Monday, 29 February 2016

कविता ५३१. छोटीसी उम्मीद जीवन कि

                                    छोटीसी उम्मीद जीवन कि
हर राह रोशनी कि हमे आगे ले जाती है पर कभी कभी रोशनी कि छोटीसी किरन भी जीवन मे काफी नजर आती है
रोशनी का एहसास हर बार हमे आगे ले जाता है जो हमे साँसे दे जाता है जीवन कि छोटीसी खुशी भी जीवन को खुशहाल बना जाती है
छोटीसी उम्मीद ही जीवन को मतलब दे जाती है जो जीवन कि आजादी का मकसद हर बार दे जाता है हमे आगे ले जाता है
जीवन कि हर उम्मीद को समझ लेना ही तो जीवन का मकसद होता है जो हमे हर पल जिन्दगी दे जाता है वही जीवन कि जरुरत होता है
छोटीसी उम्मीद भी जीवन मे काफी होती है जीवन कि हर बाजी को हर बार दुनिया कहाँ समझ पाती है कोई बाजी जीवन को अलग एहसास दे जाती है
हर शुरुआत जो हमे आगे ले जाती है जो जीवन कि धारा को कब तक समझ पाती है जो हमे छोटीसी उम्मीद कि जगह दे जाती है
एक किनारे मे ही जीवन कि शुरुआत हर बार होती है छोटेसे किनारे से ही तो उम्मीदों कि नई शुरुआत होती है जो जरुरत होती है
हर कोने मे कुछ एहसास तो छुपा होता है जो उम्मीदों का कारवे से भी बढकर होता है किसी कोने मे ही तो जीवन को जिन्दा कर जाता है
किसी छोटेसे किनारे से ही जो जीवन कि कश्ती बनती है जिसमे दुनिया जिन्दा रहती है उस उम्मीद को परख लेते है तो ही दुनिया बनती है
हर किनारे मे जिन्दगी तो जीवन कि शुरुआत रहती है छोटेसे किनारे से ही जीवन कि कहानी बनती है जो हमे आगे ले जाती है
छोटीसी शुरुआत से ही तो दुनिया बन पाती है उसी शुरुआत को समझकर आगे बढने कि जीवन को समझ लेने कि जरुरत होती है उस से दुनिया और खुशियाँ मिलती है

कविता ५३०. जीवन कि नई सुबह

                                           जीवन कि नई सुबह
हर बार जीवन को मतलब तो दे जाते है जो जीवन मे नई सुबह आती है वही तो जीवन कि धारा को बदल के जाती है
जीवन कि हर एक सुबह मे अलग एहसास तो जीवन कि दिशाए बदल के जाता है उस सुबह को परख लेना हर बार अहम नजर आता है
जीवन को मतलब तो हर दिशाओं मे मिलता है नई शुरुआत ही हर एहसास को मतलब देती है हर ओर नई दिशा मिलती है
सुबह तो हर बार जीवन कि कहानी बदलती जाती है जीवन कि हर दिशा हमे हर बार आगे ले जाती है नई उम्मीदे दे जाती है
जीवन को मतलब तो हमे नई सुबह से ही मिल पाता है जीवन कि धारा मे ही तो एहसास नयासा मिल जाता है जो जीवन को रोशनी हर बार दे जाता है
जीवन कि हर बाजी कहाँ आसान नजर आती है जो जीवन को चोट दे जाती है वह सोच हर मौके पर बडी अहम नजर आती है
नई शुरुआत तो जीवन कि कहानी हर सुबह दे जाती है जिसे समझ लेने से ही जीवन कि नई सुबह मन को खुशियाँ दे पाती है
हर सुबह मे शुरुआत अनजानी है पर वह बडी दिलचस्प नजर आती है जब सुबह हमे रोशनी दे जाती है जीवन कि कहानी बन जाती है
हर दिन के सुबह मे जीवन कि कहानी रोशनी कि धारा दे जाती है हमारे जीवन मे कई तरह कि उम्मीदे आगे ले जाती है
हर शुरुआत जीवन को समझ लेने से हमे आगे ले जाती है जीवन कि कहानी नई सुबह हर मोड पर हमे समझ लेना सिखाती है

Sunday, 28 February 2016

कविता ५२९. सोच के सात रंग

                                               सोच के सात रंग
सोच के सातों रंग होते जिन्हे हम हर बार जीना चाहते है पर कभी किसी रंग से उलझन हो तो हम उस रंग को भुला देना चाहते है
जीवन को सात एहसासों मे हर पल हम जीना चाहते है जीवन कि कोई नई धारा मे कभी हम जी लेते है और उसे ही समझ लेना चाहते है
वही तो जीवन सही तरीके से जी पाता है जो जीवन को समझ लेना चाहता है जो जीवन को हर धारा मे जी कर मुस्कुरा पाता है
जीवन को रंगों मे समझना जीवन मे खुशियाँ देता है उन रंगों मे जीवन को समझ लेना जिनमे वह दिख जाये उस सोच मे असल मजा होता है
रंग को समझकर ही जीवन अपनी दिशा बनाता है जीवन के रंगों मे ही दुनिया का सच खोज लेना  जीवन मे जरुरी होता है
सोच मे जीवन को समझ लेना हर बार नया रंग देता है सोच कि ताकद से ही दुनिया मे अलग अलग तरह का रंग भरता है जो जीवन को खुशबू देता है
रंगों के अंदर सपनों कि दुनिया हर बार जिन्दा होती है जीवन मे रंग ही तो खुशियाँ दे जाते है उन रंगों के साथ ही तो हमारी दुनिया बनती है
सोच तो कई रंग जगाकर दुनिया को जिन्दा कर जाती है सोच ही तो वही एहसास है जिसमे दुनिया जीवन को मतलब हर पल दे जाती है
सोच तो सात एहसासों मे दुनिया को रंगों मे भर देती है हर रंग मे कोई ना कोई खुशियाँ जिन्दा हर बार नजर आती है जीवन मे नया एहसास दे जाती है
रंग तो मतलब हर बार देते है जिनसे दुनिया जिन्दा हो जाती है हर एहसास को एक रंग समझ लेना तो समझ मे बात एक आती है
हर रंग कि बस एक ख्वाईश नजर आती है वह रंग तो बस खुशियाँ चाहता है हर बार उनमे खुशियों कि शुरुआत नजर आती है

कविता ५२८. जीवन कि बाते

                                          जीवन कि बाते
काश के जीवन कि बाते प्यारी हो जाती है पर ऐसा नही होता है जीवन कि हर बात प्यारी नही नजर आती है वह सही असर नही कर पाती है
कभी बात सही होती है पर कभी बात बदल जाती है हर बात के अंदर जीवन का एहसास वह अलग बनाती है रोशनी दे जाती है तो कभी अँधेरे कि बजह बन जाती है
काश के जीवन का हर एहसास वह बात समझ लेती वह जीवन कि हर मोड पर दिशाए बदल देती हमारी दुनिया बदल पाती ऐसी भी जीवन कि एक सोच होती है
पर जरुरी नही है के जीवन मे हर बात बदल जाए जीवन को दिया हुआ एहसास बदल जाये जीवन को समझ लेने कि बात आसान नही होती है
काश कि जीवन कि हर कहानी आसानी से समझ आती पर ऐसा कहाँ होता है क्योंकि जीवन कि हर बाजी सीधी नही होती है
जीवन को खेल समझ के जी लेने पर जीवन कि हर राह सही नही दिख पाती है जीवन को परख लेने कि जरुरत तो होती है पर जीवन कि हर बात आसान नही होती है
काश हम आसानी से उस दास्तान को समझ लेते जो चाहे जितनी भी मुश्किल हो उसे आसानी से हम हर मोड पर परख लेते है
हम जीवन कि धारा को अपने दम पर समझ लेना चाहते है जीवन कि हर एक सुबह मे अपनी दुनिया बना लेना चाहते है
मुश्किल सफर पर भी कोई खयाल हम रख देते है जिसे हम जीवन मे कई बार यही सोचते है कि काश उसे आसानी से हम समझ पाते है
पर सिर्फ काश से बात नही बनती है दुनिया को हर अलग कहानी मे हम समझ लेना चाहते है जीवन को खुशियों भरा तोहफा बना कर उसे जीना हर पल चाहते है

Saturday, 27 February 2016

कविता ५२७. जीवन कि अच्छाई

                                      जीवन कि अच्छाई
जीवन कि अच्छाई तब हमे दिखती है जब जीवन को मतलब देने कि बारी हमारी होती है मकसद से हटने कि जरुरत नही होती है जब सही दिशा मे चलने कि जरुरत होती है
जीवन कि सच्चाई उस अच्छाई मे होती है जो जीवन को सतरंगी दुनिया चुटकी मे देती है जीवन को नई सोच हर मोड पर देती है
अच्छाई और सच्चाई एक सिक्के के दो पेहलू होते है जिन्हे समझ लेने कि जीवन को हर बार जरुरत मेहसूस होती है उनमे अहमियत होती है
सीधी बाते कभी कभी सच्ची लगती है जिन्हे समझ लेने कि जीवन को जरुरत होती है अच्छाई तो जीवन कि वह शुरुआत होती है
जो जीवन को हर कदम पर रोशनी दे जाती है जीवन कि हर चाल सतरंगी होती है जो अपनी दुनिया मे खुशियाँ भर जाती है हमे ताकद देती है
अच्छाई से बेहतर जीवन कि कोई राह नही होती है जीवन को हर मोड पर अच्छाई छू जाती है जो जीवन कि रोशनी बन कर चारो ओर दिखती है
अच्छी बात को  लेने कि हर बार जरुरत होती है जीवन मे अच्छी बात ही हर मोड पर जरुरी और अहम होती है जो जीवन को मतलब दे जाती है
अच्छाई कि रोशनी जो जीवन को छू जाती है वह रोशनी दे जाती है मन के उस हिस्से को जिसमे हमारी दुनिया हर बार जिन्दा रहती है
हर अच्छी बात जो जीवन को समझदारी सिखाती है पर कई बार अच्छी बात भी जीवन मे काफी नही लगती है जिसकी हमे हर बार जरुरत होती है
उस अच्छाई को समझ लेना जरुरी है जिसकी बजह से हमारी दुनिया खुबसूरत होती है जीवन कि धारा मे सबसे ज्यादा अच्छाई कि जरुरत होती है

कविता ५२६. परिंदे तो उड जाते है

                                                  परिंदे तो उड जाते है
परिंदे तो उड जाते है जिनके पंखो मे ताकद होती है पर क्या हमारे जीवन मे हमारे घर कि डाली इतनी ही किंमत होती है
जीवन मे हर बार हमे हर चीज कि किंमत तय करनी होती है क्या जरुरी है क्या नही यह हमारी सोच होती है अपनी पसंद होती है
हमे जीवन को परख लेने कि हर बार जरुरत होती है पर फिर मन को यह कहने कि चाहत होती है क्या डाल जितनी ही हमारे घर कि जरुरत होती है
फिर क्यूँ जो उसे छोड गये उनकी इतनी अहमियत होती है जो रुके हुए है उनकी इतनी कम अहमियत होती है
जो पास है उन्हे दूर रख कर जो दूर के परिंदे है उन्हे ही समझ लेने कि दुनिया को कितनी आदत होती है पास जो चीज है उसकी उतनी अहमियत नही होती है
काश कि पास कि चीज कि भी दुनिया मे उतनी ही अहमियत हो पाती तो शायद हमारी दुनिया बहोत बडी जन्नत हो जाती है
पर चाहत तो उडते परिंदों कि ही लोगों को जाती है जिसे डाल से ज्यादा घर कि कहाँ अहमियत होती है यही तो जीवन कि उलझन होती है
दुनिया को जिस चीज को समझ लेने कि जरुरत होती है वह चीज छोड कर दुनिया हर चीज को समझ लेती है दुनिया को समझ लेने कि जरुरत होती है
परिंदे से भी ज्यादा जीवन मे हमे साथ देनेवालों कि कहानी जरुरी होती है पर जीवन मे वह कहाँ हम समझ पाते है मुश्किल तो आती ही है
हम कहाँ दुनिया को समझा पाते है सही चीज से ज्यादा कोई चीज नही होती है और जो छोड चले हमको उनकी हमारी दुनिया मे अहमियत नही होती है


Friday, 26 February 2016

कविता ५२५. सोच कर आगे बढना

                                            सोच कर आगे बढना
हर बार जीवन कि राहों को समझ लेना रोशनी दे जाता है जीवन कि सोच को बदलते रहना जरुरी नजर आता है राहे दे जाता है
राहे तो समझ लेते है तो जीवन को नया एहसास अलगसा मिल जाता है जो राह को बदलते जाता है जीवन को मतलब दे जाता है
पर कब तक गुजारे सोचने मे हम वक्त को उसे समझ लेना जरुरी नजर आता है पर एक मोड के बाद जीवन को समझ लेने कि जगह चलना अच्छा नजर आता है
कितनी देर तक सोच सोचने कि भी एक हद होती है कभी कभी वह हद भी गुजर जाती है जीवन मे सोच सोचकर लगता है
कितना सोचने से ही जीवन कि उम्मीदे नजर आती है तभी हमारी दुनिया बदल जाती है क्योंकि पहले सोचने कि जरुरत होती है
पर जिन्दगी कुछ करने से ही तो आगे बढती है जीवन कि धारा अनजानी बात भी समझ पाती है जब उसे समझ लेने कि जीवन मे जरुरत होती है
जीवन मे अलग एहसास होता है वह हर बात को करने से ही तो होता है बातों को करना जीवन मे सबसे जरुरी हर बार होता है
हर चीज जीवन मे करने कि जरुरत हर बार होती है पर सबसे पहले हमे करने कि अहमियत समझ लेने कि हर बार जरुरत होती है
जीवन कि हर बाजी अहम लगती है जब जीवन मे उसकी जरुरत हर मोड पर
जीवन को समझ लेने के साथ करना भी होती है

कविता ५२४. अच्छी बात को समझ लेना

                                          अच्छी बात को समझ लेना
जब किसी अच्छी बात के सहारे  जीवन कि कहानी बदल जाती है वह बडी प्यारी नजर आती है पर जब किसी बात से दुनिया चोट दे जाती है
दुनिया को हर कहानी अलग मतलब दे जाती है हर बात जो अच्छी बात लगती है जब कोई बात हमारी अच्छी बात से जीवन मे हो जाती है
अच्छी बात को समझ लेने कि जरुरत हर बार तो होती है पर जब वह बात हम कर लेते है तो जीवन मे खुशियाँ हर बार आ जाती है
जीवन कि कहानी मतलब दे जाती है क्योंकि हमने कियी हुई कोई बात जीवन को मतलब दे जाती है विश्वास दे जाती है
अच्छी बात जब हमारी बजह से होती है वह हर बार जीवन कि दिशाए बदलती है पर बाते प्यारी तो तब लगती है
जब अच्छाई कि बजह हम ही बन पाते है जीवन कि धारा को अगर हम सही कर पाते है हम अपनी सोच से आगे बढ जाते है
अच्छी चीजे जब हम से मुमकिन हो पाती है उसी बजह को समझ लेने से बडी खुशी मेहसूस हो पाती है जो हमे आगे ले जाती है
बातों मे हम अगर जीवन कि कहानी बताते है उन बातों मे जो अच्छी बात हमारी बजह से हो वही सबसे प्यारी लगती है
जीवन मे कई बाते तो होती ही है पर अच्छी बात कि बजह हम हो तो दुनिया प्यारी लगती है जीवन मे असली रोशनी आ पाती है
क्योंकि एक बात सही हो तो अगली बात सही हो जाती है जीवन कि सही बातों से धारा बदल जाती है जीवन कि सही कहानी अगर हमारी बजह से बने तो दुनिया बदल जाती है

Thursday, 25 February 2016

कविता ५२३. कुदरत कि बाते

                                                     कुदरत कि बाते
कुदरत कि बाते तो जीवन कि कहानी हर बार बदलती है जिसे समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है कुदरत कि कहानी कुछ अलग ही होती है
कुदरत को समझ लेने कि हर मोड पर एक अलग जरुरत होती है पर हम कहाँ समझ पाते है कुदरत कि बाते बडी अनजानी हर बार होती है
उन्हे समझ लेने कि जरुरत मन को मेहसूस होती है जो जीवन कि धारा को बदलती जाती है कभी प्यारी होती है तो कभी मुश्किल नजर आती है
कुदरत कि ताकद ही एक मुश्किल कहानी होती है जो जीवन को हर बार बदलती जाती है जीवन को अलग मतलब देती है
क्योंकि कुदरत कि ताकद ही जीवन को बना और बिघाड पाती है कुदरत कि बाते हर बार अलग अलग होती है जो मतलब देती है
कुदरत को हर मोड पर परख लेने कि जरुरत हर बार होती है कुदरत ही तो हमे आगे ले जाती है नई उम्मीदे दे पाती है
कुदरत मे दुनिया कि ताकद और मजबूती होती है जो जीवन को रोशनी दे जाती है जीवन को साँसे दे कर आगे ले जाती है
कुदरत कि कहानी जब बदलने लगती है जीवन कि कहानी हर बार हर पल जीवन मे नई शुरुआत देती है जीवन को नई साँसे दे जाती है
कुदरत मे जब कोई तुफान आता है जो जीवन को पुरी तरह से बदल देता है जो जीवन को अलग मोड पर ला देती है जिसमे खुदको समझ लेने कि जरुरत होती है
कुदरत ही तो आखिर जीत जाती है वही तो हमे हर मोड पर आगे ले जाती है जीवन को समझ कुछ अलग किसम कि दे जाती है

कविता ५२२. बातों के अंदर का एहसास

                                              बातों के अंदर का एहसास
बातों के अंदर के एहसास अलग होते है जिन्हे परख लेने कि जरुरत हम हर बार मेहसूस करते है बातों को समझ लेने के जस्बात अलग होते है
पर किसी अनजानी बात मे ही हम जीवन कि खुशियों को ढूँढते है जिन्हे समझ लेना तो हम हर बार चाहते है जिनमे हम अपनी दुनिया समझ लेते है
बातों को ही समझ लेने मे दुनिया के कई किनारे बदलते है बातों के अंदर ही जीवन के सहारे दिखते है जो जीवन कि शुरुआत कर देते है
बातों को समझ लेना ही हमारी जरुरत हर बार होती है बात के अंदर जब कोई जस्बात होते है जो हमे हर मोड पर आगे ले जाते है
बात के अंदर जीवन कि कहानी बनती है जिसे समझ लेना हर बार जरुरत होती है जीवन मे अलग अलग मतलब हर बार होते है
बातों के अंदर हर मोड को मतलब जब मिलते जिन्हे परख लेने से जीवन समझ लेना हर बार हम जरुरी समझ लेते है
बातों को मतलब तो हर बार जीवन कि हर दिशाओं से मिलते है जो जीवन को हर राह पर आगे ले जाते रोशनी दे जाते है
जीवन कि बाजी को समझ लेना हम जीवन मे जरुरी समझते है जिनके अंदर हम जीवन कि कहानी को कई किस्सों मे पढते है
बातों के अंदर कई मतलब तो होते ही है पर कुछ मतलब आसानी से समझ आते है और कुछ मतलब हम जीवन मे भुला देते है
पर बाते काफी नही होती है जब बातों के अंदर के मतलब जीवन कि दिशाए हर बार हर मोड पर बदलते जाते है

Wednesday, 24 February 2016

कविता ५२१. मुडने कि जरुरत

                                             मुडने कि जरुरत
हर बार मुडने से जीवन कि शुरुआत होती है जो हमे आगे ले जाने कि सोच देती है मुडते रहने कि कहानी बनती है मुडने कि जरुरत हर बार लगती है
हर मोड पर जीवन कि कहानी एहसास देती है जो जीवन को नई शुरुआत हर बार देती है जो जीवन को रोशनी दे कर जाती है
किसी मोड को ही समझ लेने कि चाहत हर बार होती है जो जीवन को अलग अलग मतलब दे जाती है मोड को जीवन मे समझ लेने कि जरुरत होती है
मोड को मतलब दे जाने कि जरुरत होती है क्योंकि मोड को मतलब दे जाती है उस मोड को परख लेने कि जरुरत होती है
मोड पर जिन्दगी जिन्दा हो जाती है मोड को समझ लेने से ही जीवन कि कहानी हर बार बनती है जो मतलब दे जाती है
पर कुछ मोड को परख लेने से ही जीवन को नई शुरुआत मिलती है जो जीवन को नया एहसास दे जाती है आगे ले जाती है
किसी मोड के अंदर जीवन कि बाते ही हमारे लिए शुरुआत होती है उस मोड को समझ लेने कि जरुरत हर बार हर मोड होती ही है
मोड पर ही हमारी दुनिया गुजरती है पर फिर कुछ पल के बाद मोड को बदलने कि दुनिया को जरुरत होती है मोड पर ही दुनिया जिन्दा रहती है
पर काश के मोड को समझ लेने कि जरुरत होती है जो जीवन को उस मोड पर जिन्दा रखती है एहसास उम्मीदों का दे जाती है
पर मोड को बदलते रहने कि जरुरत जीवन मे हर बार होती है हर मोड को मतलब तो जीवन कि सोच देती है हमारे जीवन को रोशनी और मकसद दे जाती है

कविता ५२०. यादों को आगे और पीछे जाना

                                           यादों को आगे और पीछे जाना
हर बूँद के अंदर यादे तो होती है कुछ जानी पेहचानीसी तो कुछ अनजानी लगती है जिन्हे समझ तो लेते है पर बिन बूँदों कि भी कुछ यादे सुहानी होती है
यादे तो यादे होती है वह कई बहानों से जीवन मे आती जाती है जीवन कि सुनहरी कहानी लिखती है हमे कई सुहानी उम्मीदे देती है
हर बूँद के अंदर ही तो जीवन कि कहानी अधूरी नजर आती है जीवन कि सोच को परख लेने कि जरुरत हर बार जीवन मे होती है
बूँदे चारो दिशाओं से जीवन कि कहानी कहती है वह उम्मीदों से भी ज्यादा जीवन को आसानी से समझकर आगे बढती रहती है
कई एहसास तो छुपे होते है यादों मे वह उन्हे बाहर लाने कि बजह ढूँढती है वह सोच तो प्यारी देती है मन को पर अलग खयालों कि दुनिया मे ले जाती है
जीवन तो दो राहों का किस्सा है उस जीवन कि कहानी बनती है जिसे परख तो लेते है हम उन बातों कि कहानी हर बार मतलब दे जाती है
बूँद ही क्या पर रोशनी कि एक किरन भी जीवन कि कहानी कहती है क्योंकि यादों को तो तलाश है किसी राह कि वह कोई ना कोई कहानी कहती है
जब जब हम जीवन को समझ लेते है तो जीवन कि सोच बदलती रहती है पर उस सोच कि भी कोई याद जीवन कि कहानी लिखती है
हर छोटीसी बात भी शुरुआत दे कर आगे बढती है हर बार हर पल मे जीवन कि कोई बात छुपी हुई हर मोड पर रहती है
यादे तो हर बार बदलती रहती है पर उन यादों से जो प्यास एकसी होती है जिन्हे समझ लेने पर जीवन कि कहानी फिर से शुरु हो जाती है क्योंकि यादे अजब होती है
वह कभी पीछे और कभी आगे भी ले जाती है क्योंकि जीवन मे यादे कही भी ले जाती है यादे तो जीवन को एहसास नया हर बार देती रहती है

Tuesday, 23 February 2016

कविता ५१९. हर धारा

                                                 हर धारा
जीवन कि हर धारा आगे बढने कि उम्मीदे और किनारों से ही जीवन कि हर सुबह बनती है जो हमे आगे ले जाती है जीवन को किनारे देती है
जीवन मे ही तो हर धारा को मतलब तो हर मोड पर दे जाती है धारा ही तो जीवन को साँसे ले जाती है जीवन को हर राह पर आगे ले जाती है
धारा ही जीवन को आगे ले चलती है हमे उम्मीदे दे जाती है जीवन को धारा ही एहसास से भर देती है साँसे दे जाती है
धारा ही जीवन को मतलब दे कर आगे जाती है जीवन मे हर मोड पर उसे आगे ले जाती है धारा को समझ लेना जीवन कि जरुरत होती है
हर धारा मे ही अलग खयालों कि सोच हर बार जिन्दा हो जाती है जीवन उन धाराओं के संग ही आगे बढता जाता है साँसे दे जाता है
हर धारा मे ही हमारी दुनिया रहती है जो हमे उम्मीदे दे जाती है क्योंकि वही तो अक्सर जीवन को बनाती रहती है
धारा मे ही जीवन कि कहानी छुपी होती है जो जीवन को आगे ले जाती है धारा ही तो जीवन कि ताकद हर बार बन के आगे बढती है
धारा को समझ लेना ही तो जीवन कि कहानी हर बार जरुरत होती है जो जीवन कि जरुरत हर बार होती है जो उम्मीदों कि सौगाद देती है
हर धारा मे ही कहानी आगे बढती है उस धारा को समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है क्योंकि धारा ही तो हमे आगे ले जाती है
हर जीवन कि धारा ही तो जीवन का मतलब होती है जो हमे आगे ले कर जाती है और हमारी जरुरत हर बार होती है उम्मीदे देती है

कविता ५१८. पल का दरवाजा

                                        पल का दरवाजा
हर बार हर पल जीवन मे कुछ अलगसा होता रहता है पलों को समझ लेने कि जीवन मे जरुरत हर बार होती है
जिस पल मे सोच आगे जाती है उम्मीदे मिल जाती है उसी पल के अंदर दुनिया बदलसी जाती है उस पल को समझ लेने कि जरुरत होती है
पल को परख लेने कि चाहत मन मे खुशियाँ देती है पल मे भी कभी कभी कोई बात छुपी हुई होती है जो उम्मीदों कि कश्ती बनती है
पल से पल अगर जुड जाए तो जीवन कि सोच हमे आगे ले जाती है पलों को समझ लेने कि दुनिया को हर बार जरुरत होती है
पल वह दरवाजा है जिसे समझ लेने कि जरुरत होती है क्योंकि वही मन कि चाहत होती है जो हमे उम्मीदे दे जाती है
पल के अंदर दुनिया को समझ लेने कि कहानी हर बार जीवन को उम्मीदे दे जाती है पल बदलते रहते है उनके अंदर ही जीवन कि जरुरत होती है
पल मे ही दुनिया को समझ लेने कि हर मोड पर अलग एहसास तो जीवन पर अहम जरुरत हर बार तो होती ही रहती है
पल के अंदर जीवन कि कहानी हर बार हमे आगे ले जाती है उस पल से ही जीवन कि शुरुआत होती है हर पल मे वह बात नही होती है
उस पल मे जिसमे हमारी उम्मीदे होती है उसी पल से जीवन कि शुरुआत होती है जो जीवन को आगे ले जाती है मतलब देके जाती है
जीवन को पलों के अंदर समझ लेना ही हर बार हमारी जरुरत होती है जो हर पल को समझ और उम्मीदे दे जाती है क्योंकि उस पल मे ही जिन्दगी होती है

Monday, 22 February 2016

कविता ५१७. संगीत मे कही बात

                                                 संगीत मे कही बात
हर बार जब कुछ अजीब सी बात होती है जाने क्यूँ आप से कहने कि एक चाहत होती है जो बात जीवन को अलग किनारों से ले जाती है
वह बात सुनने कि चाहत हम जीवन मे रखते है पर हम कितना भी चाहे लोग कहाँ उसे समझ पाते है जीवन कि कहानी वह कहाँ हम से सुनना चाहते है
पर जब वही बात पंक्ती मे प्यारी लगती है लोगों के मन को हर बार छू जाती है क्योंकि वही बात तो मन को साँसे दे जाती है बात से ज्यादा प्यारे गीत के लब्ज होते है
बातों से तो किसी के मन को कहाँ तसल्ली मिल पाती है पर वही बात संगीत मे हो तो जीवन को मतलब दे जाती है जीवन कि धारा बदल देती है
बात जाने क्यूँ मन को नही बहला पाती है जो बात हमारी समझ मे ही नही आती है वह संगीत मे घुलमिल कर जीवन कि कहानी आगे बढती जाती है
हर राग के अंदर एहसास नये नये दे जाती है संगीत के सूर मे ही जीवन कि कहानी बनती जाती है जीवन को साँसे दे जाती है
संगीत के अंदर यादे तो बडी प्यारी नजर आती है जिन्हे समझ लेने से जीवन कि कहानी हर मोड पर बदलती चली जाती है
सोच को अगर हम मुँह से समझ लेते है तो जीवन को मतलब दे जाती है संगीत के हर धून के साथ दुनिया बदल जाती है बाते लोगों को आसानी से समझ आती है
जो बात कान को सक्त लगे वह भी प्यारी नजर आती है जीवन कि धारा मे मिलकर संगीत नया दे जाती है जीवन को हर बार आगे ले जाती है
संगीत के नये एहसास मे हर बार नया सूर जगा कर हर बात को प्यारी और मधुर बन जाती है जो जीवन मे नये खुशियों का एहसास बार बार लाती है
वह बात संगीत के हर रस मे मिलकर खुशियों कि सौगाद बन जाती है हमारे जीवन को हर बार नया मतलब दे जाती है



कविता ५१६. सीधी सी एक बात

                                             सीधी सी  एक बात
सीधी सी एक बात जो मन को छू जाती है उस बात को समझ लेने से ही जीवन कि उम्मीदे बन पाती है सीधी बाते ही अक्सर जीवन को आगे ले जाती है
सीधी बाते तो जीवन कि कहानी बदल कर जाती है क्योंकि सीधी बाते ही तो जीवन मे ताकद दे जाती है सीधी बाते आगे ले जाती है
सीधी बाते तो जीवन कि सोच हमे देती है सीधी बाते  ही हमे मतलब दे जाती है पर हर बार सीधी बाते जीवन को साँसे दे जाती है
जो बाते सीधी लगती है वही तो जीवन कि दिशाए बदलती जाती है सीधी बातों से ही हमारी दुनिया बनाती है जो हमे हर पल आगे ले जाती है
जो सीधे राह से जाए तो जीवन कि कहानी ज्यादा मजबूत होती है क्योंकि सीधी राहे ही तो जीवन को रोशनी हर बार देती है
सीधी राहों से ही हमारी दुनिया आगे चलती है सीधी बातों कि कहानी ही तो हमे आगे ले कर जाती है सीधी राहे ही हमारी जरुरत होती है
सीधी बाते तो जीवन कि सही शुरुआत होती है सीधी बाते ही तो हमारी कहानी बनाती है सीधी बाते ही तो जीवन कि सुबह होती है
सीधी बातों कि कहानी जीवन को जिन्दा कर जाती है सीधी बातों से ही जीवन कि हर बाजी बनती है क्योंकि सीधी ही तो जिन्दगी होती है
सीधी बाते ही जीवन को मतलब देती है जो जीवन को नई सौगाद दे जाती है सीधी बातों से ही तो आगे जाने कि उम्मीदे होती है
सीधी बाते ही हमे मतलब दे जाती है सीधी बाते ही जीवन कि जरुरत हर बार नजर आती है सीधी बाते आगे ले जाती है

Sunday, 21 February 2016

कविता ५१५. सुंदरता मन कि ताकद

                                                      सुंदरता मन कि ताकद
सुंदरता मन कि हो तो रोशनी बन कर आगे आती है वही तो अपने जीवन मे नई ज्योत लाती है सुंदरता मन को एहसास दे जाती है
सुंदरता ही मन को सोच कि नई रोशनी दे जाती है पर हमे वह सुंदरता कहाँ अहम लगती है वह सुंदरता जो हमे खुशियाँ दे जाती है
वह मन कि सुंदरता ही तो दुनिया मे अहम जरुरत नजर आती है सुंदरता उस मन से किंमत तो हर बार उम्मीद दे जाती है सुंदरता जरुरी होती है
सुंदरता मन की हर बार कोई ना कोई आशा तो मन को देती है सुंदरता ही मन के लिए अहम होती है जो हमे आगे ले जाती है
सुंदरता ही जीवन में सबसे बड़ी चीज नजर आती है सुंदरता ही तो जीवन की सही ताकद होती है सुंदरता ही हमे अहम नजर आती है
सुंदरता के अंदर जीवन की चाहत  हमे उम्मीद तो हर बार दे ही जाती है सुंदरता ही जीवन की सही ताकद होती है जो हमे आगे ले जाती है
सुंदरता तो मन की कभी कभी हमे मुश्किल भी दे जाती है जब हम इन्साफ चाहते है पर दुनिया उस इन्साफ को अनदेखा करहमार है
सुंदरता में ही जीवन की रोशनी दे जाती है मन के अंदर अलग रोशनी दे जाती है मन में सारी रोशनी हमे नई सोच दे जाती है
मन को मतलब की तो हर बार जरूरत तो होती है पर अगर बस हम उसे चाहे तो ही जीवन की शुरुआत होती है हमारे मन की अच्छाई तो जीवन की जरूरत होती है
सुंदरता ही मन की ताकद होती है जिसके वजह से मुश्किल बात हर बार आसान होती है सही बात को समझ लेने की दुनिया को जरूरत होती है

कविता ५१४. बूँद के अंदर यादे रोशनी लाती है

                                    बूँद के अंदर यादे रोशनी लाती है
बारीश के बूँदों कि याद चुपके से आ जाती है जब पानी साधी बूँदोमे भी हमे छूँ कर चली जाती है बारीश कि यादे मन मे उम्मीदे दे जाती है
जाने कैसे मन को समझाकर जाती है दुनिया मे अच्छी चीजे मन मे कही तो जाकर चुपके से जीवन मे बाकी रह जाती है
हर याद सुहानी जीवन को साँसे दे जाती है हर याद सुने नया मतलब और मकसद दे पाती है जीवन कि जो धारा आगे बढती है
वह किसी सुहानी याद कि शुरुआत से ही तो जीवन को मतलब दे जाती है जीवन कि कहानी बनाती है जीवन मे साँसे दे जाती है
हमे बूँद से तो समूंदर कि उम्मीदे हर बार करनी होती है जो जीवन को हर बार आगे ले कर जाती है जीवन को मतलब दे जाती है
तो छोटीसी उम्मीद से ही जीवन कि नई कहानी बनती है बूँद से ही तो जीवन कि कहानी बनती जाती है जीवन मे नया एहसास दे जाती है
बूँद के तरह कई बाते जीवन कि समज लेने मे ही हर बार मजा आता है जिन्हे समझके ही तो जीवन आगे जाता है कुछ यादे पुरानीसी साथ ले जानी है
जीवन मे हर मोड पर अलग कहानी बनती है बूँद के अंदर यादे तो मतलब हर बार दे जाती है  बूँद के अंदर एहसास अलग से आते है
बूँद भी जीवन कि कहानी बना देती है जीवन मे यादे हर बार अलग मजा दे जाती है प्यारी यादे हो तो उम्मीदे लाती है जीवन कि हर बाजी जीता कर जाती है
बूँद के अंदर यादे आ जाती है क्योंकि जीवन मे यादों से ही तो हर बार दुनिया आगे जाती है वह रोशनी और हर बार उम्मीदे दे जाती है

Saturday, 20 February 2016

कविता ५१३. किसी आहट का एहसास

                                             किसी आहट का एहसास
जब जब जीवन मे कोई आहट एहसास दिलाती है जीवन कि कहानी बदलती जाती है जो जीवन मे उम्मीदे दे कर जाती है वही जीवन को नई शुरुआत दिलाती है
आहट के सहारे ही तो जीवन कि कहानी जिन्दा हो जाती है कोई आहट पुरानी या नई खुशियाँ दिलाती है जीवन मे रोशनी दे जाती है
हर आहट को परख लेने से जीवन कि कहानी बदलती जाती है हर आहट के साथ ही जीवन को मतलब वह कहानी दे जाती है खुशियाँ दे जाती है
जीवन को आहट हर पल अलग मौका दे जाती है उस आहट को समझ लेने पर जीवन कि कहानी बदलती जाती है जीवन को मतलब अलग दे जाती है
आहट को परख कर ही तो दुनिया बन पाती है किसी आहट के सहारे ही तो दुनिया आगे ले जाती है उस आहट को समझ पाती है
आहट को आवाज बनकर जीवन मे कई एहसास आते है जो जीवन कि कहानी को समझ लेना मुमकिन बनाते है पर दुनिया हर बार आसान नही होती है
उस दुनिया के एहसास को समझ लेते है तो दुनिया कुछ अलग ही दिखती है जीवन कि कहानी हर पल बदलती नजर आती है
अगर ध्यान से सुनते है तो हमने जो सुनी है वह आहट समझ लेने कि जरुरत कम नही होती है आहट ही जीवन को मतलब दे जाती है
आहट को समझ लेते है तो उसके सहारे हमारी साँसे चलती है उस आहट को परख लेते है तो दुनिया हर मोड पर हर बार बदल जाती है
आहट को मतलब तो हर बार जीवन मे मिलता है आहट से ही दुनिया को मकसद मिल जाता है वह जीवन मे सोच अलग मेहसूस कर देता है
आहट ही तो हर बार दुनिया मे कुछ ना कुछ हो जाता है आहट से ही दुनिया के अगले मोड को समझ लेना जीवन मे नई चीज दे जाता है

कविता ५१२. घुटन का जीवन पर असर

                                                         घुटन का जीवन पर असर
पानी के अंदर नदिया का एहसास हर बार होता है पानी के अंदर हाथ को रखनेसे पानी में प्यारा एहसास मिल जाता है उसे समझ लेने से दुनिया को मतलब नया मिल पाता है
पानी की ठंडक को समझ लेते है तो जीवन को एहसास नया मिल जाता है पर कुछ ज्यादा पल रखते है तो वह पानी भी हमारे हाथ को परेशान करता है जरूरत से ज्यादा जीवन में कुछ नहीं भाता है
पर इन्सान यह बात कहाँ समझ पाता है वह जी तो लेता है जीवन को पर फिर जीवन की किंमत ही कुछ पल बाद पूरी तरह से भूल जाता है जीवन मुश्किल बनाता है
हर बार जीवन का समझ लेना जरुरी होता है जीवन के अंदर ही तो खुशियों का एहसास हर बार होता है जो जीवन पर असर करता है नई दिशा दे जाता है
हर चीज जो जीवन में हर बार अहम नजर आती है उसका जीवन में कुछ पल ही एहसास होना काफी होता है कुछ भी ज्यादा हो जाए  तो जीवन में चुभन देता है
उस चीज को समझ लेना जरूरी होता है जीवन की हर सोच को भी एक उम्मीद तक ही रखना होता है जिसे आगे ले जाये तो कुछ पल के बाद आगे ले जाना होता है
जीवन में खयालों को समझ लेना होता है हर बार जीवन को नई रोशनी और उजाला दे जाता है जीवन को तो  उम्मीदे दे जाता है जीवन को पुराना एहसास देता है
पर हर बार बदलाव को परख लेना जरुरी होता है जीवन में हर बात जरूरत से ज्यादा ना हो इसलिए उसे समझ लेने की जरूरत होती है वह बात जीवन में खुशियाँ देती है
कुछ चीजे जीवन में हद से ज्यादा हो जाए तो घुटन सी होती है जो जीवन की नई किरण दिखा देती है ज्यादा हो जाने पर दुनिया हर बार उम्मीदों से ज्यादा अँधेरा दे जाती है
चीजे तो जीवन के अंदर अलग असर देती है पर उम्मीद से ज्यादा चीजे बढ़ जाये तो उनके अंदर घुटन सी हर बार मेहसूस होती है जो जीवन पर असर कर जाती है 

Friday, 19 February 2016

कविता ५११. खयालों कि जरुरत होती है

                                                 खयालों कि जरुरत होती है
हर भावना जीवन कि हमारी जरुरत होती है चाहे पसंद हो या नापसंद हो वह हमे उम्मीदे देती है मन का खयाल ही हमारी जरुरत बनता है
मन को समझ लेना ही जीवन मे नया किनारा देता है जिसे समझ लेते है हम उस सोच से ही जीवन कि कहानी हर बार बनती है
मन के अंदर ही जीवन कि शुरुआत होती है जीवन को दुनिया अलग अलग मतलब हर बार दे जाती है जीवन कि शुरुआत देती है
मन को सही खयाल कि जरुरत होती है पर गलत खयालों से भी दुनिया आगे बढ जाती है उनकी शुरुआत हर बार होती है
जीवन कि कहानी को समझ लेने कि अहमियत तो हमे होती है पर अलग खयालों से बननेवाले हिस्सों से हमे नफरत होती है
दुनिया को बदल लेने कि हर बार जीवन को जरुरत होती है जीवन कि कहानी दोनों खयालों कि अमानत होती है
पर फिर भी बूरे खयालों को भूलाने कि हमे जरुरत होती है उन्हे बिना भुलाये हमारी दुनिया मे कहाँ रोशन होती है दोनो खयालों कि हमे जरुरत होती है
खयालों को समझ लेना ही तो जीवन कि जरुरत होती है पर उन्हे प्यार से बदल लेना जीवन कि जरुरत हर बार होती है जो जीवन को दिशा देती है
खयालों से ही दुनिया बनती है हर बार खयाल बूरे और भले दोनों तरह के होते है जीवन मे अलग अलग खयालों को समझ लेने से जीवन को उम्मीदे मिल जाती है
खयालों को परख लेने से ही तो जीवन कि सुबह हर बार होती है सोच मे जीवन को समझ लेने कि जरुरत होती है जो जीवन मे अलग अलग खयालों कि कहानी होती है

कविता ५१०. जीवन मे एहसास अलग होता है

                                           जीवन मे एहसास अलग होता है
हर बारी जीवन मे एहसास अलग होता है जिसमे खुशियों का आना जाना रहता है जीवन कि बाजी को जीवन हर बार समजझ लेता है
जीवन को जीने का मजा उसे हर मोड पर अलग तरीके से समझ लेने से हर बार आता है जो जीवन को समझ ले वह सोच अलग होती है
जीवन कि बाजी हमे साँसे दे जाती है जीवन को हर तरह से समझ लेने कि जरुरत मन को खुशियाँ दे जाती है जीवन को समझ लेना आसान नही होता है
जीवन हमे हर बार एहसास कुछ अलगसा देता है जीवन समझ मे धीमे से आता है जीवन कि कहानी को समझ लेना जरुरी होता है
जीवन को मतलब हर बार नया एहसास देता है जो हमे जीवन मे नई उम्मीदे दे कर जाता है जीवन मे क्या डरना खतरों से जीवन शुरुआत नई देता है
जीवन को हर मोड पर संभल कर ही तो हर बार जीना होता है पर फिर उसे बिना डरे भी कई बार समझ लेना है जीवन अलग अलग खयालों कि सौगाद होता है
जीवन मे बडा अजीब जीवन का एहसास होता है जो हर बार हमे नई नई उम्मीदे दे जाता है पर हर पल जीवन को समझ लेना जरुरी बात होती है जीवन के हर मोड मे अलग सौगाद होती है
जीवन को मतलब तो हर बाजी कहाँ दे पाती है जीवन कि कहानी हर बार नया मोड दे जाती है जीवन कि कहानी हर मोड पर रोशनी देती है
जीवन मे अलग एहसास हर बार जीवन कि जरुरत होती है जीवन मे हर बार वह रोशनी दे जाता है जीवन का एहसास अलगसा होता है
एहसास तो जीवन को मतलब हर बार दे जाता है जो जीवन कि राहों पर कुछ अलग किसम कि सोच और जीवन मे राहे कुछ अलग तरीके कि हर बार दे जाता है

Thursday, 18 February 2016

कविता ५०९. हर कदम को समझ लेना

                                                        हर कदम को समझ लेना
हर कदम कुछ तो पता चलता है कदम में ही तो जीवन बनता है पर हर कदम में हम कहाँ  जीवन को समझ पाते है जो हमे शुरुआत देता है
कदम ही तो जीवन को अलग एहसास देता है उम्मीद हर बार दे जाता है हमे साँसे और जीवन का एहसास देता है जीवन को अलग विश्वास देता है
कदम ही तो जीवन हर बार बनाता है पर हर बार हमे कदम कहाँ समझ आता है कदम कई बार बिना मतलब का ही कोई अन्जाम होता है
जो जीवन को रोशनी हर बार दे जाता है कदम को परख लेना जरुरी होता है कदम के अंदर ही नई शुरुआत जीवन हर बार हर मोड़ पे देता है
कदमों के अंदर ही जीवन जिन्दा रहता है कदम को समझ ले तो ही जीवन का अन्जाम समझ आता है जीवन का नया एहसास हमे रोशनी दे जाता है
हर कदम हमने जीवन को कुछ अलग तरह का एहसास छुपा होता है जिसे समझ लेना हर बार जरुरी होता है जो रोशनी की सौगाद हर बार होता है
कदमों को समझ लेना बहुत गलत एहसास होता है जिन्हे परख लेना जरुरी होता है जो जीवन को रोशनी हर बार हर मोड़ पे देता रहता है
कदम को समझ ले तो जीवन में सोच को नया एहसास मिलता है जीवन को समझ लेना जरुरी होता है क्योंकि जीवन ही तो हमे आगे ले जाता है
जीवन तो बस कदमों से ही बनता है जिसे समझ लेना ही जीवन को मतलब दे जाता है जीवन को नई रोशनी और नया एहसास दे जाता है
कदम ही तो हमे आगे ले जाते है उन्ही कदमों के संग ही तो जीवन का एहसास हर बार बनता है जो हमे जीवन मे हर कदम पर ले जाता है 

कविता ५०८. हर सुबह का एहसास

                                                              हर सुबह का एहसास
सुबह के अंदर अलग एहसास हर बार होता है सुबह को समझकर ही आगे बढ़ जाना जीवन को मतलब दे जाता है जीवन को समझ लेना सुबह देता है
सुबह की रोशनी के साथ ही तो जीवन का अलग एहसास हर बार सुबह के साथ जीवन बदलता रहता है सुबह के किरणों में ही रोशनी का एहसास देता है
सुबह नई सोच को आगे ले जाने का एहसास जीवन में हर कदम  हर सुबह हर बार नई शुरुआत देता है सुबह में जीवन का अलग एहसास अलग होता है
जीवन में दुनिया हर बार बदलाव तो देती है सुबह को समझ लेना जरुरी हर बार होता है दुनिया के अंदर मतलब हर बार जिन्दा हो जाते है
दुनिया में जीवन के साथ अलग सोच को रखना हर बार जरुरी होता है जीवन ही तो हमारी दुनिया बनाता है जिसे जीना हर बार जरुरी होता है
जीवन में हर बार समझ लेने की कई बाते है जिन्हे समझ लेना जीवन में हर बार जरुरी होता है जीवन को समझ लेना अहम हर बार होता है
दुनिया को परख लेना ही तो हमे आगे ले जाता है पर हर सुबह उसे परखने से ज्यादा कई बार जरुरी अलग काम लगता है
चाहे कुछ समझे या ना समझे सबसे जरुरी इन्तजार हर बार लगता है जिसे समझ ले तो जीवन को सही किसम की शुरुआत देता है
सुबह को जीना ही तो जीवन का एहसास होता है जीवन को कहाँ हम समझ पाते है जब उसे समझ लेना ही हर बार जरूरी होता है
सुबह को परख लेना ही कभी कभी ऐसा लगता है की जीवन को कुछ अनजाना एहसास देता है पूरा जीवन परखा जाता है बिन कोशिश के ही समझ आता है 

Wednesday, 17 February 2016

कविता ५०७. हमे नई सोच देता है

                                                              हमे नई सोच देता है
हम अगर समझ लेते है तो जीवन की अहम जरूरत होती है जिन्हे समझ लेना हमे नई सोच देता है उस सोच के अंदर हम दुनिया को मतलब दे जाते है
समझ तो बदलती रहती है समझ के अंदर ही जीवन की बाते परख लेना जरुरी नजर आता है उन बातों के अंदर नया नया एहसास हर बार होता है
जीवन को समझ ले तो ही तो जीवन मतलब दे जाता है कई तरह के मतलब से ही तो जीवन बनता है जीवन को समझ लेना ही तो उसे मतलब दे जाता है
जीवन में ही तो हमे समझ लेना जरुरी होती है समझ तो हमे आती है जिसे परख लेना ही तो जीवन को मतलब दे जाता है नई शुरुआत दे जाता है
जीवन के नई पलों का एहसास एक साथ ही कभी कभी हो जाता है जीवन में ही तो जीवन के नई सोच का एहसास हर बात होता है
पर किस सोच को चुने यह हमारी पसंद पर होता है जीवन की धारा को बदलते रहना उसकी जरूरत होता है जो रोशनी दे जाता है नई सुबह ले आता है
हर पल के अंदर ही तो हमें अपने आप को समझ लेना होता है पर हर पल हमे जीवन को समझ लेना जरुरी नहीं लग पाता है जीवन में नया एहसास होता है
जीवन में अलग अलग रंगों का आना जाना तो होते ही रहता है उन्हें समझ लेना जरुरी होता है जीवन को मतलब हर बार नई सोच को समझ लेना जरुरी होता है
मतलब तो हर मोड़ पर बदलते होते है उस मोड़ को जीवन हर बार अलग एहसास दे जाता है जिसे समझ लेना हमे अक्सर जरुरी लगता है
मोड़ तो बदलते रहते है पर हर मोड़ को समझ लेना जरूरी हर बार होता है जीवन के मोड़ से ही तो जीवन को समझना हो पाता है
बदलाव ही हर बार जीवन में जरुरी होता है उन्हें समझ लेना हर मोड़ पर जरुरी होता है राह को समझ लेना हर बार जीवन को मतलब दे जाता है 

कविता ५०६. जीवन में आगे जाना है

                                                          जीवन में आगे जाना है
जीवन में हम जब आगे जाते है जीवन की धारा को परख लेना चाहते है हम सोचते रहते है की आगे तो हम हर बार बढ़ना चाहते है
जीवन को बदलते रहना हम हर मोड़ पर चाहते है जीवन की कहानी को हम समझ लेना चाहते है जीवन को समझकर उसे आगे ले जाना चाहते है
जीवन का हर हिस्सा बदलता रहता है उसे आगे ले जाने की जरूरत से ही तो हम जीवन को समझ लेते है जीवन के कई हिस्से होते है
जिन्हे परख कर हर बार हम समझ लेना चाहते है जीवन की कोई ऐसी भी कहानी होती है जिसे बड़ी मेहनत के संग हर बार हम करना चाहते है
जीवन में आगे जाने की चाहत में हम सबकुछ करना चाहते है पर कभी कभी हम समझ नहीं पाते है की हम किस राह पर हम आगे जाना चाहते है
तब हम रुक जाते है और लोग समझ लेते है की हम कुछ नहीं कर पायेंगे इसीलिए वह अक्सर हमें कमजोर समझकर आगे बढ़ जाते है
पर जब वह अपना रंग दिखाए हमें एक पल समझ लेना है और अपने आप को संभाल लेना है हर मोड़ पर जीवन को हर बार परख लेना है
जीवन को हर मोड़ पर समझ लेना जरुरी होता है जीवन में मौका तो हमे मिलता है पर संभलकर आगे जीवन में नई सोच देता है जिसे परख लेना आगे ले जाता है
जीवन के अंदर एहसास तो हमे उम्मीदे दे जाता है हमे नई राह जीवन में आगे तो ले जाती है जब हम आगे जाना हमें सोच समझकर ही तो आगे जाना है
जीवन में कोई भी राह से ले जाये हमे संभल कर आगे जाना है अपने कदमों की आवाज को संभल कर सुनना है हमे आगे तो चलना जरूरी होता है 

Tuesday, 16 February 2016

कविता ५०५. कहना और करना

                                                कहना और करना
हर बार हमने जीवन कि जरुरत को समझ लिया है पर कभी कभी ऐसा भी लगता है सिर्फ आधा  सबक सीख लिया है
कितनी आसानी से दूसरे को बताते है पर खुद वही कहने से डरते है तभी मन कहता है खुदका कहना भी जीवन मे जरुरी होता है
जीवन कि अलग अलग राहों पर दुनिया कि बाते तो हमे आगे ले जाती है पर उनके साथ चलने से ही दुनिया बन पाती है
कह तो दिया  है बात को हमने पर जीवन मे कहाँ उसे कर पाते है बात को समझ लेने मे ही जीवन के अलग अलग एहसास हर बार होते है
जीवन को हर मोड पर समझकर आगे जाने कि जरुरत होती है जीवन मे हमे हर किनारे को समझ लेने कि हर बार जरुरत होती है
जीवन को समझ लेने कि मतलब दे जाने कि जीवन मे हर राह पर कुछ तो अहमियत होती है जो जीवन को आगे ले जाती है
जीवन कि चाबी तो हमारी दुनिया मे ही छुपी होती है जीवन को सही समझ देने कि हर मोड पर जरुरत हर बार होती है जो उम्मीदों कि दास्तान देती है
कहना तो आसान होता है पर करने के लिये हिंमत कि जरुरत होती है कहानी मे हर बार अलग अलग मतलब होते है जो एहसास देते है
कहना तो जरुरी होता है पर करना सबसे मुश्किल होता है यह हमने तब जाना जब करने कि कोशिश कियी है जो जीवन को मतलब दे जाते है
कहना और करना दोनों जरुरी होता है क्योंकि जीवन का कारवा सिर्फ तभी होता है जब कहने के साथ करना भी हमे आता है

कविता ५०४. सोने कि सुंदरता

                                                    सोने कि सुंदरता
जब जब राहों पर कुछ अलगसा हो जाता है जीवन पथ पर जीवन कुछ अलगसा एहसास दिखाता है जो समझ लेना जीवन को उम्मीदे दे जाता है
जीवन पथ के अंगारों का डर मन से दूर भगाता है जीवन कि पथ के राहों पर जो रात दिन दिपक जलाता है वह तूफानों का कारवा जीवन मे अलग एहसास दिलाता है
जिसे परख लेते है तो जीवन को मतलब देना अहम नजर आता है राहे जो चोट दिलाती है उनसे वह दूर रख कर आगे चलते जाता है
राह पर अंगारों से लढने कि कुछ ऐसी ताकद दे जाता है कि राह भटक जाने का डर हमे अक्सर भाता है आशाए दे जाता है
राहों पर कई अंगारों का कारवा हमे नजर आता है जिनमे जीवन हर बार हमे उम्मीदों के किनारे दिखता है जो एहसास दिलाता है नई राह दिखाता है
बिना अंगारों के जीवन पथ का समझ लेना बडा मुश्किल नजर आता है जीवन कि हर राह पर वह हमे आगे जाने का विश्वास दे जाता है
जीवन को समझ लेना राह दिखाता है जीवन को तरह तरह के एहसास मे अंगारों  का एहसास तो वह एहसास है जो चोट तो देता है पर जरुरी होता है
चोट तो जीवन मे हर बार लगती रहती है उनके अंदर ही जीवन हर बार साँसे ले पाता है जीवन कि कहानी को समजना उन अंगारों से ही हो पाता है
जीवन मे अंगारों से जलकर ही तो आगे बढा जाता है पथ पर चलकर आगे जाना ही जीवन मे सही राह बताता है उम्मीदे दे जाता है
जीवन मे अंगारों पर चलने से ही जीवन को नया रंग मिल जाता है अंगारों के कुछ निशान तो पडते है मन पर लेकिन तपकर ही तो सोना सुंदरता पाता है

Monday, 15 February 2016

कविता ५०३. उजाले और अँधेरे मे दोनों मे जीवन कि कहानी

                            उजाले और अँधेरे मे दोनों मे जीवन कि कहानी
रोशनी तो जीवन को उजाला दे जाती है जीवन मे वही तो नई शुरुआत मिल जाती है रोशनी ही तो जीवन को मतलब हर बार देती है
पर उजाले से ज्यादा जीवन कि कहानी कभी कभी अँधेरे से बनती है जीवन कि दास्तान हमे जीवन मे नई सुबह हर बार देती है
सुबह के अंदर जीवन कि कहानी हर बार बनती है कहानी के अंदर अलग अलग मोड को समझ लेने कि हर बार हर सुबह मे जरुरत होती है
रोशनी तो जीवन मे हर बार उजाले देती है जिन्हे समझकर आगे बढने कि जीवन को हर राह पर जरुरत होती है जिसे दुनिया समझ लेती है
उजाले से ही तो जीवन कि कहानी कुछ अलग बनती है अनसुनी दास्तान जीवन को मतलब कई ओर देती है जीवन कि सारी बाते उम्मीदों से ही बनती है
पर कई उम्मीदे रात मे भी छुपी रहती है उजाले से ही जीवन कि हर मोड पर जीवन मे एहसास देती है उजाले से समझ लेने कि जरुरत होती है
उजाले को समझ लेने कि जरुरत हर बार होती है उजाले को परख लेने कि जरुरत हर राह पर होती है जो हमे अलग एहसास हर बार देती है
उजाला ही परख लेने कि जरुरत हर बार नही लगती कभी कभी अँधेरे से भी भगवान कि झलक दिख जाती है रोशनी आती है
उजाला ही जीवन कि कहानी बनती है जिस से ही जीवन कि शुरुआत हर बार होती है जो हमे नई सुबह देती है वह अँधेरे से हर बार निकल कर आती है
पर कभी कभी अँधेरे से ही जीवन कि कहानी हर बार बनती है जो हमारी दुनिया बदल कर हमे आगे ले जाती है जीवन को मतलब हर बार देती है

कविता ५०२. राह पर आगे बढना

                                                  राह पर आगे बढना
हर राह को समझ लेने कि जरुरत तो होती है पर कोई कहानी इतनी दिलचस्प लगती है कि उसे सुनने कि हमे कहाँ फुरसत होती है
राह को हर बार जिन्दगी जो परख लेती है उसे अलग अलग मोड को पर समझ लेने कि जीवन मे अहम जरुरत होती है
जीवन कि हर बाजी कहाँ आसान होती है पर उसे परख लेना हमारी जरुरत होती है जो हमारी दुनिया को अहम हर बार लगती है
जीवन मे तो दिन रात हर पल बदलते जाते है जिन्हे समझकर आगे बढने कि जरुरत होती है पर कहानी तो मतलब हर बार देती रहती है
जीवन को समझ लेने कि कहानी आसानी से हमे नही समझ आती है जिसे समझ लेने कि हर बार जरुरत हमे हर पल मेहसूस होती है
पर राह को परख लेते है तो दिलचस्प कहानी समझ लेने का मौका हम अक्सर खो देते है जीवन को समझ लेना ही तो सिर्फ जीवन कि जरुरत नही होती है
कभी कभी बिना समझे ही बात करनी होती है राहे तो समझ लेने से ही जीवन कि नई सुबह होती है जीवन मे अलग अलग एहसास होते है
राहों को तो दुनिया मे हर बार समझ लेने कि जरुरत होती है राहे तो जीवन को हर बार कहानी को परख लेने कि जरुरत होती है
जीवन को समझ लेने के कई मोड तो होते है उनके अंदर दुनिया हर बार रंग बदलती रहती है राहे तो जीवन मे अलग अलग एहसास हर बार देती है
जीवन को समझ लेने कि तो हमारी जरुरत होती है जो जीवन को हर बार अलग सोच और कोई अलग खयाल देती है जो हमारी दुनिया बदल लेती है
सोच मे ही कई कहानियाँ मिलाकर जीवन कि कहानी बनती है जो जीवन को हर मोड पर अलग ताकद दे जाती है रोशनी देती है

Sunday, 14 February 2016

कविता ५०१. कुछ तय करना

                                               कुछ तय करना
कुछ तय करना जीवन मे आसान नही होता है जीवन कि कश्ती को किस किनारे ले जाये जीवन कि बडी अहम बात होती है
पर दुनिया को कैसे परखे लेते है जिसे तय करना है जीवन मे उस बात को समझ लेना जीवन मे जरुरी होता है तय करना हर बार जीवन मे आता है
कुछ राह को मतलब दे जाना जीवन मे हर बार अहम नजर आता है तय कर देना है जीवन पर अलग नतीजा दे जाता है पर तय करना मुश्किल हो जाता है
तय तो हम कई बाते कर लेते है पर उनका नतीजा कुछ अलग ही दुनिया मे होता है तय जो बाते कर लेते है उनका नतीजा कुछ अलग ही जीवन मे होता है
तय तो हम कर लेते है उसे समझ लेना जीवन मे हर बार अलग बात बताता है तय किया हुआ काम जीवन बदल कर हर बार जाता है
तय कियी बातों कि जगह कुछ और ही हो जाता है तय तो हर बात को करना बडा आसान लगता है पर उसे कर गुजरना जीवन कि दिशा बदल देता है
तय तो हम हर मोड को कर लेते है जीवन पर उस मोड को जी लेने का कुछ तो असर हो जाता है तय तो हर बात होती है पर उसे करना मुश्किल बन जाता है
हर मोड पर कुछ तो जीवन को मतलब दे जाता है वही तय करना जो जीवन मे रोशनी दे जाता है तय तो बाते करनी पडती है जिनका जीवन पर असर तो होता है
तय तो करनी पडती है कई बाते पर उनको तय कर पाना जीवन मे आसान कहाँ नजर आता है जीवन हमारी दुनिया हर बार तय कर जाता है हमे राह दिखाता है
बाते तो तय करनी होती है जिनसे जीवन पर अलग असर दिख जाता है जिन्हे परख लेना ही तो जीवन मे हर बार बडा अहम नजर आता है

कविता ५००. सही सोच कि अहमियत

                                              सही सोच कि अहमियत
नई सोच को समझ लेने से जीवन बदल जाता है उसे परख लेने कि आहट से जीवन कि वह राह बदलता जाता है पर सवाल तो आखिर मे आता है
सच्ची राहों पर चलने से ज्यादा अपनी सोच पर अटके रहना जरुरी होता है जिसे जीवन परख लेते है उस बात को समझ लेना जरुरी होता है
अगर एक सोच गलत राह पर ले जाती है तो उसे समझ लेना जरुरी होता है राहे तो बदलती जाती है उन्हे परख लेना जरुरी होता है
जीवन को अलग अलग मोड पर कुछ अलग तरीके से परख लेना जरुरी होता है नई सोच मे जीवन को समझ लेना हर बार जरुरी होता है
बस सोच काफी नही होती है उसे परख लेना जरुरी होता है सोच के अंदर का छुपा एहसास जीवन को रोशनी हर बार दे कर आगे है
सारी चीजों को समझ लेना जीवन पर असर हर बार करता  है जीवन को बदलाव भी सही दिशा के लिए जरुरी होता है जो हमे जीवन देता है
राह पर अलग बाते हर बार होती है जो हमे एहसास अलग दे जाती है जिनसे ही तो जीवन कि सही शुरुआत हो पाती है
सोच हर बार जरुरी नही होती है सच्चाई ही सही सोच होती है तो जीवन को परख लेना जीवन कि अहम जरुरत हर बार होती है
सोच से भी जरुरी सच्चाई होती है तो उसे थाम लो तो दुनिया जन्नत होती है चाहे कितना भी चाहो गलत सोच को हारना ही पडता है
सही तरह से बदल लेना ही तो जीवन को मतलब देता है सोच से ही तो हमारी दुनिया बनती है उसकी ही हमे हर बार जरुरत पडती है
गलत सोच से तो अच्छा है बिना सोच के ही जीवन गुजर जाये क्योंकि गलत सोच से हम जो दूसरों को चोट देते है वह तो हम कर नही पाते है

Saturday, 13 February 2016

कविता ४९९. बात के अंदर छुपी दास्तान

                                             बात के अंदर छुपी दास्तान
हर बात के अंदर एक बात छुपी होती है काश के लोग समझ लेते कि हर बात के अलग राज छुपा होता है जो जीवन को मतलब देता है
बातों के अंदर दास्तान का राज छुपा होता है जो एहसास बदल लेता है क्योंकि हर बार बातों को ही तो हम दास्तान बनाते है
बातों को समझ लेने कि हर बार जरुरत होती है जो जीवन को उम्मीदे दे जाती है बातों से ही तो जीवन कि नई आवाज होती है जो रोशनी देती है
पर अक्सर हमे जीवन मे वह आवाज सुनने कि कहाँ आदत होती है जो जीवन मे रोशनी देती है सिर्फ बिना जरुरी शोर मे ही जीवन कि कहानी बसी होती है
जीवन को हर मोड पर समझ लेने कि जरुरत होती है क्योंकि जीवन मे ही तो हमारी कहानी छुपी होती है जो जीवन को रोशनी देती है
बातों को समझ लेने कि कहानी आसानी से समझ नही आती क्योंकि शोर को समझ लेने कि हमारी आदत होती है जो जीवन कि सबसे बडी मुसीबत होती है
बातों को समझ लेने कि जरुरत हमे आसानी से कहाँ मेहसूस होती है उन्हे तलाश करने कि जीवन मे मेहनत हर बार करनी पडती है जो हमारी जरुरत होती है
जीवन कई बार हमे कितने रंग दिखा देता है कि कौनसा रंग चुने हमे कहाँ समझ आता है जीवन को परख लेना ही जीवन मे हर बार खुशियाँ दे जाता है
जीवन के शोर को सुनने कि हमारी आदत हो जाती है उसे बिना तोडे ही जीवन कि कहानी बनती है जब हम उसे तोड लेते है तो ही हमारी दुनिया बनती है
शोर ही तो जीवन को मतलब दे जाता है जो हमे हर पल हर मोड पर आगे ले जाता है काश के हम उस शोर को अनसुनी कर पाते तो ही हम दास्तान को सचमुच मे सुन पाते है

कविता ४९८. सीधी और टेढी बात

                                                            सीधी और टेढी बात
कुछ चीज जो सीधी होती है जाने क्यूँ उसमे मतलब अलग तो हो जाता है सीधी बातों को समझ लेना जीवन में जरूरी होता है जिसे समझ लेना अहम बात होती है
सीधी चीजे भी कभी कभी उलझी हुई बात होती है जो जीवन में खुशियों की सौगाद देती है सीधी चीजे जीवन की नई शुरुआत होती है
पर अचरज की बात तो यह है की सीधी बात भी लोगों को टेढ़ी नजर आती है जीवन और सोच कि दिशाए बदल जाती है सीधी चीजे भी लोगों को अलग दिखने लगती है
जीवन कि कई बातों मे जीवन कि कहानी नजर आती है जिन्हे समझ लेते है तो जीवन कि दास्तान हर बार बदलती नजर आती है
सीधी चीज को अगर हर बार हम समझ ले तो दुनिया कुछ अलग बन जाती है चीजे तो बदलती रहती है सीधी बाते जीवन को अलग एहसास दिलाती है
सीधी चीज जीवन को बदलती हुई नजर आती है बदलाव ही जीवन कि सच्चाई जिसके कारण हमारी दुनिया बदल जाती है पर जब उसे देखती है
तो दुनिया को सीधी बात हर बार टेढी नजर आती है जीवन कि धारा हमे एहसास नया दे जाती है बातों के बदलते मतलब मे दुनिया बदल जाती है खुशियाँ बदल जाती है
सीधी बाते भी तो दुनिया को कुछ सोच अलग देती है उन्हे बदल लेने कि जीवन मे जरुरत कहाँ होती है जो हमारी दुनिया बदल देती है
सीधी बाते तो जो जीवन को एहसास अलग दे जाती है उन्हे समझ लेने कि जरुरत भी दुनिया को परख लेना जरुरी हर बार बनाती है
सीधी बाते भी जो मजबूत असर जीवन पर कर जाती है उस असर से ही तो दुनिया आगे बढती जाती है जीवन मे कई तरह के एहसास लाती है
और फिर वही सीधी बाते जीवन को बदल देती है तो दुनिया को कुछ अलग नजर आती है उन्हे सच्चाई से देखने कि जगह दुनिया टेढे ढंग से देखने लग जाती है

Friday, 12 February 2016

कविता ४९७. नदियाँ और रेत

                                                              नदियाँ और रेत                                              
नदियाँ के किनारे जीवन में एहसास अलग अलग होते है जिन्हे सुन लेनेसे जीवन को एहसास अलगसे होते है नदियाँ के आवाज से ही हम दुनिया को परख लेते है
नदियाँ में ही हम दुनिया के ठंडे पानी को छू लेने है पर क्या हम उस किनारे पर जीवन को परख लेते है जीवन को वह एहसास है जिसमे जी लेते है
पर सिर्फ पानी से नहीं रेत के एहसास से भी हम बहोत कुछ सिख लेते है हम जीवन के कई मोड़ को समझ लेते है तो कभी कभी अनदेखा एहसास तो जीवन को समझ लेते है
किनारा तो हमे परख लेता है और जीवन की धारा को भी हम हर बार बदल लेते है किनारे से पानी के अंदर पैर जो जाते है जीवन में बदलाव देते है
जीवन के अलग अलग हिस्से हर बार चलते रहते है कभी पानी और कभी रेत का बदलाव जीवन में अलग असर कर जाता है हम अलग राह समझ लेते है
नदी तो जब पाव को छू लेती है उसमे अलग एहसास हर बार देती है पर रेत का साथ बताता है की हमारी दुनिया बदलती रहती है जीवन की खुशियाँ बदलती रहती है
हर चीज को समझ लेना जरुरी होता है क्योंकि दुनिया के एहसास बदलते रहते है जीवन की धारा में दुनिया की सोच हर राह पर हम अक्सर समझ पाते है
जीवन को जब जब हम समझ लेते है नई शुरुआत और नये एहसास की धारा को बदलते देखते है जीवन तो हमे उम्मीदे देता है जीवन की शुरुआत हम अलग ढंग से करते है
हर बार एक अलग एहसास के संग हम जीते है और दुनिया में आगे बढ़ते है दुनिया के अलग अलग रंग तो हमे उम्मीदे देते है जिन्हे हम कहाँ समझ पाते है
किनारों की रेत हो या पानी का एहसास हो दोनों बदलाव को हम एक पल में ही जी लेते है दुनिया को अपने तरीके से हर बार समझ लेते है  

कविता ४९६. जीवन को मतलब दे जाने की सोच

                                                 जीवन को मतलब दे जाने की सोच
कभी कभी जीवन को मतलब दे जाने की सोच जीवन को परख देती है जीवन के अंदर अलग एहसास तो हमे सोच नई दे जाती है जीवन की धारा में ही नई शुरुआत होती है
जो हमे समझ नहीं आती है जीवन की अलग सोच ही तो आगे हमे ले जाती है जीवन के अंदर हम आगे परख तो चलती है जीवन को समझ लेने की जरूरत होती है
जीवन का मतलब तो आजकल हमारी नई सुबह होती है जब जब जीवन के अंदर आगे बढ़ने की जरूरत हर बार होती है जिसे आजकल जीवन को बाते हर बार समझ आती है
जीवन के भीतर हमे आगे जाने से ही जीवन की सोच हमे आगे ले जाती है जीवन में समझ लेना ही तो उसकी अहम जरूरत होती है जीवन की हर धारा बदलती जाती है
जीवन के हर मोड़ को समझ लेना जीवन में अहम जरूरत होती है जीवन को परख ले यही तो दुनिया की सही जरूरत होती है जीवन के हर मोड़ पर दुनिया जिन्दा रहती है
पर फिर भी समझ लिए दुनिया को पेहचान लेना दुनिया की हर राह की जरूरत होती है दुनिया को आगे ले जाये वही दुनिया की अहमियत होती है
जीवन को समझ लेना कभी कभी इस दिल से होता है और कभी दुनिया की समझदारी मुश्किल बात हर बार लगती है क्योंकि कई बार वह सच से बड़ी दूर दिखती है
जीवन को समझ लेने से दुनिया अलग एहसास देती है दुनिया की सोच हर बार अलग समझ हमे दे जाती है दुनिया को परख लेना दुनिया की जरूरत होती है
दुनिया के अंदर की हर बार अलग अलग राह की जीवन में जरूरत होती है दुनिया को हर मोड़ में आगे जाने की जरूरत होती है जीवन के अंदर नई उम्मीद होती है
जीवन को समझ लेना ही तो जीवन की ताकद होती है पर कहाँ जीवन में वह जीत कभी कभी दुनिया को अलग सोच हर मोड़ पर दे पाती है 

Thursday, 11 February 2016

कविता ४९५. हर मोड़ पर कुछ अलग बात

                                                    हर मोड़ पर कुछ अलग बात                          
हर मोड़ पर कुछ अलग बात तो होती है जिसमे अलग एहसास मोड़ में दुनिया दे जाता है उस मोड़ को समझ लेना हर बार जरुरी होता है
मोड़ पर दुनिया रहती है जीवन बार बार अलग अलग मोड़ हर राह पर दिखाता है अगर कतराये मोड़ से तो जीवन मतलब बदल कर जाता है
मोड़ पर हमे जीते है उस मोड़ को जीवन का अलग एहसास दिख जाता है मोड़ तो वह है जिसमे जीवन उम्मीदे दे पाता है पर कभी कभी जीवन मोड़ को बदलकर आगे जाता है
मोड़ के बाद मोड़ जीवन को बदलता जाता है मोड़ में अलग सोच जीवन को आगे पीछे ले जाती है जीवन तो बदलाव का दूसरा नाम हर बार होता है
जीवन में मोड़ तो बदलते जाते है मोड़ के साथ ही तो जीवन को समझना होता है मोड़ों से फिर भी जाने क्यूँ जीवन कतराता रहता है
अलग मोड़ जीवन को नई सोच दे जाता है जीवन ही हमारी ताकद बनकर रोशनी लाता है मोड तो बदल जाते है जिन्हे समझ लेनेसे जीवन बदल जाता है
मोड़ तो गलत होते है हर मोड़ तो बदल जाते है मोड़ में ही जीवन हर बार उम्मीद दे जाता है मोड़ को बदल लेना जीवन को मतलब हर बार दे जाता है
मोड़ को मतलब तो हर बार जीवन देता है मोड़ की समझ से ही जीवन हर बार बन जाता है जीवन को समझ लेना हर बार अहम चीज है
मोड़ के साथ जीवन बहोत बड़ा दर्द होता है अलग अलग मोड़ ही जीवन को समझ लेने की जरूरत बताते है मोड़ों से ही तो जीवन हर बार जिन्दा हो जाता है
मोड़ के अंदर जीवन तो अलग एहसास ले जाता है मोड़ों में ही दुनिया का नया एहसास जिन्दा होता है मोड़ ही हर बार दुनिया बदल जाते है 

कविता ४९४. सच कहना

                                                                     सच कहना
हम जब कुछ कहते है कोई सुन ले तो भाता है पर ना सुन ले तो भी क्या सच कहने का मजा तो आता ही है जीवन की धारा को हर बार समझना होता है
कुछ हम कहते है और कुछ मामलों में हम कहने से कतराते है पर अक्सर हमने देखा है जीवन को समझ लेना हम चाहते है पर उस सच्चाई को कहने से कतराते है
जीवन की जो बाते हम समझ नहीं पाते है पर जब हम समझ लेते है जीवन की धारा बदल जाती है जीवन के हर मोड़ के अंदर सोच अलग होती है पर हर सोच के अंदर एहसास अलग आ जाता है
हमे जीवन को समझ लेना होता है उस मोड़ में जिसमे एहसास अलग हो जाता है पर कभी कभी एहसास अहम नहीं होता हमारा विश्वास अहम बन जाता है
कहते तो हम रहते है पर बात समझ नहीं पाते है जीवन के अंदर सोच की दिशा बदल जाते है जीवन तो बदलता रहता है जीवन को सच समझ लेना जरुरी नजर आता है
हमे आगे तो जाना होता है पर जीवन का एहसास बड़े आसानी से बदलता जाता है पर लोग नहीं मानते तो दर्द भी होता है पर फिर भी लोगों के लिए जीवन तो हर मोड़ बदलता जाता है
जीवन में सोचना जरुरी होता है की  क्या हम सच कह पाते है पर हर बार जीवन कहाँ सही दिशा ले पाता है पर उम्मीद रखे तो सच्चाई का असर अलग होता है
कुछ पल दो तो जीवन को दिशा अलग देनेवाला सच भी पहले पल हार जाता है जीवन में अलग अलग असर को समझ लेना हर बार और हर पल जरुरी होता है
हर सच को परख लेना जीवन को नई शुरुआत देता है जीवन में हर बार  सोच को समझ लेना जरुरी होता है उम्मीदे दे जाता है दिशा देता है
कहना तो हर बार अहम है पर हर पल जीवन को समझ लेना जीवन में मतलब हर बार अलग एहसास दे जाता है जीवन को नई रोशनी दे जाता है

Wednesday, 10 February 2016

कविता ४९३. जीवन के एहसास

                                                            जीवन के एहसास
कुछ बात है कुछ एहसास है जिन्हे समझ लेने की जीवन को एक प्यास है जीवन के अंदर हम अलग एहसास मेहसूस करने लगते है जीवन में उस एहसास को समझ लेना जरुरी होता है
नया एहसास जो हमे आगे ले जाता है पर कुछ एहसास तो हमे बड़े खास होते है उन्हें समझ लेना ही जीवन की जरूरत बन जाती है वह साँसे दे जाती है 
एहसास तो हमे जो नई दिशा देते है जिसके अंदर हर बार जीवन की खुशबू पाते है हम जीवन में समझ लेते है हर एहसास के अंदर हम जीना चाहते है
कुछ एहसास तो हमे नई राह देते है उन एहसास के साथ ही हम आगे बढ़ जाना चाहते है उस एहसास के अंदर ही हम अपनी जरूरत को मेहसूस करते है
एहसास की जीवन के हर मोड़ की ताकद होते है उन एहसासों में ही हम जीवन को पाना चाहते है समझ लेना चाहते है एहसास ही हमे जीवन का किनारा देते है
एहसास ही जीवन को आगे ले जाते है एहसास ही जीवन की सच्ची जरूरत होते है एहसास ही तो जीवन को रोशनी देते है ताकद बनकर ही एहसास हमे आगे ले जाते है
एहसास को परख लेते है तो ही तो जीवन को समझ पाते है जीवन में मतलब हर बार दे जाते है रोशनी हर मोड़ पर देते है जीवन में वह एहसास ही मायने रखते है
एहसास को कभी कभी हम कहाँ काबू में कर पाते है उनके अंदर ही हम जीवन की रोशनी हर बार पाते है कुछ एहसास तो जीवन की दिशा बदल जाते है
जीवन में बदलाव लाते है एहसास जो अलग होते है कुछ एहसास जो जीवन को आगे ले जाते है जीवन को परख लेना जरुरी समझ लेते है
एहसास ही जीवन में ताकद देते है एहसास ही हमे जीवन में उम्मीदे देते है हर बार हमे आगे ले जाते है रोशनी दे जाते है हमारी जरूरत होते है
एहसास ही तो हमे आगे ले जाते है एहसास ही तो हमारी अहम जरूरत होती है क्योंकि उन एहसास में जीवन के अंदर नई शुरुआत जरुरी होती है 

कविता ४९२. कुदरत का अलग एहसास

                                                        कुदरत का अलग एहसास 
कुदरत को समझ लेना अलग अलग असर दिखाता है कुदरत में हर बार हर कदम अलग एहसास अलगसा होता है पर हम जब समझ पाते है
कुदरत तो साथ देती है जिसे परख लेने की हर बार जरूरत होती है कुदरत ही ताकद होती है जो हर मोड़ में उम्मीदे तो देती है कुदरत ही खुबसूरत लगती है 
कुदरत ही हर बार नया एहसास दे जाती है जिसे कुदरत कहते है उसमे ताकद हर बार आगे ले जाती है कुदरत की बाते हर बार निराली है 
हम कितना भी चाहे पर वह पीछे हटनेवाली नही है वह हर बार हर ताकद के संग खुशियाँ बदलती है जिसे देखने से ही जीवन में खुशियाँ आ जाती है 
जीवन में कुदरत की ताकद हमे नई सुबह देती है कुदरत के अंदर अलग एहसास हर मोड़ पर देती है कुदरत को समझना ही जीवन की जरूरत होती है 
कुदरत ही हमे रोशनी और जीवन को अलग रंग  दिखाती है उस कुदरत के संग ही हमारी जंग शुरू रहती है क्योंकि कुदरत में ही जीवन का अंत भी छुपा होता है 
कुदरत से लढते है ताकि उसे रोक पाये कुदरत के साथ आगे बढ़ते है क्योंकि उसके साथ ही हर मंज़िल नजर आती है बड़ा अजीब रिश्ता है हमारा कुदरत से जो हर बार अलग रंग दिखाता है 
कभी उसे परख कर जीवन को आगे ले जाता है कुदरत के हर राह को समझ लेना जीवन में हमें कहाँ आता है जीवन को समझ लेना अलग अलग मकसद दे जाता है 
कुदरत का बदलते रहना हर बार हमे कहाँ समझ आता है कुदरत में अलग अलग राह को समझ लेना हमे रोशनी दे जाता है कुदरत ही जीवन को मतलब दे जाती है 
क्योंकि कुदरत के अंदर जीवन का अलग अलग किनारा होता है जो हर बार हमारे जीवन की राह बदलता जाता है जीवन के अंदर अलग एहसास दिखाता है 
जो जीवन बनता है और उसे खत्म भी कर जाता है जीवन के हर सोच पर जीवन की अलग राह देता है जीवन को समझ लेना मुश्किल बनाता है 

Tuesday, 9 February 2016

कविता ४९१. कोहरे के पार का जीवन

                                                            कोहरे के पार का जीवन
पर्वत के ऊपर चलने से जीवन को अलग एहसास तो हर बार होता है हवाओं की ठंडक से जीवन को मतलब अलग मिल पाता है उसे परख लेना आसान नजर आता है
हवाओं को प्यारा एहसास जो जीवन को बदलता जाता है उस हवा के स्पर्श से हर बार जीवन में मौका बन पाता है जिसे परख लेना जीवन को मतलब देता है
हवाओं का मतलब हमे एहसास तो दे पाता है पर कभी हवाओं के पार देखना भी मुश्किल होता है वह एहसास ही जीवन को हर बार अलग सोच दे जाता है
पर्वत के अंदर जीवन का मतलब हर बार बदल जाता है उसे समझ लेना ही जीवन को एहसास हर मोड़ को नई बात दे जाता है तो जीवन में नई सोच देता है
जब जब जीवन को समझकर मतलब परखना हो तो हर बार वह बड़े काम आती है जीवन की सोच जो हमे अलग दिशा दे जाती है हमे समझा लेती है
हर बार जीवन को परख लेना मुमकिन बनाती है जब हवाए हमे जीना सीखाती है तब वह जीवन का अलग एहसास बताती है जो हमे छू लेता है और नई सुबह आती है
अलग जीवन में हर बार हम समझे तो ही जीवन की कहानी आगे बढ़ती जाती है जीवन के हर मोड़ पर कोई सोच जो हम समझ लेते है तो नई शुरुआत तो दिखती है
पर कभी कभी हवाए कुछ इस कदर भी होती है की जीवन में आगे की बाते नजर कहाँ आती है छुप जाती है वह उसे कोहरे के पार दुनिया नजर नहीं आती है
पर डरना क्या दोस्तों कई बार उसके पार मंज़िल भी होती है पर कभी कभी डर इतना लगता है की जीवन की धारा बदलसी जाती है
दुनिया को क्या समझा ले हम जब दुनिया को समझ लेना ही दुनिया की जरूरत होती है क्योंकि  फिर भी अगर हम उसे ना समझ पाये तो दुनिया में आगे जाने की जरूरत होती है
क्योंकि कोहरे के पार ही जीवन की सुबह होती है कोहरे के पार देख लेना ही हर बार जीवन की जरूरत होती है जो जीवन को उम्मीदे देती है 

कविता ४९०. कोई आहट जीवन की

                                                          कोई आहट जीवन की 
जब जब कोई आहट हम जीवन में सुनते है उस आहट के अंदर एहसास तो जीवन को देते है कोई जो आवाज जिसे हम खुद से समझ लेते है
आहट के साथ दुनिया को अलग एहसास हम देते रहते है उस एहसास को समझकर हम आगे बढ़ते है आहट तो हमे हर बार कुछ ना कुछ समझा देती है 
उस आहट को समझकर दुनिया पर कोई तो असर हो जाता है जिसे परख लेने से दुनिया को चीजों का अन्दाजा होता है आवाज को समझकर ही तो एहसास होता है 
आहट में समझ लेना जीवन को एहसास अलगसा देता है क्योंकि आहट में ही सोच अलग मिल पाती है आहट को परख लेना जरुरी होता है 
उसे समझ लेना आहट में अलग एहसास देता है आहट से ही तो हर पल चीजे आगे बढ़ पाती है पर जीवन में हर बार आहट कहाँ समझ में आती है 
आहट तो वह एहसास है जिसमे दुनिया अलग रंग दिख लाती है आहट को समझ ले तो ही दुनिया नई कहानी बताती है आहट में ही तो दुनिया की समझ  आती है 
आहट के साथ जीवन की नई दास्तान बन जाती है जिसे परख लेने से आगे जानेवाली दुनिया हमें अलग सोच दे पाती है जीवन में आहट से ही दुनिया बन पाती है 
हर मोड़ में जीवन को आहट हमे बताती है दुनिया बन जाती  है एक आहट से जब आहट सही चीज की होती है पर अक्सर यह होता है की हम समझ लेते है 
आहट गलत चीज की है और फिर आहट गुम हो जाती है क्योंकि आहट तो दो पल की दास्तान है जो कहानी की तरह कहाँ पढ़ी जाती है 
कहानी तो वह होती है जिसे समझकर फुरसत में हम पढ़ पाते है पर आहट तो वह सोच है जिसमे जीवन की कहानी बन जाती है पर हम अगर उसे उस पल ना पकड़े तो वह जीवन से निकल जाती है 

Monday, 8 February 2016

कविता ४८९. दुनिया को बदल लेने की कोशिश

                                                     दुनिया को बदल लेने की कोशिश                    
जब धूप जलाये तो हम उसे कोसते है जब थंड सताये तो हम उसे कोसते है पर जीवन में हर बार हम दुनिया को कहाँ समझ लेते है
इसलिए तो जब हम सही करते है और हमे दुनिया कोसे तो जाने क्यूँ हम खुदको कोसते है खुद जीवन को आसानी से नहीं समझ पाते है 
और हम जिसकी मदद को जाते है वह साथ ना दे और दुनिया कोसे तो हम खुद को कोसते है हम नहीं समझ पाते है की हम गलत नहीं होते है 
दुनिया के अंदर की गलतियों के लिए हम खुदको कोसते है हम धुपको नहीं पर अपने आपको तपने के लिए जलने के लिए हर बार कोसते है 
जीवन में उलझन को नहीं खुद को उसके होने के लिए हर बार कोसते है जीवन में सही चीजे लाना आसान होता है पर हम जीवन को समझ नहीं पाते है 
गलत चीजों के जगह हम अपनी सही सोच को कोसते है जीवन के अंदर हर बार राह अलग अलग होती है और सही राह में भी तो मुसीबते होती है 
पर हम यही सोचते है की काश हम सही राह को समझ लेने पर हम सही फक्र कर पाते है उसकी जगह हम जीवन में सही सोच को गलत समझ लेते है 
 गलत तरीके से हर बार जब लोग जीत जाते है हम यही सोच जीवन के अंदर रखते है सही सोच को परख लेने की जरूरत हम हर बार रखते है 
सही सोच को बदल लेने की जरूरत हमे जीवन में नहीं होती है पर जब दुनिया कहती है हमे दुनिया को बदल लेने की जगह अपने आपको समझ लेने की जरूरत होती है
जीवन में जब दुनिया की गलती समझ लेते है तो भी उसके जगह हम अपने आपको बदल लेने की कोशिश हम हर बार करते है और खुदको गलत बनाते है 

कविता ४८८. लब्ज को समझ लेना

                                                        लब्ज को समझ लेना
हर लब्ज को समझ लेना जीवन की जरूरत होती है जिसे दुनिया हर बार हर मोड़ पर समझ लेती है सोच को परखे तो जीवन की धारा होती है
लब्ज के अंदर एहसास अलग अलग होते है जिन्हे समझ लेने की दुनिया में शुरुआत जब होती है तभी तो दुनिया नई सुबह हर बार देख पाती है
तरह तरह की बाते जो जीवन को अलग मतलब दे जाती है जिन्हे समझ लेने से जीवन की शुरुआत होती है हर बार अलग नजर पर सही लब्ज तो बस जीवन को बनाते है
जब जब हर बारी हर मोड़ पर हम जीवन को परख तो लेते है पर कभी कभी एक गलत लब्ज से हम अपनी दिशा बदलते है उनसे जीवन की शुरुआत अलग होती है
क्योंकि उन लब्जों से गलत चीजों की कहानी शुरू होती है जो हर बार आगे बढ़ने लगती है जीवन में क्या कतराना लब्जों से, जब हमारी दुनिया उन्ही से बनती है
जीवन की धारा जब आगे बढ़ती है जीवन की कहानी धीरे धीरे नई शुरुआत देने लगती है पर जब हम जीवन को समझ लेते है तो दुनिया बदलती है
खुशियाँ कुछ अलग और बिना मतलब की बनती है जो दुनिया बदल देती है जब हम आगे बढ़ते है तो दुनिया नई शुरुआत देती है नया एहसास दे कर आगे चलती है
लब्ज के अंदर दुनिया की मेहनत आगे जाती है पर गलत लब्जों पर कई दिन गवाने से दुनिया आगे बढ़ती है जो हमे समझा लेती है
लब्ज तो कई मतलब दे जाते है जिनमे दुनिया चमकती है जो एहसास तो देते है खुशियों का पर उनसे खुशियाँ असल में दूर निकल जाती है
जिस बात के मतलब अलग अलग निकल जाते है वह बात क्या खाक समझमें आती है बात हर बार बस वही सही होती है जो जीवन में एक मतलब देती है और लोगों को खुशियाँ देना सीखाती है 

Sunday, 7 February 2016

कविता ४८७. जीवन में जिस बात की जरूरत है

                                                  जीवन में जिस बात की जरूरत है
कुछ मतलब तो होते है जो जीवन को बना जाते है पर कुछ मतलब बिना बात के ही जीवन में बताए जाते है पर उन्हें समझ लेना जीवन की जरूरत होती है
मतलब की बाते जीवन को नया एहसास हर बार दे जाती है मतलब के अंदर जीवन की नई शुरुआत होती है जिसे परख लेने की दुनिया को जरूरत होती है
पर कभी कभी कुछ चीजे जिन्हे समझ लेने की जरूरत नही होती है वह बड़ी मुश्किल से समझमें आती है तो क्या करे उन चीजों का जिन्हे समझ लेने की जरूरत नहीं होती है
पर फिर भी वह हमे समझाने की कोशिश की जाती है उन चीजों को समझ लेने में हमे तो हर बार उलझन होती है पर कभी कभी उन्हें परख लेने की जरूरत भी होती है
जीवन को समझ लेना अहम चीज और हमारी जरूरत होती है चीजे जो हमे आगे ले जाती है उन्हें परख लेने के साथ साथ कभी कभी बिना मतलब की चीजे भी परख लेनी पड़ती है
जो चीज जीवन समझाने की कोशिश में है उसे समझ लेना ही जीवन की जरूरत होती है कुछ चीजे तो जीवन में जरुरी नहीं होती है पर फिर भी उन्हें समझ कर आगे जाने की जरूरत होती है
चीजे जिन्हे हम परख लेते है जिनकी हमे जरूरत है या नहीं है उन्हें समझ लेने की बात हर बार मुमकिन नहीं होती है पर फिर भी हर बार जीवन में बातों की अहमियत समझ लेने की ताकद नहीं होती है
चीजे तो अलग अलग होती है जिनका जीवन पर असर हो जाता है पर उन्हें समझ लेने की बाते आसान नही होती है तो क्यों ना सीख ले सबकुछ आखिर उसकी जरूरत भी होती है
जीवन के अंदर हमे आगे बढ़ने की हर बार जरूरत होती है मतलब तो समझ लेने की जीवन में जरूरत होती ही है क्योंकि पता नहीं किसी पल कौनसी बात समझ लेने की जीवन में जरूरत होती है
बातों के अंदर कई मतलब तो दिखते ही है जीवन के अंदर हर सोच को परख लेने की जीवन में हर बार अहमियत होती है क्योंकि जीवन में क्या अहम लगे उसकी जीवन में हमे कहाँ समझ होती है 

कविता ४८६. राहों पर बिना सोचे चलना

                                                          राहों पर बिना सोचे चलना
राहों पर चलना ही जीवन में मजा देता है जीवन को परख लेने की चाहत बिना चलना भी कभी कभी मन को भाता है राहों में हर बार अलग अलग रंग होते है
जिन्हे समझ लेना ही तो जीवन को साँसे देता है हमे जीना है जीवन में तो अलग अलग तरीके से जीना होता है उसे समझ लेना मन में मजा देता है
तो कभी कभी उसे बिना समझे हमे जीवन समझ जाता है कभी कभी उसे बिना परखे ही जीवन उम्मीदे दे जाता है जीवन को जीना जरुरी होता है
जीवन में जीते जीते ही हर बार मजा आता है जीवन को परख लेना ही नई रोशनी दे जाता है जीवन को परख लेना ही तो हमे आगे ले जाता है
जीवन के अंदर हमे नई सोच की ही ताकद हर बार होती है जो जीवन को हर कदम नई उम्मीदे देती है हमे जीवन को समझ लेने की जरूरत होती है
पर हर बार हमे जीवन को समझ लेने की जरूरत नहीं होती है हमारी जिन्दगी आसानी से आगे निकल जाती है जब हम कोई नई चीज समझ लेते है
पर नई चीजे बिना समझे हमे कर देनी होती है तो ही हम उस ओर पहूँच लेते है जीवन में कई बाते हमे करनी होती है क्योंकि वही जीवन में नयापन देती है
नई बाते तो जीवन में आती जाती है उन्हें समझ लेना ही उन्हें करने के बाद ही आती है जीवन को समझ लेना उसकी सच्ची जरूरत होती है
जीवन में खुशियाँ हर बार नई उम्मीदे देती है पर कुछ चीजे बिना डरे भी करनी होती है उन चीजों को परख लेने की जीवन में हर बार जरूरत होती है
जीवन में आगे जाने की जरूरत तो हर बार होती है क्योंकि आगे बढ़ने से ही हमारी किस्मत हर बार और हर मोड़ पर बनती है तो कभी कभी बिना समझे ही आगे जाने की जरूरत पड़ती है 

Saturday, 6 February 2016

कविता ४८५. कल्पना से बनी कहानी

                                                           कल्पना से बनी कहानी
कहानी तो अलग अलग रंग देती है मजा तो उसमे वह होता है की वह जीवन की सच्चाई हर बार होती है जीवन के अंदर सही सोच तो जरुरी होती है
जो जीवन की कहानी हर बार बदलती जाती है वह कहानी जो जीवन की सोच रखती है कहानी के अंदर अलग अलग किसम की सोच हर बार छुपी रहती है
जीवन की कहानी जब किसी कहानी में लिखी होती है तभी वह कहानी कोई मतलब रखती है कहानी ही तो जीवन की सच्ची धारा होती है
कहानी में जीवन हो तो ही वह हमे आगे ले जाती है कहानी के अंदर हर मोड़ पर जीवन की शुरुआत होती है कहानी में ही हर बार अलग राह होती है
कहानी ही तो जीवन को बनाती है जीवन में ही तो वह कहानी मतलब दे जाती है कहानी के अंदर हर सोच जीवन से ही हर बार आगे बढ़ती है
कहानी ही तो जीवन की एक सोच होती है जो जीवन को रोशनी देती है कहानी तो हमे मतलब देती है पर कहानी को परख लेना ही तो तभी होता है जब वह जीवन से बनती है
कहानी के हर मोड़ में जीवन की सच्चाई होती है कहानी को जीना ही तो जीवन की वह शुरुआत होती है जो जीवन को कई रंगों में आगे ले जाती है
जब कहानी में जीवन हो तो ही तो हमारी कहानी प्यारी बनती है कहानी के अंदर कई तरीके के मतलब और ताकद हर बार हर मोड़ पर होती है
कहानी में एक ताकद तो सच्चाई से होती है पर कितनी अजीब बात है कभी कभी कहानी सिर्फ हमारी सोच से बनती है और जीने की ताकद रखती है
कहानी को समझ लेने की जरूरत हर बार हमारी होती है कोई कहानी सच्ची है पर कभी कभी कल्पना भी सच्चाई से बेहतर होती है कहानी जो कल्पना से बनती है वह भी बेहतर होती है 

कविता ४८४. नदियाँ के अंदर की सोच

                                                                 नदियाँ के अंदर की सोच
नदियाँ तो बहती है जिसे समज लेना बड़ा प्यारा लगता है पर उसे परख लेना बड़ा जरुरी होता है जीवन की वह बाते बता क्यों हमें लिखा हुआ लगता है
पर क्या नदियाँ की धारा को समझ कर दुनिया समझ पाती है ऐसा हमे नहीं लगता है दुनिया समझ लेने के खातिर तो जिन्दगी ठीक तरह से जी लेनी पड़ती है
जीवन तो अक्सर कई मोड़ पर अलग अलग किनारों से जाता है जीवन की धारा के अंदर दुनिया होती है नदियाँ तो सिर्फ पानी को लेकर बहती है
जीवन को परख लेने के लिए उसे जीना पड़ता है जीवन को हर राह पर दुनिया समझ लेती है पानी से ज्यादा जीवन को जीने से ही हमे दुनिया समझ पाती है
कुछ पल के लिए थके हुई साँसो को पानी ठंडक तो दे जाता है पर हर पल जीवन को सोच नई देता है पर उस सोच पर आगे जाना भी तो जीवन में जरुरी होता है
जीवन के भीतर हमें बातों को समझ लेना होता है सिर्फ पानी को नहीं कभी कभी जीवन को परख लेना होता है क्योंकि पानी तो सिर्फ मन को बेहलाता है
हमे जीवन को समझ लेने के लिए आगे बढ़ना पड़ता है जीवन की कई बाते हमें सिखाता है पानी से ज्यादा जीवन को समझ लेना जरुरी हर बार नजर आता है
जीवन को जीते है तो ही जीवन मे नया मजा आता है क्योंकि जीवन के अंदर नदियाँ तो सोच देती है उसे अपना लेना ही जीवन को रोशनी दे जाता है
जीवन का मतलब उसमे छुपा होता है अगर उसे परख ले तो ही जीवन का एहसास सही बन जाता है नदियाँ से सोच तो हमे मन दे जाता है
पर नदियाँ से आगे बढ़कर उस सोच को भी हमे समझ लेना पड़ता है क्योंकि जीवन जीने से ही हर बार उम्मीदे मिल पाती है क्योंकि बिना कोशिश के कोई भी चीज जीवन में मतलब नहीं पाती है 

Friday, 5 February 2016

कविता ४८३. हवा के अंदर की सोच

                                                            हवा के अंदर की सोच
जब हवाए जीवन में आ जाती है हवा से एहसास अलग सोच हर बार जीवन को बदल जाना जरुरी नजर आता है हवा को समझ लेना भी जरुरी होता है
पर हर बार हवा को मेहसूस करे और फिर उसके साथ चले यह अक्सर जरुरी होता है हवाओं को समझ लेना जीवन में अहम तो होता है क्योंकि उनके साथ हालात हर बार अलग हो जाते है
हवा तो बदलती जाती है जिसे परख लेते है तो ही जीवन में बदलाव तो होता ही है क्योंकि हवा यह सोच से बनती है उस सोच को परख लेना जरुरी है
हवाओं के अंदर सोच तो अलग एहसास देती है जो जीवन की जरूरत को रोशनी और हमे उम्मीदे दे जाती है सोच के साथ जीवन का हिस्सा बदलती रहती है
सोच में अलग तरीके तो होते है उन्हें परख लेना जरूरी बात होती है सोच के अंदर दुनिया की अलग कहानी होती है जो दुनिया को मतलब दे जाती है
सोच को तो समझ लेते है हम अपनी क्योंकि उसके बजह से ही अपनी कहानी बनती है पर कभी कभी दुसरे की सोच भी जीवन में निभानी पड़ती है
पर गलत सोच को अपनाना हमारे जीवन में कहाँ मुमकिन हो पाता है उसे समझ लेना जिसे जीवन कुछ एहसास देते जरुरी नजर आता है दूसरों की सोच हर बार सुहानी नहीं होती है
उसे अपनाने को कितना भी दुनिया कह दे गलत सोच से दूर रहो क्योंकि जब फस जाते है तो पीट दिखाने की दुनिया की आदत बड़ी पुरानी होती है
तो अपनी सोच से चलना बेहतर है क्योंकि उस सोच की जो भी किंमत हो वह किंमत तो चुकानी पड़ती ही है जिसे जमाने से पाये और समझ लेते है वह सोच अपनी बनानी ही सही लगती है
सोच को समझ लेना जीवन की बात अहम और जरूरी होती है सोच के अंदर अलग अलग कहानी हर बार छुपी हुई होती है सोच के अंदर अलग कहानी बँसी हुई है 

कविता ४८२. दिन और रात की बाते

                                                        दिन और रात की बाते
जब जब बात को समझे तो जीवन अपना मतलब बदल जाये जब दिन रात को समझ ले तो जीवन अपना किनारा बदल जाये बाते तो कुछ ऐसी अलग है जिनका मकसद बदल जाये
पर जीवन की धारा को समझ लेते है तो उसके अंदर जीवन के हर पल को परख जाये हमे जीवन में जीने की जरूरत होती है उस में बात समझ जाये
हर बात को परख लेना जरुरी है तो उस बात में एहसास हर बार बदल जाये जीवन की धारा को परख लेते है उसके अंदर की बात कभी कभी हमारे जीवन में समझ आये
पर कभी कभी हम तो कुछ ऐसे अनजान है की हमे जीवन की धारा बिलकुल समझ ना आये दिन को परख ना पाते है जीवन में हम दिन को परख ना पाते है हम रातों से भी हर पल कतराये
जो जीवन को समझ तो लेते है जिसे परख लेने की सोच ही नई बात बताती है दिन और रात में अलग असर तो जीवन को अलग रंग हर बार दिखाते है
क्योंकि जीवन में मतलब तो हमे नई शुरुआत देते है क्योंकि जीवन में अलग सोच ही समझ लेना जीवन को वह एहसास देते है बातोंसे ही जीवन में नया किनारा मिलता है
अलग सोच के अंदर नई चीजे मतलब तो देती है जीवन में सोच ही नये मायने देती है जो नया किनारा दे जाते है अलग अलग सोच ही जीवन को ताकद देते है
जीवन को परख लेना जीवन की चाहत होती है जीवन के अंदर नये एहसास हमे उम्मीदे देते है जिनमे नई शुरुआत देते है जीवन को मतलब देते है
बाते कितनी अलग अलग होती है कुछ तो हमे आगे ले जाती है जीवन में नई उम्मीद  बार बार अलग एहसास और ताकद तो होती ही है
बात को अलग जीवन तो राहे दे जाते है राह के अंदर अलग अलग बाते जो आती है जो जीवन को मतलब और एहसास प्यारे किसम के आ जाते है 

Thursday, 4 February 2016

कविता ४८१. मौसम तो बदलते रहते है

                                                            मौसम तो बदलते रहते है
मौसम तो बदलते रहते है उन्हें समझ लेने की जीवन को जरूरत होती है पर मौसम का बदलाव ही जीवन की नई सोच जो अहम होती है
पर मौसम को समझ लेते है तो ही मौसम जीवन को मतलब देते है मौसम का बदलाव ही जीवन को मकसद देता है जिसे समझ लेना जरुरी हर बार होता है
मौसम तो बदलते है उनका मतलब बदलाव जीवन पर अलग असर होता है मौसम का फर्क जीवन पर हर बार असर तो करता है
पर वह असर जीवन में रोशनी दे जाता है जिसे समझ लेना जीवन के अंदर अलग जो असर होता है मौसम के अंदर जीवन का बदलाव दिखता है
मौसम के हर मोड़ के साथ जीवन की धारा तो बदलती जाती है मौसम का बदलाव तो जीवन को हर बार अलग एहसास देता रहता है
मौसम को तो समझ लेना अहम तो होता है मौसम में तो जीवन के कई मतलब देते है मौसम तो अलग अलग होते है जिनका जीवन पर असर होता है
मौसम का अलग असर होता है जिसे समझ लेना हर बार जरूरी है हम पर मौसम  कुछ तो असर कर जाता है क्योंकि मौसम को समझ लेना जीवन पर  नया एहसास होता है
मौसम के साथ जीवन को अलग मौका तो मिलता है मौसम ही तो जीवन को हर बार परख लेता है मौसम का असर ही तो जीवन की जरूरत होता है
मौसम तो बदलते रहते है जिन्हे समझ लेने की जरूरत तो है हमे पर हर बार जो हम मौसम को समझ लेते है तो जीवन को परख लेने की जरूरत होती है
जीवन तो बदलता जाता है मौसम हर बार नया मतलब दिखाता है बिना समझे और बिना परखे मौसम की जरूरत नहीं पड़ती है जो आगे बढ़ते जाते है मौसम क्या रोकेगा उन्हें 

कविता ४८०. आगे चलते रहने की जीवन में जरूरत है

                                                   आगे चलते रहने की जीवन में जरूरत है
आगे बढ़ जाना जीवन की जरूरत होती है आगे जाना ही जीवन की नजाकत होती है जीवन के हर पल हमे कुछ तो समझ जाना हर पल पेहचान लेना जरुरी होता है
आगे तो जाना ही जीवन की अहम आदत होती है जीवन की हर धारा मे जीवन में कुछ अलग एहसास पर हर मोड़ पर कुछ तो असर हो जाता है
आगे जाना ही जीवन की सच्चाई होती है जिसे परख लेने की हर बार जरूरत होती है जीवन में आगे बढ़ना ही अहम चीज होती है आगे जाना जीवन की जरूरत होती है
जीवन को आगे जाना है यही जीवन की चाल होती है वह चाल ही तो जीवन को नई दिशा देती है चाल को परख लेने से ही जीवन को हर बार कुछ ना कुछ तो देती है
जीवन में आगे जाना ही उसकी जरूरत होती है जो उसे रंग नया दे जाती है आगे जाना ही जीवन की सच्ची ताकद होती है उसके अंदर जीवन को आगे जाने की जरूरत होती है
जीवन तो आगे चलता रहता है जीवन को परख लेना ही जीवन के अंदर नयी सोच हमेशा उसे ताकद बनकर मिलती है आगे बढ़ना अहम जरूरत होती है
जीवन तो बढ़ता रहता है जीवन में आगे जाना ही जीवन की साँसे होती है जीवन में बढ़ना ही जीवन की जरूरत होती है आगे बढ़ना ही जीवन की चाहत होती है
बिना बढे ही जीवन को समझ लेना आसान तरीके से यह अक्सर हमारी चाहत होती है पर जीवन में राह आगे बढ़ना ही हमारी जीवन की जरूरत होती है
आगे जाने से ही दुनिया बनती है आगे जाना ही जीवन की जरूरत होती है जीवन की धारा ही जरूरत होती है जीवन को समझकर आगे जानेसे ही जीवन में उम्मीद होती है
चाहे कुछ भी हो जाये जीवन में आगे जाना ही जीवन की जरूरत होती है जो जीवन में आगे चलना ही जीवन की अहम चीज हर मोड़ पर होती है
बढ़ते रहना जीवन को एहसास देता है वही जीवन की अहम सोच और जरूरत  होती है जीवन की कश्ती बिना हिले कहाँ जीवन में आगे बढ़ती है 

Wednesday, 3 February 2016

कविता ४७९. फूल तो खुशबू देते है

                                                                 फूल तो खुशबू देते है
फूल तो खुशबू देते है जिसमे जीवन का एहसास नयासा आता है जीवन में फूल तो हिस्सा होते है पर काटों से कतराना हमे कहाँ रास आता है
जब काटों को अक्सर देखते है फूलों से मोहोब्बत करना हमे समझ आता है पर काटों के एहसास की बजह से जो चुभन होती है उससे बचना हर बार हमे कहाँ आता है
काटों में वह दर्द है जो हमे फूलों का मतलब जीवन में एहसास अलगसा लगता है फूल के अंदर जो कोमलता होती है काटों को समझ लेना जीवन को नई शुरुआत देता है
फूलों का रंग हो या उनकी खुशबू हो दोनों में मजा तो आता ही है काटों को परख लेना सीखते है तो जीवन में नया एहसास मिल जाता है
काटे हो या फूल हो तो दोनों का मतलब तो होता ही है काटो से जो डर जाये उसे जीवन में फूल की खुशबू भी  नही पाता है फूल ही तो हमेशा कोमल रहते है पर उन्हें पाना बिन काटो के कहाँ हो पाता है
जो काटो से डर जाये वह फूल के अंदर की ताकद जीवन में कहाँ परख पाता है जीवन में प्यारी चीजे हमे नई सोच अक्सर दे जाती है नई सोच दे जाती है
काटो का मतलब जीवन को अच्छा एहसास दे जाता है काटो में ही जीवन की मुश्किल शुरुआत होती है वही से नया एहसास आगे हर बार ले जाता है
काटो से कतराना जीवन में हर बार मुश्किल लाता है जीवन में फूल से ज्यादा काटो को चाहना जरुरी लगता है क्योंकि काटो के अंदर फूल का एहसास होता है
काटो के अंदर ही दर्द का  एहसास होता है उसे दूर करना जरुरी होता है फूल के अंदर खुशियाँ तो होती है पर काटो से ही उन तक पहुँचना हो जाता है
फूल से ही जीवन में अलग एहसास जिन्दा होता है जो जीवन में उम्मीदे दे जाता है पर सबसे पहले जीवन में काटो को समझ लेना जरुरी होता है 

कविता ४७८. दिशा को समज लेना

                                                             दिशा को समज लेना
हर दिशा में कोई मतलब छुपा होता है जीवन का कोई भी हिस्सा ऐसा नहीं है जिसे जीना जरुरी नही होता है जीवन के हर मोड़ पर अलग मतलब लिखा होता है
हर दिशा में हम जीवन को समझ लेते है जीवन की धारा को मतलब समझ कर हर मोड़ पर संभल लेते है पर जीवन का कोई भी हिस्सा बिना मतलब का नहीं होता है
जीवन की किसी दिशा में जीवन का किस्सा छुपा है उस दिशा को समझ लेना नई शुरुआत देता है जीवन में कई दिशाए हर पल होती है जिन्हे समझ लेना आसान होता है
किसी कोने में और किसी दिशा में जीवन का अलग एहसास जिन्दा होता है जिसे परख लेना आसान नहीं होता है हर दिशा में जब जब हम सोचते रहते है कोई किनारा मिलता है
हम दिशाओं को हर पल समझ तो लेते है क्योंकि उन दिशाओं से ही जीवन का एहसास मिलता है जीवन को समझ लेना बड़ा आसान लगता है
पर कुछ दिशाए ऐसी भी होती है जिनमे सिर्फ अँधियारा दिखता है उनके पास जाए या ना जाए इस खयाल से जीवन अपनी सोच हर पल बदल लेता है
दिशाए तो जीवन में अलग सोच किनारा देती है उस दिशा को परख लेना और फिर आगे बढ़ना जरुरी होता है जिसके अंदर कभी कभी अँधेरा रहता है
हर दिशा को समझ लेना जीवन में जरुरी होती है क्योंकि दिशा में ही जीवन का तराना समझ लेना हर पल जरुरी लगता है उस दिशा में जीवन जिन्दा रहता है
जीवन को परख लेना हर बार सहारा देता है एक दिशा में ही जीवन को अलग अलग किनारा मिलता है जीवन को समझ लेते है तो शुरुआत अलग हर बार होती है
हर बार हर दिशा में जीवन को जो जिन्दा रखती है वह सोच जीवन में हर बार होती है जो हमे उम्मीदे और रोशनी  जाती है दिशा को समझ लेती है
कभी कभी अँधेरे से ही जीवन कि नई शुरुआत होती है पर उस दिशा में ही आखिर में सच्ची रोशनी होती है जीवन में इसलिए तो हर दिशा को परख लेने की जरूरत होती है 

Tuesday, 2 February 2016

कविता ४७७. जीवन में मौका

                                                                 जीवन में मौका
जीवन में सही एहसास नई साँस दे जाते है जीवन में कई किसम कि सोच जो जीवन को अलग एहसास दे जाती है जीवन में हर मोड़ में अलग सोच एक एहसास देती है
जीवन में हमे हर चीज समझ लेनी जरुरी लगती है पर जीवन में कोई ना कोई बात तो हर बार होती है क्योकि जीवन में किसी मोड़ पर नई सोच तो जरूरत होती है
जीवन को अलग सोच ही कुछ ऐसा बनाती है जीवन में किसी तरह ताकद जो जरुरी होती है जीवन में कई किसम के मोड़ तो आते है
जो जीवन को रोज अलग सोच और ताकद देते है पर अक्सर जीवन में हमे नया किनारा मिलता है जीवन में हर किनारा जो हमें अलग एहसास देता है
जीवन में हर बात को समझ लेना मन के अंदर अलग सोच को समझ लेना जरुरी होता है जीवन में कुछ किसम की सोच जीवन को सही किनारा देती है
जीवन में तरह तरह की सोच आगे बढ़ने की जरूरत हर बार होती है जीवन में हर मौका उस पर असर हर बार अलग करता है उस मौके से जीवन कुछ अलग ही बन जाता है
मौका जीवन की जरूरत होती है जो जीवन को नई दिशा मिल जाती है मौका ही कई किसम के मतलब देता है मौकों में ही अलग एहसास छुपे होते है
मौके के अंदर कई बाते जो जीवन को रोशनी देती है उन्हें समझ लेना हर बार हमे उम्मीदे दे जाता है मौका ही जीवन में नई आशा दे जाता है
मौका ही जीवन की उम्मीद होता है जो जीवन को हर मोड़ पर अलग सोच देता है मौके से ही जीवन की शुरुआत होती है जो हर बार अहम होती
मौके से ही तो जीवन बनता है पर मौके में ही जीवन को अलग अलग सोच का एहसास होता है मौका हर बार हमे आगे ले जाता है
मौका ही जीवन में अभी नई शुरुआत होता है मौका कितनी अलग अलग दिशाए दिखाता है मौके को समझ लेना ही हर मोड़ की जरूरत होती है 

कविता ४७६. नदियाँ के अंदर पानी

                                                             नदियाँ के अंदर पानी
नदियाँ के अंदर पानी का एहसास मन को छू जाता है वह मन को यह बताता है की सोच के अंदर अलग दुनिया हर बार वह हमे दे जाता है जीवन को साँसे देता है
पानी के भीतर ठंडक का नया एहसास जीवन को कुछ तो समझ देता है क्योंकि जीवन के हर मोड़ पर अलग असर कर जाता है पानी जीवन में अलग अलग किसम का एहसास पाता है
नदियाँ में अलग अलग ताकद का एहसास जीवन में नई रोशनी लाता है जिसे परख लेना पानी के भीतर की बाते समझ लेना चाहता है जो रोशनी देता है
नदियाँ में जाने से जीवन को परख लेने का एहसास कभी कभी रोशनी देता है जिसे समझ कर आगे जाना दुनिया में नई सोच हर बार हर मोड़ पर दे जाता है
नदियाँ तो शीतलता की वह उम्मीद है जिसमे अलग सोच का आना जाना होता  है जिसे समझ लेना दुनिया को खुशियाँ देता है रोशनी दे जाता है
अगर जीवन को परख लेते है तो जीवन हमे उम्मीदे देता है वह उस रोशनी का सागर है जो जीवन में साँसे दे जाता है खुशियाँ हर मोड़ पर दे कर जीवन सुंदर बनाता है
नदियाँ तो वह प्यारी चीज है जिसमें दुनिया का अलग एहसास खुशियाँ देता है जिसे परख लेने से ही जीवन को नई साँस देता है पर क्या जरूरत है वह नदियाँ हो नल का पानी भी काफी होता है
नल के पानी को हाथ में लो और आँखे मुदकर देख लो तो जीवन में नदियाँ का एहसास हर बार होता है जो साँसे देता है खुशियों की जीवन में नई शुरुआत देता है
पानी के अंदर अलग एहसास दे जाता है पानी को मन से छू लेने से जीवन में वह नई शुरुआत दे जाता है पानी को जीवन के साथ अलग तरीके से परख लेना नई शुरुआत दे जाता है
यह बताता है हमे की पानी कुछ भी सुख दे जाता है क्योंकि उसे हमारा मन सचमुच में चाहता है मन की ताकद से ही तो जीवन मे खुशियाँ ले आता है 

Monday, 1 February 2016

कविता ४७५. जीवन में डर का असर

                                                              जीवन में डर का असर
कोई कदम जो हम लेते है उस कदम में ही जीवन के किसी डर को भुला कर पीछे लेते है जिस डर के अंदर दुनिया की सोच छुपी होती है उसे समझ लेते है
अगर कदमों को समझ ले तो जीवन के कई एहसास हर बार हमे छू लेते है डर तो वह सोच है जिससे हर बारी हम चोट खाते है पर फिर भी आजकल कभी कभी हम उस डर से लढ लेते है
जीवन को समझ लेना उसकी वह शुरुआत होती है जिसके सहारे हम दुनिया को समझकर आगे चल देते है जिसे हम परख लेते है पर डर की बजह से हम अक्सर चोट खा जाते है
डर तो वह सोच है जिसे हम परख लेना हर बार जरुरी समझते है क्योंकि कई बार डर की अलग अलग धारा को हम परख लेना हर मोड़ पर चाहते है
डर वह सोच है जिसे परख लेना हम जरुरी समझ लेते है पर डर को दूर रखना जरुरी है डर की ताकद को हम अक्सर हमारी सोच में आगे रख देते है
डर को समझ लेना हम जरुरी अक्सर मेहसूस करते है जिसकी बजह से जीवन की धारा के मोती हम गलत ढंग से जीवन में पिरोते है जो जीवन पर अलग असर कर जाते है
जीवन को समझ लेते है तो उसमे डर का हिस्सा कुछ कम हो हम हर पल उसकी चाहत जीवन में नहीं रख पाते है जीवन को समझ लेना जरुरी सोचते है
डर तो वह सोच है जो दुनिया को चोट देती है उस चोट को दुनिया में हम कहाँ समझ पाते है डर को हर बार हम अपने जीवन का हिस्सा बनाकर रखते है
वह डर छू लेता है उसको हम कहाँ समझ पाते है डर के आगे जीवन की कहानी को हम नहीं परख पाते है क्योंकि जीवन में चारों ओर सिर्फ डर को जब रखते है
तब तब हम डर के आगे जाने की कोशिश में जीवन को परख लेना हर बार चाहते है पर कर नहीं पाते है उस मोड़ पर रुक कर अगर हम डर को परखते है तो ही हम जीवन में आगे बढ़ते है 

कविता ४७४. किनारों की शुरुआत

                                                              किनारों की शुरुआत
कुछ किनारों पर जीवन की कश्ती आसानी से चलती है उन किनारों से जीवन की नई कहानी अक्सर बनती है जिसे समझ लेने की जरूरत हर बार पड़ती है
किनारों पे जीवन के नये सहारे कुछ ऐसे दिखते है जिन्हे समझ लेने की जीवन में हर बार जरूरत पड़ती है जीवन की कश्ती उन्हें परख लेती है
पर बड़ा मजा तो तब आता है जब हमारी सोच जीवन की कहानी बनाती है जीवन में एक नई निशानी हर बार बनती है जीवन में नई उम्मीद जगाती है
जीवन की दास्तान हर बार हर मोड़ हमे सुननी होती  है जो जीवन को अलग अलग रंग हर पल देती रहती है जिसे समझ लेने की जरूरत हर बार होती है
किनारों पे दुनिया के कई सहारे तो होते है पर अक्सर जीवन में पानी में उतर जाने की प्यास जिन्दा होती है जो जीवन को रोशनी की उम्मीद हर मोड़ पर देती है
जीवन को जीते है तो उसमे किनारे हर बार दिखते है उन किनारों को समझ लेने की हमे मन के अंदर अलग प्यास होती है जो जीवन को एहसास देती है
जीवन को समझ लेते है तो जीवन में तलाश होती है जो जीवन की धारा को हर बार एहसास देती है जो हमें आगे ले जाने के जस्बात हर बार देती है
किनारों पर कुछ तो मतलब हर बार होता है जिसे समज लेने पर दुनिया कुछ अलग तरह का एहसास देती है नई खुशबू हमेशा जीवन में बिखेर देती है
किनारों को समझ लेने में एक अलग सोच जीवन की नई शुरुआत देती है जिसे उन किनारों पर जी लेने की एक अलग तलाश हर मोड़ पर रहती है
किनारों पर ही जीवन की कुछ अलग शुरुआत होती है जो हमें बताती है की जीवन के किनारे किस ओर से सही एहसास हर बार देते है