूँकर गुजरती रहती है जो जीवन मे सितारों संग जीवन कि कहानी कहती रहती है।
आसमान के सितारों पर चमक होती है जो सितारों को एहसास अलगसा देकर चलती है जो आसमान के अंदर जीवन कि चमक जिन्दा रहती है जो जीवन को आसमान कि खुबसूरती को समझ अलग तरह कि होती है जो आगे लेकर चलती रहती है।
आसमान के सितारे पर उजाले कि कहानी बनती है जो जीवन मे आसमान को मतलब और मकसद अलग तरह के दे जाती है क्योंकि हर सितारे के अंदर उम्मीदे अलग तरह कि रहती है जो सितारों कि कहानी को हर एक मौके मे अलग समझ देकर रहती है।
आसमान के सितारों पर जीवन कि कहानी लिखी हुई रहती है जो सितारों को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर बार आसमान को समझाकर चलती है जो आसमान के अंदर कई कहानियाँ जिन्दा होती है जो आसमान को कई सितारे देकर रहती है।
आसमान के सितारे पर जीवन कि कहानी बनती है जो आसमान के अंदर कई सितारों कि समझ देकर चलती है जो सितारों को कई एहसास मे जिन्दा करती रहती है जो जीवन को अलग समझ देकर आगे बढती जाती है जो सितारों मे जिन्दा रहती है।
आसमान के सितारे पर जीवन कि धारा कई खुबसूरत एहसासों मे जिन्दा रहती है जो आसमान के सितारो मे कई किसम के एहसासों कि सोच रहती है आसमान के सितारे पर जीवन कि कहानी चुपके से अक्सर लिखी हुई रहती है।
आसमान के सितारों पर जीवन कि कहानी हर मौके पर जिन्दा हो जाती है जो आसमान को समझ अलग तरह कि हर पल मे दे आगे बढती है जो आसमान के सितारो मे ही अपनी दुनिया को जिन्दा रखती है जो आगे बढती रहती है।
आसमान के सितारों पर कुछ तो एहसास कि दुनिया जिन्दा रहती है जो सितारों को अलग तरह कि सोच और समझ देकर आगे चलती है जो सितारों मे लिखी होती है वह किस्मत जीवन को हर मोड पर खुबसूरती का एहसास देकर जिन्दा रहती है।
आसमान के सितारों पर रोशनी एक खुबसूरत एहसास देकर चलती है जो सितारों मे ही जीवन को अलग विश्वास देकर आगे बढती है क्योंकि आसमान के सितारों मे अलग समझ मिलती है जिसे परखकर आगे बढते रहने कि जरुरत रहती है।
आसमान के सितारे पर जीवन कि अलग तरह कि चमक हर बार रहती है सितारों मे रोशनी जीवन को अलग एहसास देकर आगे बढती है क्योंकि आसमान को उजाले कि किरण उनसे हर बार मिलती है जिनमे सितारे कि चमक को समझ लेने कि ताकद रहती है।

कविता. ९९४. राहों से बना जीवन।

                                               राहों से बना जीवन।
हर राह पर जीवन को जीने कि जरुरत हर बार मिलती है जो जीवन मे राहों को मतलब देकर आगे बढती रहती है क्योंकि राह को समझकर ही दुनिया हर बार उम्मीदे देकर आगे लेकर बढती जाती है जो राहों को मतलब देकर चलती है।
हर राह पर जीवन को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन मे राह को अलग समझ देकर आगे बढती है क्योंकि राह ही तो जीवन कि उम्मीद होती है जो राहों मे ही दुनिया को अलग एहसास देकर आगे चलती है।
हर राह पर जीवन को अलग किस्सों मे समझ अलग किसम कि देकर आगे जाती है क्योंकि हर राह मे जीवन को अलग तरह कि सोच होती है जो जीवन को अलग मकसद और सोच देकर जाती है राह अक्सर आगे बढती हुई चलती है।
हर राह पर जीवन को कुछ अलग कहानी मिलती है जो जीवन कि समझ हर मौके पर बदलती हुई जाती है क्योंकि राह को परखकर ही तो दुनिया कई कहानियाँ कहती जाती है जो राहों को समझकर आगे बढकर चलती है।
हर राह पर जीवन को अलग तरह कि सोच के साथ समझ लेने कि अहमियत हर बार रहती है जो जीवन मे कई राहों को समझकर ही आगे लेकर जाती है जो राहों को परख अलग तरह कि मिलती नजर आती है जो जीवन मे उम्मीदे देकर चलती है।
हर राह पर जीवन को अलग तरह कि ताकद मिलती जाती है क्योंकि राहों के साथ ही मौकों कि कहानी मिलती नजर आती है हर राह को कई किस्सों मे समझ लेने कि जरुरत जीवन को होती है क्योंकि राहों मे ही मोड पर खुशियाँ चलती है।
हर राह पर जीवन को कई किस्सों मे परखकर जाने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि राहों को समझकर ही तो दुनिया को नई कहानी मिलती है जो राहों को अलग मतलब देकर आगे बढती है क्योंकि वह राहों से बनकर आगे चलती है।
हर राह पर जीवन को कई किनारों से समझ लेने कि जरुरत हर बार रहती है क्योंकि राहों मे ही तो दुनिया को समझ लेने कि जरुरत हर किनारे मे हर बार होती है जो जीवन मे कई किस्सों मे राहों को समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत होती है जो आगे लेकर चलती है।
हर राह पर जीवन को कई कहानियों मे समझकर उनके किस्सों मे हमे आगे जाने कि आदत रहती है क्योंकि राह ही तो जीवन कि कहानी बताती है जो राहों मे हर मौके पर अलग तरह का एहसास देकर आगे जाती है जो जीवन को अलग मकसद देकर चलती है।
हर राह पर जीवन को कई मकसद से ही तो समझ लेने कि जरुरत हर मौके मे रहती है जो जीवन कि हर राह को रोशन करती जाती है क्योंकि राहों मे ही तो दुनिया बनती है जिसे हर हाल मे समझ लेने कि जरुरत रहती है जो जीवन को आगे लेकर चलती है।

Monday, 17 October 2016

कविता. ९९३. मेहनत के साथ।

                                          मेहनत के साथ।
हर मेहनत के साथ जीवन कि कहानी को अलग समझ मिलती है जो मेहनत को अलग किसम कि पहचान देकर आगे बढती है क्योंकि मेहनत ही तो इन्सान कि जरुरत लगती है जो इन्सान को इन्सानियत का एहसास देकर चलती है।
हर मेहनत के साथ जीवन कि जरुरत बदलती रहती है जो मेहनत को अलग किसम का मकसद देकर चलती है जो मेहनत को परख दे जाये वह मेहनत जो जीवन को अलग एहसास देकर आगे बढती है मेहनत ही अक्सर आगे चलती है।
हर मेहनत के साथ जीवन कि अहमियत हर बार रहती है जो हर मौके पर जीवन को अलग तरह कि ताकद हर बार देकर आगे जाती है हर मेहनत कि कहानी दुनिया को अलग तरह का एहसास जस्बात के साथ देकर रहती है जो आगे चलती है।
हर मेहनत के साथ जीवन कि कहानी किसी अलग तलाश मे निकल जाती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे बढते जाने कि दिशाए देकर बढती है जो जीवन मे मेहनत को समझ अलग किसम कि हर धारा के साथ देकर आगे चलती है।
हर मेहनत के साथ जीवन कि हर पल कि कहानी को अलग किसम कि समझ मिलती है जो मेहनत को कई किस्सों मे आगे लेकर जाती है क्योंकि मेहनत के सहारे ही तो जीवन कि कहानी हर पल हर मोड पर आगे चलती है।
हर मेहनत के साथ दुनिया कई रंगों मे चलती है जो मजा मेहनत से हासिल होता है क्योंकि मेहनत ही तो जीवन कि जरुरत हर बार रहती है जो चमक मेहनत से आ जाती है वह आसानी से हासिल नही होती है उसे पाने कि चाहत ही तो आगे लेकर चलती है।
हर मेहनत के साथ जीवन कि कहानी हर मौके पर अलग एहसास देकर आगे बढती है क्योंकि मेहनत ही तो जीवन कि जरुरत हर बार रहती है जिसे समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर बार पडती है क्योंकि मेहनत ही तो अहम एहसास देकर चलती है।
हर मेहनत के साथ जीवन कि धारा कई किस्से मे जिन्दा रहती है क्योंकि मेहनत ही तो जीवन कि सबसे बडी जरुरत होती है जो जीवन कई रंगों मे आगे लेकर जाती है वह मेहनत ही तो जीवन कि ताकद बनकर आगे चलती है।
हर मेहनत के साथ जीवन कि दिशाए बदलती जाती है जो जीवन मे मेहनत कि कहानी अलग किस्सों मे अक्सर बताती है क्योंकि मेहनत ही तो जीवन कि कहानी लिखती जाती है क्योंकि मेहनत ही कई किस्सों कि कहानी देकर आगे चलती है।
हर मेहनत के साथ जीवन मे किस्सों को समझ लेने कि जरुरत हर मोड पर रहती है जो जीवन को आगे बढाने मे अपनी मेहनत बताती है जो जीवन मे कई किसम कि ताकद देकर आगे चलते रहने कि उम्मीदे देकर आगे चलती है।

कविता. ९९२. हर पडदे के पार।

                                                  हर पडदे के पार।
हर पडदे के पार कोई आहट तो छुपी रहती है जो जीवन मे हमे अक्सर आगे लेकर चलती है जो पडदे के पार अलग एहसास से जुडी रहती है जो मन को चुपके से आगे लेकर जाती रहती है जो पडदे के पार कोई तो कहानी रखती है।
हर पडदे के पार कोई एहसास कि अलगसी खुशबू जिन्दा होती है जो पडदों को कई बार अलगसी पहचान देकर आगे चलती है जो जीवन को कई कहानियों मे समझ देती है जो जीवन मे कई किस्सों को समझ अलग किसम कि देकर दुनिया को आगे रखती है।
हर पडदे के पार एक आहट छुपी रहती है जो जीवन मे हर पल पडदे के पार कोई ना कोई तो कहानी कहती है जो पडदों को अलग एहसास देकर आगे चलती जाती है जो पडदे के पिछे कि आहट को चुपके से हमारी आदत बनाकर रखती है।
हर पडदे के पार एक आहट छुपी होती है जो जीवन को कई किस्सों मे मकसद देकर चलती है जो पडदों के पिछे लगाकर चलती है पडदों के पार एक अलग तरह कि आदत जिन्दा रहती है जो जीवन मे हर बार उम्मीदे देकर आगे रखती है।
हर पडदे के पार जीवन मे एहसास को नया नाम देकर दुनिया आगे बढती है जो जीवन को अलग किसम कि सोच हर पल देकर चलती है पडदों के पिछे ही तो दुनिया हर बार कोई अलगसा एहसास देकर जीवन को आगे रखती है।
हर पडदे के पार जीवन कि कई कहानियाँ हर पल जिन्दा रहती है जो पडदों के संग ही मन को तसल्ली हर बार देकर चलती है क्योंकि पडदों के पिछे ही तो अक्सर कई एहसासों कि कहानी हर बार हमे जिन्दा कर के नई रफ्तार देकर आगे रखती है।
हर पडदे के पार जीवन कि एक नई दिशाए बनती है जो जीवन को बनाती है और हमे बदलकर आगे बढती है जो पडदों के सहारे ही तो कई बार हकिकत को छुपाकर आगे चलती है पडदों के पार ही दुनिया को आगे रखती है।
हर पडदे के पार जीवन कि हकिकत हर पल आगे लेकर चलती है जो हमे कई किनारों से लेकर आगे बढती है क्योंकि पडदों के पार ही तो दुनिया जिन्दा रहती है जो जीवन को अलग तरह के एहसासों के साथ अक्सर आगे रखती है।
हर पडदे के पार जीवन कि कहानी कई किस्सों मे बदलाव देकर चलती है जो पडदों के पिछे कि हकिकत को कई किसम कि साँसे लेकर चलती है क्योंकि पडदों के पिछे कि हकिकत ही तो दुनिया को ताकद देकर जिन्दा रखती है।
हर पडदे के पार जीवन कि धारा बदलती रहती है जो पडदों के पिछे कि हमारी सोच को उजागर करती है क्योंकि कई बार पडदे के पिछे कि सोच छुपाने कि चाहत हमारी नही होती है पर अनजाने मे ही वह सोच उस मकाम पर रह जाती है उस लिए जीवन कि गाडी हमे आगे नही रखती है।

Sunday, 16 October 2016

कविता. ९९१. शीतलता पानी के अंदर।

                                         शीतलता पानी के अंदर।
शीतलता पानी के अंदर कई तरह के एहसासों को मकसद देकर जाती है जो पानी के एहसासों को समझ अलगसी देकर चलती जाती है जो पानी मे हमारी दुनिया को समझकर आगे बढती जाती है जो पानी से शीतलता का एहसास पाती है।
शीतलता पानी के साथ कई कहानियाँ कहती चली जाती है जो पानी को परख ले वह सोच अलग एहसास अक्सर देकर आती है जो पानी के अंदर का मतलब समझ लेना चाहती है जो पानी के एहसासों को परख अलग तरह कि देकर जीवन मे मतलब पाती है।
शीतलता पानी के पास कोई अलग संगीत सुनाती है जो पानी के अंदर गीत के साथ अलग पहचान देकर जाती है पानी के आवाज मे अलग कहानी हर मौके पर जिन्दा रहती है जो पानी के आवाज को अलग तरह के किस्सों मे पहचान दे पाती है।
शीतलता पानी के करीब आकर एहसास अलगसा देकर चलती है शीतलता एक खासियत है जो जीवन को कई कहानियों मे जिन्दा रखती है जो पानी मे ही तो एहसास अलगसा देकर आगे बढती है पानी के करीब ही तो वह खुशियाँ पाती है।
शीतलता पानी के अंदर मन को कहानी अलगसी देकर चलती जाती है जो पानी को कई किस्सों मे परखकर नई कहानी देकर चलती जाती है क्योंकि शीतलता ही तो जीवन को अलग तरह कि साँसे देकर आगे जाती है रोशनी देकर एहसास पाती है।
शीतलता पानी के एहसासों मे दुनिया देकर आगे चलती है जो मन को चुपचाप कहती है कि जीवन मे शीतलता ही अक्सर हमारे काम आ जाती है जो जीवन मे शीतलता कि नई परीभाषा देकर चलती जाती है जो शीतलता कि ताकद मिल पाती है।
शीतलता पानी के अंदर अलग कहानी हर बार दिखाती है जो जीवन को हर मौके पर कोई अलग एहसास देकर चलती है जो शीतलता जीवन को जिन्दा रखती जाती है वह शीतलता ही तो मन कि सच्ची खुशियाँ देकर उम्मीदे पाती है।
शीतलता पानी के अंदर कई बार बताती है हर चीज अगर शीतलता मे घुल जाये तो सुंदरता लेकर आती है वह जीवन मे अलग तरह कि शीतलता देकर आगे चलती जाती है जो जीवन को शीतलता के एहसासों के संग रोशनी देकर उजाला पाती है।
शीतलता पानी के अंदर कई एहसासों को समझ अलगसी देकर आगे चलती रहती है जो जीवन मे शीतलता का अलग मकसद देकर आगे बढती जाती है जो जीवन मे शीतलता को सबसे ज्यादा अहम बताती है जो जीवन मे खुशियाँ और उम्मीदे पाती है।
शीतलता पानी के संग जीवन कि कहानी को समझ अलग तरह कि देकर जाती है वह कहती है चाहे किसी भी राह से गुजरे शीतलता ही तो अपना घरोंदा बनाती है शीतलता ही तो जीवन कि कहानी को मतलब और मकसद बता पाती है।

कविता . ९९०. फूलों के साथ पत्ते।

                                                              फूलों के साथ पत्ते।
हर बाग मे फूलों कि खुशबू को अलग मतलब बनते जाते है क्योंकि फूलों से ही बाग मे हम बहार लाते है एक फूल माना कि बाग का चिराग है पर बिना पत्तों के कहाँ हम बाग को समझ पाते है हम बागों मे एहसास लाते है।
हर बाग फूलों को कई रंगों मे एहसास देकर चलती है जो फूलों के अंदर अलग विश्वास देकर आगे बढती जाती है जो फूलों को कई किसम के मतलब देकर दुनिया को कई रंगों पर हर बार लगती है जिसे हम जीवन मे जी कर आगे लाते है।
हर बाग मे फूलों को समझकर एहसास करते हुए जाने कि जरुरत होती है क्योंकि फूलों कि कोमलता को अलग तरह कि समझ देकर चलती है जिसे जीवन मे परख लेने कि जरुरत होती है पर पत्तों से ही उनकी सुंदरता बनती है जिसको हम आगे लाते है।
हर बाग मे फूलों कि खास जगह होती है पर वह पत्तों के बीच मे ही रहती है क्योंकि पत्तों के साथ ही तो फूलों कि खुशियाँ रहती है जो जीवन को मतलब देकर आगे बढती है जिसे हम जीवन मे आगे लेकर जाते है हम खुशियों को अक्सर आगे लाते है।
हर बाग मे फूलों का एहसास जुदा होता है फूलों का जीवन पत्तों मे ही होता है फूलों को परखकर ही तो बगीचा बनता है पत्तों के भीतर फूलों का एहसास रहता है जो पत्तों मे ही दुनिया को जिन्दा करता है जो जीवन मे हर बार खुशियाँ हासिल करता है इसलिए तो दुनिया मे समझ लाते है।
हर बाग मे पत्तों को अलग किसम का मतलब जीवन मे आता है फूलों के अंदर पत्तो के अंदर कई किसम का एहसास जिन्दा हो जाता है पत्तो मे ही तो फूलों का एहसास रहता है जीवन मे हर बार खुशियाँ लेकर आता है पत्तों ही  फूलों के एहसास के संग जीवन का मतलब लाते है।
हर बाग मे फूलों से ज्यादा पत्तो कि जरूरत का एहसास होता है पत्तो के अंदर फूलों कि अलग सोच का एहसास होता है  जीवन को अलग सोच देकर जाता है फूलों के अंदर पत्तो को अलग एहसास हर किस्से मे जीवन को कई एहसास को परख लेना जरुरी रहता है पत्ते ही तो फूलों के लिए उम्मीदे लाते है।
हर बाग मे फूलों के अंदर पत्तों का एहसास होता है जो पत्तों का अलग मतलब होता है क्योंकि फूलों के अंदर पत्तों के अंदर खूबसूरती का एहसास होता है फूलों के अंदर खूबसूरत एहसासों कि पहचान देता है फूलों के अंदर कई चीजे पत्तो के साथ ही हम आगे लेकर लाते है।
हर बाग मे फूलों के अंदर पत्तों को समझ लेना ही जरूरी होता है फूलों मे ही तो पत्तों का एहसास रहता है जो जीवन मे अलग विश्वास हर बार देकर जाता है हम फूलों को पत्तों के बीच मे ही तो पाते है क्योंकि पत्तों मे फूल अपनी खुशियाँ पाते है पत्ते ही फूलों कि मुस्कान लाते है।
हर बाग मे फूलों के अंदर हम हर बार जो जीवन जी लेते है हम हर मोड पर फूलों मे खुशियाँ हासिल करना चाहते है क्योंकि पत्तो मे ही तो फूलों की खुशियाँ जिन्दा रहती है क्योंकि पत्ते ही फूलों के सबसे अच्छे साथी होते है तो बिना पत्तो के फूलों मे खुशियाँ हम कहाँ लाते है। 

Saturday, 15 October 2016

कविता. ९८९. कुदरत के अंदर।

                                          कुदरत के अंदर।
कुदरत के अंदर पहचान अलगसी होती है जो कुदरत को अलग तरह के एहसासों से जोडकर चलती है जो कुदरत को और पहचान अलगसी देकर आगे बढती है जो जीवन को कुदरत के कई करिश्मे कहती रहती है।
कुदरत के अंदर पहचान हर शक्स कि रहती है जो जीवन मे इन्सान को अलग एहसास के सहारे आगे लेकर चलती रहती है जो कुदरत को कई किस्सों मे एहसास अलगसा देकर आगे बढती है जो कुदरत को समझ अलग देकर रहती है।
कुदरत के अंदर पहचान हर किस्से को अलग किसम कि शक्ल देती रहती है जो कुदरत को समझ अलग तरह कि देकर चलती है जो कुदरत मे जीवन को कई किस्सों मे कहती है जो कुदरत को कई हिस्सों मे जिन्दा रखती रहती है।
कुदरत के अंदर अंदाज को समझ देकर चलती है वह सोच हमेशा आगे चलती जाती है क्योंकि कुदरत ही तो जीवन कि कहानी को हर बार हर पल अलग एहसासों मे कहती है जिसे समझ लेने कि ताकद जीवन मे रहती है।
कुदरत के अंदर अंदाज को समझकर दुनिया को अलग तरह के मकसद से आगे लेकर चलती है जो कुदरत को समझ हर पल मिलती रहती है जो कुदरत के साथ कई तरह कि समझ हर पल देकर आगे बढती रहती है।
कुदरत के अंदर कई नजारों कि ताकद होती है जो जीवन मे कुदरत को कई एहसासों के संग आगे लेकर चलती है जो कुदरत को अलग तरह कि समझ और पहचान देकर आगे बढती है जो जीवन मे कुदरत को कई एहसास देकर जिन्दा रहती है।
कुदरत के अंदर कई किस्सों को समझकर दुनिया आगे चलती है जो कुदरत मे कई किस्सों को समझ अलग किसम कि देकर आगे जाती है जो कुदरत को कई कहानियों के साथ आगे लेकर चलती है जो जीवन मे कई कहानियों कि दिशाए बनाती रहती है।
कुदरत के अंदर कई खुबसूरत चीजे जीवन को अलग किसम कि समझ देती है जो जीवन को हर मौके पर आगे लेकर चलती है जो जीवन को परख देकर चलती जाये वह जीवन कि ताकद भी कुदरत को एक अलग रंग देकर आगे रहती है।
कुदरत के अंदर कई रंगों मे पहचान हर बार मिलती है जो जीवन को कुदरत के कई रंगों के साथ चलती है जो जीवन मे कुदरत को पहचान कई किस्सों मे होती है कुदरत को समझ देकर आगे बढती जाती है जिसे परख लेने कि जरुरत हर पल रहती है।
कुदरत के अंदर कई किनारों से जीवन कि कहानी हर मौके पर होती है जो जीवन को कई किसम के किनारे देकर चलती है जो जीवन को अक्सर अलग तरह कि सुबह देकर आगे बढती है जो जीवन मे कुदरत के अंदर कई एहसास देकर रहती है।

कविता. ९८८. किसी तलाश मे जीवन।

                                               किसी तलाश मे जीवन।
किसी तलाश मे जीवन हर बार बढता है क्योंकि तलाश को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत हर मौके मे होती है क्योंकि तलाश को समझ लेने कि चाहत हर पल जीवन मे होती है जो जीवन मे कई किसम के किनारे देकर आगे चलती है।
किसी तलाश मे जीवन को नयी बातों का एहसास हर बार रहता है जो जीवन को कोई और ही तलाश देकर चलता है क्योंकि तलाश को परखकर ही तो जीवन हर बार होता है हर मोड को कोई अलग तरह कि तलाश हर मौके पर आगे चलती है।
किसी तलाश मे जीवन को परख लेने कि जरुरत हर कोने मे होती है जो जीवन मे कई किसम कि तलाश हमे आगे लेकर चलती जाती है जो जीवन को तलाश लब्ज का मतलब सिखाती जाती है क्योंकि तलाश ही आगे चलती है।
किसी तलाश मे जीवन को कुछ भी नही मिलता है तो किसी तलाश मे दुनिया आगे बढती जाती है जो जीवन मे तलाश कि अलग पुकार हर मौके पर देकर चलती है जो जीवन मे हर लम्हे को अलग तरह कि तलाश देकर आगे चलती है।
किसी तलाश मे जीवन को अलग किसम कि पुकार जीवन मे हर पल रहती है तलाश को परखकर ही तो आगे जाने कि जरुरत जीवन मे हर बार होती है तलाश मे ही जीवन को अलग एहसास हर मोड पर अक्सर मिलकर आगे चलती है।
किसी तलाश मे जीवन को समझकर आगे जाने कि जरुरत हर मोड पर होती है जो जीवन को अलग तरह का एहसास देकर मकसद के साथ चलती है क्योंकि तलाश ही तो जीवन कि आस होती है जो जीवन को अलग प्यास देकर आगे चलती है।
किसी तलाश मे जीवन को अलग तरह कि सोच को कई एहसासों मे किस्सों मे आगे लेकर हर पल जीवन को किसी और तरह कि ताकद हर बार देकर आगे चलती है क्योंकि तलाश ही तो जीवन कि जरुरत हर मोड पर अक्सर होती है जो आगे चलती है।
किसी तलाश मे जीवन को समझकर आगे बढती जाने कि जरुरत हर मोड पर रहती है जिसे परखकर आगे चलते जाने से ही जीवन कि सच्ची प्यास नजर आती है क्योंकि तलाश ही तो जीवन की सच्ची आस होती है जो हमे कई मौकों पर आगे चलती है।
किसी तलाश मे जीवन को समझकर आगे चलते जाने कि आदत कई कोनों पर होती है क्योंकि जीवन मे तलाश से ही दुनिया को अलग तरह कि खुशियाँ हर पल मिलती है क्योंकि बिना तलाश कि दुनिया नही बनती है जीवन मे तलाश ही आगे चलती है।
किसी तलाश मे जीवन को समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि जीवन के कई किस्सों मे सिर्फ तलाश ही नजर आती है पर हर बार वह तलाश बुरी नही लगती है हर बार उसकी बजह से जीवन कि कहानी अधूरीसी नही लगती है वह आगे चलती है।

Friday, 14 October 2016

कविता. ९८७. पल पल जीवन मे।

                                 पल पल जीवन मे।
पल पल जीवन मे एक अलग कहानी बनती है जो हर पल हमारी दुनिया को कई रंगों मे बदलती है जो पलों को कई तरह के एहसासों के संग अलग तरह कि खुशियाँ देकर चलती है जो हर पल मे जीवन को कई किस्सों मे बदलती रहती है।
पल पल जीवन मे एक अलग मकसद के अंदर कहानी अलगसी देती है जो हर पल मे आगे ले जाती हो वह जीवन कि निशानी बनती है जो हर पल के संग हमे अलग निशानी देकर चलती है जो पल को अलग किसम कि समझ देकर रहती है।
पल पल जीवन मे एक अलग किनारे को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत अक्सर रहती है जो हर पल को उमंग देने से वह जीवन को अलग तरह के एहसासों को अलग किसम कि समझ मिलती जाती है जो जीवन मे खुशियाँ देकर रहती है।
पल पल जीवन मे एक मौके के अंदर अलग तरह कि ताकद होती है जो जीवन मे हर पल को अलग किसम कि उम्मीदे देकर चलती है जो पल के अंदर ही जीवन को हर बार समझती जाती है जो जीवन को कई हिस्सों मे चुपचाप उम्मीदे देकर रहती है।
पल पल जीवन मे एक जरुरत हर मोड पर अक्सर होती है जो जीवन को कई पलों कि कहानी मे समझ अलग किसम कि देकर आगे बढती है जो पल मे ही दुनिया को समझकर आगे चलती है हर पल मे ही जीवन कि उम्मीदे जिन्दा रहती है।
पल पल जीवन मे एक मौके पर अलग तरह कि प्यास जिन्दा होती है जीवन को कई पलों कि कहानी हर बार अलग तरह कि सोच देकर आगे बढती है जो पलों के अंदर एहसास अलगसा देकर आगे बढती है जो जीवन को ताकद देकर रहती है।
पल पल जीवन मे एक अलग तरह कि सोच तो जिन्दा होती है जो जीवन को कई इशारों मे मकसद कई तरह के देकर आगे चलते हुए हर पल जाती है जो हर पल को कई तरह के किस्सों मे कई किसम के एहसासों को देकर आगे जाती रहती है।
पल पल जीवन मे एक नई तरह कि कोशिश जिन्दा होती है जो जीवन को कई किनारों मे कई किसम के इशारों के संग आगे लेकर चलती है जो जीवन मे हर एक पल के साथ एक पहचान देकर आगे चलती है जो पलों को आगे लेकर जाती रहती है।
पल पल जीवन मे एक अलग समझ लेने कि जरुरत होती है जो जीवन को कई पलों को समझकर आसान तरीके से आगे लेकर चलती है जो पल को कई तरह कि सोच देकर हर बार आगे बढते जाने कि उम्मीदे देकर आगे बढती रहती है।
पल पल जीवन मे एक अलग एहसास को समझ लेने कि जरुरत जीवन को होती है जो जीवन मे अक्सर रोशनी देकर रहती है जो हर पल मे हमे साँसों के एहसास देकर चलती है जो जीवन मे हर पल के अंदर एक अलग विश्वास देकर जिन्दा रहती है।

कविता. ९८६. मोड पर जीवन कि कहानी।

                                     मोड पर जीवन कि कहानी।
हर मोड पर जीवन कि कहानी जिन्दा रहती है जो कई मोड पर लिखी जाती है जो मोड को ताकद देकर आगे जाये मोड तो जीवन को हर पल कुछ अलग तरह का असर देकर हर पल आगे बढते चले जाते है जो जीवन को ताकद हर बार देकर जाते है।
हर मोड पर जीवन कि कोई अलग बात जिन्दा रहती है क्योंकि हर मोड पर कुछ तो लिखा रहता है पर जाने क्यूँ मोड पर ही जीवन मे कई बार इतना सोचते है हम ही जीवन बिना मतलब का बनाकर आगे बढता जाता है।
हर मोड पर जीवन कि कोई अलग धारा दिखती है जो जीवन मे हर मोड को परखकर आगे बढने से ज्यादा कभी कभी उन्हे अनदेखा करना ही जीवन मे अहम नजर आता है जिन्हे जीवन मे समझ लेना हर बार अहम बनता जाता है।
हर मोड पर जीवन कि कहानियाँ अलग बातों को जिन्दा करती हुई हर बार जाती है हर मोड पर जीवन कि कहानी हर लम्हे मे कोई अलग असर लाती है हर मोड को समझ लेना ही तो जीवन कि जरुरत लगती है यह एहसास जीवन कि चाबी बनता जाता है।
हर मोड पर जीवन कि धारा को समझकर हर लब्ज मे कुछ अलग तरह का असर रहता है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर चलती जाती है जो मोड देकर चलती है उन्हे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर अलग एहसास बनता जाता है।
हर मोड पर जीवन कि धारा को परख लेने कि जरुरत कई बार नही होती है पर वह जीवन कि चाहत बनती हुई आगे बढती जाती है हर मोड पर जीवन कि अलग कहानी हर मौके पर अलग तरह से अक्सर जिन्दा रहती है उस से जीवन बनाता जाता है।
हर मोड पर जीवन कि कहानी कई तरह कि सोच देकर आगे चलती जाती है जो जीवन को साँसे दे जाये वह कहानी हर मौके पर जरुरी लगती है जिसे हर मोड पर समझकर आगे बढते हुए जाना जरुरी लगता है उस मे जीवन नया उजाला देकर आगे बनता जाता है।
हर मोड पर जीवन के कई किस्सों को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत अक्सर रहती है क्योंकि हर मोड जीवन को अलग असर देकर जाता है पर मोड को जीवन मे बिना सोचे भी उस मोड पर अलग तरह असर हम पर बनाता जाता है।
हर मोड पर जीवन के कई किनारों को समझकर जीवन को परख लेना जरुरी लगता है पर अगर सही और सच्ची सोच से चले तो जीवन को अलग तरह का असर और मकसद देकर आगे जाता है जो जीवन को अलग मतलब के साथ बनाता जाता है।
हर मोड पर जीवन के साथ कई कहानियों को समझ लिया जाता है क्योंकि मोड पर ही तो दुनिया कि कहानी लिखी जाती है क्योंकि मोडों मे जीवन को समझ लेने कि ताकद रहती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर जीवन को बनाता जाता है।

Thursday, 13 October 2016

कविता. ९८५. हर बारीश को बूँदों का एहसास।

                                              हर बारीश को बूँदों का एहसास।
हर बारीश को बूँदों को एहसास जुदा होते है जो बूँदों को समझ लेते है उनकी प्यास के मतलब जुदा होते है हम बूँदों के एहसासों को हर मौके पर परख लेते है जिन्हे बूँदों कि चाहत रहती है वह बूँदों को आसानी से समझ लेते है।
हर बारीश को बूँदों मे कुछ अलग एहसास कि तलाश रहती है जो पानी से बूझना पाये वह प्यास हर बार अलग एहसास देती है जो बूँदों के अंदर का सपना हर लम्हे मे जिन्दा करती रहती है बूँदों मे जीवन को हम आसानी से समझ लेते है।
हर बारीश को बूँदों मे कई कहानियाँ दिखती है जो जीवन मे कई एहसासों को समझकर परखकर आगे चलती जाती है बारीश कि हर बूँद अलग सोच देकर आगे चलती है बूँदों के शीतलता से ही तो दुनिया को आसानी से समझ लेते है।
हर बारीश को बूँदों मे जो प्यास रहती है वह जीवन के हर किस्से मे जिन्दा रहने का एक अलग एहसास देकर चलती है जो बूँदों को समझकर आगे बढते जाने कि कहानी कहती है जीवन मे बूँदों को एक अलग एहसास रहता है जिसे हम चाहे तो आसानी से समझ लेते है।
हर बारीश को बूँदों के अंदर कुछ अलग कहानी हर पल दिखती है जो जीवन को अलग किसम कि चाहत हर बार देकर चलती है क्योंकि बूँदों के अंदर ही तो अक्सर जीवन कि प्यास रहती है जो बूँदों को अलग तरह कि समझ देती है जिसे हम आसानी से समझ लेते है।
हर बारीश को बूँदों मे ही तो चीजों ढूँढने कि एक अजबसी आदत होती है जो बूँदों को कई तरह के मकसद देकर चलती है जो बूँदों को हर कोने मे एहसास देकर जीवन को नया विश्वास देकर जाती है जिसमे हम जीवन को आसानी से समझ लेते है।
हर बारीश को बूँदों मे कई तरह के सपने तो आगे आते है जो जीवन को अक्सर नई खुशियाँ और एहसास देकर जाते है क्योंकि बूँदों को समझकर जीवन मे अलग तरह के एहसासों को आगे बढते जाने कि जरुरत होती है जो जीवन कि ताकद को आसानी से समझ लेती है।
हर बारीश को बूँदों मे सपनों कि कहानी को समझ लेना जीवन कि जरुरत रहती है जो बूँदों को समझ अलग किसम कि रहती है जो बारीश के बूँदों मे अलग तरह के सपने हर पल देकर चलती है वह बूँद जीवन को एक अलगसी आस आसानी से समझ लेती है।
हर बारीश को बूँदों मे कई किसम के रोशनी के एहसास जीवन को जिन्दा हर बार रखते है जो जीवन मे बूँदों के अंदर छुपे सपनों का एहसास हर बार जीवन को देकर चलते है क्योंकि बूँदों मे ही तो जीवन कि कहानी को अलग तरह एहसास आसानी से समझ लेते है।
हर बारीश को बूँदों मे अलग सपना जिन्दा हो जाता है जो सपनों के अंदर कि कहानी को अलग एहसास देकर आगे बढता है जो बूँदों को अलग किसम कि समझ देकर आगे बढता रहता है जो बूँदों के अंदर के एहसास मे हर बार जिन्दा रहता है उस एहसास को समझ लेना चाहते है हम बूँदों को चाहे तो आसानी से समझ लेते है।

कविता. ९८४. हर मौके के अंदर।

                                             हर मौके के अंदर।
हर मौके के अंदर कई किनारों को समझकर ही तो दुनिया जिन्दा रहती है जो मौकों मे ही लम्हे देकर आगे चलती जाती है जो लम्हों मे ही तो जीवन कि तलाश देती है जो जीवन को अलग तरह कि प्यास देकर हर बार मौके संग आगे बढती रहती है।
हर मौके के अंदर कई किस्सों कि जरुरत होती है जो जीवन को अलग समझ एहसास देकर चलती जाती है क्योंकि मौकों मे ही तो जीवन कि प्यास रहती है जो मौकों के सहारे से ही जीवन को आगे लेकर चलती है जो जीवन मे आगे बढती रहती है।
हर मौके के अंदर कई कहानियाँ जिन्दा होती है जो जीवन को अलग किसम के एहसासों के संग हर मोड पर लेकर चलती है जो मौकों के संग जीवन कि कहानी को समझ अलगसी देकर आगे लेकर चलती जाती है जो मौकों पर आगे बढती रहती है।
हर मौके के अंदर कई किनारों को समझकर दुनिया आगे बढती जाती है जो मौकों के साथ खुदको जोडते जाने कि आदत देकर चलती है क्योंकि मौकों मे ही कहानियाँ जिन्दा हर बार रहती है जो जीवन को अलग तरह कि समझ देकर आगे बढती रहती है।
हर मौके के अंदर कई किस्सों मे जिन्दा रहना हर बार जरुरी लगता है जो मौकों मे उजाला दे जाये वह सोच हर बार अहम रहती है क्योंकि मौकों मे ही तो किसी बात को परख लेना हर मोड पर अलग एहसास देकर रहता है जो जीवन मे आगे बढती रहती है।
हर मौके के अंदर कई किनारों को समझकर जाना हर पल जरुरी लगता है क्योंकि मौका तो बस एक पल होता है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर मोड पर रहती है जो दुनिया को कई तरह के मतलब देकर हर पल को जीवन मे आगे बढती रहती है।
हर मौके के अंदर कई किस्सों को समझकर आगे चलती जाती है क्योंकि मौकों मे ही तो दुनिया कि कहानियाँ छुपी रहती है जो जीवन कि कई सच्चाई को एहसास देकर आगे चलते जाती है क्योंकि मौकों मे ही तो दुनिया कि कहानी आगे बढती रहती है।
हर मौके के अंदर कई किनारों को समझकर आगे चलते जाने कि आदत जीवन को अलग तरह का एहसास देकर हमे उम्मीदे देकर चलता है क्योंकि मौकों मे ही तो जीवन कि कहानी बनती और बिघडती रहती है क्योंकि मौकों से दुनिया आगे बढती रहती है।
हर मौके के अंदर कई किस्सों को समझकर आगे चलती जाती है क्योंकि किस्सों मे ही हमारी दुनिया बनती हुई जाती है हर मौके को समझ लेने कि जरुरत जीवन को अलग एहसास मे हर बार अलग किनारा देकर आगे बढती रहती है।
हर मौके के अंदर कई तरह कि सोच हर पल जिन्दा जरुर रहती है जिसकी पहचान हर मौके पर हर मोड पर अक्सर असर करती जाती है हर मौके के अंदर अलग पहचान रहती है जो जीवन को हर पल मे बदलती रहती है जो जीवन के हर मौके पर आगे बढती रहती है।

Wednesday, 12 October 2016

कविता. ९८३. राह तो हर पल।

                                           राह तो हर पल।
राह तो हर पल अपनी मंजिल तय ही रखती है जो राह को समझ लेती है वह मंजिल अक्सर जीवन मे जरुरी रहती है जो राह चुननेवाला है उसे ही तो मंजिल का पता नही समझ पाता है जो जीवन मे उम्मीदे हर मौके पर देकर आगे बढता जाता है।
राह तो हर पल अपनी मंजिल के एहसासों तक अक्सर बदलती रहती है जो जीवन मे बदलाव दे वह राह कई किस्सों मे जीवन को नई पहचान देकर चलती है राह तो वह चीज है जिसकी मंजिल तो जीवन मे पहले से ही तय रहती है जीवन मे उस ओर से ही बढती जाती है।
राह तो हर पल अपनी मंजिल को कई किस्सों मे कहती है राहों के अंदर ही अपनी दुनिया जिन्दा रहती है उस दुनिया को समझकर ही तो राह को समझ लिया जाता है क्योंकि मंजिल के सहारे ही तो जीवन कि कहानी मे वह रंग आता है जो आगे बढता जाता है।
राह तो हर पल अपनी मंजिल को समझकर आगे चलते जाना होता है जो राहों को किस्सों मे बदलता जाये वह एहसास जीवन मे हर पल जुदा रहता है जो राहों को हर मौके मे उम्मीदे देकर अक्सर लेकर आगे बढता जाता है।
राह तो हर पल हर मौके को अलग तरह का एहसास देकर आगे जाना जरुरी रहता है राहों के अंदर कई पलों को समझकर जीवन मे आगे बढते जाना अहम रहता है जो जीवन को हर एक साँस मे मतलब देकर आगे बढता जाता है।
राह तो हर पल हर मोड के अंदर अलग मजा देकर हर बार चलती है हमे राहों को परखकर जीवन मे आगे बढते जाना होता है उन राहों को समझकर ही तो दुनिया को समझ लेना कई किस्सों मे आता है किनारों से आगे बढता जाता है।
राह तो हर पल हर किनारे के अंदर अलग सोच देकर हर बार आगे चलती जाती है उस सोच को समझकर आगे बढना हर बार जरुरी लगता है जो राहों के अंदर कई किस्सों कि पहचान देकर आगे बढता जाता है।
राह तो हर पल हर कोने मे अलग एहसास देकर चलती है उस राह कि मंजिल को समझकर आगे चलते रहने कि आदत होती है हमे राह को मंजिल तक जाने कि जरुरत हर बार होती है पर इन्सान अक्सर बिना मंजिल को समझे आगे बढता जाता है।
राह तो हर पल हर मौके पर कुछ अलग एहसास देकर आगे बढती है क्योंकि हर मंजिल को राह कि तलाश रहती है जीवन मे कई किनारों को समझकर आगे चलती जाती है जो हर राह का मुसाफिर तो बस मंजिल तक आगे बढता जाता है।
राह तो हर पल जीवन को अलग एहसास देकर चलती है क्योंकि राहों मे ही रफ्तार रहती है जो जीवन को कई रंगों कि ख्वाईश देकर चलती है राह वही अक्सर अहम नजर आती है क्योंकि मंजिल कि ओर ही तो जीवन आगे बढता जाता है।

कविता. ९८२. हरीयाली को समझ लेना।

                                                हरीयाली को समझ लेना।
हरीयाली को समझ लेना ही तो जीवन कि जरुरत होती है जो जीवन को हरीयाली के सहारे ही तो समझ लेती है जो जीवन मे हरीयाली भरी सुबह हर बार होती है पर उसकी तलाश भी हर बार जरुरी लगती है जिसकी हर पल जीवन को चाहत होती है।
हरीयाली को समझ लेना ही तो हर मौके कि जरुरत होती है क्योंकि हरीयाली ही तो जीवन कि साँसे एक धारा से जोड देती है हर बार हरीयाली कि प्यास ही तो जीवन को अलग मतलब देकर आगे बढती जाती है क्योंकि हरीयाली ही तो जीवन कि चाहत होती है।
हरीयाली को समझ लेना ही तो जीवन को साँसे देकर जाती है जो जीवन को कई किसम कि खुशबू देकर आगे बढती जाती है जो जीवन मे हरीयाली को समझ अलग तरह कि ताकद देकर आगे बढती जाती है जिसमे जीवन कि चाहत होती है।
हरीयाली को समझ लेना ही तो जीवन कि सुबह होती है जो जीवन मे नई शुरुआत होती है जो जीवन को अलग रंगों से भर देती है जो हरीयाली मे अलग तरह कि पुकार बनकर आगे बढती है हरीयाली ही तो जीवन कि सच्ची आस होती है।
हरीयाली को समझ लेना ही तो जीवन कि ताकद होती है जो अक्सर किसी कोने मे छुपी रहती है पर हमे उसे समझ लेने कि जगह दूसरे चीजों मे ही दिलचस्पी रहती है जो जीवन को हर मौके पर बदलाव देकर चलती है जिसे समझ लेने कि चाहत होती है।
हरीयाली को समझ लेना ही तो जीवन को कितनी मोड पर जरुरी लगती है जो जीवन को कई एहसासों कि ताकद देकर आगे बढती है क्योंकि हरीयाली ही तो जीवन कि ताकद बनती है जो जीवन को खुशियों कि सौगाद देकर उम्मीदे देने कि चाहत होती है।
हरीयाली को समझ लेना ही तो जीवन मे सही दिशा कि शुरुआत होती है जो जीवन को कई किस्सों मे आगे लेकर चलती है जो जीवन को हर बार अलग किसम के एहसास देकर चलती है हरीयाली कि जीवन मे हर बार एक अलग चाहत होती है।
हरीयाली को समझ लेना ही तो जीवन को अलग किसम कि ताकद रहती है जो जीवन को हरीयाली के संग अलग किसम कि समझ देकर हर बार हर कहानी मे आगे बढती है क्योंकि जीवन को हरीयाली के संग आगे चलते जाने कि चाहत होती है।
हरीयाली को समझ लेना ही तो जीवन कि धारा को अलग समझ देकर चलती है क्योंकि हरीयाली के अंदर कई किनारों को समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर पल के अंदर अक्सर रहती है जो मन मे अलग तरह कि सच्ची रोशनी कि चाहत होती है।
हरीयाली को समझ लेना ही तो जीवन कि कहानी को समझ अलग तरह कि देकर चलती है जो जीवन मे उम्मीदे देकर आगे बढती है जो जीवन को कई धाराओं मे समझ लेना चाहती है जो हरीयाली कि जरुरत परख लेती है तब जीवन मे रोशनी कि चाहत होती है।

Tuesday, 11 October 2016

कविता. ९८१. ठंडे ठंडे पानी के एहसासों से।

                                             ठंडे ठंडे पानी के एहसासों से।
ठंडे ठंडे पानी के एहसासों से जीवन मे रंग बदलते है जो हम चाहते है हर पल हम उस रंग मे ही दुनिया को समझ लेते है क्योंकि ठंडे पानी के एहसासों मे ही हम दुनिया को समझ लेते है जिसे हर मौके पर हम अक्सर समझ लेना चाहते है।
ठंडे ठंडे पानी के एहसासों के अंदर हम दुनिया को परख लेते है हम जिसे समझ लेना चाहते है वह एहसास अक्सर मन को खुशियाँ देकर चलते है जिन्हे ठंडे पानी के आहट के संग हम परख लेते है हम उनके एहसासों मे जीवन को हर बार चाहते है।
ठंडे  ठंडे पानी के एहसासों मे हम दुनिया को कई किस्सों मे समझ लेना चाहते है जो हम परख लेते है वह ठंडे एहसास हमेशा मन को खुशियाँ देकर आगे बढते है जो जीवन को कई किस्सों मे समझ देते है जो मन को ठंडक देकर आगे बढना चाहते है।
ठंडे ठंडे पानी के एहसासों मे हम जीवन कि कहानी को समझ लेना चाहते है जिसकी ठंडक से हर बार हम जीवन परख लेना जरुरी समझ लेते है हम ठंडे पानी के एहसास मे ही तो जीवन को अलग तरह कि ताकद देना हर बार चाहते है।
ठंडे ठंडे पानी के एहसासों के अंदर कई किनारों से दुनिया को परख लेनेके साथ हम आगे बढकर चलना चाहते रहते है जो ठंडक के एहसासों को परखकर शीतलता को समझ अलगसी देकर आगे बढते है हम हर बार ठंडक को जीना चाहते है।
ठंडे ठंडे पानी के एहसासों से हर बार मौके पर प्यास अलगसी होती है जो ठंडे एहसासों को समझ अलगसी देती है जो शीतलता को हर एक मौके मे आगे लेकर चलती है जिसे ठंडक के सहारे हर पल समझ देना चाहती है।
ठंडे ठंडे पानी के एहसासों को जीवन कि कहानी अलग तरह से सुननी पडती है जो जीवन मे शीतलता को अलग तरह कि समझ और ताकद देकर चलती है जो जीवन मे ठंडे एहसासों को समझकर दुनिया को अलग सोच देने कि समझ हम चाहते है।
ठंडे ठंडे पानी के एहसासों को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत दुनिया को हर पल आगे लेकर बढती जाती है ठंडे एहसास के संग दुनिया हर पल मे खुशियाँ लेकर आती है जिसे समझकर शीतलता को पहचान लेना हम हर पल चाहते है।
ठंडे ठंडे पानी के एहसासों को परखकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन को ठंडक के सहारे हर एक इशारे के संग अलग तरह से रहती है जो जीवन को हर एक मौके मे अलग ठंडक देकर आगे चलती है जिसे हम समझकर आगे लाना चाहते है।
ठंडे ठंडे पानी के एहसासों को समझकर शीतलता जीवन को अलग पहचान देकर हर मौके पर आगे बढती है ठंडे पानी के एहसासों को समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत जीवन मे रहती है जिसे हम ठंडक मे पहचान लेना चाहते है।

कविता. ९८०. कभी कभी जीवन मे।

                                     कभी कभी जीवन मे।
कभी कभी जीवन मे कई कहानियाँ आगे लेकर जाती है जो समझ देती है कि दुनिया कई तरह कि कहानियाँ बताती है वह जीवन मे अक्सर सोच अलगसी देकर चलती जाती है जो कई लम्हों मे बताती है जीवन कि कहानी को मतलब देकर जाती है।
कभी कभी जीवन मे कई किस्सों मे कहानियाँ जिन्दा हो जाती है जो जीवन को बदलाव दे जाये वह बाते कहानियों मे जिन्दा हो जाती है जो जीवन मे बदलाव देकर आगे निकल जाती है जो जीवन को कई किस्सों मे अलग एहसास देकर जाती है।
कभी कभी जीवन मे कई किनारों से जीवन कि कहानी आगे बढती जाती है जो जीवन को कई तरह कि कहानियाँ कहती जाती है जो जीवन को एक ऐसी कहानी बताती है जिसे समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर पल मे अक्सर नजर आ जाती है।
कभी कभी जीवन मे कई किस्सों मे ही कहानियाँ बनती रहती है जो जीवन को अलग मतलब और मकसद देकर आगे बढती रहती है जिसे समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत जीवन मे हर बार कई किस्सों मे नजर आ जाती है।
कभी कभी जीवन मे कई किनारों कि कहानी जिन्दा होती हुई नजर आती है जो कहानियाँ दिल को भाँती है उनमे जिन्दगी जिन्दा होकर हमे आगे लेकर आती है जो जीवन को ताकद देकर आगे जाये वह कहानी जीवन को उजाला देकर आ जाती है।
कभी कभी जीवन मे कोई सीधीसी कहानी भी किस्सा बनकर नजर आती है क्योंकि कहानियाँ ही तो जीवन को अलग तरह कि उम्मीदे दे जाती है यह नही होता है कि वह कहानियाँ जीवन मे ताकद देकर जाये उनकी मजबूती नजर आ जाती है।
कभी कभी जीवन मे कोई कहानी अलग तरह के रंगों से भरी दुनिया लाती है जो जीवन मे कोई कहानी असल तरह कि खुशियाँ लाती है जो हमे आगे लेकर चलती है जो जीवन मे कई तरह कि खुशियाँ अक्सर राहों मे देकर आगे आ जाती है।
कभी कभी जीवन मे कोई किनारा जीवन को अलग इशारा दे जाता है जो जीवन मे हर मौके को समझ ले ऐसा कहानी का किस्सा जीवन मे मुश्किल से आता है पर उसे पकड लेना भी चाहे तो यह कहाँ मुमकिन हो पाती है जीवन कि कहानी तो मोड बदलकर ही आ जाती है।
कभी कभी जीवन मे कई कहानियों से गुजरना होता है जो जीवन को मतलब देकर आगे बढता जाता है कहानियों मे मतलब का एहसास रहता है जो जीवन को मतलब कि ताकद होकर आगे बढता जाता है जो जीवन को आगे लेकर आ जाती है।
कभी कभी जीवन मे कई किस्सों को समझकर आगे बढते जाना पडता है छोटी बडी कहानियों को समझकर जीवन को अलग एहसास कि सौगाद मिल जाती है जो जीवन मे कई तरह कि कहानियाँ लेकर चुपके से धीमे से आ जाती है।

Monday, 10 October 2016

कविता. ९७९. हर एक साँस।

                                                   हर एक साँस।
हर साँस के अंदर एहसास कि कहानी बदलती जाती है जो जीवन कि साँसों को सही एहसास दे जाये उस कहानी को बदलाव देने कि चाहत हर बार जीवन को अलग अंदाज मे आगे लेकर जाती है जो साँसों के एहसास को बदलकर रखती है।
हर साँस के अंदर जीवन कि एक उम्मीद छुपी नजर आती है अगर उसे पुकार लेते है जो साँसों से ही तो जीवन कि खुशियाँ बन पाती है क्योंकि साँसों से ही तो जीवन कि सच्चाई हर बार नजर आती है साँस ही जीवन को एहसास देकर आगे रखती है।
हर साँस के अंदर जीवन कि एक अधूरीसी प्यास हर बार जिन्दा नजर आती है जो जीवन मे कई एहसासों को अलग तरह कि शुरुआत देकर आगे बढती जाती है हर साँस ही जीवन कि अहम बात होती है जो जीवन को कई तरह के मतलब देकर आगे रखती है।
हर साँस के अंदर जीवन कि एक पहचान बन जाती है जो साँसों को परखकर जीवन कि कहानी आगे जाती है जो साँसों को समझकर अलग किसम कि ताकद हर मौके पर अक्सर मिलती हुई नजर आती है जो जीवन को आगे रखती है।
हर साँस के अंदर जीवन कि हर एक मौके पर पहचान बनती जाती है जो साँसों को किसी अलग कहानी से जोडकर आगे लेकर चलती जाती है जो साँसों को परख ले वह पहचान हर बार जिन्दा होती रहती है जो जीवन को हर मौके मे आगे रखती है।
हर साँस के अंदर जीवन कि हर बात अलगसी नजर आती है जो जीवन को हर साँस मे अलग मकसद देकर जाती है जो जीवन कि कहानी को बदलती जाती है क्योंकि साँसे ही तो उसको हर मौके पर उम्मीदे देकर जाती है जो जीवन को आगे रखती है।
हर साँस के अंदर जीवन कि हर कहानी को किरदारों के सहारे से ही समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर मौके पर अक्सर अहम नजर आती है जो जीवन को ताकद देकर आगे बढती जाती है जो साँसों के अंदर नई रफ्तार देकर आगे रखती है।
हर साँस के अंदर जीवन कि हर पल को समझकर दुनिया को अलग तरह कि सोच मिलती रहती है जो साँसों को अलग तरह कि प्यास देकर जीवन को आगे लेकर चलती जाती है जो जीवन को साँसे दे जाती है जो जीवन को आगे लेकर रखती है।
हर साँस के अंदर जीवन कि हर धारा को जरुरत हर मौके पर रहती है जिसे साँसों के सहारे समझ लेने कि जरुरत हर मोड पर अक्सर नजर आती है जो साँसों को परखकर आगे लेकर चलती जाती है जो हर साँस मे दुनिया बदलकर रखती है।
हर साँस के अंदर जीवन कि हर कहानी हकिकत बन जाती है जब साँसों को पहचान लेने कि जरुरत जीवन मे अहम नजर आती है जो साँसों को समझ ले उसे जीवन कि अहमियत समझ आती है क्योंकि साँसे ही तो सबसे बडा तोहफा होती है जिन्हे समझकर जिन्दगी कि कहानी आगे बढती है।

कविता. ९७८. हर सोच मे कई बार।

                                                हर सोच मे कई बार।
हर सोच मे कई कदमों को समझकर जीवन कि कहानी बनती है हर रिश्ते के अंदर कोई अलग एहसास को किनारा होता है क्योंकि रिश्ते के अंदर कई चीजों का मतलब हर बार बदलता जाता है जब रिश्ता मतलब अलगसा देकर जाता है।
हर सोच मे कई तरीकों मे हर मौके पर अलग सोच दे कर आगे बढते चले जाते है क्योंकि रिश्ते ही तो जीवन मे सही किसम का एहसास देकर आगे लाते है वह रिश्ते जीवन को अलग मतलब हर बार देकर आगे बढते जाते है।
हर सोच मे कई मौकों मे नई रफ्तार मिल जाती है सोच मे अलग अलग तरह के किनारों से कई किसम कि समझ हर पल आगे बढती जाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत है वह सोच जीवन मे मुश्किल से ही आती है जिसे समझ लेना मुश्किल हो जाता है।
हर सोच मे कई किनारों से समझ लेना ही तो दुनिया कि जरुरत हर मौके पर रहती है क्योंकि सोच को कई तरह के किस्सों मे अलग तरह के मकसद जिन्दा हो जाते है हर सोच मे अलग ताकद अक्सर जिन्दा होती है जिसे जीवन मे समझ लिया जाता है।
हर सोच मे कई किनारों से ही तो जीवन का हर हिस्सा जिन्दा हो पाता है जो जीवन को हर एक पल के साथ रोशनी का एहसास जुदा देकर चलता है जिसे समझ लेना जीवन मे अहम माना जाता है जो सोच ताकद दे जाये उस मकसद को समझ लेना अहम हो जाता है।
हर सोच मे कई किस्सों मे समझ तो अलगसी रहती है जो सोच के अंदर कई हिस्सों को परख अलग तरह कि देकर चलती है जो सोच के किनारों को हर पल बदलकर रखती है वह जीवन को हर हिस्से मे अलग तरह कि ताकद और सोच देकर जाती है।
हर सोच मे कोई अलगसा किनारा जिन्दा रहता है जिसे समझ लेने पर जीवन का अलग सहारा बनता है क्योंकि सोच को ही तो हर मौके पर समझ लेना जरुरी रहता है सोच को परखकर ही तो जीवन हर मौके पर धीमे से आगे बढता जाता है।
हर सोच मे कोई आवाज को समझकर आगे बढते रहना जरुरी होता है जो जीवन मे कई तरह कि सोच को अलग तरह के मकसद देकर चलता है जो जीवन मे सोच को मतलब देकर आगे चलते हुए उम्मीदे देकर आगे बढता जाता है।
हर सोच मे कई किनारों से जीवन को समझ लेना जरुरी रहता है जो जीवन मे कई किसम के किनारों मे आगे बढना अहम रहता है जो जीवन को हर सोच मे कई इशारे देकर आगे चलता हुआ जाता है जो जीवन को अलग मकसद देकर जाता है।
हर सोच मे कई किस्सों से जीवन को परख लेना जरुरी रहता है जो सोच के अंदर हर कदमों को अलग तरह कि समझ देकर आगे बढता है जो सोच को अलग किस्सों मे आगे लेकर चलता हुआ जाता है जो जीवन को रोशनी देकर जाता है।