Sunday, 31 July 2016

कविता. ८३७. कभी कभी जीवन मे हमे लगता है।

                                    कभी कभी जीवन मे हमे लगता है।
कभी कभी जीवन मे हमे लगता है हम आजादी से उडते है कभी कभी हमे लगता है हमारे पंखों को जाने क्यूँ हम ही बाँध के रख देते है उडना भूल जाते है।
कभी कभी जीवन मे हमे नई सुबह कि तलाश होती है तो कभी कभी जो चीज हमारे बस मे है हम उसमे ही खूश रहा करते है जीवन को जिया करते है।
कभी कभी जीवन मे हमे नये किनारों कि सोच मिलती रहती है जिसमे जीवन कि अलग तरह कि कहानी जिन्दा रहती है जो जीवन को खुशियाँ देकर आगे चलती है।
कभी कभी जीवन मे हमे दुनिया कि एक अलग तरह कि सुबह हर पल दिखती है जो जीवन को अलग सोच कि एक तसबीर देकर आगे बढती रहती है।
कभी कभी जीवन मे हमे नई दिशाए मिलती है जो हर पल अपनी दुनिया को बदलकर हर बार आगे बढती है जीवन का मकसद समझ लेती है सोच को अलग दिशा देती है।
कभी कभी जीवन मे हमे रूह कि बाते सुननी होती है जो हमारे जीवन को रोशनी का एहसास देकर चलती है वह हमे आगे लेकर हर मौके पर चलती है।
कभी कभी जीवन मे हमे अपने एहसासों को समझ लेने कि जरुरत होती है जो जीवन कि कहानी कि दिशाए बदलती रहती है जो हमे नई उम्मीदे दे जाती है आगे ले जाती है।
कभी कभी जीवन मे हमे लगता है कोई रोक रहा है हमे पर वह बस हमारी रूह कि एक सोच होती है जो हमारी दिशाओं को हर पल बदलकर आगे बढती रहती है।
कभी कभी जीवन मे हमे अपने साँसों को आजादी देनी होती है जो जीवन कि कहानी मे बदलाव देती है कभी हम रुके है उसकी बजह हमारी साँसे होती है।
कभी कभी जीवन मे हमे अपनी राह चुनने कि आजादी देने कि जरुरत हर मोड पर होती है जो हमारे जीवन कि ताकद बनती है हमे नई रफ्तार देकर आगे चलती है।

कविता. ८३६. उजाला जो जीवन को।

                                              उजाला जो जीवन को।        
उजाला जो जीवन को उजागर करता है उसे समझ लेना हर मौके पर जरुरी लगता है क्योंकि उजाले मे ही तो जीवन का मतलब छुपा होता है उजाला ही जीवन को ताकद देता है।
उजाला जो जीवन को रोशनी का एहसास दे जाता है जिसमे जीवन कि कहानी का कोई अंश दिखता है जिस पर हमारा जीवन निर्भर होता है जो हमे उजाले का एहसास देता है।
उजाला जो जीवन को नई उम्मीदे दे जाता है जिसमे जीवन के एहसासों का अलग किनारा दिखता है जो जीवन को अलग समझ देकर जाता है मतलब दे जाता है।
उजाला जो जीवन को समझ अलग तरह कि दे जाता है जिसे परखकर जीना एहसास अलगसा दे जाता है जो जीवन कि कहानी बदलकर रख देता है।
उजाला जो जीवन को अलग तरह कि ताकद देकर आगे बढता जाता है जीवन मे उजाला ही तो हमारी दिशाए लाता है पर अँधेरे से भी क्या डरना वह उजाले का दुसरा किस्सा होता है।
उजाला जो जीवन को अलग रोशनी कि जरुरत बनता है उसमे जीवन का अलग मतलब छुपा रहता है जो रोशनी देकर आगे चलता जाता है दिशाए बदल देता है।
उजाला जो जीवन को समझकर हर पल रोशनी दे जाता है जीवन मे नया एहसास अलगसा उजाला मे होता है वही हमे आगे लेकर चलता जाता है बढता जाता है।
उजाला जो जीवन को रोशनी देकर आगे चलते जाता है जीवन मे नये किनारों कि कहानी को अलग एहसास देकर आगे चलता जाता है जिसे समझ लेना जरुरी होता है।
उजाला जो जीवन को समझ तो देकर जाता है जिसे समझ लेना ही तो दुनिया को अलग किसम कि रोशनी कि ताकद जीवन मे दे जाता है वह आगे ले जाता है।
उजाला जो जीवन को समझ कि कहानी कुछ अलग ही बताता है उसे समझ लेना जीवन मे हर पल अहम नजर आता है हमारी जरुरत बन के उजाला आगे बढता जाता है।

Saturday, 30 July 2016

कविता. ८३५. हरीयाली मे जीवन को।

                                    हरीयाली मे जीवन को।
हरीयाली मे जीवन को अलग तरह कि आवाज नजर आती है जो जीवन को कई किनारों को समझ लेने कि जरुरत मे जीवन कि कहानी हर पल बदलकर आगे जाती है।
हरीयाली मे जीवन को परखकर सोच के अंदर एहसास अलगसा दिखता है जिसे जीवन मे समझ लेने कि ताकद हर मोड पर अक्सर नजर आती रहती है।
हरीयाली मे जीवन को समझ लेने कि जरुरत होती है जो हमे अलग तरह कि सुबह देकर आगे बढती जाती रहती है जिसे परख लेने कि जरुरत हर राह मे होती है।
हरीयाली मे जीवन को अलग एहसास को समझकर कई खयालों के मतलब देकर आगे चलते जाते है जिन्हे समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत हर मोड पर होती है।
हरीयाली मे जीवन को अलग किसम कि साँसे रहती है जिन्हे समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर पल दुनिया मे होती है जिसे समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत होती है।
हरीयाली मे जीवन को अलग सुबह मे अलग तरह के मकसद जीवन मे अलग सोच को समझ लेना ही तो जीवन कि अहम कडी नजर आती रहती है जो रोशनी देकर जाती है।
हरीयाली मे जीवन को अलग एहसास देकर दुनिया को समझ लेना जरुरी ताकद होती है जिसके अंदर जीवन कि कहानी हर बार बदलती जाती है।
हरीयाली मे जीवन को अलग तरह कि ताकद मिल जाये वह एहसास अलगसे होते है जो हमे अलग तरीके से आगे बढते जाते है जीवन को परखकर आगे चलते जाते है।
हरीयाली मे जीवन को अलग सुबह की रोशनी दे जाती है जिसे समझकर आगे चलते जाने कि उम्मीदे हर बार जीवन को नई सुबह और रफ्तार देकर आगे चलती जाती है।
हरीयाली मे जीवन को समझकर जीवन कि दास्तान बदलती जाती है जो हमे नई समझ देकर आगे चलती जाती है जीवन मे खुशियाँ लाती रहती है।

कविता. ८३४. निले आसमान के काले बादल।

                                  निले आसमान के काले बादल।
निले निले आसमान पर जब काले काले बादल जीवन को एहसास अलगसा देते है तब हमारी दिशाए हर बार बदलती जाती है।
निले निले एहसासों पर जब काले बादल दिखते है तब वही तो जीवन मे बूँदों का एहसास देकर जाते है जो जीवन मे आसमान पर लेकर जाते है।
निले निले आसमान पर जब काले काले बादल छाते है वह जीवन को बदलकर जाते है एहसासों मे नई शुरुआत और उम्मीदे देकर आगे बढती जाती है।
निले निले आसमान पर काले काले बादल के सहारे हम जीवन को आगे ले जाना चाहते है उस मे जीवन के मतलब को हर पल समझना चाहते है।
निले निले आसमान पर जब काले काले बादल हिलते रहते है उनके अंदर अँधेरे के एहसास को हम समझ तो लेते है पर बूँदों कि आस को भी जीवन मे समझ लेना चाहते है।
निले निले आसमान पर जब काले काले बादल अक्सर आसमान के रंगों मे ही पानी कि बूँदों को देख लिया करते है जीवन कि दिशाए हासिल किया करते है।
निले निले आसमान पर  जब काले काले बादल छा जाते है हम उनके अँधियारे मे भी अपनी खुशियाँ ढूँढ लेते है हमारी दुनिया को बदल देते है।
निले निले आसमान पर जब काले काले बादल जीवन मे बारीश का एहसास देकर जाते है जो जीवन कि कहानी को अलग तरह का मकसद और मतलब देकर आगे चलते है।
निले निले आसमान पर जब काले काले बादल जीवन कि नई शुरुआत कि उम्मीदे दे जाते है हम उनके अँधियारे मे अपनी सुंदरता हर पल पाते रहते है।
निले निले आसमान पर जब काले काले बादल जीवन कि अलग कहानी लिखकर कितने आसानी से आगे बढ जाते है बढते हुए वह हमे बहोत कुछ सिखाते है।

Friday, 29 July 2016

कविता. ८३३. हर पल मे जीवन कि कहानी।

                                       हर पल मे जीवन कि कहानी।
हर पल मे जीवन कि कहानी छुपी रहती है जो जीवन को अलग तरह के एहसासों मे जिन्दा रखती है कई पलों मे दुनिया को समझ लेने कि अहमियत होती है।
हर पल मे जीवन कि दिशाए बदलती है जो हमे कई बहानों मे परखकर आगे बढते रहने कि जरुरत होती है जो हमे आगे लेकर चलती जाती है नई दिशाए देती है।
हर पल मे जीवन को अलग अलग किसम कि रफ्तार जीवन को आगे बढाती है जो हमे आगे लेकर चलती रहती है पल को परखकर आगे चलते रहने कि जरुरत होती है।
हर पल मे हर साँसों मे जो जीवन कि कहानी बदलती है उसे समझ लेने कि जरुरत होती है हर मोड को समझकर जीवन मे अलग दिशाए बदलती रहती है आगे बढती है।
हर पल मे साँसों कि जरुरत हर जुबान पर होती है जो जीवन कि कहानी समझकर आगे चलती रहती है जिसमे जीवन कि निशानी हर मोड पर आसानी से दिखती है।
हर पल मे जीवन कि कहानी कई खयालों से जिन्दा रहती है जो आगे लेकर हमे उम्मीदे देकर हर मोड को मतलब और मकसद देकर हर घडी चलती रहती है।
हर पल मे जीवन को अलग एहसास देकर आगे चलते रहने कि अहमियत तो होती है जो जीवन को नई सुबह हर पल देकर आगे बढती रहती है जो अलग दिशाए देती है।
हर पल मे जीवन को अलग किसम के बूँदों को समझ लेने कि जरुरत होती है जो तरह तरह के एहसासों को आगे बढती रहती है जो उम्मीदे देकर चलती है।
हर पल मे जीवन को ताकद और समझ अलग किसम कि मिलती है जो हमे हर बार उम्मीदों कि अलगसी कश्ती देकर चलती है जो तरह तरह खयालों कि लहरों पर चलती है।
हर पल मे जीवन को अलग किसम कि ताकद होती है जो जीवन को कई तरह कि साँसे देकर चलती है उम्मीदे देकर आगे बढती रहती है जीवन कि जरुरत बनती है।

कविता. ८३२. बार बार किसी बात मे।

                                             बार बार किसी बात मे।
बार बार जीवन को समझ लेना जरुरी लगता है क्योंकि उसका कोई हिस्सा अक्सर अनजानसा हमारे मन को दिखता है जो जीवन को बदलता है।
बार बार कुछ कहना जीवन मे जरुरी हर पल  लगता है क्योंकि चीजों को कहना ही तो जीवन को राह देकर आगे बढता रहता है नई उम्मीदे दे जाता है।
बार बार किसी काम को करना जीवन मे जरुरी लगता है जिसे परख लेना हर बार उम्मीदों को अलग सोच देकर हर मोड पर आगे चलता रहता है दिशाए दे जाता है।
बार बार किसी धून को सुनना अहम होता है जो जीवन को रोशनी कि नई शुरुआत देकर हर पल आगे बढता चला जाता है जो जीवन को आशाए देकर आगे चलता है।
बार बार किसी ताकद को पहचान लेना जरुरी लगता है जो जीवन को कई किनारों मे बदलकर हर बार हर मौके पर दिशाए बदलकर चलता रहता है।
बार बार किसी सोच को समझकर आगे चलते जाना ही तो जीवन को अलग तरह कि उम्मीदे देकर आगे बढता रहता है जो जीवन को कई मोड देकर आगे बढता है।
बार बार किसी किरण मे ही जीवन को अपनी साँसे नजर आती है जो जीवन को अलग तरह कि पेहचान हर पल मे देकर जाती है दुनिया को परख लेना मुश्किल बताती है।
बार बार किसी धारा को समझ लेने पर पानी कि बूँदों से ही मन को अलग लगाव हो जाता है क्योंकि उस पानी मे शीतलता का एहसास एक अलग तरह का होता रहता है।
बार बार जीवन कि हर सोच के अंदर बसे कई बातों को समझ लेना ही जीवन कि जरुरत हर पल मे होती है जो जीवन को अलग तरह के मकसद देकर हर बार आगे बढती रहती है।
बार बार जीवन कि कहानी कई खयालों को समझकर हर पल बनती रहती है जीवन का एहसास अलगसा होता है जो जीवन को कई तरह कि समझ देकर आगे बढता है।

Thursday, 28 July 2016

कविता. ८३१. धरती को समझकर।

                                      धरती को समझकर।
धरती को समझकर जीवन कि कहानी कुछ अलग एहसास दे जाती है धरती कि निशानी हर पल जीवन को बदलाव देकर आगे बढती चली जाती है।
धरती को समझकर कई हिस्सों मे जीवन कि कहानी समझ लेने कि जरुरत होती है जो हमे अलग एहसास देकर नई रफ्तार देकर आगे बढती चली जाती है।
धरती को समझकर कई किस्सों मे जीवन कि कहानी हर पल अलग निशानी देती है जो जीवन को समझकर आगे पिछे चलते जाने कि जरुरत हर पल जीवन को होती है।
धरती को समझकर कई हिस्सों मे उसे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है जो जीवन कि कहानी बनाकर आगे बढती रहती है जीवन को बदलकर चलती है।
धरती को समझकर कई खयालों से उसकी कहानी परख लेनी जरुरी होती है जो हमे जीवन मे हर पल अलग अलग मौकों पर कई तरह कि कहानी सुना लेती है।
धरती को समझकर कई किनारों मे हर पल उम्मीदे रहती है जो हमे आगे लेकर चलती है जीवन को अलग अलग किस्सों मे समझ लेने कि अहमियत होती है।
धरती को समझकर कई मोड पर जीवन कि कहानी बनती है उन सब मौकों को जोड ले तो जीवन कि निशानी बदलती है जो हमारी कहानी दिखाती है।
धरती को समझकर हमे उसे कई हिस्सों मे समझ लेने कि जरुरत हर बार मायने रखती है जिसकी कहानी बनती है जिसके सहारे जीवन कि नई दिशाए दिखती है।
धरती को समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत होती है क्योंकि धरती हमे हर बार उम्मीदे देकर आगे चलती है जीवन मे धरती पर आगे चलने कि निशानी दिखती है।
धरती को समझकर उसके हर हिस्से को चाहने कि जरुरत होती है तभी तो जीवन मे अक्सर अलग कहानी बनती है धरती पर जीने कि सुंदरता समझ आती है।

कविता. ८३०. सोचा करते थे।

                                                  सोचा करते थे।
सोचा करते थे मजबूत जो धागे हो तो टूट नही सकते पर जीवन मे समझा है जो धागे कई तरह के अक्सर बने है तो कुछ धागे तो अक्सर टूँटते ही रहते है।
सोचा करते थे कि हम खयाल रखेंगे तो जीवन के रिश्ते मजबूत ही होगे पर जीवन ने समझाया गलत राहों के खयालों को हम मन मे नही रख सकते है।
सोचा करते थे कि हम जीवन को आसानी से जी लेते उम्मीदे कम होंगी तो हम कम उलझेंगे पर जीवन ने समझाया लोग उम्मीदे रखते है हम से हम अपनी उम्मीदे कहाँ तय करते है।
सोचा करते थे कि हम जीवन को अपनी हिसाब से जी लेगे अपने दोस्तों का साथ दे तो मुश्किल को आसान कर देगे पर जीवन ने समझाया जो दुसरे कि जरुरत हमे पहले होती है।
सोचा करते थे कि हम अनजानों से क्या बात करे वह अनजान है वह कहाँ हमे समझ पायेंगे पर जीवन ने समझाया अनजाने ही कई बार हमे समझ लिया करते है।
सोचा करते थे कि हम जीवन मे सिर्फ अपनों मे जिया करेंगे पर जीवन ने समझाया जीवन कि कहानी बदलती है आजकल गैरों से बात किया करते है उनमे दोस्त मिलते है।
सोचा करते थे कि हम जीवन को सीधे राह पर चलते रहेंगे पर जीवन ने समझाया राहे सिर्फ सीधी या तेढी नही होती है जीवन मे कई राहे होती है उम्मीदों के कारवे अक्सर मिला करते है।
सोचा करते थे कि जीवन कि कहानी कई बार अलग तरीके से समझ लेंगे पर जीवन ने समझाया जीवन अपनी कहानी समझाता अपने हिसाब से ही है।
सोचा करते थे कि जीवन को हँसकर जी लेंगे तो रोने के लिए बहाने न बन पायेंगे पर जीवन ने समझाया रोनों के मौकों पर जब हसना सीखे तो ही जीवन को सीख लेते है।
सोचा करते थे कि जीवन मे किसी पर नाराज बिना हुए जी लेंगे पर जीवन ने समझाया जो सही खयाल दे वही हमे सही लगते है बाकी लोगों से हम नाराज रहते है।
सोचा करते थे कि जीवन मे सोची बाते जिया करेंगे पर जीवन ने समझाया जो मुस्कान दे वही राह हर पल सही मेहसूस होती रहती है जो उम्मीदे देकर आगे बढती रहती है।

Wednesday, 27 July 2016

कविता. ८२९. दुनिया को खुद से समझ लेना।

                                       दुनिया को खुद से समझ लेना।
सारी दुनिया को खुद ही समझ ले हम यह बात नही होती है जो हमे सिखाती है जीवन कि वह सौगाद नही होती है बस अपने ही खयालों से बात नही बनती है।
सारी दुनिया को दो पन्नों मे समझा दे ऐसी किताबमे नही होती है कई पन्नों मे उलझ चुकी है यह दुनिया बडी मुश्किल से ही उसकी बात समझमे आती है उसे समझ लेना चीज आसान नही होती है।
सारी दुनिया को परख लेते है पर फिर भी जीवन कि सुबह नही मिलती है जिसे जीवन मे जी लेते है वह दिशा नही दिखती है क्योंकि वह दिशा नही बनती है।
सारी दुनिया को समझ लेने के लिए कई चीजों कि मदद लेनी पडती है पर कभी कभी वह मदद इतनी मुश्किल लगती है कि दुनिया को समझ लेने कि जरुरत नही लगती है।
सारी दुनिया को खुद से समझ लेना ही अहम लगता है छोटी छोटी चीजे जीवन मे आसान नही लगती है क्योंकि दुनिया समझ नही आती है।
सारी दुनिया को एक राह पर ही समझ लेना बात मुमकिन नही लगती है कई राहों से गुजरे बिना हमारी दुनिया नही बन पाती है जिनमे मुश्किल बसी रहती है।
सारी दुनिया को खुद कि ताकद से समझ लेते है पर छोटी चीजों के साथ कई चीजे समझकर भी दुनिया नही समझ आती है उसकी खुशियाँ नही समझ आती है।
सारी दुनिया को खुद से समझ लेने कि कोशिश तो हर पल करते रहते है पर सिर्फ एक मोड पर रहने से हमे हमारी दुनिया सही तरीके से कई बार समझ नही आती है।
सारी दुनिया को कई रंगों मे बाँटती हुई कहानी बनती है उसे समझ लेने कि जरुरत हर कहानी से मिलती है उस कहानी को समझ लिये बिना दुनिया नही मिलती है।
सारी दुनिया को कई किस्सों मे हमने पढा है पर उस एक किस्से को समझ लिए दुनिया नही समझ पाती है यह कहानी दुनिया मे कई किस्सों कि होती है।

कविता ८२८. गीत के कई बोल।

                                          गीत के कई बोल।
गीत के कई बोल जीवन को बताते है हमे आगे बढते रहने कि राह दिखाते है गीत के बोल अक्सर संगीत बनाते है उन्हे समझ लेना हम चाहते है ।
गीत के बोल ही तो कभी कभी हमे समझाते है कि छोटीसी चीजों से जीवन को समझ लेना हमे सिखाते हुए आगे चलते जाना हर पल हम जान लेते है।
गीत के बोल ही तो हमे आगे लेकर चलते जाते है जो दुनिया कि राहे बदलकर आगे बढते चले जाते है जिनमे हम जी लेना चाहते है आगे बढना चाहते है ।
गीत के बोल ही तो जीवन कि छोटीसी बात कि अहमियत हर मौके पर सिखाते है जिन्हे हम अक्सर जीवन मे मेहसूस करते रहते है जो जीवन मे रोशनी चाहते है ।
गीत के बोल ही तो ताकद बनकर कुछ अलग किसम का असर करते जाते है गीतों के बोल दुनिया को आगे लेकर चलते जाना हर मौके पर चाहते रहते है ।
गीत के बोल छोटीसी चीजों से आगे लेकर कई किनारों पर पहुँच पाते है जिनकी जरुरत हम हर कदम पर मेहसूस करते जाते है आगे चलते जाते है ।
गीत के कई बोल जीवन को बनाते है क्योकि गीतों मे ही तो हम अपनी दुनिया कि शुरुआत कितनी छोटीसी होती है उसका एहसास होता है।
गीत के कई बोल जीवन को छोटेसे कदम कि शुरुआत बताकर आगे चलते जाते है जिन्हे समझ लेना हम अक्सर जीवन मे अहम पाते रहते है ।
गीत के कई बोल सिर्फ दो पलों कि छोटीसी शुरुआत होते है जो जीवन को मतलब हर बार देकर आगे चलते जाते है जिनमे नई चीजे अक्सर छोटीसी होती है।
गीत के कई बोल अकेले ही जीवन मे काफी होते है क्योकि अकेले ही वह गीत कि ताकद रखते जाते है जीवन मे आगे निकल जाना चाहते है ।

Tuesday, 26 July 2016

कविता ८२७. सितारों मे कई रंग।

                                         सितारों मे कई रंग।
सितारों मे दुनिया के कई रंगों कि दुनिया दिखती है जिसे परखकर आसमान कि सुंदरता दिखती है जीवन मे आसमान कि खासियत दिखती है ।
सितारों मे दुनिया कि जन्नत दिखती है जो जीवन को कई तरह के मकसद देकर आगे चलती है आसमान के एहसास बदलती रहती है मकसद देकर चलती है ।
सितारों मे दुनिया कि खुशियाँ छुपी हुई रहती है जो जीवन को हर मौके पर अलग तरह का बदलाव देकर दुनिया कि कहानी बदलकर चलती है ।
सितारों मे दुनिया कि एक अलगसी ठंडक होती है आसमान कि सुंदरता दिल को हर पल मे छूँ लेती है वह हमारी दुनिया को आगे बढती रहती है ।
सितारों मे दुनिया को ढूँढते रहने की आदत मन को अक्सर होती है जो हमारी खुशियाँ आगे लेकर चलती रहती है जीवन मे बढती रहती है सपने देकर चलती है ।
सितारों मे जाने क्यूँ जीवन कि कहानी सुनाई पडती है उसे समझकर परखकर आगे चलने कि चाहत होती है जो दुनिया को नये सपने दे जाती है ।
सितारों मे जाने क्यूँ दुनिया जिन्दा रहती है पर जमीन ही हमारी असली दुनिया होती है जिसे समझ लेेने कि जरुरत और अहमीयत हमे अक्सर होती है ।
सितारों मे जाने क्यूँ हमारी नजर कुछ ढूँढती रहती है जिसे समझकर आगे चलने कि चाहत हमे जीवन मे होती है जो हमारी दुनिया को कुछ अलग एहसास देकर चलती है ।
सितारों मे जाने क्यूँ हमारी दुनिया को दिख पाती है जीवन को आगे लेकर चलती जाती है क्योकि सितारों मे दुनिया अक्सर नई साँसे देकर आगे चलती है ।
सितारों मे जाने क्यूँ हमारी दुनिया को समझ लेेने कि चाहत कुछ कम ही होती है उन सितारोंमे सपने बनाने कि चाहत होती है पर वह चाहत भी जीवन मे कम नही होती है।

कविता ८२६. नदीयाँ को बहता देखकर।

                                             नदीयाँ को बहता देखकर।
नदीयाँ को बहता देखकर दुनिया अपना रंग बदलती है मीठे मीठे पानी के आखिर बडे मन से हमारी परवाह करती है मीठे लब्जों से मन को खूश करती है।
नदीयाँ को बहता देखकर आयी हुई दुनिया कई बार उसे मुडता देखकर रंग बदलती है पर कोई फर्क नही पडता है जब दोस्त कि साथ उस पल मिलती है।
नदीयाँ को बहता देखकर आगे चलते रहने कि जरुरत होती है पर कभी कभी नदीयाँ मुड जाती है तब दोस्तों कि नजर भी बदलती जाती है तब मन का दर्द सच्चा हो जाता है।
नदीयाँ को बहता देखकर सबको प्यारी बात लगती है पर कभी कभी नदीयाँ दिशाए भी बदलकर चलती रहती है पर उसके संग दोस्त बात बदले यह बात सही नही होती है।
नदीयाँ को बहता देखकर दुनिया हर बार खुशियाँ बदलकर जाती है पर अगर सच्चा दोस्त हो तो दुनिया उसके साथ बदल जाती है गमों मे भी खुशियाँ नसीब हो जाती है।
नदीयाँ को बहता देखकर जीवन अलग एहसास दिखाकर आगे बढते चले जाते है नदीयाँ का एहसास बदलता है पर जीवन कि धारा दोस्तों कि बजह से नही बदलती है।
नदीयाँ को बहता देखकर जीवन कि दिशाए हर पल बदलती जाती है जिनको समझ लेने कि दुनिया को हर पल जरुरत होती है जो आगे चलने से जीवन कि एक अलग सुबह होती है।
नदीयाँ को बहता देखकर दुनिया तो रंग बदलती रहती है पर अपने जीवन को समझकर आगे चलते रहने कि उम्मीदे हर पल दुनिया को होती रहती है।
नदीयाँ को बहता देखकर हम अपनी राह नही बदल सकते है हमे दुनिया को कई किनारों से पहचान कर सही राह ही चुननी होती है जो दुनिया को सही बना देती है।
नदीयाँ को बहता देखकर जो आता है और उसे मुडता देखकर जाता है वह हमारा दोस्त नही होता है वह सिर्फ दुनिया का हिस्सा होता है जिसे भूला भी दे तो भी जीवन पर असर नही होता है।

Monday, 25 July 2016

कविता. ८२५. हर मोड पर जीवन के।

                                       हर मोड पर जीवन के।
हर मोड पर जीवन के अलग सुबह होती है जिसे परख लेने पर दुनिया बदलती है खुशियाँ बदलती है हमे आगे लेकर चलती है।
हर मोड पर जीवन कि कहानी बनती और बिघडती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर जीवन को अलग एहसास देकर आगे बढती है।
हर मोड पर जीवन की दुनिया कई रंगों से बनती है जिसे परखकर आगे चलते जाने कि आदतसी होती है जो हमारी किस्मत बनाकर रहती है।
हर मोड पर जब हम जीवन को अलग लेते है हर तरफ से जीवन कि खुशियाँ बनती है जो हमे चुपके से अपने चाहत मे कुछ ऐसा जखडती है कि उनकी चाहत दिल से कम नही होती है।
हर मोड पर जब हम जीवन को समझकर जीने लग जाते है हमारी दुनिया बदलती है जो जीवन को एक अलग एहसास देकर आगे बढती है।
हर मोड पर जीवन को समझ समझकर ही तो जीवन कि कहानी बनती है जो हमे उजाला हर पल देकर आगे चलते जाने का मौका देकर चलती है।
हर मोड पर जीवन को अलग अलग किसम के एहसास मे जी लेने कि ताकद जिसमे हो उसे ही जिन्दगी समझ आती है कुछ एहसास समझ लेते है कुछ को समझ लेने कि जरुरत होती है।
हर मोड पर दुनिया को कई रंगों मे परख लेने कि जरुरत होती है पर कई बार दुनिया कितने मोड बिना समझे ही आगे निकल पडती है।
हर मोड पर चाहे जितना हम रुक जाये आखिर मे आगे बढने मे ही अक्सर खुशी नजर आती है इसलिए पिछली खुशियों की कुर्बानी जरुरी होती है।
हर मोड पर हम तो अपनी दुनिया को समझ लेते है उनकी हमारे जीवन को सच्ची उम्मीदे और जरुरत होती है रफ्तार हो या ना हो मन कि खुशियाँ अहम होती है।

कविता. ८२४. किसी कहानी को समझकर|

                                                             किसी कहानी को समझकर।
किसी कहानी को मकसद मिल जाता है जिसमे जीवन को मतलब दे तो हर बार जरुरी होता है किसी कहानी को नई सुबह मिल पाती है जिसमे रोशनी हर बार कोई अलग एहसास दे जाती है।
किसी कहानी  के किरदारों से बढकर कोई कहानी नही होती है पर जीवन कि कहानी उस तरह से बन जाती है जो जीवन को आगे बढने कि ताकद दे पाती है उम्मीदे दे जाती है।
किसी कहानी को समझकर आगे बढने कि जरूरत जीवन मे होती है जिसे परखकर दुनिया जाती है पर हम कितना भी चाहे किसी किरदार के लिए कहानी नही रूकती है।
किसी कहानी मे कई किरदारों को समझ लेने कि अहमियत होती है पर हम कितना भी चाहे जीवन मे दुनिया मे आगे बढने कि जरूरत किरदारों से ज्यादा होती है।
किसी कहानी को बढते हुए जाने कि सिर्फ जरूरत नही होती है वह हवाओ कि तरह ही जीवन कि आदत होती है जो जीवन को मतलब देकर आगे बढने कि जरूरत हर पल होती है।
किसी कहानी को समझ को परख लेने कि जरूरत हर बार होती है किसी पल को  समझकर जीवन में आगे चलते रहने कि अहमियत हर बार जीवन को आगे ले चलती है।
किसी कहानी को समझ लेना ही तो जीवन को आगे बढते जाने कि दिशाए देकर चलती है जीवन मे आगे चलते जाने कि जरूरत होती है जो जीवन को उम्मीदे सच्ची सोच से देती है।
किसी कहानी को समझ लेते है तो उसे आगे लेकर जाने कि जरूरत हर पल मे होती है क्योंकि उन्हे समझकर ही तो हमारी दुनिया बनती है आगे बढती है।
किसी कहानी को समझकर आगे चलते जाने कि जरूरत हर साँस मे होती है हम कितना भी चाहे जीवन कि राह मे किसी भी किरदार के खातिर रुकने कि इजाजत कहानी नही देती है।
किसी कहानी को रुकने कि इजाजत किसी के खातिर दुनिया मे नही होती है जो हमे हर मौके पर आगे लेकर जाने कि सोच दुनिया मे हर पल और हर बार अक्सर रखती रहती है। 

Sunday, 24 July 2016

कविता. ८२३. रेत के महल मे चीजे।

                                          रेत के महल मे चीजे।
रेत के महल मे जीवन कि कई बाते छुपी नजर आती है जो जीवन को अपना अलग रंग देकर आगे चलती जाती है जो दुनिया बसा लेती है।
रेत के महल से हमे कितनी भी नफरत हो कई बाते जीवन कि उसका मकसद समझा लेती है क्योंकि कई बार जीवन कि अहम कडीयाँ उन महलों मे होती है।
रेत के महल कि कहानी हर पल जरुरी होती है जो दुनिया को हर बार अलग तरह का रंग दिखाती रहती है उसे परख लेने कि जरुरत होती है।
रेत के महल तो गिरते है पर उनके अंदर कि छुपी बाते हमे बतानी होती है जिनके सहारे से ही जीवन कि एक अलग तरह कि कहानी बन जाती है।
रेत के महल को समझ लेने कि कहानी हमे ताकद दे जाती है जीवन मे अलग अलग एहसास कि जरुरत हर मौके पर हर बार होती रहती है।
रेत के महल मे ही तो जीवन कि अहम बाते कई बार छुपी हुई रहती है जो जीवन कि धारा को अलग तरह का एहसास देकर आगे चलती जाती है।
रेत के महल मे ही जीवन कि जरुरी चीजे बसी रहती है जो जीवन का मतलब हर बार अलग तरीके से सोचकर ही तो जीवन को अलग किसम कि सोच दे जाती है।
रेत के महल मे ही तो दुनिया कि साँसे घुटती रहती है जो जीवन को हर पल एक अलग तरह कि सोच दे जाती है क्योंकि कई बार सही चीजे गलत चीजों के अंदर होती है।
रेत के महल को समझ लेना ही तो जीवन कि सबसे बडी अहमियत बनती है तब कोई सही बात उसके अंदर छुपी हुई हर पल दिखने लगती है।
रेत के महल मे ही तो चीजे रहती है जो हमे जब जरुरी लगती है तब हमे जीवन मे आगे बढते रहने कि उम्मीदे हर पल साफ नजर आती रहती है।

कविता. ८२२. कई खयालों कि दुनिया।

                                                कई खयालों कि दुनिया।
कई खयालों को समझ लेने कि ताकद जीवन को समझ देती है खयाल से ही तो जीवन कि कहानी बन पाती है जो मकसद दे जाती है।
कई खयालों को कई किनारों से ही तो आगे बढने कि उम्मीदे मिल पाती है जो हमारे जीवन कि धारा को बदल देती है हमारी सोच मे बदलाव लाती है।
कई खयालों को समझकर जीवन को परख लेने कि जरुरत हर पल जीवन को होती है जो हमे हर पल सुबह देकर आगे बढती चली जाती है।
कई खयालों को समझकर दुनिया कि ताकद बनती है जो जीवन को आगे लेकर चलती जाती है जो जीवन को सच्चा विश्वास देकर आगे बढती जाती है।
कई खयालों को समझकर ही तो जीवन कि कहानी बदलती जाती है जो जीवन को समझकर आगे चलती जाती है जीवन मे रोशनी लाती है उम्मीदे देती जाती है।
कई खयालों को परखकर ही तो दुनिया बनती जाती है वही कई किस्से जीवन मे देकर चलती जाती है दुनिया बदलती चली जाती है पहचान अलगसी होती जाती है।
कई खयालों से ही तो हमारी दिशाए बनती है वही दिशाए तो हमारी ताकद कहलाती है आगे चलती जाती है जीवन को अलग एहसास दे जाती है।
कई खयालों कि जिन्दगी हर पल जिन्दा रहती है जो हमे रोशनी देकर चलती जाती है जो हमे नई उम्मीदे और रफ्तार देकर आगे चलती जाती है।
कई खयालों को समझकर ही तो जीवन कि साँसे बनती है जो हमे नई शुरुआत देकर चलती है जो हमारी दुनिया हर बार बदलकर चलती जाती है।
कई खयालों कि ही तो हमारी दुनिया बन पाती है जो हमे अलग उम्मीदे अक्सर देकर जाती है जो हमारी दिशाए बनाकर आगे चलती जाती है जो हमारी दुनिया बदलती जाती है।

Saturday, 23 July 2016

कविता. ८२१. रोशन करने के लिए।

                                         रोशन करने के लिए।
रोशन करने के लिए जीवन को हँसी को समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है जो जीवन को अलग तरह कि उम्मीदे देकर चलती जाती है।
रोशन करने के लिए जीवन कि एक अलग आवाज ही होती है जो दुनिया को परख लेना हमे आसानी से समझाया है जीवन कि धारा को बदलकर जाती है।
रोशन करने के लिए जीवन कि मुस्कान दिल से निकल आती है जो दुनिया को कई रंगों मे बाँटती चली जाती है हमारी सोच को बदल देती है।
रोशन करने के लिए जीवन को नई दिशाए मिल पाती है जो हमे आगे लेकर जाने कि एक दिशा अलगसी दिखाती है चलती जाती है नई उम्मीदे दे जाती है।
रोशन करने के लिए जीवन को हर रोज जीवन मे एक नई सुबह हर मौके पर अक्सर नजर आती है जो जीवन को नई रफ्तार देकर आगे बढती जाती है।
रोशन करने के लिए जीवन को नई प्यास मिल जाती है जो जीवन कि दिशाए बदलकर आगे बढती जाती है जो जीवन कि सच्ची ताकद बनकर आगे बढती जाती है।
रोशन करने के लिए जीवन को एक अलग पुकार जरुरी है जो हर बार हर पल मे नजर आती है जो जीवन कि कहानी को अलग एहसास देकर आगे बढती जाती है।
रोशन करने के लिए सच्ची सोच एक अलग एहसास कि शुरुआत हमे दे जाती है जो जीवन का हर एक गीत धीमे से गाती है आगे बढती जाती है।
रोशन करने के लिए जीवन कि कहानी हर मोड पर अक्सर दुनिया को बदलती चली जाती है वह हमारे मुस्कान का मतलब हर मौके पर बदलती चली जाती है।
रोशन करने के लिए हमे सही किनारे कि जरुरत हर बार होती है जो जीवन को अलग किसम का मतलब और मकसद देकर आगे बढती है जो जीवन कि दिशाए बदलती है।

कविता. ८२०. कहानी को समझ लेना।

                                                 कहानी को समझ लेना।
कहानी को समझ लेने कि चाहत जीवन को कई बार नही लगती क्योंकि जीवन कि धारा हर बार आगे बढती जाती है जो मतलब देकर चलती जाती है।
कहानी को पढने कि जरुरत कई बार नही लगती है क्योंकि कहानी हमारे जीवन का मतलब बदलकर आगे बढती चली जाती है जो जीवन को तसल्ली दे जाती है।
कहानी को ही समझकर लिखी बाते कई चीजे सिखाती है जिनमे जीवन कि शुरुआत हर पल हर बार हो जाती है जो जीवन कि दिशाए बदलकर आगे चलती जाती है।
कहानी को पढने कि जरुरत हर बार नही लगती है जिस कहानी को समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत जीवन मे हर पल होती है जो जीवन को मकसद देकर चलती है।
कहानी को अलग अलग पन्नों मे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर मोड पर आगे चलते रहने कि उम्मीदे हर पल आगे बढती जाती है जो हमे आगे बढाती जाती है।
कहानी को परख लेना ही तो जीवन को नया एहसास देकर चलती जाती है जिन्हे समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत जीवन कि धारा को हर पल रहती है जो रोशनी दे जाती है।
कहानी के हर मोड पर समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत जीवन मे हर बार अलग एहसास देकर जाती है जो जीवन कि कहानी को बदलाव दे जाती है।
कहानी को समझकर आगे ले जाने कि अहमियत जीवन मे हर बार मेहसूस होती है जो जीवन को बदलती जाती है जीवन कि नई शुरुआत होती है।
कहानी को समझकर अलग एहसास कि शुरुआत हर बार होती है जो जीवन कि कहानी को एक अलग मकसद और मतलब देकर आगे बढती है।
कहानी ही तो जीवन को साँसे हर बार देती है जो हर पल दुनिया को बदलाव का एहसास दे जाती है जो हमे नई उम्मीदे और रफ्तार हर पल देती है।

Friday, 22 July 2016

कविता. ८१९. हँसी हमारी।

                                                                  हँसी हमारी।
हँसी हमारे जीवन कि एक अलग ताकद होती है जो हमे आगे लेकर चलती रहती है जो हमारी एहसास को परख लेने कि हमे हर बार जरुरत होती है।
हँसी हमारे लिए सबसे अहम चीज होती है जो जीवन कि कहानी बदलती जाती है जो हँसी हमारे यादों कि ताकद हमारे जीवन कि उम्मीदे मिल जाती है।
हँसी हमारे जीवन के अंदर नई सोच को परखकर जीवन को समझ लेती है रोशनी हमेशा हमे उजाला हर  बार देकर जाती है जो जीवन का मकसद आगे ले जाती है।
हँसी हमारे जीवन को एहसास देती है कुछ अलग सोच हमे आगे ले जाती है वह सोच जरुरी होती है जीवन कि ताकद जैसी अहम चीज हर बार उम्मीद देकर असर कर जाती है।
हँसी से हमारे जीवन मे नया मोड मिलता है हर सही सोच जीवन को अलग उम्मीद दे जाती है जो हमे उम्मीदों कि सुबह हर पल अलग एहसास से जीवन को मतलब अलग तरह का हर बार देती है।
हँसी से ही जीवन को अलग मकसद मिलता है जो जीवन को अलग किसम कि समझ देकर जाता है जीवन मे सही सोच को समझ लेना अहम तरीके का हर बार होता है।
हँसी हमारी ताकद होती है जो हमे आगे लेकर चलती है जीवन को समझ लेना हमारे लिए जरूरी होता है क्योंकि हँसी को पहचान लेना जीवन कि सच्ची सोच बन पाती है।
हँसी हमारे जीवन कि ताकद हर पल बनती है जो हमे उम्मीदे हर मोड पर आगे ले  चलती है जो हमारे लिए उम्मीदों कि शुरुआत बनती है।
हँसी हमारी सच्ची चाहत होती है बाकी सारी चीजे हमारे खातिर सिर्फ दो पलों कि जरूरत होती है सच्ची जरूरत तो हमारी चाहत होती है जो हमे आगे लेकर चलती है।
हँसी हमारे खातिर अहम राह होती है जो हमे हर पल आगे लेकर चलती है जो हमारी उम्मीद होती है जो हमारे खातिर हर बार अहम चीज होती है।
हँसी हमारे जीवन कि सही सोच को आगे ले जाने कि जरूरत हर बार होती है जीवन कि खुशियाँ सबसे ज्यादा अहम चीज होती है जो जीवन को आगे लेकर जाती है।  

कविता. ८१८. हर मोड पर किताब मे।

                                       हर मोड पर किताब मे।
हर मोड पर किताब मे कुछ अलग बात होती है जो किताब को अलग पन्नों से समझ लेती है जो किताब को कई पन्नों मे एक अलग कहानी कि शुरुआत दे जाती है।
हर मोड को पन्नों मे बढते रहने कि जरुरत होती है उनके अंदर ही तो जीवन कि अलग किताब सुनाई पडती है जो जीवन को कई तरह के मोड देती रहती है।
हर मोड पर जीवन कि कोई कहानी बदलाव तो अक्सर दे जाती है जो उस किताब मे लिखा हुआ है जिसमे दुनिया बदलाव हर तरफ से दे जाती है दुनिया बदल जाती है।
हर मोड पर जिन्दगी के कई मौकों पर जीवन कि कहानी नई रोशनी देकर आगे बढती जाती है जिन्हे किताब से पन्नों से आगे ले जाने कि जरुरत जीवन मे हर पल होती है।
हर मोड पर किताबों मे जीवन कि नई शुरुआत होती रहती है जो जीवन को अलग किसम कि साँसे देकर जीवन का एहसास बदलकर आगे बढती चली जाती है।
हर मोड को समझ लेना ही तो जीवन कि अहम बात होती है जो जीवन को समझ देकर आगे बढती जाती है वही तो जीवन कि सुबह हर पल और हर बार होती है।
हर मोड मे ही जीवन कि किताब कोई अलगसा मतलब दे जाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर अक्सर हमे नजर आती है जो जीवन को बदल जाती है।
हर मोड को समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत हर पल को कुछ तो मकसद देकर चलती जाती है आगे बढती चली जाती है जो जीवन मे कई राहों पर ले जाती है।
हर मोड को अलग अलग चेहरों कि जरुरत हर पल होती है क्योंकि हर पन्ने पर कोई ना कोई किरदार छुपा रहता है जो हमे उम्मीदे देकर आगे बढता जाता है।
हर मोड को समझकर ही तो जीवन कि कहानी हर साँस मे कुछ अलग एहसास देकर हर पल आगे बढती चली जाती है क्योंकि जीवन एक किताब ही तो होती है।

Thursday, 21 July 2016

कविता. ८१७. बार बार जब जीवन मे।

                                                बार बार जब जीवन मे।
बार बार जब जीवन मे कोई अलग तरह का असर हो जाता है जो जीवन कि कहानी को समझकर हर पल दिशाए बदलकर आगे लेकर बढता जाता है।
बार बार जीवन कि कहानी अलग तरह कि होती है जो जीवन को किसी और तरीके से दुनिया के रंग दिखाती है दुनिया बदलती जाती है।
बार बार दुनिया को समझ लेने कि जरुरत हर पल जीवन मे नजर आती है जो हमे हर मोड पर कोई मकसद अलग तरह का देकर चलती जाती है।
बार बार जीवन कि कहानी बदलती जाती है जो हमे समझ तो किसी और तरीके कि जीवन मे दे जाती है जो हमे जिन्दगी मे आगे लेकर बढती चली जाती है।
बार बार किसी चेहरे कि याद जब आती है हमारे जीवन कि उम्मीदे फिर से जिन्दा हो जाती है वह जीवन का मकसद बदलती जाती है जो जीवन कि दिशाए और धारा को बदलती जाती है।
बार बार किसी जीवन कि कहानी को समझकर नई रफ्तार देकर चलती जाती है उसी तरह से जीवन कि कहानी आगे बढती चली जाती है।
बार बार किसी दिशा से जीवन को समझ लेने कि जरुरत और अहमियत हर पल मे नजर आती है जो जीवन को नया एहसास देकर आगे बढती चली जाती है।
बार बार किसी सोच से जीवन कि दिशाए बदलती जाती है जो वह दास्तान सुनाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर अक्सर नजर आती है।
बार बार जीवन मे कई किसम कि सोच जो हमे दिशाए देकर आगे चलती जाती है जो हमे नई उम्मीदे देकर आगे बढते जाने का मौका देकर चलती जाती है।
बार बार जीवन को अलग सुबह कि जरुरत होती है उस सुबह मे कई तरीकों को समझकर जीवन कि कहानी एहसास अलगसा देकर आगे चलती जाती है।

कविता. ८१६. मुलायमसा एहसास।

                                            मुलायमसा एहसास।
मुलायम से फूलों का एहसास अलगसा होता है छोटासा स्पर्श जीवन को अलग एहसास देता है जीवन पर कुछ ना कुछ अलगसा असर हर बार होता है।
मुलायम से किसी सोच कि शुरुआत से ही कभी कभी मजबूत एहसास बन जाता है जो जीवन को अलग तरीके से एहसास देकर आगे बढता जाता है।
मुलायम सोच से ही तो मुश्किल बात कि शुरुआत होती है मिट्टी ही धीरे धीरे पत्थर बन पाती है जिसकी मौजूदगी पूरी दुनिया को चौका कर जाती है।
मुलायम शुरुआत ही जीवन को अलग मजबूत एहसास देकर आगे चलती जाती है जो दुनिया को हर मोड पर बदलकर आगे बढती चली जाती है।
मुलायम चीजों से ही तो मजबूत चीजे जीवन मे जिन्दा हर बार हो जाती है जो दुनिया का रंग हर बार बदल जाती है जो हमारी दिशाए बदलकर आगे चलती जाती है।
मुलायम चीजों से ही जीवन कि कहानी बनती है क्योंकि उनसे ही जीवन कि शुरुआत हर मौके पर हर पल होती है जो हमारी जीवन कि दिशाए हर बार बदलकर जाती है।
मुलायम चीजों से जरुरी चीजे मजबूत चीजे हर पल लगती है पर वह उनसे ही जीवन कि शुरुआत हर मौके पर हर मोड पर होती है जो जीवन को मतलब हर पल दे जाती है।
मुलायम चीजों से ही जीवन को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर हर मोड पर हर पल होती है जो जीवन कि नई शुरुआत देकर आगे बढती चली जाती है।
मुलायम शुरुआत ही जीवन कि अहम बात होती है जो जीवन को अलग एहसास देकर चलती जाती है जो हमे मुश्किले हर बार दे जाती है क्योंकि वही अहम बात होती है।
मुलायम चीजों मे ही तो जीवन कि कहानी हर मौके पर बनती है जो जीवन कि कहानी मजबूती से लिखती चली जाती है जो जीवन को रंग अलग देकर जाती है।

Wednesday, 20 July 2016

कविता. ८१५. किसी धारा को समझ लेना।

                                            किसी धारा को समझ लेना।
किसी धारा को समझ लेना जरुरी होता है जिसे समझकर ही तो दुनिया को मतलब और मकसद मिल पाता है जो रोशनी देकर आगे बढता जाता है।
किसी धारा मे एक लकिरसी होती है जिसे समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत दुनिया को हर मौके पर मिलती है जो अक्सर हमे उम्मीदे देकर चलती है।
किसी धारा के बहने से ही तो जीवन को हर पल मकसद मिल जाता है जिसे समझ लेने पर ही तो दुनिया को एहसास जुदा मिल पाता है जो आगे ले जाता है।
किसी धारा को समझकर कुछ अलग एहसास देकर जाता है जिसे परखकर आगे चलते जाना हमे अलग किसम कि दुनिया और कहानी दे जाता है।
किसी धारा मे जीवन को बहते जाना होता है जिसे परखकर ही तो दुनिया का कोई अलग किस्सा समझ आता है जो जीवन को रोशनी दे जाता है।
किसी धारा मे सीधे चलते रहना ही हर बार जरुरी नजर आता है पर धारा कहाँ सीधे चलती है दिशाओं को बदल देना हर पल हर मोड पर उसका मकसद नजर आता है।
किसी धारा को बदलकर ही तो जीवन हर बार बदलाव दिखाता है जिसे समझ तो लेते है हम पर उसे परख लेना हर बार अहम नजर आता है रोशनी दे जाता है।
किसी धारा को समझकर आगे चलते रहना जरुरी होता है जिसे समझ लेते है तो जीवन को परखकर आगे बढते जाना हर पल अहम नजर आता है।
किसी धारा मे जीवन जब जुड जाता है उसे समझ लेते है तो वह धारा जीवन को साँसे दे जाती है जीवन कि दिशाए बदलती चली जाती है उसमे ही तो उम्मीदों का किनारा हर पल रहता है जो रोशनी देता है।
किसी धारा को सीधे समझ लेना अक्सर आसान होता है पर उस धारा का सीधा होना हर बार आसान नही होता है उसका बहना कई दिशाओं मे होता है।

कविता. ८१४. किसी गीत को समझकर।

                                              किसी गीत को समझकर।
किसी गीत को किसी तरह का एहसास मिल पाता है जिसके अंदर का मतलब और मकसद हर बार आगे बढता चला जाता है।
किसी गीत को समझ लेना जीवन कि जरुरत नजर आता है जिसे परखकर आगे चलते जाना कभी कभी हमे आता है कभी दिशाए बदलकर जाता है।
किसी गीत को अलग एहसास देकर आगे जाने कि जरुरत हर पल होती है जो हर एक मौके पर दुनिया को अलग तरह कि दास्तान देकर आगे बढती है।
किसी गीत को समझ लेना हर बार हर मोड पर जरुरी लगता है गीतों को जीवन का एहसास होता है जो जीवन मे सच्ची रोशनी देकर आगे बढता है।
किसी गीत को बढते है तो दुनिया के रंग अलग नजर आते है जो जीवन कि धारा को आगे लेकर हमे आगे बढाते हुए जीवन को समझ लेते है वह जरुरी लगता है।
किसी गीत कि पंक्ती हमे कोई अलग तरह कि सोच या ताकद हर बार आगे बढती चली जाती है जो गीतों कि ताकद दिखाती चली जाती है।
किसी गीत को समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत हर मौके पर रहती है जो जीवन कि कहानी हर पल कुछ अलग ढंग से कहती रहती है।
किसी गीत को अलग एहसास देकर आगे चलते रहने कि उम्मीदे हर पल होती है जो जीवन कि कहानी हर बार अलग तरीके से कहती रहती है।
किसी गीत मे अंदर तो जीवन कि धारा बहती रहती है जो गीतों के मतलब को हर पल कहती रहती है जीवन को अलग संगीत सुनाती रहती है।
किसी गीत को समझकर कई किरदारों को समझ लेने कि अहमियत हर मोड पर होती है जो जीवन को अलग एहसास देकर हर पल आगे बढती रहती है।

Tuesday, 19 July 2016

कविता. ८१३. कभी रूह कोई बात कहती है।

                                            कभी रूह कोई बात कहती है।
कभी रूह कोई बात कहती रहती है उस रूह कि बात जीवन मे समझ लेना जीवन कि जरुरत होती है क्योंकि कभी कभी इन्सान के मुँह से ज्यादा रूह सही कहती है।
कभी रूह को अलग आवाज समझ लेने कि जरुरत हर मोड पर होती है रूह को समझ लेने कि जरुरत जीवन कि हर कहानी को अक्सर होती है जो मतलब देती है।
कभी रूह को परख ले तो जीवन को समझ लेने कि अहमियत मेहसूस होती है हमारी सोच ही हमारी दुनिया कि ताकद हर पल जीवन को समझकर अलग रोशनी मिलती है।
कभी रूह को परख लेना ही तो अक्सर दुनिया कि जरुरत होती है जो जीवन को समझ हर बार और हर पल देकर चलती रहती है आगे बढती रहती है जिसकी जरुरत होती है।
कभी रूह को अलग एहसास दे जाती है वह ताकद जीवन को अलग किसम का एहसास देकर आगे बढती जाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे अक्सर होती है।
कभी रूह को परखकर उसके अंदर कि कहानी समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत हर मोड पर जीवन मे उजाला देकर हर पल चलती रहती है उम्मीदे देती है।
कभी रूह को समझकर उसके अंदर कि बातों को समझ लेने कि अहमियत हर मौके पर होती है जिसे परखकर आगे चलते जाने कि जरुरत जीवन कि सच्ची रोशनी होती है।
कभी रूह के कई पडदों मे जीवन कि कहानी छुपी रहती है जिसे समझ लेने पर दुनिया हर किस्से मे जिन्दा रहती है जो जीवन को उजाला देकर आगे चलती है।
कभी रूह को कई किनारों मे समझ लेने कि जरुरत होती है क्योंकि रूह ही तो जीवन को मकसद दे जाती है उसकी ताकद कोई और ही होती है रूह कि ही हमे जरुरत होती है।
कभी रूह को पेहचान लो तो ही जीवन मे अलग तरह का मतलब मिल पाता है रूह ही तो जीवन कि सच्चाई होती है जो जीवन को मकसद और मतलब देती है बिना रूह कि कहाँ जिन्दगी होती है जो रोशनी देती है।

कविता. ८१२. जीवन को ठंडक।

                                                जीवन को ठंडक।
जीवन को ठंडक तो मन के ताकद से ही मिलती है मन कि ताकद ही तो जीवन कि कहानी हर पल हर बार बदलकर आगे बढती रहती है।
जीवन को ठंडक तो मन कि प्यास के बुझने से ही जीवन मे मिलती है जीवन कि ठंडक मन के ताकद से और एहसास से ही जीवन मे बनती है।
जीवन को ठंडक कि एक अलग जरुरत हर मौके पर होती है जो हमे किसी अलग दिशा से आगे लेकर चलती रहती है जो जीवन को बदलती है।
जीवन को ठंडक मन के सही खयाल से मिलती है जो साँसों कि कहानी दिल को छूँकर आगे बढती रहती है जो ताकद देकर चलती रहती है।
जीवन को ठंडक तो मन के तसल्ली से मिलती है उस ठंडक को समझ लेना जिसमे से कहानी बनती है जो जीवन को अलग एहसास देकर चलती है।
जीवन को ठंडक मन कि दिशाए सही ओर से बदलने से मिलती है जिसे मन कि नई उम्मीदे और नई रफ्तार बनती है जिनकी जरुरत हमे अक्सर होती है।
जीवन को ठंडक तो हमारे उम्मीदों से मिलती है वह मन कि अच्छी सोच से जीवन को मिलती है जीवन को हर बार ताकद देकर आगे बढती रहती है।
जीवन को ठंडक का एहसास दुनिया सच्चे खयालों से देती है जीवन कि कहानी हमारी दिशाए बदलकर आगे बढती है जीवन को रोशनी देकर अक्सर चलती है।
जीवन को ठंडक देने कि जरुरत मन को हमेशा होती है क्योंकि जीवन कि ताकद तो मन के उम्मीदों मे अक्सर बसती है जो आगे लेकर चलती है।
जीवन को ठंडक तो सही खुशियों मे मिलती है पर सही खयाल रखने से ही तो दुनिया अक्सर आगे बढती है उस खयाल कि रोशनी मे ही तो जीवन कि असली हँसी मिलती है।

Monday, 18 July 2016

कविता. ८११. बारीश के बूँदों से।

                                                बारीश के बूँदों से।
बारीश के बूँदों से ज्यादा जीवन मे किसी और चीज कि तलाश है जीवन को समझ लेते है हम पर फिर लगता है कुछ बाकी बची हुई बात है।
बारीश के बूँदों को समझ लेना जीवन कि सबसे अहम बात है जो दोहराती है जीवन को कुछ उस तरीके से जिसे समझ लेना जरुरी बात है।
बारीश के बूँदों कि कहानी हर बार बदलती रहती है क्योंकि जीवन के हर एक मौके पर दुनिया मे बदलती हुई हर बार अलगसी बात है।
बारीश के बूँदों को दोहराती है वह कहानी हर बार अलग नजर आती है जिसके अंदर दोहराने कि ताकद हर पल हर बार होती है।
बारीश के बूँदों को समझ लेने कि जरुरत होती है जिनमे जीवन कि खुशियाँ हर बार छुपी होती है जो जीवन कि कहानी हर पल बदलकर आगे बढती रहती है।
बारीश के बूँदों का बार बार आकर आगे बढते जाना जीवन कि जरुरत होती है जो जीवन मे हमे साँसे देकर हर पल जीवन कि कहानी बदलकर आगे बढती है।
बारीश के बूँदों कि कहानी जब बदलती है वह हर पल हर एक मौके पर दुनिया को बदलाव देकर आगे अलग तरीके से बढती रहती है जो दुनिया का रंग बदलती है।
बारीश के बूँदों का गिरना हर बार एकसा होता है जो जीवन को समझाने कि जरुरत हर कदम होती है जीवन को अलग अलग मौके देकर आगे बढती है।
बारीश के बूँदों से जीवन को परखकर आगे चलते रहने कि जरुरत हर दिशा मे होती है जो जीवन कि कहानी बदल देती है जो जीवन कि धारा बदलती है।
बारीश के बूँदों को ही समझ लेना जीवन कि जरुरत होती है क्योंकि वही तो जीवन कि कहानी होती है हर मोड पर जीवन कि निशानी बदलती रहती है उम्मीदे देकर चलती है।

कविता. ८१०. हवाओं को समझ लेना ।

                                         हवाओं को समझ लेना।
हवाओं को समझ लेना दुनिया कि ताकद होती है जो दुनिया को एक अलग एहसास दे के जीवन कि साँसे बनती रहती है जो जीवन पर असर कर के चलती है।
हवाओं के छूँ लेने से जीवन कि कहानी बनती है जिन्हे हम परख लेते है वह हवा कि कहानी रहती है जो जीवन को अलग तरह कि कहानी देकर आगे बढती चलती है।
हवाओं मे दुनिया कि कहानी हर मौके पर बदलती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर कहानी को होती रहती है जो जीवन को मकसद देकर चलती रहती है।
हवाओं को समझ लेना ही तो जीवन कि अहमियत होती है जो हमे आगे बढते जाने कि उम्मीदे और रफ्तार देकर हर पल चलती रहती है।
हवाओं को समझकर आगे चलते जाना ही तो हमारी किस्मत रहती है जिसकी हमे हर पल मे हर कोने पर कोई ना कोई तो जरुरत होती ही है।
हवाओं मे जीवन कि कहानी बदलती रहती है जो हमारी दिशाए बदलकर हर मौके पर चलती है जो दुनिया के रंग बदलती है जो आगे कई कोनों से चलती है।
हवाओं को समझ लेना ही तो जीवन कि जरुरत रहती है जो जीवन कि हर दिशा को बदलकर जीवन को अलग एहसास देकर हर पल चलती है।
हवाओं को समझ लेने कि जरुरत हर पल जीवन मे रहती है जो हमे समझ देकर आगे बढती है जो साँसों को समझकर चलती रहती है।
हवाओं को परखकर दुनिया आगे लेकर जाती है उन्हे परख लेने कि भी दुनिया को जरुरत हर बार नजर आती है जो साँसों को एहसास अलगसा देकर जाती है।
हवाओं को जीवन मे आगे बढते जाने कि जरुरत नजर आती है जिन्हे हम समझ लेते है वह हवाए ही तो दुनिया मे सबसे अहम नजर आती दुनिया को अलग तरह का रंग दे जाती है।

Sunday, 17 July 2016

कविता. ८०९. सूरज कि किरणों कि ताकद।

                                      सूरज कि किरणों कि ताकद।
सूरज कि किरणों कि ताकद जीवन को परख लेती है जो सूरज दुनिया को समझ लेना चाहता है सूरज कि ताकद जो हमे आगे लेकर चलती रहती है।
सूरज कि ताकद ही हमारी जरुरत रहती है जो हमे जीवन कि रोशनी दिखाती है जीवन को मकसद देकर आगे बढती जाती है नई रफ्तार लाती है।
सूरज को समझ लेने कि जरुरत हर पल जीवन को होती है जीवन मे सूरज कि कहानी साँसे दे जाती है उजाला देकर आगे बढती चली जाती है।
सूरज को परखकर जीवन को समझ लेने कि अहमियत हर पल आगे बढती जाती है जो हमे जीवन कि कहानी अलग सोच से समझ लेने कि जरुरत होती है।
सूरज को समझ लेना ही तो जीवन कि कुछ पलों कि जरुरत होती है जो जीवन कि धारा को संभलकर जीना अक्सर कई मोड पर सिखाती रहती है।
सूरज जब उजाला दे तभी दुनिया रंग तरह तरह के देकर आगे बढती है उस उजाले मे अलग तरह कि चमक हर पल जीवन को रोशनी देकर चलती है।
सूरज को परख लेना जीवन को समझ लेना हर बार अहम होता है क्योंकि सूरज कि रोशनी हर पल हमे कई किसम कि ताकद देकर आगे बढती रहती है।
सूरज कि कहानी जो हमे जीवन मे आगे लेकर चलती है पास आने पर जलाती है दूर से जीवन पर अलग तरह का असर कर के जीवन मे आगे बढती है।
सूरज कि रोशनी जीवन कि धारा को पल पल बदलकर चलती है जो जीवन को हर एक राह मे कोई नई उम्मीदे देकर आगे बढती है जो अलग मकसद से चलती है।
सूरज के अंदर ही दुनिया कि सबसे बडी ताकद रहती है जो जीवन को अलग किसम कि रोशनी देकर हर पल चलती रहती है जो जीवन को मतलब देती है।

कविता. ८०८. तूफान को समझ लेना।

                                         तूफान को समझ लेना।
तूफान को समझ लेना ही तो जीवन कि जरुरत होती है जो हमे अक्सर आगे ले जाती है जो जीवन कि सबसे बडी मुसीबत होती है जो आगे लेकर बढती है।
तूफान को परख लेना जीवन कि जरुरत होती है जो बार बार चीजों का बदलाव समझ लेती है जो जीवन को बदलाव हर पल देकर चलती है जो जीवन को अलग असर देकर चलती है।
तूफान को हर पल चीजों को बदलकर आगे बढते रहने कि आदत होती है जो जीवन पर कोई अलग तरह का मकसद देकर हर पल चलती रहती है।
तूफान को परख लेने कि ताकद दे जाती है चीजे इधर और उधर करने की इजाजत कुदरत उसको देती है जाने क्यूँ असर कर लेती है जीवन को मकसद दे जाती है।
तूफान को समझ लेना ही तो जीवन कि रफ्तार होती है जो जीवन कि कहानी हमारी दिशाए बदलकर रख देती है वह हमारी कहानी को अलग मकसद दे जाती है।
तूफान के अलग एहसास को समझकर जीवन कि कहानी बदलती रहती है जीवन मे चीजों को उलट पुलट कर देने कि कहानी जीवन को बदल देती है।
तूफान को समझकर जीवन को बदलते है जाने कि जरुरत हर बार जीवन को होती रहती है जो जीवन कि दिशाए बदलकर आगे बढती जाती है उम्मीदे बदलकर आगे आती है।
तूफान को चीजों से टकराने जाने की क्यूँ जरुरत होती है क्योंकि तूफानों के अंदर ही जीवन कि कहानी होती है जो जीवन को कुछ और ही बना देती है।
तूफान तो एक उलझन है पर उसे समझ लेने कि जरुरत हर पल होती है जो हमे नई सुबह देकर जीवन को समझ लेती है जीवन को बदल लेती है।
तूफान को परखकर समझ लेने कि कहानी को अहमियत होती है जो हमे आगे बढते जाने कि जरुरत होती है जो जीवन कि दिशाए बदलकर रखती है।

Saturday, 16 July 2016

कविता. ८०७. करना एक अहम चीज।

                                              करना एक अहम चीज।
करना एक अहम चीज जीवन मे अलग एहसास करती रहती है जो जीवन को हर मोड पर बदलाव देती रहती है जो उसे बदलकर रखती है।
करना एक बार अहम तरह कि चीज होती है क्योंकि वही तो जीवन मे अक्सर फर्क देकर चलती है जीवन मे करते करते ही दुनिया बदलती है।
करना जब चाहते है तो जीवन कि कहानी बदलती है जो जीवन मे बाते करते रहने से ही तो जीवन को एक अलग निशानी देती रहती है।
करना तो कई मौकों पर एक मुश्किल बात ही रहती है जो जीवन मे आगे बढते रहने कि जरुरत जीवन को हर मोड पर होती रहती है।
करना ही तो जीवन कि अलग बाजी होती है जो जीवन मे हमे आगे बढने कि उम्मीदे देती है जो आगे लेकर चलती रहती है आगे बढती है।
करना ही तो बढते रहने कि जरुरत होती है जो जीवन को अलग किसम कि साँसे देकर आगे चलती रहती है जो नई शुरुआत देती जाती है।
करना ही तो जीवन कि एक अलग कहानी बनती है उसकी आवाज अलग मंजिल के ओर लेकर चलती है जीवन कि निशानी बदलती रहती है।
करना ही पर कभी कभी काफी नही है यह लोग कहते रहते है पर सच मे जो कुछ कर गुजरे उसके अंदर जीवन कि कहानी बनती रहती है।
करना तो जीवन मे अलग एहसास कि जरुरत होता है जिसके कारण ही जीवन कि कहानी बनती है जो आगे चलती रहती है जीवन कि अलग निशानी बनती है।
करना ही तो जीवन कि अहमियत लगती है जिसके कारण जीवन कि कहानी बदलती है जो हमे आगे लेकर चलती जाती है जिसकी जरुरत होती है।

कविता. ८०६. बारीश को समझकर।

                                       बारीश को समझकर।
बारीश को समझकर उसका एहसास अलगसा होता है जो जीवन को हर पल पहचान अलगसी देता है जो आगे लेकर चलता रहता है।
बारीश के बूँदों कि कहानी जीवन को बदलकर रखती है जो हमे उम्मीदे देकर जाये यह जीवन कि जरुरत हर बार कहाँ रहती है जो आगे लेकर चलती है।
बारीश को समझकर जीवन कोई अलग एहसास दे जाता है जो हमे समझ लेना हर पल अहम रहता है जो हमे आगे लेकर चलता जाता है।
बारीश के एहसास को जब मन मेहसूस करता है जो पानी के छूँ लेने से जीवन को अलग किसम का मतलब देकर आगे बढता जो जीवन को मकसद देता है।
बारीश को समझ लेना जरुरी तो जीवन को होता है जो एहसास अलगसा अक्सर मेहसूस करके मन को आगे लेकर जाता है जो रोशनी दे जाता है।
बारीश को समझ लेना हर मोड पर रोशनी दे जाता है जिसे समझ लेना ही तो जीवन कि नई शुरुआत बन पाता है हमे आगे लेकर बढता चला जाता है।
बारीश को जो हम समझ लेते है उसमे एहसास अलगसा होता है जो जीवन को हर एक सुबह और श्याम एहसास कुछ अलग तरह का दे जाता है।
बारीश को समझ लेना सोच के अंदर एहसास अलगसा देकर चलता है जिसे परख लेना जीवन को समझ देकर आगे चलता रहता है उम्मीदे देकर चलता है।
बारीश के अंदर का एहसास जिन्दा हर पल रहता है जो जीवन को अलग कहानी बताता जाता है जीवन को आगे लेकर चलता रहता है जो मतलब देकर चलता है।
बारीश के अंदर जीवन को अलग पहचान मिल जाती है जो हमे हर बार सुहानी कहानी बताती है जो हमे आगे लेकर चलती जाती है दुनिया को बदलकर जाती है।

Friday, 15 July 2016

कविता. ८०५. जब किसी सोच से।

                                               जब किसी सोच से।
जब किसी सोच से खयाल बन जाता है उसे समझ लेने का मजा कुछ और ही होता है जो जीवन को नई उम्मीदे देकर जाता है।
जब कोई जवाब दुनिया को बदल देना चाहता है हमे दुनिया को समझ लेने कि जरुरत जीवन अक्सर मेहसूस करके जाता है।
जब किसी खयाल को परखकर जीवन कि कहानी बदल लेना जरुरी नजर आता है उस खयाल से ही जीवन बढता जाता है।
जब किसी ताकद को परखकर जीवन मे आगे चलते रहना जरुरी नजर आता है जिनसे खुशियों कि कहानी का रंग जीवन मे आता है।
जब हम जीवन को समझ लेते है तो जीवन नई साँसे दे जाता है एक अलगसी रफ्तार कि जरुरत दुनिया मे हर पल पाता है जीवन को आगे ले जाता है।
जब जीवन मे कई किनारों को समझ लेने का मजा आता है उन्हे परखकर आगे चलते जाने कि सोच के अंदर ताकद का एहसास अलग होता है।
जब जीवन को समझ लेते है जिसमे एहसासों का अलग साया दिखता रहता है बडा मजा आता है उसे परख लेने का मजा कुछ और ही होता है।
जब जीवन कि धारा को समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत होती है तब हमे जीवन कि कहानी अलग तरीके से समझमे आती रहती है।
जब हम जीवन को अलग तरह से समझ लेते है तो उसमे अलग तरह का एहसास जिन्दा होता है जो जीवन को अलग तरह कि साँसे दे जाता है।
जब जीवन कि धारा को समझ लेना जरुरी होता है जीवन के अंदर कोई ना कोई कहानी का कोई तो मतलब हर पल जीवन मे आगे लेकर चलता है।

कविता. ८०४. फूलों से ज्यादा अहम।

                                         फूलों से ज्यादा अहम।
फूलों कि खुशबू हो या कोमलता जीवन को छूँ जाये उन फूलों के एहसासों से दुनिया हर बार बदलती जाती है फूलों को समझ लेने कि जरुरत नजर आती है।
फूलों को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है जिसे समझ लेने पर जीवन कि धारा को असर अलग तरह का होता रहता है जो दिशाए बदलता है।
फूलों से भी कभी कभी पत्तों कि जरुरत ज्यादा नजर होती है क्योंकि पौधों मे सबसे ज्यादा उनकी जरुरत जीवन मे अक्सर होती है जो आगे लेकर चलती है।
फूलों को भुलाकर ही तो जीवन कि कहानी कई बार अलग तरह से सिखा जाती है जिसमे एहसासों कि अलग बात जीवन मे हर पल सुनाई पडती है आगे लेकर चलती है।
फूलों के अंदर कोई नया एहसास हर पल जीवन मे उजाला दे जाता है उम्मीदों कि नई शुरुआत दे जाती है जीवन को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है।
फूलों कि खुशबू तो खास होती है पर सबसे जरुरी उन पत्तों कि उन शाखाओं कि जरुरत हर पल नजर आती है जो दुनिया को हर बार अलग बदलाव देती है।
फूलों मे दुनिया कि एक अलग ताकद छुपी नजर आती है जो हमे आगे लेकर चलती जाती है जो हमे नई उम्मीदे देकर हर पल आगे बढती चली जाती है।
फूलों को समझ लेने कि अहमियत हर बार अलग तरह से नजर आती है पर उस से भी ज्यादा पौधे कि जरुरत नजर आती है जिनमे सही चीजे होती है जो जीवन दे जाती है।
फूलों से ना काटों कि जरुरत जीवन मे इतनी होती है जितनी पौधों कि जरुरत हर बार जीवन मे अक्सर मेहसूस होती है जो जीवन को समझ लेने कि जरुरत होती है।
फूलों कि नही  पेडों कि हमे अक्सर जरुरत होती है जो हमे उम्मीदों कि रोशनी देकर आगे बढती जाती है जो जीवन को बनाकर आगे बढती चली जाती है क्योंकि वही फूलों को जिन्दा करती है।

Thursday, 14 July 2016

कविता. ८०३. बार बार किसी बात से।

                                              बार बार किसी बात से।
बार बार किसी बात से जीवन को समझ लेने मे मुश्किल होती है वह बात तो वही होती है जो जीवन को बदलकर रख देती है।
बार बार किसी खयाल को समझ लेने कि जरुरत होती है उसे समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत हर मौके पर होती है।
बार बार किसी बात को जीवन मे आगे बढते रहने कि जरुरत होती है जो जीवन को कुछ अलग चीज समझाकर आगे बढती रहती है।
बार बार चीजों मे दुनिया को समझ लेने कि जरुरत होती है पर कहाँ समझ पाते है हम क्योंकि हम लोगों को कहाँ फुरसत रहती है।
बार बार जिस साज से दुनिया मे आवाज सुनाई पडती है उस साज को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर हमे बजाने से पहले होती है।
बार बार जब सुबह होती है हमने अक्सर देखा है कोई आवाज मधुरसी सुनाई पडती है पर बिना लब्जों के कोयल भी कभी कभी अधूरीसी लगती है।
बार बार जिस राह पर चलते है उसकी मंजिल बदलती रहती है उस सोच मे ताकद होती है जिस सोच से दुनिया बदलती रहती है।
बार बार साँसों को कोई अलग कहानी सुनाई पडती है उन साँसों से ही तो दुनिया कि कहानी बनती है जिनमे खुशियों कि निशानी रहती है।
बार बार जिस सोच से जीवन कि साँसे बनती है पर किसी गलत सोच से उसी पल हमारी साँसे घुटती रहती है वह जीवन को अलग असर देकर आगे बढती है।

कविता. ८०२. हर सुबह का एहसास।

                                                हर सुबह का एहसास।
हर सुबह हो या कोई रात जीवन मे कोई अलग एहसास दे जाती है जो दुनिया को हर पल कोई अलग दिशा दिखाती रहती है।
हर सुबह के अंदर अलग एहसास को समझ लेने कि जीवन को जरुरत हर बार होती है जो जीवन को अलग समझ देकर आगे बढती जाती है।
हर सुबह को समझ लेना जीवन कि एक अलग चाहत देकर आगे बढती जाती है जो जीवन को सच्ची साद हर पल देकर आगे बढती जाती है।
हर सुबह मे जीवन का कुछ अलग फैसला छुपा रहता है जिसमे जीवन को परख लेने की कुछ अलग करने कि चाह छुपी हर पल रहती है।
हर सुबह मे नई शुरुआत हर मौके पर जीवन मे कुछ अलग नई रफ्तार मिल जाती है जिसमे जीवन कि कुछ अलगसी चाहते मिलती है
हर सुबह कोई अलग उम्मीद मिलती है जिसमे जीवन कि नई उम्मीदे आती है उनमे ही तो जीवन के खुशियों कि पहली चाल छुपी होती है।
हर सुबह मे जीवन का एहसास कुछ अलगसी दिशाए देकर आगे बढता जाता है जो जीवन को कोई अलग किसम का एहसास देकर आगे चलते जाता है।
हर सुबह को समझकर आगे बढते जाना हर पल जरुरी नजर आता है जो जीवन मे एक अलग एहसास देकर जाता है जो जीवन को हर बार बदलकर जाता है।
हर सुबह मे उसे अलग किनारा हर पल नजर आता है जो जीवन को नई उम्मीदे और रफ्तार लेकर हर पल और हर बार आता रहता है कई उम्मीदे बनाता है।
हर सुबह मे ही तो जीवन कि अलग कहानी बन जाती है जो जीवन कि अलग कहानी लिखकर जाती है वह दुनिया को अलग एहसास देकर जाता रहता है।

Wednesday, 13 July 2016

कविता. ८०१. किरणों कि ताकद।

                                             किरणों कि ताकद।
किरणों कि ताकद से रोशनी हर बार जीवन को चमक दे जाती है जो हमे अलगसा एहसास देकर धरती का रंग बदलकर आगे बढती जाती है।
किरणों कि कहानी जीवन मे नया एहसास दे जाती है जो धरती को अलग तरह का रंग देकर चलती जाती है जीवन को समझ लेना जरुरी लगता है जिसे जिन्दगी समझ पाती है।
किरणों कि रोशनी से धरती अलग चमक दिखाती है बडी प्यारी लगती है वह किरण जिसके छूँ लेने से पत्थर मे भी सोने कि चमक आ जाती है।
किरणों का क्या है वह किसकी भी किरण हो सुंदर तो नजर आती ही है दोनो तरह से जीवन कि रोशनी उजाला देकर आगे बढती जाती है।
किरणों कि ताकद मे धरती भी कुछ अलग एहसास दे जाती है दुनिया को परखकर आगे चलते जाने कि कहानी एहसास अलगसा लाती है।
किरणों को किसी ओर से भी देखे तो दुनिया खुबसूरत नजर आती है जीवन कि हर एक दिशा दुनिया को अलग तरह कि समझ देकर आगे बढती चली जाती है।
किरणों कि ताकद अक्सर दुनिया को मतलब दे जाती है जीवन का मकसद हर पल बदलकर आगे बढते रहने कि ताकद दुनिया के हर एक मौके पर दे जाती है।
किरणों कि हर एक तसबीर प्यारी नजर आती है अँधियारे मे भी खास हमे किसी छोटीसी किरण कि जरुरत हर पल नजर आती है जो आगे ले जाती है।
किरणों मे ही तो जीवन कि कहानी हर बूँद से सागर बन जाती है जिसे परख लेने पर ही तो दुनिया नया एहसास देकर आगे बढती चली जाती है।
किरणों को समझकर दुनिया मे जब साँसों कि नई सौगाद बन जाती है वही तो जीवन कि कहानी सुनाती है और जीवन कि दिशाए बदलती जाती है।

कविता. ८००. किसी किरण मे रोशनी।

                                            किसी किरण मे रोशनी।
किसी किरण मे रोशनी जीवन को समझकर आगे ले चलती है जो जीवन को परखकर आगे बढती जाती रहती है जो हमे उम्मीदे देकर आगे ले चलती है।
किसी किरण मे जीवन को अलग एहसास दे जाती है वही सोच हमारे जीवन मे अलग एहसास दे के जीवन को समझकर हर पल आगे लेकर बढती जाती है।
किसी किरण मे जीवन कि कहानी हमे ताकद देकर जाती है जो हमे परखकर आगे बढती जाती है जिसे समझकर आगे चलती जाती है जो ताकद दे जाती है।
किसी किरण को समझ लेना हर पल जरुरत लगती है जो जीवन मे रोशनी बनकर आगे बढती जाती है हमे नई उम्मीदे देकर आगे चलती रहती है।
किसी किरण मे हमे समझ लेने कि ताकद हर मोड पर नजर आती है जो हमारे जीवन मे कई बार अलग अलग किसम के कदम देकर चलती जाती है।
किसी किरण मे हमे जीवन को परख लेने कि अहमियत हर पल होती है जो हमे आगे बढती जाती है जो मतलब देकर आगे चलती जाती रहती है।
किसी किरण को परखकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर मौके पर दुनिया को दिखती है जिसकी जीवन मे एक अलग तरह कि सोच नजर आती है।
किसी किरण मे हमे पल पल दुनिया को परखकर आगे जाने कि जरुरत होती है जीवन मे किरणों को समझकर आगे जाने कि जरुरत हर पल दिख पाती है।
किसी किरण कि कोई रोशनी जीवन मे सुबह लाती है जिसे समझकर जीवन कि कहानी हर मोड पर हर पल कुछ अलग अंदाज मे बदलती जाती है।
किसी किरण मे हमे अपने जीवन के कई किरदारों को समझकर आगे बढने कि उम्मीदे देने कि ताकद हर बार नजर आती है जो हमे आगे बढना सिखाती है।

Tuesday, 12 July 2016

कविता. ७९९. अच्छाई का हिस्सा उम्मीद।

                                              अच्छाई का हिस्सा उम्मीद।
जब हम कुछ कहते है हमने जीवन को कुछ अलग ही समझ लिया है जब हम परखे तब हमे जीवन मे अलग तरह का एहसास मेहसूस हुआ है।
जब हम जीवन के हर कदम को समझकर आगे चलते जाते है हमे कदमों को परखकर आगे चलते है हमने अक्सर कई को बिना परवाह कुछ भी कहते देखा है।
जब हम जीवन कि धारा को समझ लेना शुरु करते है जीवन को समझ लेना ही तो जीवन कि सच्ची प्यास होती है जो जीवन को बदलकर रख देती है।
जब कदमों को समझकर जीवन को अलग एहसास होता है जिसे समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत हर पल मन को मेहसूस होती रहती है जो दिशाए बदलती है।
जब कदमों मे ही साँसों का एहसास होता है जो जीवन को अलग दिशाए देकर आगे बढता रहता है जो हमारी जरुरत होती है आगे लेकर चलता है।
जब हम जीवन मे चलते जाते है कभी जीवन को समझ लेना हर पल जरुरत बनता रहता है पर कई बार बिना समझे ही अच्छाई कर दे तो भी जीवन रोशनी देकर चलता है।
जब जीवन को समझकर आगे चलना मुश्किल हो जाता है तब जीवन मे अच्छाई कर लेना ही हर मोड पर सही लगने लगता है जो उम्मीदे देकर आगे बढता है।
जब जीवन को समझ लेना जरुरी लगता है वही तो जीवन कि सच्ची ताकद बनकर आगे बढता है जीवन को अलग एहसास देकर चलता है आगे लेकर चलता है।
जब जीवन मे उम्मीदों कि बोच्छार होती है कभी तो सच्ची राह कि अहमियत समझ आती है क्योंकि वही तो उम्मीदों कि बजह नजर आती है नई रफ्तार देकर जाती है।
जब जीवन को समझ लेना हो तो अच्छाई कि अहमियत हर पल नजर आती है जो हमे जीवन कि अलग राह हर पल नजर आती है जो हमे रोशनी देकर चलती जाती है।

कविता. ७९८. हर किनारा।

                                                हर किनारा।
हर किनारा जिन्दा रहता है जिसे समझ लेना हमे आशाए देकर चलता रहता है क्योंकि कई किनारों से ही तो दुनिया बनती है पर किसी खास किनारे के लिए नजर तरसती है।
हर किनारा हमारे जीवन को अलग सुबह दे वह किनारे कि जरुरत होती है जो आगे बढती जाती है जो हर पल आगे बढती हुई जाती है जिनमे जीवन कि ताकद होती है।
हर किनारे के पार दुनिया कि कहानी सुनाई पडती है जो जीवन को हर बार बदलकर चलती रहती है जो जीवन कि दिशाए बदलती रहती है उम्मीदे देकर चलती है।
हर किनारा अपना नही होता है पर उसे समझकर जाने कि जरुरत होती है जो जीवन मे अलग किसम का मतलब देकर चलती रहती है जीवन को नया किनारा दे चलती है।
हर किनारा दे जाये वह उम्मीद जीवन कि जरुरत होती है जो जीवन को तसल्ली देकर आगे बढती रहती है वही तो अपनी दुनिया कि अहमियत होती है जिसकी जीवन एक जरुरत होती है ।
हर किनारा जिसे समझकर आगे समझ लेने कि अहमियत जीवन को हर पल होती है जो हमे आगे बढते रहने कि जरुरत होती है जिसकी जीवन को अहमियत होती है।
हर किनारा जीवन कि ताकद होती है जिसे आगे ले जाना ही जीवन कि सच्ची अहमियत होती है जो जीवन को अलग दिशाए देकर आगे बढती रहती है।
हर किनारा हमारी साँसे नही बनता है किसी किनारे को परखकर चुनना पडता है जिसमे हमारा हर कदम रहता है जिनमे खुशियों का एहसास छुपा रहता है।
हर किनारा जीवन मे हर पल उम्मीद नही देता है क्योंकि वह किसी और का किनारा होता है उसमे हमारा सुख छुपा होता है जो जीवन को खुशियाँ देकर चलता है।
हर किनारा अपना नही होता है हमे अपना किनारा हर पल ढूँढना पडता है जिसे परखकर आगे चलते जाना जीवन मे सबसे जरुरी होता है।
हर किनारा जीवन का अहम इशारा होता है जो जीवन को दिशाए देता है पर हमे सही किनारा ढूँढते रहने कि जरुरत हर बार होती है।

Monday, 11 July 2016

कविता ७९७. हर बूँद कि ताकद।

                                                हर बूँद कि ताकद।
हर बूँद को समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत होती है जो जीवन कि अलग सोच रहती है जो जीवन मे उम्मीदे देकर चलती रहती है।
हर बूँद को परखकर जीवन मे नई किस्मत कि कहानी बदल देती है जो जीवन कि कहानी बदलती रहती है जो आगे लेकर चलती है।
हर बूँद को समझ लेने कि अहमियत जीवन को नई रफ्तार देकर चलती रहती है जो दुनिया को समझकर आगे चलने कि ताकद होती है।
हर पानी की बूँद जो हमारी जरुरत होती है वही जीवन कि सच्ची अहमियत होती है जो जीवन को आगे लेके बढती जाती है उम्मीदे देकर चलती है।
हर बूँद को समझकर आगे बढते रहने कि जीवन कि कहानी बनती है जीवन को  परखकर आगे चलते रहने कि जरुरत होती है जो आगे बढती है।
हर बूँद जो पानी कि ताकद रखती है उसके एहसास कि जीवन को जरुरत लगती है जो हमे आगे लेकर चलती है उम्मीदे दे जाती है नई सुबह देती है।
हर बूँद को समझ लेना ही जीवन कि जरुरत बनती है जब पानी कि कमी जीवन को तरसा लेती है जो हमारे जीवन कि सच्ची ताकद होती है।
हर बूँद कम हम चाहे जितना भी कह दे पर दुनिया तो हर पल बदलती है जो जीवन कि धारा को परखकर हर कदम पर उम्मीदों कि ओर निकल जाती है।
हर बूँद के अंदर जीवन कि ताकद रहती है जो हमे साँसे देकर हर पल आगे चलती रहती है जो जीवन को नई किसम कि समझ देती है उम्मीदे देकर चलती है।
हर बूँद को परखकर आगे चलते रहने कि जरुरत होती है क्योंकि बूँद ही तो पानी का एहसास देकर हर पल बदलती रहती है जो उम्मीदे देकर चलती है।

कविता. ७९६. हरीयाली का असर।

                                                 हरीयाली का असर।
हरीयाली कि कहानी मन को छूँ जाती है मिट्टी मे छुपे पौधे से जीवन कि दास्तान बन जाती है जिसे समझकर दुनिया आगे बढती जाती है।
हरीयाली मे ही तो जीवन कि हर बार सुहानी कहानी नजर आती है मिट्टी से निकले उस पौधे मे जीवन कि निशानी हर पल नजर आती है।
हरीयाली जब एहसास देकर आगे चलती है तो जीवन कि दिशाए बडी सुहानी नजर आती है जो उलझन को उम्मीदे देकर चलती जाती है।
हरीयाली जीवन को अलग तरह का एहसास और मकसद देकर जाती है इसलिए जिन्दगी पर कुछ ऐसा असर कर जाती है जो हरीयाली से आगे लेकर जाता है।
हरीयाली मे ही तो कुछ ऐसी ताकद दिख जाती है जो जीवन को अलग एहसास दे जाती है जीवन को समझकर आगे बढती जाती है।
हरीयाली ही तो मिट्टी से उपर आते कि ताकद दे जाती है जीवन के एहसास को बदलकर जीवन को तसल्ली देकर आगे बढती चली जाती है।
हरीयाली को समझकर आगे बढते जाने कि जरुरत हर पल होती है जो जीवन को हर मौके मे कुछ ना कुछ एहसास देकर आगे चलती जाती है।
हरीयाली ही हर पल कि कहानी बदलती है क्योंकि हरीयाली उस मिट्टी से बाहर निकल जाती है जिसमे से उपर आना मुश्किल हर राह पर नजर आता है।
हरीयाली ही तो जीवन कि सच्ची ताकद होती है जो जीवन को सच्चा मकसद और मतलब देकर आगे उम्मीदे देकर चलती जाती है।
हरीयाली तो जीवन मे लढने कि सच्ची ताकद होती है जो जीवन को मकसद देकर आगे बढती चली जाती है वही तो लढना सिखाती है।
हरीयाली ही तो असली राह बताती है उम्मीदे पाना आसान नही होता है पर फिर भी वह जीवन कि सच्ची सोच नजर आती है।

Sunday, 10 July 2016

कविता. ७९५. किसी खयाल।

                                               किसी खयाल।
किसी खयाल को दोहराओ तो बात बदल जाती है जीवन कि हर पल सौगाद बदल जाती है जो जीवन को एहसास अलगसा दिखती है।
किसी पल मे हमे एक अलग सोच सी मिल जाती है जो जीवन कि कहानी बदलकर कोई बात सिखाती है जीवन को अलग एहसास दे जाती है।
किसी सोच को परख लेना अहम बात दिखाती है जो जीवन कि कहानी बदलती जाती है जो जीवन को अलग तरह का एहसास देकर आगे बढती जाती है।
किसी किरण कि उम्मीदे जीवन को अलग एहसास दे जाती है जो जीवन को समझकर आगे चलती जाती है नया एहसास दे जाती है।
किसी कहानी को बदलकर रखने कि जरुरत हर पल नजर आती है जो जीवन कि दिशाए बदलकर रख देती है आगे निकल जाती है।
किसी सोच के अंदर कि बातों को समझ लेने कि जरुरत हर मोड पर होती है जो जीवन मे आगे निकलकर आगे बढते जाने कि उम्मीदे देकर जाती है।
किसी मोड को समझकर कोई किरण जीवन मे नया एहसास देकर आगे बढती चली जाती है जो हमे हर पल साँसे देकर आगे चलती जाती है।
किसी तरह कि कहानी बदलती हुई नजर आती है जिसमे जीवन कि बाते समझ लेने कि अहमियत हर मोड पर हर पल जीवन मे होती है।
किसी तरह कि कहानी बदलती चली जाती है जो हमे आगे बढते रहने कि उम्मीदे हर बार जीवन मे दे आगे चलती जाती है नई रफ्तार दे जाती है।
किसी खयाल मे नये तरह का अंदाज और सोच हर पल जिन्दा रहती है जब उसी खयाल कि कहानी दोहराई जाती है उम्मीदे देकर चलती है।

कविता. ७९४. हर चीज को समझ लेना।

                                           हर चीज को समझ लेना।
हर चीज कि अपनी एक किस्मत होती है पर किस्मत भी कहाँ चीज बूरी होती है कभी उम्मीदों से समझ लेते है एहसास कि कहानी अलग होती है।
हर चीज को परखकर जीवन कि कहानी बनती है जो चीज दुनिया मे खुशियाँ देती है वह चीज भी तो अक्सर ढूँढनी पडती है जो जीवन कि कहानी बदलती है।
हर चीज के बदलाव से दुनिया बदलती है दुनिया को हर पल समझ लेने कि जरुरत जीवन को मिलती है जीवन मे खुशियाँ कई किनारों को पार कर के ही मिलती है।
हर चीज मे जीवन कि रफ्तार दिखती है जो जीवन को हर पल खुशियों कि बारात देकर चलती है जीवन कि कहानी बदलकर रखती है।
हर चीज को पहचान लेने कि जरुरत दुनिया मे पडती है क्योंकि उनसे चीजों से दुनिया खुशहाल बनती है हमे आगे बढते रहने कि उम्मीदे दे जाती है।
हर चीज को समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत होती है जो हमारे जीवन का एहसास या फिर खयाल रखती रहती है जो दिशाए बदलती जाती है।
हर चीज को परख लो तो दुनिया मे अलग किसम का एहसास दुनिया हमे अक्सर देकर चलती है जो जीवन कि अलग धारा मिलती है।
हर चीज मे जो जीवन कि दिशाए दिखती है जो जीवन मे आगे लेकर जाती है उसे समझ लेने कि जरुरत हर पल होती है जो आगे बढती रहती है।
हर चीज को परखकर जीवन कि नई रफ्तार हर पल होती है जो जीवन को समझकर आगे बढती जाती है जो दिशाए देकर चलती है।
हर चीज को समझ लेने कि जरुरत जीवन को अहम सोच दे जाती है जो आगे बढती जाती है जिन्हे समझकर दुनिया रोशनी देकर जाती है।

Saturday, 9 July 2016

कविता. ७९३. मशाल कि आग।

                                           मशाल कि आग।
मशाल कि आग के अंदर नई रोशनी मिल जाती है जीवन मे सारी बाते समझमे आती है आग तो वह है जो अँधियारे से भीड जाती है और उम्मीदे दे जाती है।
मशाल तो वह जीवन कि है जो अलग एहसास दिलाती है जिसमे रोशनी कि ताकद हर पल आवाज देकर आगे चलती जाती है जीवन को बदल जाती है।
मशाल को समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत अहम नजर आती है जिसमे जीवन कि अलग पुकार जीवन मे एहसास दिलाती है अलग सोच दे जाती है।
मशाल तो वह है जो अँधेरे मे भी राह बताती है जो जीवन कि कहानी और दिशाए बदलकर जाती है अलग एहसास अक्सर दे जाती है जीवन मे बदलाव लाती है।
मशाल को परखकर जीवन मे कोई अलग खयाल को परख लेने कि जरुरत हर मौके मे होती है जो जीवन कि कहानी बदल देती है जो आगे ले जाती है।
मशाल को समझकर उसके अंदर कि रोशनी जीवन कि कहानी बदलकर आगे बढती जाती है जो हमे दुनिया कि अलग अलग दिशाए बता देती है जो एहसास को बदल जाती है।
मशाल को समझकर रोशनी दे जाये वह सोच जरुरी होती है जो रात मे ही अलग एहसास देकर जाती है जीवन का विश्वास बदलकर आगे बढती जाती है।
मशाल तो जीवन कि अलग दिशाए देकर आगे बढती जाती है जिसमे जीवन कि दिशाए बदलती रहती है जो रोशनी कि कहानी बताते है।
मशाल को समझकर रोशनी कि शुरुआत हर बार होती है जो जीवन कि कहानी कई हिस्सों मे और कई किस्सों मे कहती रहती है जीवन को बदलती रहती है।
मशाल को कई तरह कि रोशनी जीवन मे देकर चलती रहती है जो जीवन को साँसे दे जाये वह उम्मीद एक मशाल से ही तो बनती रहती है।

कविता. ७९२. हर मोड पर।

                                                हर मोड पर।
हर मोड को परखकर आगे बढते जाने कि जरुरत होती है मोड को समझ लेने कि अहमियत जीवन को हर पल होती है।
हर मोड पर के कई किरदारों मे जीवन कि कहानी बनती है वह जीवन को अलग अलग अंदाज मे समझ लेना सिखाती है।
हर मोड पर जीवन कि राहे हमे सोच देती है जीवन मे मोड के अंदर का एहसास जीवन को हर पल देती है हर मौके को साँसे दे जाती है।
हर मोड को साँसों मे समझ लेने कि जरुरत होती है जो जीवन कि कहानी हर बार देती है जो जीवन मे अक्सर बदलाव देती है।
हर मोड पर ही तो दुनिया बदलती रहती है जिसे समझकर आगे चलते जाने कि जरुरत हर मौके पर हमे पडती रहती है जो दुनिया बदलती रहती है।
हर मोड को समझ लेने कि जरुरत हर ताकद मे मिलती है वह हर पल जीवन कि कहानी बदलती रहती है जीवन को अलग एहसास देती है।
हर मोड पर जीवन को समझ लेने कि अहमियत जीवन मे साँसे दे जाती है जो जीवन कि कहानी बदलती जाती है जीवन को अलग एहसास देती है।
हर मोड परखकर कई किस्सों कि कहानी हर पल बनती है जो जीवन को अलगसा एहसास देकर हर पल आगे चलती रहती है जो जीवन को बदलती है।
हर मोड पर कई कोनों मे जीवन कि कहानी बदलती है वह कहानी हम को कई किनारे देकर कई किरदारों मे जिन्दा रहती है।
हर मोड को समझकर जीवन कि दिशाए बनती रहती है जिन्हे समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत हर पल जीवन के अंदर होती है।

Friday, 8 July 2016

कविता. ७९१. पौधों मे पत्ते।

                                               पौधों मे पत्ते।
पत्ते जो हवा पर हिलते रहते है पेडों के अंदर एहसास कि अलग आवाज जीवन को समझ लेते है पत्तों को समझ लेने कि अहमियत होती है।
पत्ते तो कई रंगों मे दिखते रहते है  उन्हे समझ लेने कि जरुरत हर मौके मे होती है जो हमे आगे लेकर जाती है उम्मीदे देकर जाती है।
पत्तों कि सरसराहट मे जीवन कि अलग सोच छुपती है जो हमे जीवन को परख लेती है जो हमे अलग तरह कि समझ देकर आगे बढती है।
पत्ते ही तो पौधों से बनते है पर हर पल जीवन मे वह ही तो हमे सच्चा मकसद देकर आगे बढते रहते है जो दिशाए बदलकर रख देती है।
पत्तों मे ही कभी कभी हमे कई एहसास दिखते है कभी हमारी खुशियाँ तो कभी हमारी फर्याद नजर आती है जो दिशाए बदलकर जाती है।
पत्ते ही तो दुनिया कि कहानी बताते है पर कभी कभी वह हमारी जीवन कि अलग कहानी बताकर आगे बढते रहते है जिनकी अलग कहानी बन जाती है।
पत्तों मे ही तो जीवन कि कहानी छुपी होती है उनमे अपनी कहानी सुनते है पर कभी कभी अपनी कहानी सुनते सुनते दूसरे कि कहानी भी मिल जाती है।
पत्तों से ही तो जीवन कि कहानी पता चलती है उन पत्तों को हमने अपनी कहानी दे दियी होती है पर कभी कभी अपने से ज्यादा जरुरी दूसरे कि कहानी लगती है।
पत्तों मे छुपे किस्सों मे दुनिया कि एक आवाज सुनाई देती है जो हमे अक्सर खुशियाँ देकर उम्मीदे दे जाती है हमे आगे ले आती है।
पत्ते ही तो जीवन कि कहानी को समझ लेते है जो जीवन को समझ लेने कि अहमियत होती है पर कभी कभी दूसरे कि जरुरत अहम नजर आती है।

कविता. ७९०. हर पल जीवन मे।

                                                  हर पल जीवन मे।
हर पल जीवन मे कोई कहानी बदलकर आगे बढती रहती है जीवन को संभलकर जीने कि जरुरत हर कदम पर असर कर जाती है।
हर पल को बदल लेने कि ताकद जीवन का नया अंदाज  एहसास कर जाती है जिसे समझ लेना ही तो जीवन कि आदत होती है।
हर पल को परखकर जीवन को समझ लेना ही जीवन मे एहसास नये मोड का उजाला दे जाती है उसे पल को समझ लेना जरुरत हर बार होती है।
हर पल को आगे बढते रहने कि उम्मीदे दे जाती है उनको समझकर आगे चलते रहने कि दिशाए दे जाती है जो हमारी ताकद बन पाती है।
हर पल मे ही तो दुनिया को समझकर जाती है उस पल को परखकर हमे आगे बढने कि जरुरत हर मौके पर आगे बढती जाती है।
हर पल को जमाने से सीख लेने कि जरुरत हर मौके पर होती है जो आगे बढते जाती है जीवन को बदलकर रख देती है।
हर पल को मतलब दुनिया दे जाती है जो जीवन कि कहानी को बदलाव हर बार दे जाती है जो जीवन को उम्मीदे देकर चलती जाती है।
हर पल मे ही तो हमारी दुनिया नजर आती है जो जीवन को मतलब हर मोड पर दे जाती है जो हमे समझ अलग किसम कि देकर आगे जाती है।
हर पल को कोशिश करते रहने कि जरुरत होती है क्योंकि हर पल के अंदर दुनिया अहम साँस देकर आगे बढती जाती है।
हर पल को कई किसम के मतलब तो जीवन दे जाता है पलों को ही तो दुनिया हर मौके पर अक्सर समझ लेती है मकसद दे जाती है।

Thursday, 7 July 2016

कविता. ७८९. बारीश को समझकर।

                                                बारीश को समझकर।
बारीश को समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत हर पल होती है जब वह आती है जीवन कि कहानी बदलती जाती है दिशाए बदलकर आगे बढती जाती है।
बारीश के अंदर एहसास कि कहानी बदलकर साँसे दे जाती है जो जीवन को नजारे देकर आगे लेकर हर मोड पर खुशियाँ देकर आगे बढती जाती है।
बारीश कि बूँदे जो जीवन मे जरुरी नजर आती है वह तब आगे ले जाती है जब वह दुनिया को अलग तरह का मकसद देकर आगे बढती चली जाती है।
बारीश के एहसास से दुनिया कि सोच हर पल बदलती जाती है जीवन को आगे बढते रहने कि जरुरत उम्मीदे हर पल दे जाती है।
बारीश को अगर हम समझ नही लेते है तो उसमे दुनिया कुछ और ही नजर आती है जीवन कि सच्चाई देकर हर पल आगे बढती जाती है।
बारीश के अंदर अहमियत को समझ लेने कि जरुरत हर पल कुछ खास एहसास देकर जाती है जो जीवन कि ताकद बनकर हर पल आगे ले आती है।
बारीश के पानी से ही तो दुनिया कि नई रफ्तार शुरु हो जाती है जो जीवन को समझकर आगे बढती जाती है जो दिशाए बदलती जाती है।
बारीश के पानी के एहसास को समझकर आगे बढती जाती है क्योंकि पानी मे ही जिन्दगी तो रहती है उसमे उम्मीदे नजर आती है।
बारीश कि बाते ही तो जीवन कि धारा को बदलकर जाती है जो जीवन को अलग तरह का मकसद देकर जाती है एहसास बदलकर जाती है।
बारीश के एहसास मे जीवन कि भाषा है जो जीवन को अलग रंग देकर आगे बढती जाती है जो जीवन के एहसास को अलग सुबह दे जाती है।

कविता. ७८८. पानी का बहना।

                                                 पानी का बहना।
पानी को परखकर आगे बढते रहने कि जरुरत नही होती है वह बहता रहता है उसे समझ लेने कि जरुरत नही होती है।
बहना उसकी आदत है उसे आगे बढते रहने कि जरुरत होती है उसे चीजों को समझ लेने कि जरुरत हर बार अलग एहसास दे जाती है।
बहते जाने कि जरुरत हर पल को होती है हमे पानी को अपनी अहमियत को समझाने कि जरुरत नही होती है वह अपने आप मे होती है।
बहना तो उसका मकसद है उसमे जीवन को समझ लेने कि ताकद हर पल होती है जो जीवन को तसल्ली देकर आगे बढती है।
बहना ही तो हमे आगे लेकर चलता है हमे उस बहने कि जीवन मे आदत होती है जो हमे कई बार अलग अलग तरह के खयाल दे जाती है।
जीवन को समझकर और परखकर जीवन मे आशाए हर पल बनती है जो हमे जीवन मे आगे लेकर चलती रहती है उम्मीदे दे जाती है।
पर कभी कभी पानी कि तरह उसे बहते रहने कि जरुरत हर बार होती है जो उसे हर किनारे पर रोशनी देकर आगे बढती है।
बहना ही तो जीवन कि फिदरत होती है जो जीवन को हर मोड पर आगे लेकर चलते जाने कि हर कदम को आदत देती रहती है।
बहने से ही तो दुनिया आगे चलती है उसे रुकने कि जरुरत नही होती है उसे आगे बढते जाने कि ताकद होती है जो उम्मीदे जीवन मे देकर चलती है।
जीवन को समझ लेने कि जरुरत हर पल होती है जो बताता है कि बहते रहना ही जीवन कि हर मोड कि अहमियत होती है जो उम्मीदे दे जाती है।

Wednesday, 6 July 2016

कविता. ७८७. हर जवाब।

                                                हर जवाब।
हर सवाल को जवाब कुछ ऐसे दो कि उसका अंदाज जुदा दिख जाये सच्चाई उसमे ऐसे चमके कि एहसास अलगसा हर पल नजर आता हो।
जब सही करो कुछ जीवन मे उम्मीदों का किनारा बदल जाता हो उसे समझ लेना जीवन मे जिसमे जीवन का रंग अलग नजर आता हो।
जब जब साँसों मे जीवन जिन्दा हो जीवन अपनी प्यास बदल जाता है कुछ ऐसा करना जीवन मे कि वह साँसों कि सौगाद बदलता हो।
जब जब कोई जवाब जुबान को तसल्ली दे जाता है तो लगता है जैसे कि जीवन का एहसास बदलाव दिखता हो जो जीवन को कुछ अलग बनाकर जाता हो।
हर जवाब जीवन को अलग जुबान दे¿कर आगे निकल जाता हो वह एहसास दे जाता है जिसमे आगे बढते रहना जरुरी होता हो।
जवाब ही तो असली दर्द का एहसास भी कभी होता है कभी तकलीफों कि बजह बन जाता है वह जीवन कि सही सौगाद होता हो।
जवाब को समझ लेना ही तो दुनिया को उम्मीदे सही किसम कि देकर जाता है उसका ऐसा होता है तभी वह ऐसा बनता है जो शुरुआत बन पाता हो।
जवाब जब सच्चा हो तो उसका एहसास जुदा होता है जो दुनिया को बदलकर रखने कि हर बार हर पल जीवन मे ताकद रखते हो।
जवाब ही तो लब्जों का सिंगार होता है जो जीवन को हर पल हर मोड पर बदल जाता है सही जवाब तो वही है जो किनारा बन पाता हो।
जवाब ही तो जीवन का सहारा होता है उसे संभलकर देना क्योंकि उसे तो ऐसा होना जरुरी है कि जो जीवन कि मशाल बन पाता हो।

कविता. ७८६. फूलों के अंदर।

                                             फूलों के अंदर।
फूलों कि खुबसूरती को एहसास अलगसा होता है उनको परख लेने पर ही जीवन को मकसद मिलता रहता है जो जीवन को समझकर चलता है।
फूलों मे एहसास को समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत होती है जो दुनिया समझ लेती है जो फूलों कि कोमलता और खुशबू को समझते रहते है।
जब जब हम फूलों मे किसी एहसास को देखकर चलते है उसे समझकर ही दुनिया को परख लेने कि ताकद हर मोड पर दुनिया मे हर सुबह मे रखते है।
फूलों कि ताकद मे ही तो हम दुनिया को समझ लेना चाहते है जिसे समझकर परख लेने कि चाहत मे हम दिनरात तरसते रहते है जो ताकद देकर आगे बढते है।
फूल तो जीवन को नई उम्मीदे दे पाते है दुनिया के हर हिस्से मे वह हर पल जिन्दा रहते है जिनमे जीवन को समझ लेने कि जरुरत हर मौके पर हम रखते है।
जब फूलों को समझकर जीवन कि कहानी को समझकर आगे चलते है हर बार हर पल जीवन को परखकर दुनिया को समझ हम लेते है।
जो फूल कहानी मे रहते है उन्हे हर बार हम अपनी जुबानी समझ लेते है जिन्हे घंटो हम सुनते है वह गीत सुहाने समझ लेते है जो फूल से बनते है।
जीवन मे हर पल हम फूलों कि खुशबू को समझ लेते है जिन्हे हर पल हर मोड पर हम अक्सर समझ लेते है आगे चलते जाते है।
फूलों को समझकर जीवन मे हमे एहसास नये मिल जाते है जिन्हे परखकर जीवन को समझ लेने कि उम्मीदे देकर हम आगे बढते जाते है।
फूलों के एहसास को हम समझ ले तो जीवन मे आगे बढते रहते है जिन्हे समझ तो हम लेते है जिनके अंदर एहसास कई तरह के बसते है।

Tuesday, 5 July 2016

कविता. ७८५. दिप जो रोशनी देता है।

                                                दिप जो रोशनी देता है।
दिप जो रोशनी देकर आगे बढते जाते है दिप के अंदर कि आग को हम समझ लेना चाहते है दिप के एहसास मे हम जीवन को परख लेना चाहते है।
दिप जो जीवन मे एक आँस दे जाते है वह एक आग का हिस्सा है जिसे समझ लेना जरुरी नही मजबूती जीवन कि होती है जो जिन्दगी बदलता रहता है।
दिप ही तो कभी कभी हमारी जीवन कि पेहचान बनकर आगे बढता है जो हमे आगे  लेकर चलता है खुशियाँ देकर आगे बढता है नयी सोच बनकर आगे बढता है।
दिप ही तो अक्सर जीवन को समझाकर आगे चलता है जीवन को हर मोड पर समझकर दुनिया को मतलब देकर हर पल आगे बढता रहता है।
दिप ही तो हमे उम्मीदे देकर चलता है जिसे परखकर आगे बढते रहना ही तो दुनिया मे सबसे जरुरी होता है जीवन उसके बिना कहाँ रोशनी दे पाता है।
दिप का मतलब ही अलग होता है जो जीवन को बदलकर आगे बढता रहता है जिसमे जीवन का एक अलग एहसास हर पल जिन्दा रहता है।
दिप ही आग है वही तो जीवन का सच्चा एहसास रहता है जो जीवन को समझ और अलग तरह कि जरुरत हर पल देता रहता है उम्मीदे देकर आगे बढता रहता है।
दिप ही तो जीवन कि नई साँस बन जाता है जो जीवन का अलग एहसास बनकर आगे बढता जाता है जो जीवन को उजियारा देकर आगे जाता है।
दिप ही तो जीवन कि ताकद होता है क्योंकि वही तो सच्ची प्यास होता है नया एहसास बनकर आगे बढता रहता है जीवन को बदलता जाता है।
दिप ही तो दुनिया कि ताकद होता है जो जीवन को रोशनी हर पल हर मोड पर देकर जाता है जीवन मे कभी कभी जीने के लिए तपना जरुरी होता है।

कविता. ७८४. गीतों का मतलब।

                                            गीतों का मतलब।
कोई गीत बार बार सुनने कि मन को अजबसी ताकद होती है जो जीवन के संगीत को किसी अलग तरह के खयाल या गीत से सुनाती है।
किसी गीत कि तो पेहचान जीवन को नई कोशिश हर बार देकर जाती है जो जीवन कि कहानी हर पल बदलकर जाती है क्योंकि वह गीत नई सोच होते है।
जीवन कि हर धारा को हम समझकर जब आगे बढते जाते है उस धारा मे हर पल जीवन कि अलग सोच को समझकर चलते जाते है।
 गीतों को समझकर ही कहानी हर बार नई उम्मीदे देकर जाती है पर कभी वह बस आवाज होते है जिनमे कोई उम्मीद नही होती है।
कुछ गीत तो बस मुस्कान का एहसास होते है कुछ आँसूओं कि सौगाद होते है जीवन को समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत वह हर बार होते है।
जीवन को समझकर गीत कभी बनते है तो कभी किसी लम्हे कि छोटीसी पेहचान होते है कभी मतलब ना होते हुए जीवन का एहसास बनते है।
गीत कैसे भी हो मन से गाओ तो जीवन कि ताकद बनते है जीवन को हर पल अलग दिशा मे आगे बढाते चले जाते है जीवन को अलग रंग देकर आगे जाते है।
जीवन कि अलग पेहचान बन जाते है कुछ गीत पर मन से गाओ तो हर गीत मे हम खुशियाँ पाते है जीवन कि साँसे बन जाते है ताकद देते है।
गीत कि ताकद से ही तो कई बार जीवन को हम परख लेते है गीतों मे हल्का फुल्कापन हो या कोई जरुरत बात हो गीत तो आखिर गीत होते है जो मन को तसल्ली देकर चलते है।
गीत को समझकर हम आगे बढते रहते है इसलिए नही कि वह कुछ सिखाते है बस इसलिए क्योंकि कभी कभी वह हमे जीवन मे साँसे दे जाते है।

Monday, 4 July 2016

कविता. ७८३. हँसी मे छुपा ईश्वर।

                                                 हँसी मे छुपा ईश्वर।
जब हमने ईश्वर आपको पुकारा हर बार कोई हमे रोक लेता है आज तक हम रुके रहे पर अब लगता है वह इन्सान हमारी नजरों का एक धोका है।
आप तो हमेशा पास हो हमारे आपको कोई फर्क ना था जीवन कि हर धारा मे मर्ज हो पर अपना मलहम भी हर मोड पे जीवन मे दिखता था।
हर मुश्किल को समझकर जब हमारा कदम आगे बढता था आपका साथ तो दुनिया मे हर पल हमे मजबूती देता है जीवन को एहसास दे जाता है।
जब जब हमारे कदम जीवन मे आगे चलते रहते है अक्सर आपके साँसों का एहसास हमे उम्मीदे दे जाता है सबसे बडी उलझन मे भी आपका साथ काम आता है।
जब हम ईश्वर को समझ लेते है उस ईश्वर को समझ लेना मुश्किल हो जाता है पर जब उलझन मे आँख मुँद लेते है तो जीवन मे आपका हाथ मिल जाता है।
जिसमे खुदा ने समझाया हमको उसको भी कहाँ आप समझ पाये है इसलिए आसानसी आपकी हँसी को उसने इतना मुश्किल बनाया है।
जीवन मे हर धारा को परखकर आगे बढते रहना जरुरी नजर आता है जिसे समझकर आगे बढते रहने कि कहानी मे जीवन अलग रंग दे जाता है।
पर हर धारा मे आप बसे हो आपका अंदाज जुदा नजर आता है जिसे समझ लेने से ही जीवन मे इन्सान को अलग तरह का गीत समझ आता है।
आपका साथ तो हर मौके पर हर मोड पर अक्सर नजर आता है जिसे समझकर जीवन कि हर ताकद को परख लेना जीवन को अलग तरह कि साँसे दे जाता है।
हर हँसी के अंदर जीवन कि ताकद को अलग परखने का एहसास होता है आपको ईश्वर समझ लेना बताता है वह कहता है पर मासूम मुस्कान मे ईश्वर छुपा होता है।

कविता. ७८२. हर दिलचस्प किरदार

                                             हर दिलचस्प किरदार
हर किरदार बडा दिलचस्प लगता है जब जीवन कहानीसा दिखता है क्योंकि किरदारों के संग ही अलग अलग किसम का एहसास बनता है।
जीवन को कई किरदारों मे समझ लेना जरुरी लगता है जो जीवन को साँसों कि दुआए देकर आगे बढता है जो दुनिया को मकसद देता रहता है।
किरदार कई कितने किनारों मे आते जाते दिखते है उन्हे समझकर हम अक्सर दुनिया मे आगे बढते रहने कि उम्मीदे रखते है।
कई बार जीवन मे किरदार को पेहचान लेने कि जरुरत हर पल होती है जिसे समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत हर किरदार को होती रहती है।
किरदार मे जीवन को समझ लेना हर पल जरुरी रहता है वही तो जीवन कि सोच और ताकद को समझकर आगे बढते रहने कि उम्मीदे होती रहती है।
हर किरदार के अंदर एक एहसास कि सोच अक्सर दुनिया मे आती रहती है जिन्हे समझ लेने कि अहमियत हर बार जीवन मे होती रहती है।
हर किरदार मे एक अलग ही समझ जिन्दा होती है जो जीवन को रोशनी कि शुरुआत हर पल देती रहती है जो दुनिया को अलग एहसास देकर आगे बढती रहती है।
जीवन मे हर लम्हे हमे कोई और ही तलाश रहती है जिसे परखकर आगे चल के कई मौकों पर आगे बढकर चलते जाने कि जरुरत रहती है।
किरदार ही तो हमारी दुनिया होते है क्योंकि उनसे ही तो जीवन मे एहसास बन जाते है जिन्हे हर लम्हे हम समझकर आगे बढते रहते है क्योंकि उनकी जरुरत रहती है।
बडा मजा तो तब आता है जब हम उन्हे समझ लेते है और उन किरदारों मे से एक हम बन जाते है और हसकर जीना सीख लेते है क्योंकि वही तो सही जिन्दगी हर बार रहती है।

Sunday, 3 July 2016

कविता. ७८१. चारो ओर से जीवन मे।

                                                    चारो ओर से जीवन मे।
चारो ओर से जीवन मे एक बात नही होती है हर दिशा हर मोड पर अलग एहसास देकर चलती रहती है आगे बढती रहती है।
कई मोड हमे अलग किसम का एहसास दे जाते है जो जीवन कि कहानी हर बार अलग तरीके से बयान करते रहते है जीवन कि कहानी हर पल वही नही रहती है।
जीवन कि कई दिशाए जीवन को समझ लेती है उन्हे समझ लेने कि जरुरत हर मोड पर और हर पल मे दुनिया देखती रहती है।
जीवन को कई किनारों से समझ लेने कि जरुरत हर पल होती है हमे जीवन को समझ लेने से अलग ताकद हर पल नसीब होती रहती है।
जीवन कि बाते बिना समझे आसानी से जीवन को आगे लेकर नही चलती है चारो ओर से समझ लेने कि बाते हर पल अलग अलग होती रहती है।
जिस दिशा को समझ लेते है उस दिशा मे जीवन कि सुबह ढूँढनी जरुरी होती है जो जीवन को नये मोड देकर अलग अंदाज मे समझ लेती है।
जीवन कि कहानी चारो दिशाओं से बदलती रहती है जो जीवन कि सोच को एक अलग मोड मे ले जाकर हर पल बदलती रहती है।
जीवन के किसी मोड को समझ लेने कि जरुरत जीवन को हर पल होती ही है जो जीवन कि कहानी हर बार बदलकर आगे बढती रहती है।
हर किनारे को समझकर आगे चलते रहने ही जरुरत हर एहसास मे रहती है जिसे दुनिया हर बार हर पल बडी आसानी से समझकर आगे बढती रहती है।
जीवन मे चारो ओर से दुनिया को समझ लेना जीवन कि जरुरत हर पल मे होती है जीवन कि कहानी अलग अलग एहसास देकर चलती है।

कविता ७८०. किरण कि खुबसुरती।

                                                              किरण कि खुबसुरती।
किसी किरण मे खुबसूरती पर जब दिल आ जाता है तब वह चंदा कि हो या सूरज कि इन बातों का असर अपनी दुनिया पे नही हो पाता है।
किरणों के एहसास पर ही तो दुनिया मे अलग असर हो जाता है जीवन मे हर चीज को इन्सान अपनी समझ से ही तो अक्सर दुनिया मे परख पाता है।
किरणों मे कुछ खास एहसास को समझकर जीवन मतलब देकर जाता है जीवन मे हर एक चीज अपना मन अपने तरीके से परख लेना चाहता है।
जिसे मन सचमुच मे चाहे वह चीज को वह हर हाल मे समझ लेने कि उम्मीद हर मौके मे मिलती रहती है मन कि चाहत ही तो दुनिया को तय करती है।
जीवन मे चीजे हर बार जीवन मे बदलती रहती है चीजों मे कई एहसास हर बार रहते है जिन्हे समझ लेने कि जरूरत दुनिया को हर मोड पर होती है।
जीवन मे हर चीज को समझकर आगे चलते रहने कि जरुरत जीवन को हर पल उजाला देकर आगे बढती जाती है जीवन मे हर चीज अलग मतलब देकर जाती है।
चीजों को समझ लेने कि जरुरत होती है जो कई बार रोशनी दे जाती है क्योंकि वह मन को हर बार भाती है मन कि चाहत ही तो मतलब दे जाती है।
हम दिल से जिस खुबसूरती को मेहसूस करते है उसमे दुनिया को अहम एहसास हर बार होते है जो दुनिया को एक नये तरह कि रोशनी देकर चलते है।
जो बात मन को भा जाती है उसमे नई खुबसुरती हर बार दिखती है जिसे हर मोड पर हमारा दिल दुनिया चाहती है जो जीवन को एहसास देती है विश्वास देती है।
जीवन कि हर धारा मन कि हर चीज को समझ लेती है उसे परख लेने कि जीवन मे एक शुरुआत होती है जो साँसे तो हर बार मन को दे जाती है जिसे समझ लेने कि जरुरत जीवन मे हर मोड पे होती है।

Saturday, 2 July 2016

कविता. ७७९. घरोंदों कि कहानी।

                                                घरोंदों कि कहानी।
घरोंदा जीवन को एक अलग पेहचान देता है हर बसेरा अपनी अलग कहानी बताता है चाहते कितना भी हम चाहते घरोंदा अलग होता है।
हर घरोंदे  का एहसास जीवन को समझ लेना हर बार जरुरी होता है घरोंदा ही तो जीवन कि कहानी हर बार बताता रहता है।
क्योंकि हर घरोंदा एक ही बात हर बार नही बता सकता है उसे समझ लेना जीवन मे एक अलग कहानी बताता है जो जीवन को बदलकर जाती है।
हर घरोंदा जीवन मे एक जैसा नही होता है उस घरोंदे मे कुछ अलग ही एहसास छुपा रहता है फिर क्यूँ हम घरोंदो को हम एकसा देखना चाहते है।
किसी घरोंदे को समझकर आगे बढते रहना जरुरी होता है पर हर घरोंदा एक तरह का हो यह जिद्द रखना हर पल सही नही होता है।
घरोंदे को समझ लेना हर पल हमे आगे लेकर जाता है जीवन मे घरोंदा अपनी दुनिया कि कहानी हर पल कहता जाता है।
पर जब हम हर घरोंदे को एक ही तरीके से परख ले तो बसेरा जीवन को बदलकर आगे बढती जाता है वह हमे समझकर आगे चलता रहता है।
जीवन को घरोंदे से जोड तो लेते है पर जीवन कि धारा वह हर पल कहाँ समझ पाते है जीवन को परख लेेने से जीवन कि दिशाए बदलती जाती है।
हर घरोंदा अलग होता है जिसके अंदर एहसास अलग होता है जो दो घरोंदों से अच्छा बूरा चुनना चाहे वह बस घरोंदों को तोडता है।
जीवन मे हर घरोंदा प्यारा है तो क्यूँ माँपे उसको जिसमे हर पल इन्सान अपनी किस्मत को जोडता है जो जीवन को समझ लेता है।

कविता. ७७८. तूफानों से क्या डरना।

                                         तूफानों से क्या डरना।
हर बार तूफानों से क्या डरना हम मन को यह समझाते है पर जब तूफान आते है हम जाने क्यूँ कतराते है जीवन को समझना चाहते है।
तूफान को समझ लेने कि जरुरत हम हर बार जीवन मे रखते रहते है क्योंकि तूफानों को हर बार हम लेना चाहते है जिसे समझ लेना चाहते है।
तूफान जब सही दिशाए दे जाते है उन तूफानों को हम उम्मीदों से हम देखना और समझ लेना चाहते है क्योंकि उनसे ही हम दुनिया को परख लेना चाहते है।
जब जीवन मे अँधियारा होता है हम जीवन कि कहानी को समझ लेना चाहते है जीवन को परख लेने कि जरुरत हर पल को होती है।
जीवन मे कभी कभी तूफानों को समझ लेने कि जरुरत होती है उनसे ही तो अक्सर खुशियों कि कहानी जीवन मे बन पाती है रोशनी दे पाती है।
जीवन मे तूफानों को भी समझकर आगे बढते रहने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि जीवन मे तूफानों से ही तो अक्सर जीवन कि दिशाए बनती है।
जीवन मे जो बाते समझ लियी जाती है वह तूफानों से ही तो आगे बढती आती है जिनमे दुनिया कि अलग साँसे जिन्दा हो पाती है।
जीवन कई तूफानों से ही तो बनता है जिन्हे समझ लेना अक्सर दुनिया को नई उम्मीदे  देकर रोशनी दे पाता है जिसकी जीवन को जरुरत होती है।
तूफानों से लढने से ही तो खुशियाँ मुमकिन हो पाती है जो जीवन को रोशनी का एहसास देकर आगे बढती चली जाती है।
तूफान से लढने कि जरुरत हर बार होती है जो जीवन कि सच्ची प्यास होती है जो जीवन को नई उम्मीदे और आशाए देकर आगे बढती चली जाती है।

Friday, 1 July 2016

कविता. ७७७. सूरज कि रोशनी।

                                            सूरज कि रोशनी।
सूरज कि रोशनी को समझकर ही तो हर बार आगे बढते जाते है जिसे समझकर हर बार जीवन कि अलग दिशाए पाते है।
उस रोशनी को जिसे हम समझ लेना चाहते है उस रोशनी कि ताकद हम परख लेना चाहते है जिसे हम आगे ले जाते रहते है।
सूरज को परखकर और समझकर आगे चलते रहना हम चाहते है जीवन कि धारा को परखकर आगे बढते रहना चाहते है।
सूरज कि रोशनी हर बार जीवन को एहसास अलग दे जाती है जिनमे दुनिया हर बार कोई गीत नयासा सुनाती है।
हमे जीवन मे कई किसम के किनारे दिखते जाते है जिन्हे समझ लेना हर पल हर मोड पर हम अक्सर चाहते रहते है।
जो रोशनी हमे छूँकर आगे बढती है उसके अंदर जीवन कि कहानी हर बार जिन्दा रहती है जिसमे हम हर पल ताकद पाना चाहते है।
किसी ताकद को या फिर किसी खयाल को हम बार बार समझ लेना चाहते है उसे अलग एहसास से अलग तरीके से जीना चाहते है।
जब जब हम रोशनी के ओर देखते जाते है उनके अंदर ही हम अपनी दुनिया पाते है जिसे हम समझ लेना चाहते है हम जीवन कि हर बात को परख लेना चाहते है।
रोशनी ही तो दुनिया कि सच्ची ताकद लगती है हम दुनिया को हर बार परखकर समझ लेने कि दिशाए हर पल हम उजागर करना चाहते है।
सूरज को परखकर हम उसकी रोशनी कि ताकद को हर जीवन मे जीना चाहते है उस ताकद से ही तो हम दुनिया को देख पाते है।

कविता. ७७६. मन से आगे बढता जीवन।

                                          मन से आगे बढता जीवन।
जीवन को समझकर आगे चलते रहने कि दिशाए अक्सर हमे मिल पाती है जो जीवन कि धारा को समझ लेना हर मोड पर जाती है।
जहान मे हमे अलग पहचान को समझ लेने कि जरुरत हर बार हर पल होती रहती है जो जीवन को अलग तरीके से उजागर करती रहती है।
हम कितना भी समझ लेते है जीवन को दुनिया हर बार हमे अलग मोड से समझ लेती है हमे दुनिया को परख लेने कि जरुरत कई बार नही लगती है।
जो मन को चोट दे जाये उस दुनिया से ज्यादा मन कि कोई मासूम पुकार लगती है जो जीवन को खुशियाँ हर पल देकर दुनिया को नये अंदाज मे समझ लेती है।
जब हम समझ लेते है किसी चीज को उसमे जीवन कि दिशाए बदलती रहती है जो हमे आगे ले जाये उस उम्मीद के किनारे से आगे बढती रहती है।
जब हम जीवन को समझ लेना चाहते है तो उस जीवन कि दिशाए बदलती है तो क्यूँ समझे उस जीवन को जिस से उम्मीदे बनती रहती है।
जब मन को परख लेते है तो मन कि दिशाए कहती है जीवन मे एक अलग किसम कि साँसे समझ लेने कि जरुरत होती है जो उम्मीदे देकर चलती है।
जब हम आगे बढना चाहते है जीवन मे दिशाए बदलती है पर मन कि दिशाए हर पल वही उसी मोड पर रुकी हुई हर बार हर दिशा मे दिखती है।
जीवन को समझ लेने पर ही तो अपनी कहानी बनती है जीवन मे हर बार हमे दुनिया उलझन से भरी कई मौकों पर दिखती है।
पर मन से चल दे और विश्वास से जीवन लेते है तो जीवन कि कहानी बदलकर चलती है जीवन को कोई अलग ही रोशनी देकर दिशाए आगे बढती है।